#undefined

bolkar speaker

युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?

Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
Navnit Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Navnit जी का जवाब
QUALITY ENGINEER
1:05
विक्की गलतफहमी है तो किसी को नहीं है लेकिन फैशन बन गया है कुछ स्टार दो फॉलो करते हो कुछ बॉलीवुड स्टार कुछ कॉलिंग डिस्टर्ब तो जोकर ही देखते वह प्रचार में फिल्म में अपने आइटम को करते हुए तो उसका फोन कर सकते हैं जानते सभी एक ही चाहा लेकिन फिर भी स्टाइल में रहना पसंद है युवा पीढ़ी को जिस दिन कोई भी बंदा इस्टाइल को छोड़कर सही से लाइफ जीने की कोशिश करेगा उस दिन से उसकी गलतफहमी दूर हो जाएगी और वह सही रास्ता थोड़ा सा फैशन थोड़ा सा स्टाइल को कम कर दी क्या चाहिए उसकी सूची वह जरूरी है आपके लिए आपके परिवार समाज की मिस कॉल
Vikkee galataphahamee hai to kisee ko nahin hai lekin phaishan ban gaya hai kuchh staar do pholo karate ho kuchh boleevud staar kuchh koling distarb to jokar hee dekhate vah prachaar mein philm mein apane aaitam ko karate hue to usaka phon kar sakate hain jaanate sabhee ek hee chaaha lekin phir bhee stail mein rahana pasand hai yuva peedhee ko jis din koee bhee banda istail ko chhodakar sahee se laiph jeene kee koshish karega us din se usakee galataphahamee door ho jaegee aur vah sahee raasta thoda sa phaishan thoda sa stail ko kam kar dee kya chaahie usakee soochee vah jarooree hai aapake lie aapake parivaar samaaj kee mis kol

और जवाब सुनें

bolkar speaker
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
satish kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए satish जी का जवाब
Student
1:36
हाय फ्रेंड्स क्वेश्चन पूछा गया है किंतु युवाओं में जो होता है धूम्रपान को लेकर किस तरह की बात करनी आती है तो आजकल के युवा की अगर बात करें तो आजकल युवा जो है ज्यादातर धूम्रपान निकलता है अगर इनके गलतफहमियां की बात करें किया जो है क्यों धुम्रपान कर रहे हैं क्योंकि हम सभी जानते हैं कि धूम्रपान जो होता है स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से हानिकारक होता है और आजकल की युवा पीढ़ी भी जानते हैं बट जो है यह जानते हुए भी ऐसे जो है खराब पेय पदार्थ कुरान करते हैं इसका रीजन हो सकता है कि उनके अंदर जो है अनेक तरह की गलतफहमी है अगर हम बात करें तो कई ऐसे अवधारणा होती है जैसे मैं कोई अगर धूम्रपान करता है तू अपने आपको स्मार्ट समझता है अपने आपको जो है एक तरह से दूसरों के प्रति अट्रैक्ट होने के लिए खासकर जो है अपने सिद्धि पृथ्वी क्योंकि एक्ट्रेस कल के लिए कि हम जो हैं एक अलग ही जो है युवक दिखने के लिए जो है ज्यादातर युवा धुरान का सेवन करते हैं इस कारण फिल्मों में देखे तो वहां पर जो आता है हीरो जो होता है यानी कि एक्टर जो होते हैं वह धूम्रपान करते हैं जिसे देखकर जो है कई कई बच्चे जो हैं सीखने लगते हैं क्योंकि वह अपने आप को जो है उस फील्ड का एक्टर समझना चाहते हैं और जहां पर हुए धूम्रपान करते हैं वहां पर अपने आप को जो एक सर्वश्रेष्ठ समझना चाहते हैं और आपसे इसी कारण जो है आजकल के ज्यादातर युवा धूम्रपान कर रहे हैं
Haay phrends kveshchan poochha gaya hai kintu yuvaon mein jo hota hai dhoomrapaan ko lekar kis tarah kee baat karanee aatee hai to aajakal ke yuva kee agar baat karen to aajakal yuva jo hai jyaadaatar dhoomrapaan nikalata hai agar inake galataphahamiyaan kee baat karen kiya jo hai kyon dhumrapaan kar rahe hain kyonki ham sabhee jaanate hain ki dhoomrapaan jo hota hai svaasthy ke drshtikon se haanikaarak hota hai aur aajakal kee yuva peedhee bhee jaanate hain bat jo hai yah jaanate hue bhee aise jo hai kharaab pey padaarth kuraan karate hain isaka reejan ho sakata hai ki unake andar jo hai anek tarah kee galataphahamee hai agar ham baat karen to kaee aise avadhaarana hotee hai jaise main koee agar dhoomrapaan karata hai too apane aapako smaart samajhata hai apane aapako jo hai ek tarah se doosaron ke prati atraikt hone ke lie khaasakar jo hai apane siddhi prthvee kyonki ektres kal ke lie ki ham jo hain ek alag hee jo hai yuvak dikhane ke lie jo hai jyaadaatar yuva dhuraan ka sevan karate hain is kaaran philmon mein dekhe to vahaan par jo aata hai heero jo hota hai yaanee ki ektar jo hote hain vah dhoomrapaan karate hain jise dekhakar jo hai kaee kaee bachche jo hain seekhane lagate hain kyonki vah apane aap ko jo hai us pheeld ka ektar samajhana chaahate hain aur jahaan par hue dhoomrapaan karate hain vahaan par apane aap ko jo ek sarvashreshth samajhana chaahate hain aur aapase isee kaaran jo hai aajakal ke jyaadaatar yuva dhoomrapaan kar rahe hain

