#जीवन शैली

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:52
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है हर व्यक्ति को प्रतिदिन कितना घूमने घूमना चाहिए इसके क्या क्या फायदे होते हैं तो फ्रेंड्स हर व्यक्ति को रोज 102 किलोमीटर जरूर पहनना चाहिए आप सुबह उठकर कम से कम 1 किलोमीटर 2 किलोमीटर के मॉर्निंग वॉक कर सकते हैं सुबह टाइम नहीं है तो आप शाम को कर सकते हैं तो इंसान को 2 किलोमीटर तो पैदल चलना ही चाहिए यह स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छा होता है और जो शुगर के पेशेंट होते हैं डायबिटिक पेशेंट होते हैं बीपी वाली परसेंट होते हैं तो उनके लिए भी है रामबाण इलाज है उनको वॉकिंग करना चाहिए वाकिंग करने से उनका शरीर बहुत ही सुस्त रहता है और एक स्वस्थ आदमी भी वाकिंग कर सकता है कि उसे आने वाले समय में कोई बीमारियां ना हो और उसका शरीर फिट रह सके तो घूमना शरीर के लिए काफी अच्छा होता है एक 2 किलोमीटर जरूर घूम सकते हैं
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai har vyakti ko pratidin kitana ghoomane ghoomana chaahie isake kya kya phaayade hote hain to phrends har vyakti ko roj 102 kilomeetar jaroor pahanana chaahie aap subah uthakar kam se kam 1 kilomeetar 2 kilomeetar ke morning vok kar sakate hain subah taim nahin hai to aap shaam ko kar sakate hain to insaan ko 2 kilomeetar to paidal chalana hee chaahie yah svaasthy ke lie bahut hee achchha hota hai aur jo shugar ke peshent hote hain daayabitik peshent hote hain beepee vaalee parasent hote hain to unake lie bhee hai raamabaan ilaaj hai unako voking karana chaahie vaaking karane se unaka shareer bahut hee sust rahata hai aur ek svasth aadamee bhee vaaking kar sakata hai ki use aane vaale samay mein koee beemaariyaan na ho aur usaka shareer phit rah sake to ghoomana shareer ke lie kaaphee achchha hota hai ek 2 kilomeetar jaroor ghoom sakate hain

