#undefined

Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:53
आरा का प्रश्न का तनाव से तुरंत मुक्ति पाना संभव है क्या हर क्षण सतर्क रहकर तनाव को रोका जा सकता है तो आपको बता देते कि यहां पर आप अगर किसी भी चीज का अत्याधिक गहन सोच-विचार करते रहेंगे उसके बारे में सोच रहेंगे तो फिर आप यहां पर तनाव में आ सकते हैं कोशिश करें अपनी जिंदगी को आराम से जी ने बहुत ज्यादा उसके पीछे परेशान ना हो बहुत ज्यादा अपना दिमाग ना थोड़ा आराम से मस्ती मजाक के मूड में हमेशा रहा करें वही सच्चा है अन्यथा तनाव तो अगर आप लेकर बैठ गए तो फिर अब डिप्रेशन में चले आएंगे और उसके बाद फिर अनेक अनेक बीमारियां को खेल लेंगे तो टेंशन कभी भी मत लीजिए हमेशा सुविचार और पोस्टर विचारों के साथ रहिए निश्चित रूप से आपको अपने जीवन में सफलता मिलेगी मैं शुभकामनाएं आपके साथ है धन्यवाद
Aara ka prashn ka tanaav se turant mukti paana sambhav hai kya har kshan satark rahakar tanaav ko roka ja sakata hai to aapako bata dete ki yahaan par aap agar kisee bhee cheej ka atyaadhik gahan soch-vichaar karate rahenge usake baare mein soch rahenge to phir aap yahaan par tanaav mein aa sakate hain koshish karen apanee jindagee ko aaraam se jee ne bahut jyaada usake peechhe pareshaan na ho bahut jyaada apana dimaag na thoda aaraam se mastee majaak ke mood mein hamesha raha karen vahee sachcha hai anyatha tanaav to agar aap lekar baith gae to phir ab dipreshan mein chale aaenge aur usake baad phir anek anek beemaariyaan ko khel lenge to tenshan kabhee bhee mat leejie hamesha suvichaar aur postar vichaaron ke saath rahie nishchit roop se aapako apane jeevan mein saphalata milegee main shubhakaamanaen aapake saath hai dhanyavaad

और जवाब सुनें

Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
1:03
पहले क्या-क्या तनाव से तुरंत मुक्ति पाना संभव है क्या हर क्षण सतर्क रहकर के तनाव को रोका जा सकता है पहली बार तनाव से मुक्ति पाना संभव है जी हां बिल्कुल संभव है जब तक आप खुद इस प्रेस नहीं लेंगे आपको दूसरा आपको इस प्रेस में डाल ही नहीं सकता है इंसान का दुखी होना यह चेतना नाममात्र उसकी खुद की सोच नजरिया और उसके दिमाग पर ही डिपेंड करता है कोई दूसरा आपको कभी भी परेशान नहीं कर सकता है आपको दुखी नहीं कर सकता है या को रुला नहीं सकता है जब तक आप खुद उस चीज को फिल्म ना करें तो इस चीज के लिए आपको खुद के सोच को सकारात्मक बनाना बहुत जरूरी है चीजों को उस तरीके से देखना जरूरी है नजरिया अपना बदलना जरूरी है कि हम वाले व्यक्ति आपको चाहे कितना भी प्रस्तावित कि मैं आकर ले आपके ऊपर एक्सप्रेस ना आए रही बता कर के तनाव को रोका जा सकता है या नहीं रोका जा सकता है यह याद करेंगे आज कल क्या हो रहा है कोई भी भरोसे वाला व्यक्ति ही क्यों ना हो उसकी बीवी में कितने क्वेश्चन जैसा रहे हैं किस तरीके से वापस बिहेव कर रहा है इन सब चीजों को अगर आप मनु की नोटिस करेंगे सतर्क रहेंगे निश्चित तौर पर तनाव को रोक सकते हैं आपका दिन शुभ रहे थे निभाता
Pahale kya-kya tanaav se turant mukti paana sambhav hai kya har kshan satark rahakar ke tanaav ko roka ja sakata hai pahalee baar tanaav se mukti paana sambhav hai jee haan bilkul sambhav hai jab tak aap khud is pres nahin lenge aapako doosara aapako is pres mein daal hee nahin sakata hai insaan ka dukhee hona yah chetana naamamaatr usakee khud kee soch najariya aur usake dimaag par hee dipend karata hai koee doosara aapako kabhee bhee pareshaan nahin kar sakata hai aapako dukhee nahin kar sakata hai ya ko rula nahin sakata hai jab tak aap khud us cheej ko philm na karen to is cheej ke lie aapako khud ke soch ko sakaaraatmak banaana bahut jarooree hai cheejon ko us tareeke se dekhana jarooree hai najariya apana badalana jarooree hai ki ham vaale vyakti aapako chaahe kitana bhee prastaavit ki main aakar le aapake oopar eksapres na aae rahee bata kar ke tanaav ko roka ja sakata hai ya nahin roka ja sakata hai yah yaad karenge aaj kal kya ho raha hai koee bhee bharose vaala vyakti hee kyon na ho usakee beevee mein kitane kveshchan jaisa rahe hain kis tareeke se vaapas bihev kar raha hai in sab cheejon ko agar aap manu kee notis karenge satark rahenge nishchit taur par tanaav ko rok sakate hain aapaka din shubh rahe the nibhaata