bolkar speaker
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
2:59
नमस्कार दोस्तों बोलकर आप में स्वागत है सवाल है कि युवा में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफहमी आती है तो इसमें कई तरह की गलतियां होती हैं जैसे कि कई युवा लोग हैं जो कि गलत संगत या करते हैं जैसे कि कोई सिगरेट पीता है दारू पीता है कोई बढ़िया खाता है तो उसमें बोल तेरा क्या नुकसान है जैसे कि सिगरेट पिएगा तो इसका धुआं हुआ हमारे शरीर में फेफड़े के लिए नुकसान है और इससे मानसिक तनाव भी ग्रस्त हो सकता है और दूसरा की जो दारु पीते हैं लोग शराब पीते हैं तो उससे क्या कि लोग ज्यादा पी लेते हैं तो उसमें शरीर जलता है वह लोग समय पर खाना नहीं खाते हैं तथा ज्यादा पीते पीते उनका मन ऐसा कहता क्यों और पिया और पिया जैसे ही वह ज्यादा पीने लगता है तो वह उल्टी करने लग जाता तो किसी को उल्टी नहीं होते तो वह गालियां क्लोज करने लग जाता है तो और कोई कोई है जो ऐसा कार्य नहीं करता फिर भी वह पड़ा रहता है कई ऐसे होते हैं जो ज्यादा शराब पीने से मूर्छित अवस्था अवस्था में होते रहते हैं कहीं पर भी सो जाते हैं यह नहीं देखते कि हम कहां हैं क्या है कैसे हैं क्या कर रहे हैं कुछ नहीं पता चलता इसलिए शराब का भी कभी सेवन नहीं करना चाहिए और नंबर 3 बात जाती है जैसे पुड़िया पान पुड़िया खाते हैं इनको भी नहीं खाना चाहिए क्योंकि इनको खाने से दांत खराब होते हैं और साथ ही जैसी हम कहीं जाते हैं तो कई लोग डूबते हैं तो किसी के सामने ठोकते हैं तो अच्छा नहीं लगता और जब किसी से बात करते हैं तो हमारे सबसे पहले मुंह खुलता तो हमारे दांत दिखते हैं तो वह देखते हैं तो वह खराब है देखते हैं तो जिसकी वजह से कोई यह नहीं चाहता कि सब बात करें क्योंकि वह मुंह से स्मेल आती है और मुंह से स्मेल तो शराब पी लेगा तभी आते हैं शराब सिगरेट पीता तब भी आती है पुरी पानी पुरी खाता तब भी आती है इसलिए ऐसे इंसानों से हमेशा दूर रहना चाहिए जहां तक हो सके इन चीजों का परहेज करना चाहिए था ऐसे में पान पुड़िया खाने वाले लोग पूरे दिन थोपते रहते हैं इससे कोई दीवार खराब है दा कोई रोड खराब कर देता कोई गली सड़कें सब खराब कर देता तो उसे कोई बात नहीं करना चाहता मुंह में इस मेल भी आती है तो ऐसे लोगों से दूर रहना चाहिए यह दिन गलतियां धूम्रपान और शराब और पान पुरिया ऐसी चीजों का परहेज रखना चाहिए