और जवाब सुनें

Hitesh jain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hitesh जी का जवाब
Blogger- Content Writer
2:58
आज का सवाल है जो बहुत इंपोर्टेंट है हर व्यक्ति की हुई है कि हर व्यक्ति को प्रतिदिन कितना खून होना चाहिए कौन से क्या-क्या फायदा होता है सबसे पहले तो यह जाने कि कब खाना चाहिए कब नहीं तो खाना खाते ही तुरंत नहीं घूमने के खाना खाने के 10 मिनट बात करना चाहिए चाहे सुबह अपने नाम को तो मैं वैसे मॉर्निंग वॉक सबसे बेस्ट मानी जाती है जो आपके शरीर को पूरे बॉडी को को रिमाइंड को एक को सीटीईटी से भर देती है एक नई ऊर्जा का संचार करती है और हो सके तो आपको दुख में सुबह घूमने निशा को धूप भी मिलेगी आपका बेटा भिंडी भी बढ़ेगा शरीर में हड्डियां मजबूत बनेगी क्लास आपके मन में हो जाएगी और वाकिंग करते समय आप गहरी गहरी सांस लेकर भी छोड़ सकते जिससे आपका स्टेज तनाव डिप्रेशन कम होता है तो स्टेशन ऑफ़ डिग्री का मौका तो आपको हाई बीपी लो बीपी डिप्रेशन माइग्रेन डायबिटीज या फिर कोई भी तकलीफ हो जाए कोई भी तकलीफ हो अगर आप रेगुलर आधा घंटा वाकिंग करते हैं आधार रानी कम से कम मान लीजिए आधे घंटे में आपको 4 किलोमीटर तो चल ही पाएंगे अगर आप थोड़ा 503 थे चार से 5 किलोमीटर या फिर आधा घंटा नहीं तो 4 से 5 किलोमीटर का टारगेट आखिरी 5 किलोमीटर चलना ही है तो 5 किलोमीटर अगर आप रेगुलर बेसिस पर चलते हैं सुबह या शाम में एक टाइम पर चलना आपको सुबह में चल रहे थे सुबह 5 किलोमीटर शाम में चल रहे थे हमें ऐसा नहीं कि सुबह 2 किलोमीटर चलो फिर शाम को 3 किलोमीटर तो वह इफेक्ट नहीं करता बॉडी को एक साथ जो चलेंगे बहुत सारे का और चलते समय डिहाइड्रेशन होता है तो वह पानी की बोतल जरूर रखें क्योंकि अभी गर्मियों के दिन आने वाले हैं राजेश भाई फायदे बताओ बहुत सारे फायदे होते हैं यार शारीरिक तनाव दूर होता है मानसिक तनाव दूर होता है आपको इंटेलिजेंट बनते हैं आपका प्रेम आपका ब्रेन सेल्स मैनेजर साहब के बढ़ते न्यूरोजेनेसिस जैसे बोलता है वह बढ़ता है डॉक्टर डोपामिन लेवल बढ़ता है सेरोटोनिन लेवल बढ़ता है आपके ब्रेन को पुष्ट करता है और बुकिंग करते समय थोड़ा पानी भी पीना चाहिए जिससे आपको इनको एनर्जेटिक एनर्जी मिले या फिर ना जो ट्रेन भी ले सकते हैं और यह है कि कम से कम आधा घंटा तो आपको घूमना ही जगह घूम नहीं सकते हैं तो साइकिलिंग करें साइकिलिंग नहीं कर सकते तो स्विमिंग करें स्विमिंग भी नहीं कर सकते तो कम से कम मेडिटेशन जरूर करें एक जगह बैठ कर के आधा घंटा कुछ भी करे लेकिन करें यह आपके पूरे जीवन की दिशा को बदल देगा अगर नहीं बदले तो आप मुझे दोबारा कमेंट में करके बता दीजिएगा कि मैं पर्सनल इन सब चीजों को करता हूं मुझे इनके फाइनल पता है इसलिए मैं कह रहा हूं क्या प्रतिदिन आधा घंटा को में आधा घंटा साइकिल इंद्र आधा घंटा वॉकिंग करें इससे आपको हंड्रेड 10% फायदा होगा होगा होगा तो आई हो आपको मेरा यह ऑडियो अच्छा लगा हो तो प्लीज लाइक शेयर हो सकता है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ और सबका आशीर्वाद बना रहे हो आप सब आशीर्वाद दीजिए में से जो आप मुझसे बड़े बुजुर्ग एवं का आशीर्वाद मिलेगा तो काफी आगे बढ़ लूंगा मैं थैंक यू धन्यवाद
Aaj ka savaal hai jo bahut importent hai har vyakti kee huee hai ki har vyakti ko pratidin kitana khoon hona chaahie kaun se kya-kya phaayada hota hai sabase pahale to yah jaane ki kab khaana chaahie kab nahin to khaana khaate hee turant nahin ghoomane ke khaana khaane ke 10 minat baat karana chaahie chaahe subah apane naam ko to main vaise morning vok sabase best maanee jaatee hai jo aapake shareer ko poore bodee ko ko rimaind ko ek ko seeteeeetee se bhar detee hai ek naee oorja ka sanchaar karatee hai aur ho sake to aapako dukh mein subah ghoomane nisha ko dhoop bhee milegee aapaka beta bhindee bhee badhega shareer mein haddiyaan majaboot banegee klaas aapake man mein ho jaegee aur vaaking karate samay aap gaharee gaharee saans lekar bhee chhod sakate jisase aapaka stej tanaav dipreshan kam hota hai to steshan of digree ka mauka to aapako haee beepee lo beepee dipreshan maigren daayabiteej ya phir koee bhee takaleeph ho jae koee bhee takaleeph ho agar aap regular aadha ghanta vaaking karate hain aadhaar raanee kam se kam maan leejie aadhe ghante mein aapako 4 kilomeetar to chal hee paenge agar aap thoda 503 the chaar se 5 kilomeetar ya phir aadha ghanta nahin to 4 se 5 kilomeetar ka taaraget aakhiree 5 kilomeetar chalana hee hai to 5 kilomeetar agar aap regular besis par chalate hain subah ya shaam mein ek taim par chalana aapako subah mein chal rahe the subah 5 kilomeetar shaam mein chal rahe the hamen aisa nahin ki subah 2 kilomeetar chalo phir shaam ko 3 kilomeetar to vah iphekt nahin karata bodee ko ek saath jo chalenge bahut saare ka aur chalate samay dihaidreshan hota hai to vah paanee kee botal jaroor rakhen kyonki abhee garmiyon ke din aane vaale hain raajesh bhaee phaayade batao bahut saare phaayade hote hain yaar shaareerik tanaav door hota hai maanasik tanaav door hota hai aapako intelijent banate hain aapaka prem aapaka bren sels mainejar saahab ke badhate nyoorojenesis jaise bolata hai vah badhata hai doktar dopaamin leval badhata hai serotonin leval badhata hai aapake bren ko pusht karata hai aur buking karate samay thoda paanee bhee peena chaahie jisase aapako inako enarjetik enarjee mile ya phir na jo tren bhee le sakate hain aur yah hai ki kam se kam aadha ghanta to aapako ghoomana hee jagah ghoom nahin sakate hain to saikiling karen saikiling nahin kar sakate to sviming karen sviming bhee nahin kar sakate to kam se kam mediteshan jaroor karen ek jagah baith kar ke aadha ghanta kuchh bhee kare lekin karen yah aapake poore jeevan kee disha ko badal dega agar nahin badale to aap mujhe dobaara kament mein karake bata deejiega ki main parsanal in sab cheejon ko karata hoon mujhe inake phainal pata hai isalie main kah raha hoon kya pratidin aadha ghanta ko mein aadha ghanta saikil indr aadha ghanta voking karen isase aapako handred 10% phaayada hoga hoga hoga to aaee ho aapako mera yah odiyo achchha laga ho to pleej laik sheyar ho sakata hai ki jyaada se jyaada logon ke saath aur sabaka aasheervaad bana rahe ho aap sab aasheervaad deejie mein se jo aap mujhase bade bujurg evan ka aasheervaad milega to kaaphee aage badh loonga main thaink yoo dhanyavaad

