#भारत की राजनीति

Vaishnavi Pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Vaishnavi जी का जवाब
Student / Artist
1:34
नमस्कार किया है कि 2014 और 2019 के चुनाव में कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी घोषित उम्मीदवार थे इतिहास में पहली बार किसी व्यक्ति को दो बार मौके मिले हैं उसमें भी वह जीत नहीं पाया आपको क्या कहना है इस बारे में ही मुझे इस बारे में बस इतना कहना है कि एक व्यक्ति जो है वह खड़ा हो सकता है चुनाव के लिए और उसके लिए मेहनत से सकता है जैसे मैं हूं अगर मेरा कोई परीक्षा है मेरी तो मैं उसके लिए क्या कर सकती हूं अपने टाइम को इस हिसाब से मैनेज कर सकती हूं कि मैं जोश मेरे सारे चैप्टर सिमरन को कवर कर लूं और बाकी जो बचा टाइम हूं मैं उसको उसको रिमाइंड कर लो और मैं उस जाम को देख कर आती हूं अब वह मुझ पर मुझे क्या पता कि उस एग्जाम में कैसे क्वेश्चन चाहने वाले हैं और उनसे करके आ रही हूं अब मुझे तो नहीं पता कि मैं जीत मतलब कि में पास होने वाली हूं या फेल होने में ऐसे ही चुनाव में राहुल गांधी को दो बार खड़ा कर दिया गया था जा सकता है कि उन्हें खड़ा होना था या पर कर दिया वाला कोई सीन नहीं है और भी जीते तो उसमें मुझे नहीं लगता कि उनकी कोई गलती है क्योंकि हर कोई बंदा जो चुनाव के लिए खड़ा होता है वह पूरी कोशिश करता है कि सारा प्रचार करें दया करें जितना ज्यादा पैसा हो सकता है वह सेट किया जाए पर आप और हम ही लोग हैं सच नाम जताया करते हैं मुझे इस बारे में बस इतना ही कहना था मैंने
Namaskaar kiya hai ki 2014 aur 2019 ke chunaav mein kaangres kee or se raahul gaandhee ghoshit ummeedavaar the itihaas mein pahalee baar kisee vyakti ko do baar mauke mile hain usamen bhee vah jeet nahin paaya aapako kya kahana hai is baare mein hee mujhe is baare mein bas itana kahana hai ki ek vyakti jo hai vah khada ho sakata hai chunaav ke lie aur usake lie mehanat se sakata hai jaise main hoon agar mera koee pareeksha hai meree to main usake lie kya kar sakatee hoon apane taim ko is hisaab se mainej kar sakatee hoon ki main josh mere saare chaiptar simaran ko kavar kar loon aur baakee jo bacha taim hoon main usako usako rimaind kar lo aur main us jaam ko dekh kar aatee hoon ab vah mujh par mujhe kya pata ki us egjaam mein kaise kveshchan chaahane vaale hain aur unase karake aa rahee hoon ab mujhe to nahin pata ki main jeet matalab ki mein paas hone vaalee hoon ya phel hone mein aise hee chunaav mein raahul gaandhee ko do baar khada kar diya gaya tha ja sakata hai ki unhen khada hona tha ya par kar diya vaala koee seen nahin hai aur bhee jeete to usamen mujhe nahin lagata ki unakee koee galatee hai kyonki har koee banda jo chunaav ke lie khada hota hai vah pooree koshish karata hai ki saara prachaar karen daya karen jitana jyaada paisa ho sakata hai vah set kiya jae par aap aur ham hee log hain sach naam jataaya karate hain mujhe is baare mein bas itana hee kahana tha mainne

और जवाब सुनें

Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
2:12
2014 और 2019 के चुनाव में कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी हर्षित उम्मीदवार थे इतिहास में पहली बार किसी वक्त को दो बार मुक्ति मिलेगी मैं राहुल बाबा को सोने का चम्मच लेकर पैदा हुए उनको विरासत में कांग्रेस जैसी पार्टी मिली और उसके नाना पकाना और लोगों ने भारतीय सत्ता पर काबिज रहने दो बार मौका तो राहुल बाबा को मिला है कि उनको अपने पार्टी को सुधार में लाना चाहिए पार्टी में अनुशासन लाना चाहिए अच्छे योग्य जो नेता है उनको आगे लाना चाहिए देश के विकास में और प्रमुख विपक्ष के रूप में रोल अदा करना क्योंकि राहुल है ड्यूटी जा रहे हैं और कलाकार हो गए हैं जैसा बोलते हैं फोन पर हंसते हैं और तालियां बजाते हैं शायद अभी भी वह में चढ़ती नहीं आई है इतिहास इनको बार-बार दे रहा है चांद सी ऐसी बात नहीं है लेकिन कभी-कभी इनके बयानों को एंड k22 पढ़ता हूं तो थोड़ा सा दुख होता है कि हमारे देश के नेता इस तरह का सोचते हैं और दूसरी बात है दोस्त कोई भी पार्टी हो जाए सत्ता में हो या ना हो विपक्ष में हो कहीं न कहीं हमारे जैसे भारतीयों को वोट लोक लुभावने बना करके उनको इस जाल में कोई धर्म के नाम कोई जाति के नाम पर और से लेकर के हैं और शायद हम भारतीय लोकतंत्र में है जो वह स्वरूप पहली बार चुनाव के रूप में आया था और जो हमें स्वतंत्रता मिली थी मिल गया उसकी कीमत नहीं समझ पा रहे हैं और करीब पहुंचकर के 10 साल तक गिर सकता है रहेगी तभी वहां से सबक नहीं कुछ

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • 2014 aur 2019 me congress ka umidwaar kaun tha, rahul gandhi 2014 aur 2019 ke chunav kyu haar gye
URL copied to clipboard