Namaskaar doston bolakar aap mein svaagat hai savaal hai ki yuva mein dhoomrapaan ko lekar kis tarah kee galataphahamee aatee hai to isamen kaee tarah kee galatiyaan hotee hain jaise ki kaee yuva log hain jo ki galat sangat ya karate hain jaise ki koee sigaret peeta hai daaroo peeta hai koee badhiya khaata hai to usamen bol tera kya nukasaan hai jaise ki sigaret piega to isaka dhuaan hua hamaare shareer mein phephade ke lie nukasaan hai aur isase maanasik tanaav bhee grast ho sakata hai aur doosara kee jo daaru peete hain log sharaab peete hain to usase kya ki log jyaada pee lete hain to usamen shareer jalata hai vah log samay par khaana nahin khaate hain tatha jyaada peete peete unaka man aisa kahata kyon aur piya aur piya jaise hee vah jyaada peene lagata hai to vah ultee karane lag jaata to kisee ko ultee nahin hote to vah gaaliyaan kloj karane lag jaata hai to aur koee koee hai jo aisa kaary nahin karata phir bhee vah pada rahata hai kaee aise hote hain jo jyaada sharaab peene se moorchhit avastha avastha mein hote rahate hain kaheen par bhee so jaate hain yah nahin dekhate ki ham kahaan hain kya hai kaise hain kya kar rahe hain kuchh nahin pata chalata isalie sharaab ka bhee kabhee sevan nahin karana chaahie aur nambar 3 baat jaatee hai jaise pudiya paan pudiya khaate hain inako bhee nahin khaana chaahie kyonki inako khaane se daant kharaab hote hain aur saath hee jaisee ham kaheen jaate hain to kaee log doobate hain to kisee ke saamane thokate hain to achchha nahin lagata aur jab kisee se baat karate hain to hamaare sabase pahale munh khulata to hamaare daant dikhate hain to vah dekhate hain to vah kharaab hai dekhate hain to jisakee vajah se koee yah nahin chaahata ki sab baat karen kyonki vah munh se smel aatee hai aur munh se smel to sharaab pee lega tabhee aate hain sharaab sigaret peeta tab bhee aatee hai puree paanee puree khaata tab bhee aatee hai isalie aise insaanon se hamesha door rahana chaahie jahaan tak ho sake in cheejon ka parahej karana chaahie tha aise mein paan pudiya khaane vaale log poore din thopate rahate hain isase koee deevaar kharaab hai da koee rod kharaab kar deta koee galee sadaken sab kharaab kar deta to use koee baat nahin karana chaahata munh mein is mel bhee aatee hai to aise logon se door rahana chaahie yah din galatiyaan dhoomrapaan aur sharaab aur paan puriya aisee cheejon ka parahej rakhana chaahie