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:49
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल इस प्रकार से हर व्यक्ति को प्रतिदिन कितना घूमना करना चाहिए से क्या-क्या फायदे होते हैं तो मित्रों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है हमें प्रतिदिन दिल्ली घूमना चाहिए जिससे घूमने से हमारे खून का सरकुलेशन सही रहता है और आप भी जो अच्छे समझते हैं वह दूर होती है और आपका स्वास्थ्य है वह अच्छा रहता है और आप खुश रहेंगे और बीमारियों से लड़ने की क्षमता पैदा होती है और आप सुबह प्रतिदिन होना चाहिए इसके साथ-साथ आपको व्यायाम भी करना चाहिए धन्यवाद अब तो खुश रहो
Namaskaar doston aapaka savaal is prakaar se har vyakti ko pratidin kitana ghoomana karana chaahie se kya-kya phaayade hote hain to mitron aapake savaal ka uttar is prakaar hai hamen pratidin dillee ghoomana chaahie jisase ghoomane se hamaare khoon ka sarakuleshan sahee rahata hai aur aap bhee jo achchhe samajhate hain vah door hotee hai aur aapaka svaasthy hai vah achchha rahata hai aur aap khush rahenge aur beemaariyon se ladane kee kshamata paida hotee hai aur aap subah pratidin hona chaahie isake saath-saath aapako vyaayaam bhee karana chaahie dhanyavaad ab to khush raho

Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:24
हां हर व्यक्ति को प्रतिदिन घूमना चाहिए नहीं चाहिए बल्कि तेजी से चलना चाहिए
Haan har vyakti ko pratidin ghoomana chaahie nahin chaahie balki tejee se chalana chaahie

Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:31
अरे कपड़े उसने हर व्यक्ति को प्रतिदिन कितना घूमना चाहिए उस से क्या-क्या फायदे होते हैं तो आपको बताना चाहेंगे देखिए अगर आप घूमने की बात करें तो प्रतिदिन व्यक्ति को 70 मिनट होना चाहिए उसमें से भी 10 मिनट जो है वह तेज चलना है या दौड़ना चाहिए तभी आपके जो फ्रेंड है उसका सरकुलेशन फास्ट होगा आप के जो लंच है वह तेजी से ऑक्सीजन को कंफर्म करेंगे और यह सारी एक्टिविटीज आपको मॉर्निंग के समय करनी चाहिए हमें शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Are kapade usane har vyakti ko pratidin kitana ghoomana chaahie us se kya-kya phaayade hote hain to aapako bataana chaahenge dekhie agar aap ghoomane kee baat karen to pratidin vyakti ko 70 minat hona chaahie usamen se bhee 10 minat jo hai vah tej chalana hai ya daudana chaahie tabhee aapake jo phrend hai usaka sarakuleshan phaast hoga aap ke jo lanch hai vah tejee se okseejan ko kampharm karenge aur yah saaree ektiviteej aapako morning ke samay karanee chaahie hamen shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:20
इको सिटी में कितना घूमना चाहिए जिससे कि उसका फायदा हो हर व्यक्ति को अपने 5 किलोमीटर होना चाहिए उनका शरीर स्वस्थ रहेगा तो दौड़ रहेगा भूख लगेगी
Iko sitee mein kitana ghoomana chaahie jisase ki usaka phaayada ho har vyakti ko apane 5 kilomeetar hona chaahie unaka shareer svasth rahega to daud rahega bhookh lagegee

anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
0:54
नमस्कार दोस्तों बोलकर आप में स्वागत है सवाल है कि हर व्यक्ति को प्रतिदिन कितना घूमना चाहिए तो घास मेरा मानना यह है कि स्वस्थ रहने के लिए एक व्यक्ति को कम से कम दिन में आधा घंटा जरूर चलना चाहिए अगर कदम की बात करें तो करीब 10000 कदम यानी 6 से 7 किलोमीटर रोज चलना चाहिए पैदल क्योंकि यह हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभदायक भी है और फायदेमंद गया तथा यह बात ध्यान में रखना चाहिए कि हमें नॉर्मल से थोड़ा तेज चलने की जरूरत है क्या फायदे हैं कि हम जैसे लगातार चलते रहेंगे तो हमारे किसी भी पेड़ मतलब पैरों में या कहीं भी कोई दर्द होने की समस्या नहीं रहेगी और हम स्वस्थ रहेंगे और ज्यादा चलेंगे फिरेंगे
Namaskaar doston bolakar aap mein svaagat hai savaal hai ki har vyakti ko pratidin kitana ghoomana chaahie to ghaas mera maanana yah hai ki svasth rahane ke lie ek vyakti ko kam se kam din mein aadha ghanta jaroor chalana chaahie agar kadam kee baat karen to kareeb 10000 kadam yaanee 6 se 7 kilomeetar roj chalana chaahie paidal kyonki yah hamaare svaasthy ke lie laabhadaayak bhee hai aur phaayademand gaya tatha yah baat dhyaan mein rakhana chaahie ki hamen normal se thoda tej chalane kee jaroorat hai kya phaayade hain ki ham jaise lagaataar chalate rahenge to hamaare kisee bhee ped matalab pairon mein ya kaheen bhee koee dard hone kee samasya nahin rahegee aur ham svasth rahenge aur jyaada chalenge phirenge

