#भारत की राजनीति

bolkar speaker

सांप्रदायिक दंगे में हम खुद को कैसे बचा सकते हैं?

Sampradayik Dange Me Ham Khud Ko Kaise Bacha Sakte Hai
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:39
खरा कपास में सांप्रदायिक दंगे में हम खुद को कैसे बचा सकते हैं तो आपको बताना चाहेंगे देखे सांप्रदायिक दंगों से अगर आप अपने आप को बचाना चाहते हैं तो उसके लिए आपको अपने जो सोच है उसको पोस्टिंग रखना होगा उसमें सकारात्मक विचार लिखिए किसी की भी बातों से इंप्रेस मत हुई है किसी की भी मैसेज देख कर वीडियो देखकर आप आक्रोश में मत आइए हमेशा अपनी बुद्धि से निर्णय लेंगे तभी आप क्षमता के दंगे से खुद को और समाज को बचा पाएंगे में शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Khara kapaas mein saampradaayik dange mein ham khud ko kaise bacha sakate hain to aapako bataana chaahenge dekhe saampradaayik dangon se agar aap apane aap ko bachaana chaahate hain to usake lie aapako apane jo soch hai usako posting rakhana hoga usamen sakaaraatmak vichaar likhie kisee kee bhee baaton se impres mat huee hai kisee kee bhee maisej dekh kar veediyo dekhakar aap aakrosh mein mat aaie hamesha apanee buddhi se nirnay lenge tabhee aap kshamata ke dange se khud ko aur samaaj ko bacha paenge mein shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
सांप्रदायिक दंगे में हम खुद को कैसे बचा सकते हैं?Sampradayik Dange Me Ham Khud Ko Kaise Bacha Sakte Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:26
हेलो एवरीवन स्वागत है आपका आपका प्रश्न है शाम तक आएंगे में हम खुद को कैसे बचा सकते हैं तो फ्रेंड्स कहीं पर सांप्रदायिक दंगा हो रहा है या कोई गलत बात अगर हो रही है तो आप लोग अपने घर में रहिए आप लोग अपने घर में रहिए बस अपने काम से मतलब रखिए किसी की कोई भी बात पर हां या ना का जवाब मत दीजिए बस आप अपना काम करिए आपको किसी भी दंगे झगड़े में नहीं पड़ना चाहिए धन्यवाद
Helo evareevan svaagat hai aapaka aapaka prashn hai shaam tak aaenge mein ham khud ko kaise bacha sakate hain to phrends kaheen par saampradaayik danga ho raha hai ya koee galat baat agar ho rahee hai to aap log apane ghar mein rahie aap log apane ghar mein rahie bas apane kaam se matalab rakhie kisee kee koee bhee baat par haan ya na ka javaab mat deejie bas aap apana kaam karie aapako kisee bhee dange jhagade mein nahin padana chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
सांप्रदायिक दंगे में हम खुद को कैसे बचा सकते हैं?Sampradayik Dange Me Ham Khud Ko Kaise Bacha Sakte Hai
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:25
प्रश्न है कि सांप्रदायिक दंगे में हम खुद को कैसे बचा सकते हैं तो देखिए यह तो सबसे बड़ी बात कि मेलजोल कि अपने आसपास के लोगों से तो अगर दंगे होंगे तभी आपका कोई नुकसान नहीं हो हमसे शादी दूसरा ऐसे माहौल में ऐसी जगह नहीं है जहां पर दंगे होने की संभावना है अपने आप को इतना मजबूत बनाई है इतना अधिक सक्षम बनाएगा पैसे जगह रखें जहां पर जाएंगे होने की संभावना ना के बराबर
Prashn hai ki saampradaayik dange mein ham khud ko kaise bacha sakate hain to dekhie yah to sabase badee baat ki melajol ki apane aasapaas ke logon se to agar dange honge tabhee aapaka koee nukasaan nahin ho hamase shaadee doosara aise maahaul mein aisee jagah nahin hai jahaan par dange hone kee sambhaavana hai apane aap ko itana majaboot banaee hai itana adhik saksham banaega paise jagah rakhen jahaan par jaenge hone kee sambhaavana na ke baraabar