bolkar speaker
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:22
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है युवाओं में धूम्रपान को लेकर जिस तरह की गलतफहमी है रहते हैं तो फ्रेंड से युवा समझते हैं कि धूम्रपान करना फैशन है यह हमें अपना फैशन दिखाने के लिए पीते हैं और एक दूसरे से तुलना में लाते हैं यह पीना चाहिए उनके मन में गलतफहमी है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai yuvaon mein dhoomrapaan ko lekar jis tarah kee galataphahamee hai rahate hain to phrend se yuva samajhate hain ki dhoomrapaan karana phaishan hai yah hamen apana phaishan dikhaane ke lie peete hain aur ek doosare se tulana mein laate hain yah peena chaahie unake man mein galataphahamee hai dhanyavaad

bolkar speaker
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:10
हेलो शिवांशु आज आपके सवाल है कि युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफहमी रहती है तो देखिए मतलब करते वह सोचते हैं कि नहीं यह बहुत ही अच्छा पर्सनालिटी एक मतलब हाई-फाई टाइप का लग रहा है बट तुम ही नहीं पता है क्यों अपनी फ्रेंड के साथ ही नुकसान कर रहे हैं और आज तक जितने भी लोग हैं उनके हेल्थ को भी नुकसान करे जो सपोर्ट करते हैं उनसे ज्यादा आसपास जितने भी लोग हैं उनको ज्यादा नुकसान होता है तो यह सोच कर कि हां मूवीस में यह थोड़ा मैं तो टाइप का या फिर बहुत ज्यादा मतलब हाई स्टैंडर्ड हाइट वाले लोगों पर शक करने हैं तो हम भी करेंगे यह नया एक्सपीरियंस लेते हैं अच्छा है यह है वह है बहुत सारे लोग टेंशन में रहते हैं तो यह चीज करने से ठीक हो जाता तो यह सब एक तरह की गलतफहमी अगर कोई देखता है कि कुछ लोग कर रहा है तो एक अच्छा इंप्रेशन नहीं दिखाता है वह खराब इंप्रेशन नहीं दिखाता तो कभी भी यह नहीं सोचना चाहिए कि जो बॉलीवुड या फिर जो बड़े-बड़े लोग अगर कर रहे हो अगर हम भी करे तो हम भी मतलब अच्छे कैटेगरी में ही आएंगे ऐसा बिल्कुल भी नहीं सोचना चाहिए यह चीज बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए सिर्फ और सिर्फ खेल का नुकसान और दूसरों का नुकसान होता है
Helo shivaanshu aaj aapake savaal hai ki yuvaon mein dhoomrapaan ko lekar kis tarah kee galataphahamee rahatee hai to dekhie matalab karate vah sochate hain ki nahin yah bahut hee achchha parsanaalitee ek matalab haee-phaee taip ka lag raha hai bat tum hee nahin pata hai kyon apanee phrend ke saath hee nukasaan kar rahe hain aur aaj tak jitane bhee log hain unake helth ko bhee nukasaan kare jo saport karate hain unase jyaada aasapaas jitane bhee log hain unako jyaada nukasaan hota hai to yah soch kar ki haan moovees mein yah thoda main to taip ka ya phir bahut jyaada matalab haee staindard hait vaale logon par shak karane hain to ham bhee karenge yah naya eksapeeriyans lete hain achchha hai yah hai vah hai bahut saare log tenshan mein rahate hain to yah cheej karane se theek ho jaata to yah sab ek tarah kee galataphahamee agar koee dekhata hai ki kuchh log kar raha hai to ek achchha impreshan nahin dikhaata hai vah kharaab impreshan nahin dikhaata to kabhee bhee yah nahin sochana chaahie ki jo boleevud ya phir jo bade-bade log agar kar rahe ho agar ham bhee kare to ham bhee matalab achchhe kaitegaree mein hee aaenge aisa bilkul bhee nahin sochana chaahie yah cheej bilkul bhee nahin karana chaahie sirph aur sirph khel ka nukasaan aur doosaron ka nukasaan hota hai

bolkar speaker
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:33
कृष्णा की गोवा में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफहमी है तो युवाओं में धूम्रपान को लेकर एक सबसे बड़ी गलतफहमी है युवा यह सोचते हैं कि इनसे बीमारी जल्दी नहीं होगी वह व्यक्ति कितने सालों से उसको कुछ नहीं हुआ मेरा कुछ नहीं होगा यह बहुत बड़ी गलतफहमी है ऐसा बिल्कुल नहीं है धूम्रपान नुकसान करता है और धीरे-धीरे करके नुकसान करता है इसलिए कभी यह 20 सालों से सिगरेट पीना है तो मेरा कुछ नहीं होता उसका कुछ नहीं हुआ तुम सब का शरीर अलग अलग होता है इसमें यह गलतफहमी है युवा में जो दूर होनी चाहिए
Krshna kee gova mein dhoomrapaan ko lekar kis tarah kee galataphahamee hai to yuvaon mein dhoomrapaan ko lekar ek sabase badee galataphahamee hai yuva yah sochate hain ki inase beemaaree jaldee nahin hogee vah vyakti kitane saalon se usako kuchh nahin hua mera kuchh nahin hoga yah bahut badee galataphahamee hai aisa bilkul nahin hai dhoomrapaan nukasaan karata hai aur dheere-dheere karake nukasaan karata hai isalie kabhee yah 20 saalon se sigaret peena hai to mera kuchh nahin hota usaka kuchh nahin hua tum sab ka shareer alag alag hota hai isamen yah galataphahamee hai yuva mein jo door honee chaahie

