#जीवन शैली

bolkar speaker

एक महिला के रूप में आपने किस भयानक चीज़ का सामना किया है?

Ek Mahila Ke Roop Mein Apne Kis Bhayanak Cheez Ka Saamna Kiya Hai
Vaishnavi Pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Vaishnavi जी का जवाब
Student / Artist
4:58
नमस्कार आप ने प्रश्न किया है एक महिला के रूप में आपने किस भयानक चीज़ का सामना किया है कुछ बात के लिए मैं पीछे चली गई और मुझे लगा कि मैं यह सोच रही हूं अब यह भी हो सकता है कि बहुत लोग जो है वह इस बात को सीरियसली नहीं लेते हैं मतलब सीरियसली लेने का मतलब यह कि वह कह सकते हैं कि आज कल शाम इंसान जो है वो उसको इतना हवा बना दिया गया है उसका ऐसा लोग सुन सकते हैं कि मैं झूठ बोल रही हूं या कुछ वाक्य है आपको बताती हूं मैं और मेरी बेस्ट फ्रेंड है वह हम एक साथ स्कूल में पढ़ते थे जो हमारे घर से काफी दूर था मतलब 25 किलोमीटर की दूरी पर होगा तो हम जो हैं वह क्या करते थे या तो हम सुबह जल्दी स्कूल पहुंच जाते थे या फिर थोड़ा लेट आप आते थे यह बात है जब हम सेकंड क्लास में होंगे तब की तो क्या हुआ एक दिन हम स्कूल जो है वह जल्दी पहुंच गए और वहां पर कोई भी नहीं था कोई भी नहीं आएगा तेरे ऐसा ही होता था कि स्कूल में कोई नहीं होता था बस एक आंटी की जो स्कूल में काम किया करते थे वह होती थी जो स्कूल का ताला खोलकर वहां पर सफाई वगैरह कर रही होती है तो उस दिन क्या हुआ 1 दिन मैं और मेरी दोस्त जो हैं वह काफी जल्दी स्कूल पहुंच गए तो वहां पर स्वीपर भैया थे वहां पर काम क्या करते थे तो अब हम जल्दी पहुंच गए थे तो हम क्या ही करते वहां पर तो हम जो हैं वह झूला झूल रहे थे और मुझे बहुत अच्छे से आधे कि उस दिन हमारी जो है वह बाइक यूनिफॉर्म हुआ करती थी और हम वाइज तू इस दौरान हम बच्चे हुआ करते थे तो हमको लेस बांधने नहीं आ सकते तो वह खुल जाते थे और अंबानी पाते थे तो अब हम क्या करते थे या तो मैं उसके बांधी थी क्या वह मेरे भांजे दीदी हम काफी अच्छे दोस्त थे आए हैं अभी भी तो बोला कि नहीं हम बोलेंगे वह बोल देता हूं तो हमने सोचा कि हमको इतनी अक्ल नहीं थी हमको कुछ ज्यादा ही मतलब था उसमें से ग्राउंड में खेलते खेलते हम क्लास रूम में चले गए अंदर क्लास रूम में गए तो मेरे फ्रेंड को उसके ऊपर आने की कोशिश करने लगता है तो अब तुम समझ रहा था हमने उनके हाथ में बहुत कसके काटा था फिर बोला कि वह दूर हट गए थे हम दोनों रो रहे थे वहां पर खड़े हुए तो उठाया नहीं है जब नाम नहीं पूछा कि क्या हुआ क्यों रो रहे हैं तो वहां देख शैतान बच्चे पानी कर रहे थे तो रोने लगे हाथ में काट दिया क्या हुआ था और क्या शब्द भी नहीं बताए कि हमको परेशान कर रहे थे हम इसके अलावा और कुछ नहीं बोल सकते क्योंकि हम को पता ही नहीं था कि क्या है हमने किसी को बताया वीविंग भैंस प्रिंसिपल जून 3:00 पर रिमाइंडर पर कॉल किया और यह पूछा कि क्या हुआ बच्चे स्कूल क्यों नहीं आ रहे हैं हुई तो हां ऐसा वाक्य है जो मैंने एक महिला होने के नाते ही सबसे भयानक है जो मैं याद नहीं करना चाहती हूं मतलब ऐसा कुछ नहीं हुआ था दो हम बहुत लकी थे बट फिर भी और मतलब ऐसा है कि भारत में एक महिला के साथ ऐसा कोई ना कोई वाक्य कभी ना कभी हुआ होता है नहीं तो मैं मतलब मैं मेरी दोस्त और आपके अपने आसपास किसी भी महिला से के बाद यह सवाल पूछेंगे तो हर किसी के साथ जो है वह ऐसी कोई न कोई हरकत हुई होगी और हमेशा होती है तब भी हम ट्रैवल करते हैं तब मतलब बहुत बुरा लगता है सबकी निगाहें आपको देखते हैं मुझे उम्मीद है आपको आपके प्रश्न का जवाब मिल गया होगा धन्यवाद
