#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker

A और The का प्रयोग कहां किया जाता है?

A Or The Ka Prayog Kaha Kiya Jata Hai
Er.Surya Narayan Upadhyay Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Er.Surya जी का जवाब
Private job
2:58
नमस्कार दोस्तों गुड मॉर्निंग राधे-राधे आप लोग कैसे हैं दोस्तों उम्मीद करता हूं कि आप लोग बहुत ही अच्छे स्वास्थ्य मस्त और व्यस्त होंगे दोस्तों एक मित्र का सवाल है ए और बी का प्रयोग कहां किया जाता है दोस्तों मैं बताना चाहूंगा आर्टिकल के अंतर्गत ए एन और आता है दोस्तों ए और एन का प्रयोग एक वस्तु के लिए किया जाता है दोस्तों यदि किसी भी वर्ड का पहला अक्षर वावेल है और वावेल की बनी भी देता है उसका उच्चारण करके सबसे पहले उस वर्ण का उच्चारण करके हम यह भी देखते हैं कि उसका उच्चारण का जो पहला अक्षर है वह वावेल है या कंसोनेंट ले यदि वावेल की ध्वनि दे रहा है तू एन का प्रयोग करेंगे और यदि कॉन्सोनेंट का ध्वनि दे रहा है तो हम एक का प्रयोग करेंगे और इसी प्रकार दी का प्रयोग संसार में यदि कोई भी चीज एक है तो उसके पहले द का प्रयोग किया जाता है जैसे बताना चाहेंगे हम एक बस के लिए उदाहरण ए एन के अंतर्गत जो धारण होगा उसको हम बताएंगे जैसे एप्पल ए डबल पी एल ई एप्पल 1 सेब का सेब के पहले एक आया है और उस एक की अंग्रेजी हम लिखेंगे किए लिखेंगे वह किस पर डिसाइड करेगा एप्पल के पहले अक्षर पर तो पहला अक्षर यह है और इसका उच्चारण भी एप्पल इसका एक आ रहा है इस प्रकार हम यहां पर एक के लिए अंग्रेजी एंड लिखेंगे एप्पल इसी प्रकार यदि यूनियन यू एन आई ओ एन यूनियन एक्शन यानी कि इसके पहले अगर आपको ए और इनमें से कोई एक प्रयोग करना है तो हम किस का प्रयोग करेंगे ए का प्रयोग करेंगे क्योंकि यूनियन का पहला अक्षर वाले तो है लेकिन इसका उच्चारण करने पर यह वावेल की ध्वनि नहीं दे रहा है इसीलिए हम इसके पहले एक का प्रयोग करेंगे दोस्तों दी का प्रयोग जैसे संसार में चंद्रमा सूरज पहाड़ नदियां इन सब के पहले हम दया का प्रयोग
Namaskaar doston gud morning raadhe-raadhe aap log kaise hain doston ummeed karata hoon ki aap log bahut hee achchhe svaasthy mast aur vyast honge doston ek mitr ka savaal hai e aur bee ka prayog kahaan kiya jaata hai doston main bataana chaahoonga aartikal ke antargat e en aur aata hai doston e aur en ka prayog ek vastu ke lie kiya jaata hai doston yadi kisee bhee vard ka pahala akshar vaavel hai aur vaavel kee banee bhee deta hai usaka uchchaaran karake sabase pahale us varn ka uchchaaran karake ham yah bhee dekhate hain ki usaka uchchaaran ka jo pahala akshar hai vah vaavel hai ya kansonent le yadi vaavel kee dhvani de raha hai too en ka prayog karenge aur yadi konsonent ka dhvani de raha hai to ham ek ka prayog karenge aur isee prakaar dee ka prayog sansaar mein yadi koee bhee cheej ek hai to usake pahale da ka prayog kiya jaata hai jaise bataana chaahenge ham ek bas ke lie udaaharan e en ke antargat jo dhaaran hoga usako ham bataenge jaise eppal e dabal pee el ee eppal 1 seb ka seb ke pahale ek aaya hai aur us ek kee angrejee ham likhenge kie likhenge vah kis par disaid karega eppal ke pahale akshar par to pahala akshar yah hai aur isaka uchchaaran bhee eppal isaka ek aa raha hai is prakaar ham yahaan par ek ke lie angrejee end likhenge eppal isee prakaar yadi yooniyan yoo en aaee o en yooniyan ekshan yaanee ki isake pahale agar aapako e aur inamen se koee ek prayog karana hai to ham kis ka prayog karenge e ka prayog karenge kyonki yooniyan ka pahala akshar vaale to hai lekin isaka uchchaaran karane par yah vaavel kee dhvani nahin de raha hai iseelie ham isake pahale ek ka prayog karenge doston dee ka prayog jaise sansaar mein chandrama sooraj pahaad nadiyaan in sab ke pahale ham daya ka prayog

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • A का प्रयोग कहा पर करते है, The का प्रयोग कब किया जाता है, A AN और THE का प्रयोग
URL copied to clipboard