bolkar speaker
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
2:59
नमस्कार दोस्तों बोलकर आप में स्वागत है सवाल है कि युवा में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफहमी आती है तो इसमें कई तरह की गलतियां होती हैं जैसे कि कई युवा लोग हैं जो कि गलत संगत या करते हैं जैसे कि कोई सिगरेट पीता है दारू पीता है कोई बढ़िया खाता है तो उसमें बोल तेरा क्या नुकसान है जैसे कि सिगरेट पिएगा तो इसका धुआं हुआ हमारे शरीर में फेफड़े के लिए नुकसान है और इससे मानसिक तनाव भी ग्रस्त हो सकता है और दूसरा की जो दारु पीते हैं लोग शराब पीते हैं तो उससे क्या कि लोग ज्यादा पी लेते हैं तो उसमें शरीर जलता है वह लोग समय पर खाना नहीं खाते हैं तथा ज्यादा पीते पीते उनका मन ऐसा कहता क्यों और पिया और पिया जैसे ही वह ज्यादा पीने लगता है तो वह उल्टी करने लग जाता तो किसी को उल्टी नहीं होते तो वह गालियां क्लोज करने लग जाता है तो और कोई कोई है जो ऐसा कार्य नहीं करता फिर भी वह पड़ा रहता है कई ऐसे होते हैं जो ज्यादा शराब पीने से मूर्छित अवस्था अवस्था में होते रहते हैं कहीं पर भी सो जाते हैं यह नहीं देखते कि हम कहां हैं क्या है कैसे हैं क्या कर रहे हैं कुछ नहीं पता चलता इसलिए शराब का भी कभी सेवन नहीं करना चाहिए और नंबर 3 बात जाती है जैसे पुड़िया पान पुड़िया खाते हैं इनको भी नहीं खाना चाहिए क्योंकि इनको खाने से दांत खराब होते हैं और साथ ही जैसी हम कहीं जाते हैं तो कई लोग डूबते हैं तो किसी के सामने ठोकते हैं तो अच्छा नहीं लगता और जब किसी से बात करते हैं तो हमारे सबसे पहले मुंह खुलता तो हमारे दांत दिखते हैं तो वह देखते हैं तो वह खराब है देखते हैं तो जिसकी वजह से कोई यह नहीं चाहता कि सब बात करें क्योंकि वह मुंह से स्मेल आती है और मुंह से स्मेल तो शराब पी लेगा तभी आते हैं शराब सिगरेट पीता तब भी आती है पुरी पानी पुरी खाता तब भी आती है इसलिए ऐसे इंसानों से हमेशा दूर रहना चाहिए जहां तक हो सके इन चीजों का परहेज करना चाहिए था ऐसे में पान पुड़िया खाने वाले लोग पूरे दिन थोपते रहते हैं इससे कोई दीवार खराब है दा कोई रोड खराब कर देता कोई गली सड़कें सब खराब कर देता तो उसे कोई बात नहीं करना चाहता मुंह में इस मेल भी आती है तो ऐसे लोगों से दूर रहना चाहिए यह दिन गलतियां धूम्रपान और शराब और पान पुरिया ऐसी चीजों का परहेज रखना चाहिए
Namaskaar doston bolakar aap mein svaagat hai savaal hai ki yuva mein dhoomrapaan ko lekar kis tarah kee galataphahamee aatee hai to isamen kaee tarah kee galatiyaan hotee hain jaise ki kaee yuva log hain jo ki galat sangat ya karate hain jaise ki koee sigaret peeta hai daaroo peeta hai koee badhiya khaata hai to usamen bol tera kya nukasaan hai jaise ki sigaret piega to isaka dhuaan hua hamaare shareer mein phephade ke lie nukasaan hai aur isase maanasik tanaav bhee grast ho sakata hai aur doosara kee jo daaru peete hain log sharaab peete hain to usase kya ki log jyaada pee lete hain to usamen shareer jalata hai vah log samay par khaana nahin khaate hain tatha jyaada peete peete unaka man aisa kahata kyon aur piya aur piya jaise hee vah jyaada peene lagata hai to vah ultee karane lag jaata to kisee ko ultee nahin hote to vah gaaliyaan kloj karane lag jaata hai to aur koee koee hai jo aisa kaary nahin karata phir bhee vah pada rahata hai kaee aise hote hain jo jyaada sharaab peene se moorchhit avastha avastha mein hote rahate hain kaheen par bhee so jaate hain yah nahin dekhate ki ham kahaan hain kya hai kaise hain kya kar rahe hain kuchh nahin pata chalata isalie sharaab ka bhee kabhee sevan nahin karana chaahie aur nambar 3 baat jaatee hai jaise pudiya paan pudiya khaate hain inako bhee nahin khaana chaahie kyonki inako khaane se daant kharaab hote hain aur saath hee jaisee ham kaheen jaate hain to kaee log doobate hain to kisee ke saamane thokate hain to achchha nahin lagata aur jab kisee se baat karate hain to hamaare sabase pahale munh khulata to hamaare daant dikhate hain to vah dekhate hain to vah kharaab hai dekhate hain to jisakee vajah se koee yah nahin chaahata ki sab baat karen kyonki vah munh se smel aatee hai aur munh se smel to sharaab pee lega tabhee aate hain sharaab sigaret peeta tab bhee aatee hai puree paanee puree khaata tab bhee aatee hai isalie aise insaanon se hamesha door rahana chaahie jahaan tak ho sake in cheejon ka parahej karana chaahie tha aise mein paan pudiya khaane vaale log poore din thopate rahate hain isase koee deevaar kharaab hai da koee rod kharaab kar deta koee galee sadaken sab kharaab kar deta to use koee baat nahin karana chaahata munh mein is mel bhee aatee hai to aise logon se door rahana chaahie yah din galatiyaan dhoomrapaan aur sharaab aur paan puriya aisee cheejon ka parahej rakhana chaahie