Namaskaar aap ne prashn kiya hai ek mahila ke roop mein aapane kis bhayaanak cheez ka saamana kiya hai kuchh baat ke lie main peechhe chalee gaee aur mujhe laga ki main yah soch rahee hoon ab yah bhee ho sakata hai ki bahut log jo hai vah is baat ko seeriyasalee nahin lete hain matalab seeriyasalee lene ka matalab yah ki vah kah sakate hain ki aaj kal shaam insaan jo hai vo usako itana hava bana diya gaya hai usaka aisa log sun sakate hain ki main jhooth bol rahee hoon ya kuchh vaaky hai aapako bataatee hoon main aur meree best phrend hai vah ham ek saath skool mein padhate the jo hamaare ghar se kaaphee door tha matalab 25 kilomeetar kee dooree par hoga to ham jo hain vah kya karate the ya to ham subah jaldee skool pahunch jaate the ya phir thoda let aap aate the yah baat hai jab ham sekand klaas mein honge tab kee to kya hua ek din ham skool jo hai vah jaldee pahunch gae aur vahaan par koee bhee nahin tha koee bhee nahin aaega tere aisa hee hota tha ki skool mein koee nahin hota tha bas ek aantee kee jo skool mein kaam kiya karate the vah hotee thee jo skool ka taala kholakar vahaan par saphaee vagairah kar rahee hotee hai to us din kya hua 1 din main aur meree dost jo hain vah kaaphee jaldee skool pahunch gae to vahaan par sveepar bhaiya the vahaan par kaam kya karate the to ab ham jaldee pahunch gae the to ham kya hee karate vahaan par to ham jo hain vah jhoola jhool rahe the aur mujhe bahut achchhe se aadhe ki us din hamaaree jo hai vah baik yooniphorm hua karatee thee aur ham vaij too is dauraan ham bachche hua karate the to hamako les baandhane nahin aa sakate to vah khul jaate the aur ambaanee paate the to ab ham kya karate the ya to main usake baandhee thee kya vah mere bhaanje deedee ham kaaphee achchhe dost the aae hain abhee bhee to bola ki nahin ham bolenge vah bol deta hoon to hamane socha ki hamako itanee akl nahin thee hamako kuchh jyaada hee matalab tha usamen se graund mein khelate khelate ham klaas room mein chale gae andar klaas room mein gae to mere phrend ko usake oopar aane kee koshish karane lagata hai to ab tum samajh raha tha hamane unake haath mein bahut kasake kaata tha phir bola ki vah door hat gae the ham donon ro rahe the vahaan par khade hue to uthaaya nahin hai jab naam nahin poochha ki kya hua kyon ro rahe hain to vahaan dekh shaitaan bachche paanee kar rahe the to rone lage haath mein kaat diya kya hua tha aur kya shabd bhee nahin batae ki hamako pareshaan kar rahe the ham isake alaava aur kuchh nahin bol sakate kyonki ham ko pata hee nahin tha ki kya hai hamane kisee ko bataaya veeving bhains prinsipal joon 3:00 par rimaindar par kol kiya aur yah poochha ki kya hua bachche skool kyon nahin aa rahe hain huee to haan aisa vaaky hai jo mainne ek mahila hone ke naate hee sabase bhayaanak hai jo main yaad nahin karana chaahatee hoon matalab aisa kuchh nahin hua tha do ham bahut lakee the bat phir bhee aur matalab aisa hai ki bhaarat mein ek mahila ke saath aisa koee na koee vaaky kabhee na kabhee hua hota hai nahin to main matalab main meree dost aur aapake apane aasapaas kisee bhee mahila se ke baad yah savaal poochhenge to har kisee ke saath jo hai vah aisee koee na koee harakat huee hogee aur hamesha hotee hai tab bhee ham traival karate hain tab matalab bahut bura lagata hai sabakee nigaahen aapako dekhate hain mujhe ummeed hai aapako aapake prashn ka javaab mil gaya hoga dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • आपने किस भयानक चीज़ का सामना किया है,भयानक चीज़ का सामना
URL copied to clipboard