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:45
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका फ्रेंड है क्या तनाव से तुरंत मुक्ति पाना संभव है क्या हरचरण सतर्क रहकर तनाव को रोका जा सकता है डियर फ्रेंड्स आपको ऐसे काम करना चाहिए कि जिसमें आपको तनाव ना हो आपको तनाव से दूर रहना चाहिए क्योंकि तनाव हमारे शरीर के लिए ठीक नहीं होता है तनाव होने से हमें बहुत सारी गंभीर बीमारियां हो सकती हैं तो जहां पर कोई तनाव वाली बात हो तो आपको कुछ जगह से जाना चाहिए पर आपको सबसे अच्छे से बात करनी चाहिए जिससे दूसरे को भी तनाव ना हो और आपको भी ना हो और कोई बात बिगड़े नहीं तो तनाव से दूर रहना चाहिए आपको और अगर आपको कोई तनाव हो गया है तो आप उसको अच्छे से बात करिए समस्या को समझाइए तो आपको तनाव से मुक्ति भी जरूर मिल जाएगी धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka phrend hai kya tanaav se turant mukti paana sambhav hai kya haracharan satark rahakar tanaav ko roka ja sakata hai diyar phrends aapako aise kaam karana chaahie ki jisamen aapako tanaav na ho aapako tanaav se door rahana chaahie kyonki tanaav hamaare shareer ke lie theek nahin hota hai tanaav hone se hamen bahut saaree gambheer beemaariyaan ho sakatee hain to jahaan par koee tanaav vaalee baat ho to aapako kuchh jagah se jaana chaahie par aapako sabase achchhe se baat karanee chaahie jisase doosare ko bhee tanaav na ho aur aapako bhee na ho aur koee baat bigade nahin to tanaav se door rahana chaahie aapako aur agar aapako koee tanaav ho gaya hai to aap usako achchhe se baat karie samasya ko samajhaie to aapako tanaav se mukti bhee jaroor mil jaegee dhanyavaad

Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:30
तनाव से तुरंत मुक्ति पाना संभव है क्या हर संस्कृत लेकर तनाव को रोका जा सकता है जिला पत्रकार नहीं बल्कि तनाव को भूलकर यानी आप व्यस्त रह कर देना को रोक सकते हैं अगर हम बार-बार यह याद रखें कि मुझे तनाव को दूर करना है तो तनाव आएगा आएगा इसलिए आप काम में लग गई अब अपने आपको कहीं न कहीं व्यस्त रखें तो आप भूल जाएंगे और जब भूल जाएंगे तो आपको तो पता ही नहीं चलेगा कि यार इतनी देर में ने बिना सोचे बिना तनाव में रहे कैसे समय बिता दिया और फिर भी आप पेमेंट बन जाएगी धन्यवाद
Tanaav se turant mukti paana sambhav hai kya har sanskrt lekar tanaav ko roka ja sakata hai jila patrakaar nahin balki tanaav ko bhoolakar yaanee aap vyast rah kar dena ko rok sakate hain agar ham baar-baar yah yaad rakhen ki mujhe tanaav ko door karana hai to tanaav aaega aaega isalie aap kaam mein lag gaee ab apane aapako kaheen na kaheen vyast rakhen to aap bhool jaenge aur jab bhool jaenge to aapako to pata hee nahin chalega ki yaar itanee der mein ne bina soche bina tanaav mein rahe kaise samay bita diya aur phir bhee aap pement ban jaegee dhanyavaad