bolkar speaker
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
0:53
युवाओं में कंपन को लेकर किस तरह की गलतफहमी होती है आमतौर पर हो तुम फोन करना गलत नहीं समझते हैं सिगरेट पीना अपनी शान समझते हैं ना वह अपनी रहीसी सोचते हैं अपनी युवावस्था की जिंदगानी जिंदगी को वह लक्षण समझते हैं उसमें सिगरेट पीना याचिका क्यों ना उनकी सूची पहुंची है उनकी डायरी का प्रतीक स्टेटस सिंबल सोचते हैं यही कमियां आज के युवाओं में वह भी समझदार युवाओं में भरी हुई और गलतफहमी के शिकार होने से वह अपने स्वर्णिम को दांव पर लगा देते
Yuvaon mein kampan ko lekar kis tarah kee galataphahamee hotee hai aamataur par ho tum phon karana galat nahin samajhate hain sigaret peena apanee shaan samajhate hain na vah apanee raheesee sochate hain apanee yuvaavastha kee jindagaanee jindagee ko vah lakshan samajhate hain usamen sigaret peena yaachika kyon na unakee soochee pahunchee hai unakee daayaree ka prateek stetas simbal sochate hain yahee kamiyaan aaj ke yuvaon mein vah bhee samajhadaar yuvaon mein bharee huee aur galataphahamee ke shikaar hone se vah apane svarnim ko daanv par laga dete

bolkar speaker
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:02
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफहमी रहती है गलतफहमी रहती है काम करने वाले व्यक्ति के मुकाबले साधारण व्यक्ति जो है वह 10 साल जीता है और 10 साल पहले मर जाता है इस के नशे में ना रहे हैं घर यानी कि स्मोकिंग वगैरा और कुछ सोचते हैं कि नुकसान हो जाएगा परंतु इसकी तरफ बिल्कुल भी ध्यान नहीं देते इनको पीना है जो निकोटीन होती है दोस्तों के बार बार इनकी जिज्ञासा को बढ़ाती है कि आई है हमें लीजिए उनका मन नहीं लग रहा
Yuvaon mein dhoomrapaan ko lekar kis tarah kee galataphahamee rahatee hai galataphahamee rahatee hai kaam karane vaale vyakti ke mukaabale saadhaaran vyakti jo hai vah 10 saal jeeta hai aur 10 saal pahale mar jaata hai is ke nashe mein na rahe hain ghar yaanee ki smoking vagaira aur kuchh sochate hain ki nukasaan ho jaega parantu isakee taraph bilkul bhee dhyaan nahin dete inako peena hai jo nikoteen hotee hai doston ke baar baar inakee jigyaasa ko badhaatee hai ki aaee hai hamen leejie unaka man nahin lag raha