डा. इन्दु प्रकाश सिंह  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए डा. जी का जवाब
शिक्षण-कार्य, कालेज शिक्षा में प्राचार्य हूँ
1:58
हर व्यक्ति को प्रतिदिन कितना घूमना करना यह उस से क्या फायदे होते हैं तो बेटा सीधा इसका उत्तर है कि युवावस्था में तो आदमी ज्यादा सक्रिय रहता है खेलना कूदना कर ही लेता है आपने लेकिन अगर ऐसा नहीं है तो औसतन करीब 5 किलोमीटर के आसपास 4 से 5 किलोमीटर आदमी को घूमना चाहिए वृद्धावस्था में भी चार-पांच किलोमीटर सुबह-शाम मिलाकर के और 5 किलोमीटर का सीधा सा मतलब होता है कि मान के चले कि ढाई सौ कदम में 100 मीटर हो जाता है तो आधे घंटे 45 मिनट और आधे घंटे 45 मिनट बाद मिले तो 55 साल के बाद से तो लगभग लगभग पूरी हो जाती है उसके डीजे जरूरतें पूरी हो जाती है लाभ इसलिए होता किंतु आपके इससे क्या होता है कि प्रफुल्लित रहते हैं पैरों में सफल हो जाते हैं दूसरे आप सुबह निकल जाते हैं तो उसका गांव में तो खैर अब बहुत अच्छा है शाहरुख के लिए प्रॉब्लम है लेकिन लाना धीमे नहीं है तो हाथ डालने चले जाते हैं छत के ऊपर चले जाते हैं तो पूरा शरीर के लिए प्राण भाई मिल जाती है तो यह करना चाहिए और इस बीच अगर थोड़ा सा योगा टीचर सके तो ज्यादा अच्छा है पहले का सबसे अच्छा प्रातः काल का 4:05 बजे से लेकर 6:07 बजे तक अगर किसी रोड आदि पर भी आप पढ़ने जाते तो समय पर गाड़ियों से कम निकलती हैं तो आपको दुकान में मिल जाती है अगल बगल में कोई बढ़िया लाने ऐसा कुछ मिल जाए तो उस पर क्या
Har vyakti ko pratidin kitana ghoomana karana yah us se kya phaayade hote hain to beta seedha isaka uttar hai ki yuvaavastha mein to aadamee jyaada sakriy rahata hai khelana koodana kar hee leta hai aapane lekin agar aisa nahin hai to ausatan kareeb 5 kilomeetar ke aasapaas 4 se 5 kilomeetar aadamee ko ghoomana chaahie vrddhaavastha mein bhee chaar-paanch kilomeetar subah-shaam milaakar ke aur 5 kilomeetar ka seedha sa matalab hota hai ki maan ke chale ki dhaee sau kadam mein 100 meetar ho jaata hai to aadhe ghante 45 minat aur aadhe ghante 45 minat baad mile to 55 saal ke baad se to lagabhag lagabhag pooree ho jaatee hai usake deeje jarooraten pooree ho jaatee hai laabh isalie hota kintu aapake isase kya hota hai ki praphullit rahate hain pairon mein saphal ho jaate hain doosare aap subah nikal jaate hain to usaka gaanv mein to khair ab bahut achchha hai shaaharukh ke lie problam hai lekin laana dheeme nahin hai to haath daalane chale jaate hain chhat ke oopar chale jaate hain to poora shareer ke lie praan bhaee mil jaatee hai to yah karana chaahie aur is beech agar thoda sa yoga teechar sake to jyaada achchha hai pahale ka sabase achchha praatah kaal ka 4:05 baje se lekar 6:07 baje tak agar kisee rod aadi par bhee aap padhane jaate to samay par gaadiyon se kam nikalatee hain to aapako dukaan mein mil jaatee hai agal bagal mein koee badhiya laane aisa kuchh mil jae to us par kya

DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
1:07
व्यक्ति को प्रतिदिन कितना होना चाहिए और से क्या-क्या फायदे होते हैं हर व्यक्ति के द्वारा बाल अवस्था वृद्धावस्था कम से कम 15 फिल्म चाहिए और करनी चाहिए 1 किलोमीटर 6 किलोमीटर पैदल चलना चाहिए उनका संस्कार बना रहता है पता है गुड़िया करता है और इंसान से नफरत करने वालों की हार नहीं होती और एक तरह का वह अपना खो जाता है पेट की गर्मी नहीं पड़ती और इंसान की अच्छी तरह से देखा जाए पैदल सुनना सुनना इंसान की शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत ही आवत है
Vyakti ko pratidin kitana hona chaahie aur se kya-kya phaayade hote hain har vyakti ke dvaara baal avastha vrddhaavastha kam se kam 15 philm chaahie aur karanee chaahie 1 kilomeetar 6 kilomeetar paidal chalana chaahie unaka sanskaar bana rahata hai pata hai gudiya karata hai aur insaan se napharat karane vaalon kee haar nahin hotee aur ek tarah ka vah apana kho jaata hai pet kee garmee nahin padatee aur insaan kee achchhee tarah se dekha jae paidal sunana sunana insaan kee shaareerik aur maanasik svaasthy ke lie bahut hee aavat hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • रोजाना कितने कदम चलना चाहिए, रोज कितने कदम चलना चाहिए, ज्यादा पैदल चलने के नुकसान
URL copied to clipboard