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:54
आपका सवाल है ना उसे तुरंत मुक्ति पाना संभव है क्या हर क्षण 17 तरह के तनाव को रोका जा सकता है दोस्तों जरूर रोका जा सकता है तनाव हम किसी बात की चिंता कर लेते हैं तब हमारे दिमाग में तनाव आ जाता है इसलिए हमें कोई बात की चिंता नहीं करनी चाहिए हमें यह देखना चाहिए हमारी जिंदगी में जो परेशानी है उसको हम सात सुरों का सामना करना है और जिंदगी में कभी सुख और दुख में हमेशा आते रहते हैं तो कभी भी हमें परेशानियों से घबराना नहीं चाहिए अब 17 जून तनाव को रोक सकते हैं धन्यवाद और लोग खुश रहो
Aapaka savaal hai na use turant mukti paana sambhav hai kya har kshan 17 tarah ke tanaav ko roka ja sakata hai doston jaroor roka ja sakata hai tanaav ham kisee baat kee chinta kar lete hain tab hamaare dimaag mein tanaav aa jaata hai isalie hamen koee baat kee chinta nahin karanee chaahie hamen yah dekhana chaahie hamaaree jindagee mein jo pareshaanee hai usako ham saat suron ka saamana karana hai aur jindagee mein kabhee sukh aur dukh mein hamesha aate rahate hain to kabhee bhee hamen pareshaaniyon se ghabaraana nahin chaahie ab 17 joon tanaav ko rok sakate hain dhanyavaad aur log khush raho

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:53
तो आज आप का सवाल है कि क्या तनाव चितरंगी पाना संभव है क्या हर क्षण सतर्क रहकर तनाव को दूर किया जा सकता है तुरंत मुक्ति पाना तो मैं नहीं कह सकते हो कि इतना ज्यादा भी पॉसिबल है कि जो तनाव होता है वह इंसान को अंदर अंदर ही मतलब बहुत ही खूब ला कर देता है तो आपको यहां से निकलना वक्त लगता है लेकिन मुश्किल नहीं होता तुरंत नहीं मैं कह सकती हो कि नहीं नामुमकिन भी नहीं है तो जब भी कोई व्यक्ति तनाव में है तो उधर उनकी जिंदगी में कोई ऐसी बातें हैं कुछ चीजों को अंदर अंदर मतलब खोखला कर रही है तनाव दे रही है जिसकी वजह से वह इंसान जो है दिन प्रतिदिन मतलब अंदर ही अंदर घुट रहा है अगर हम जो भी प्रॉब्लम है देखिए हम आते हैं कि नहीं कि हमारी वजह से हम आते वक्त में काम की वजह से ही आते अगर एग्जाम में मेरे माल खराब आए हैं तो मेरी गलती मैंने पढ़ा नहीं है मैंने क्लियर नहीं किया अगर किसी इंसान से मेरी अगर झगड़ा हो गई है मैं उसको ज्यादा ग्रह से हो गई होंगी या फिर हमारे ही कुछ ऐसे अनबन हो गया मुझे उसके वजह से मेरे से कोई कुछ गलती हो गई होगी तो बहुत बड़े इंसान से कुछ ना कुछ जाने अनजाने में गलती हो जाती है जिसकी वजह से बार-बार वही संसार को सताता है इंसान टेंशन में आकर तनाव आ जाता है तो अगर आप सतर्क रहेंगे सोच समझकर अगर आप अपने काम करेंगे कि मुझे क्या करना चाहिए क्या नहीं आ रही निर्णय लेने से पहले अगर आप सोचेंगे अरे काम करने से पहले सोच किसे कहा जाता है कि तुमने बोलने पर काम करने से पहले सोचना चाहिए कि हां मतलब इमेज कभी करना है यह सही है अगर सोच समझ नहीं करेंगे अच्छे से सतर्क रहकर करेंगे तो कोई गलती नहीं हो जाए जब कोई गलती नहीं होगी तो हमारे मन में किसी भी तरह का कोई भी था
To aaj aap ka savaal hai ki kya tanaav chitarangee paana sambhav hai kya har kshan satark rahakar tanaav ko door kiya ja sakata hai turant mukti paana to main nahin kah sakate ho ki itana jyaada bhee posibal hai ki jo tanaav hota hai vah insaan ko andar andar hee matalab bahut hee khoob la kar deta hai to aapako yahaan se nikalana vakt lagata hai lekin mushkil nahin hota turant nahin main kah sakatee ho ki nahin naamumakin bhee nahin hai to jab bhee koee vyakti tanaav mein hai to udhar unakee jindagee mein koee aisee baaten hain kuchh cheejon ko andar andar matalab khokhala kar rahee hai tanaav de rahee hai jisakee vajah se vah insaan jo hai din pratidin matalab andar hee andar ghut raha hai agar ham jo bhee problam hai dekhie ham aate hain ki nahin ki hamaaree vajah se ham aate vakt mein kaam kee vajah se hee aate agar egjaam mein mere maal kharaab aae hain to meree galatee mainne padha nahin hai mainne kliyar nahin kiya agar kisee insaan se meree agar jhagada ho gaee hai main usako jyaada grah se ho gaee hongee ya phir hamaare hee kuchh aise anaban ho gaya mujhe usake vajah se mere se koee kuchh galatee ho gaee hogee to bahut bade insaan se kuchh na kuchh jaane anajaane mein galatee ho jaatee hai jisakee vajah se baar-baar vahee sansaar ko sataata hai insaan tenshan mein aakar tanaav aa jaata hai to agar aap satark rahenge soch samajhakar agar aap apane kaam karenge ki mujhe kya karana chaahie kya nahin aa rahee nirnay lene se pahale agar aap sochenge are kaam karane se pahale soch kise kaha jaata hai ki tumane bolane par kaam karane se pahale sochana chaahie ki haan matalab imej kabhee karana hai yah sahee hai agar soch samajh nahin karenge achchhe se satark rahakar karenge to koee galatee nahin ho jae jab koee galatee nahin hogee to hamaare man mein kisee bhee tarah ka koee bhee tha

DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
1:20
तनाव से तुरंत मुक्ति पाना संभव है कि हर क्षण क्ष तरह के तनाव को रोका जा सकता है तनाव विशेष कारणों से घटनाओं से परेशानियों से मान सम्मान के भाव से आदर निरादर के भाव से गलत फैसले से गलत निर्णय से समय की बर्बादी से मनमानी फैसले से लाभ हानि की चिंता किए बिना शमी को घुमाने से अवसर को गंवाने से यह कुछ ऐसी चीजें हैं जो इंसान को तनाव पैदा करती हैं यह तनाव 1 दिन में नहीं पैदा हुआ जी तनाव कई दिनों से घटनाएं चलने की तो तूने अपना बहुत ही भयानक रूप धारण कर लिया क्या बताइए एकदम से मुक्ति कैसे मिल सकती है हां इससे मुक्ति मिल सकती है अगर तुरंत उस समस्या का समाधान कर दिया जाए और आपसी निर्णय लेकर यह तनाव की स्थिति से आदमी दूर चला जाए तो तनाव को हर क्षण रोका जा सकता है बस तनाव की स्थिति आने से पहले उसका समाधान अगर ढूंढा जाए तो तनाव को रोका जा सकता है
Tanaav se turant mukti paana sambhav hai ki har kshan ksh tarah ke tanaav ko roka ja sakata hai tanaav vishesh kaaranon se ghatanaon se pareshaaniyon se maan sammaan ke bhaav se aadar niraadar ke bhaav se galat phaisale se galat nirnay se samay kee barbaadee se manamaanee phaisale se laabh haani kee chinta kie bina shamee ko ghumaane se avasar ko ganvaane se yah kuchh aisee cheejen hain jo insaan ko tanaav paida karatee hain yah tanaav 1 din mein nahin paida hua jee tanaav kaee dinon se ghatanaen chalane kee to toone apana bahut hee bhayaanak roop dhaaran kar liya kya bataie ekadam se mukti kaise mil sakatee hai haan isase mukti mil sakatee hai agar turant us samasya ka samaadhaan kar diya jae aur aapasee nirnay lekar yah tanaav kee sthiti se aadamee door chala jae to tanaav ko har kshan roka ja sakata hai bas tanaav kee sthiti aane se pahale usaka samaadhaan agar dhoondha jae to tanaav ko roka ja sakata hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • मानसिक तनाव से मुक्ति पाने के उपाय, tanav dur karne ke upay, chinta mukt kaise rahe
URL copied to clipboard