bolkar speaker
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
3:03
एवं दोनों अपन को लेकर किस तरह की गलतियां रहती है स्कूल से कॉलेज लेवल पर पहुंचता है दूसरी जगहों पर पहुंच इन चीजों को कॉल करने की कोशिश करता है और फिर अंत में हमारे वैसे तो हमारे फिल्मों में और दूसरी जगहों पर धूम्रपान को आवाज के सीन को रुकावट की गई है या बहुत कम करती है लेकिन जब बच्चे इस द्वीप पर पहुंचते हंसकर कॉलेज यूनिवर्सिटी और बहुत से स्टेशन में तुमको शुरुआत में आते हैं तो अपने दोस्तों पर देखा देखी शुरू करते हैं सिगरेट के बहुत सारे ब्राह्मणों को और भी चीजों को देखो पहले दुकान का सिगरेट दमोह का वीडियो देना अगर पी रहे हैं तो निश्चित तौर पर वह घरेलू स्तर पर उन्होंने उसे संभालकर लेकिन जब युवाओं से पहले उनका दूसरा कभी-कभी मानसिक दबाव में भी आते हैं उनको अपनी एजुकेशन के सचिन तेंदुलकर को ध्यान में रखकर उन्हें ऐसा लगता है कि हिंदू कर ले लेंगे तो हमारा जो मानसिक स्थिति नॉर्मल हो जाएगा हम पत्रकार गलतफहमी के कारण शुरुआत करते हैं और उनके साथ और भी बहुत सारी नशा बढ़ जाते हैं यहां से संबंधित नहीं गाइडलाइन होनी चाहिए इससे काउंसलिंग होने को स्वतंत्र मांगते हैं कॉलेज पर आ कर के आएगा करके उनको एक जा रहा सो जाता है क्योंकि जो अंदर ही है सबसे ज्यादा कॉपी करता है फैशन को और दूसरी चीजों का और युवा शक्ति ही शहीदों की तरफ जल्दी टाइप होता है और सेल्फी गलतफहमी के कारण से वह बेचारे धूम्रपान दे से अंधाधुंध उसमें तुम जाते हैं कहने का मतलब है कि नहीं है लेकिन एक दूसरे की देखा देखी मैं फैशन को लेकर के अलग अलग एंगल पर देखा होगा आप लोगों ने फोटो फ्रेमिंग करके सेव कर और इसी कारण से वह पहले धीरे-धीरे शुरुआत करते हैं 12 घर से बहुत बड़े बन जाते हैं चक्कर में पड़ जाता है निश्चित तौर पर से निकलना बड़ा मुश्किल
Evan donon apan ko lekar kis tarah kee galatiyaan rahatee hai skool se kolej leval par pahunchata hai doosaree jagahon par pahunch in cheejon ko kol karane kee koshish karata hai aur phir ant mein hamaare vaise to hamaare philmon mein aur doosaree jagahon par dhoomrapaan ko aavaaj ke seen ko rukaavat kee gaee hai ya bahut kam karatee hai lekin jab bachche is dveep par pahunchate hansakar kolej yoonivarsitee aur bahut se steshan mein tumako shuruaat mein aate hain to apane doston par dekha dekhee shuroo karate hain sigaret ke bahut saare braahmanon ko aur bhee cheejon ko dekho pahale dukaan ka sigaret damoh ka veediyo dena agar pee rahe hain to nishchit taur par vah ghareloo star par unhonne use sambhaalakar lekin jab yuvaon se pahale unaka doosara kabhee-kabhee maanasik dabaav mein bhee aate hain unako apanee ejukeshan ke sachin tendulakar ko dhyaan mein rakhakar unhen aisa lagata hai ki hindoo kar le lenge to hamaara jo maanasik sthiti normal ho jaega ham patrakaar galataphahamee ke kaaran shuruaat karate hain aur unake saath aur bhee bahut saaree nasha badh jaate hain yahaan se sambandhit nahin gaidalain honee chaahie isase kaunsaling hone ko svatantr maangate hain kolej par aa kar ke aaega karake unako ek ja raha so jaata hai kyonki jo andar hee hai sabase jyaada kopee karata hai phaishan ko aur doosaree cheejon ka aur yuva shakti hee shaheedon kee taraph jaldee taip hota hai aur selphee galataphahamee ke kaaran se vah bechaare dhoomrapaan de se andhaadhundh usamen tum jaate hain kahane ka matalab hai ki nahin hai lekin ek doosare kee dekha dekhee main phaishan ko lekar ke alag alag engal par dekha hoga aap logon ne photo phreming karake sev kar aur isee kaaran se vah pahale dheere-dheere shuruaat karate hain 12 ghar se bahut bade ban jaate hain chakkar mein pad jaata hai nishchit taur par se nikalana bada mushkil

bolkar speaker
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:23
मैं घर वालों को लेकर किस तरह की गलतफहमी रहती है तो युवाओं में धूम्रपान को लेकर बहुत सारी गलतफहमी है रोती भी यह सोच कर कि उचित स्थान है मोर्चा लोगों के सामने करेंगे तुम्हारी इमेज
Main ghar vaalon ko lekar kis tarah kee galataphahamee rahatee hai to yuvaon mein dhoomrapaan ko lekar bahut saaree galataphahamee hai rotee bhee yah soch kar ki uchit sthaan hai morcha logon ke saamane karenge tumhaaree imej

bolkar speaker
युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफामिया रहती हैं?Yuwao Me Dhumr Paan Ko Lekar Kis Tarah Kee Galatfemiya Reheti Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
2:05
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल इस प्रकार के युवाओं में धूम्रपान को लेकर किस तरह की गलतफहमी रहती है तो दोस्तों आपके सवाल बहुत ही अच्छा है क्योंकि हमारे देश में ज्यादातर नवयुवक बेरोजगार हैं जो डिप्रेशन के शिकार हैं क्योंकि उनको यह चिंता सता रही है कब हमें रोजगार मिलेगा कब हम काबिल बनेंगे इसलिए ज्यादातर युवाओं में यह आक्रोश होने की वजह से ज्यादातर हो तुम और पानी की ओर अग्रसर हो रही है तो हमारे देश से का युवाओं का भविष्य बहुत ही खतरे में है एक तो हमारे देश के युवाओं को जॉब नहीं मिल पा रहा है दूसरा वह गलत संगति में पढ़ रहे हैं जिससे हमारे देश का बहुत ही ज्यादा नुकसान हो रहा है और उनको यह सोचना चाहिए अगर जॉब नहीं मिल रहा है तो खुद अपना चयन का कुछ वैसा करना चाहिए और अपने खुद में आतंकवाद को मजबूत बनाना चाहिए ना कि हम धूम्रपान की लत मैं बड़े इससे हमारा परिवार और हमारा खुद का नुकसान होगा इसलिए मेरा तो यह कहना है कि हमारे देश के युवाओं को धूम्रपान की लत से दूर जाना चाहिए और हमें एक अच्छे स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहना चाहिए धूम्रपान बहुत ही जानलेवा है जिससे मनुष्य की जान जा सकती है और इनसे पैसों का भी नुकसान और हमारा स्वास्थ्य का भी नुकसान है इसलिए हमारे देश के युवाओं को धूम्रपान से मिलना चाहिए और एक अच्छे स्वास्थ्य के प्रति जागरूक रहना चाहिए और भी अपने पड़ोसी मित्रों को भी जागरूक करना चाहिए और धूम्रपान से हमारे मानसिक शक्ति होती है इसलिए हमें धूम्रपान से दूर भगाना चाहिए धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka savaal is prakaar ke yuvaon mein dhoomrapaan ko lekar kis tarah kee galataphahamee rahatee hai to doston aapake savaal bahut hee achchha hai kyonki hamaare desh mein jyaadaatar navayuvak berojagaar hain jo dipreshan ke shikaar hain kyonki unako yah chinta sata rahee hai kab hamen rojagaar milega kab ham kaabil banenge isalie jyaadaatar yuvaon mein yah aakrosh hone kee vajah se jyaadaatar ho tum aur paanee kee or agrasar ho rahee hai to hamaare desh se ka yuvaon ka bhavishy bahut hee khatare mein hai ek to hamaare desh ke yuvaon ko job nahin mil pa raha hai doosara vah galat sangati mein padh rahe hain jisase hamaare desh ka bahut hee jyaada nukasaan ho raha hai aur unako yah sochana chaahie agar job nahin mil raha hai to khud apana chayan ka kuchh vaisa karana chaahie aur apane khud mein aatankavaad ko majaboot banaana chaahie na ki ham dhoomrapaan kee lat main bade isase hamaara parivaar aur hamaara khud ka nukasaan hoga isalie mera to yah kahana hai ki hamaare desh ke yuvaon ko dhoomrapaan kee lat se door jaana chaahie aur hamen ek achchhe svaasthy ke prati jaagarook rahana chaahie dhoomrapaan bahut hee jaanaleva hai jisase manushy kee jaan ja sakatee hai aur inase paison ka bhee nukasaan aur hamaara svaasthy ka bhee nukasaan hai isalie hamaare desh ke yuvaon ko dhoomrapaan se milana chaahie aur ek achchhe svaasthy ke prati jaagarook rahana chaahie aur bhee apane padosee mitron ko bhee jaagarook karana chaahie aur dhoomrapaan se hamaare maanasik shakti hotee hai isalie hamen dhoomrapaan se door bhagaana chaahie dhanyavaad doston khush raho

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • धूम्रपान कैसे छोड़े, धूम्रपान कितना हानिकारक होता है, धूम्रपान के नुकसान
  • धूम्रपान का अर्थ, धूम्रपान के नुकसान, धूम्रपान के दुष्प्रभाव
URL copied to clipboard