bolkar speaker
सांप्रदायिक दंगे में हम खुद को कैसे बचा सकते हैं?Sampradayik Dange Me Ham Khud Ko Kaise Bacha Sakte Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:57
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल इस प्रकार ने सांप्रदायिक दंगे हम खुद को कैसे बता सकते हैं तो दोस्तों सांप्रदायिक जो ताकते होती है उनकी वजह से सांप्रदायिक दंगे होते हैं जो जातिवाद छुआछूत या धर्म के आधार पर या ट्विटर के माध्यम से जो सांप्रदायिक दंगे होते हैं उनको शांति से सामना करना चाहिए ना कि हम सांप्रदायिक दंगे की वजह से हमें अपने आप को नहीं जोड़ना चाहिए जब तक हमें तहकीकात का पता नहीं लगा लेते तब तक हम इन सांप्रदायिक दंगों से नजदीक नहीं जाना चाहिए और सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ आवाज उठाना चाहिए धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka savaal is prakaar ne saampradaayik dange ham khud ko kaise bata sakate hain to doston saampradaayik jo taakate hotee hai unakee vajah se saampradaayik dange hote hain jo jaativaad chhuaachhoot ya dharm ke aadhaar par ya tvitar ke maadhyam se jo saampradaayik dange hote hain unako shaanti se saamana karana chaahie na ki ham saampradaayik dange kee vajah se hamen apane aap ko nahin jodana chaahie jab tak hamen tahakeekaat ka pata nahin laga lete tab tak ham in saampradaayik dangon se najadeek nahin jaana chaahie aur saampradaayik taakaton ke khilaaph aavaaj uthaana chaahie dhanyavaad doston khush raho

bolkar speaker
सांप्रदायिक दंगे में हम खुद को कैसे बचा सकते हैं?Sampradayik Dange Me Ham Khud Ko Kaise Bacha Sakte Hai
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
1:14
सांप्रदायिक दंगों से हम अपने आप को कैसे बचा सकते हैं जब भी इस तरह की परिस्थितियां उत्पन्न हो जहां धन्यवाद के ऊपर संगे हूं वहां हनी संप्रदायवाद से अलग हटकर मानवतावाद का परिचय देना चाहिए इंसान को इंसान की तरह सारा देना चाहिए संसार का हर प्राणी किसी भी धर्म किसी भी जाति का हो वह पहले मनुष्य है उसके बाद वह किसी धर्म का है क्योंकि भारत में जन्म लेने वाला हर व्यक्ति भारतीय उसके बाद वह हिंदू है या मुस्लिम है अगर हम मुस्लिमों को नफरत से देखना बंद कर दें और मुस्लिम हिंदुओं के प्रति भेदभाव छोड़ दें यह भाव अपने अंदर उत्पन्न करने तो कभी सांप्रदायिक दंगे होंगे ही नहीं और कभी कदाचित किसी राजनीतिक कारण से वह भी जाते हैं या करवा दिए जाते हैं तो ऐसी स्थिति में हम भाईचारे के कारण उनको उनसे बचेंगे नहीं बल्कि उन रंगों का हम अंत कर देंगे और यह स्थिति आने ही नहीं देंगे
Saampradaayik dangon se ham apane aap ko kaise bacha sakate hain jab bhee is tarah kee paristhitiyaan utpann ho jahaan dhanyavaad ke oopar sange hoon vahaan hanee sampradaayavaad se alag hatakar maanavataavaad ka parichay dena chaahie insaan ko insaan kee tarah saara dena chaahie sansaar ka har praanee kisee bhee dharm kisee bhee jaati ka ho vah pahale manushy hai usake baad vah kisee dharm ka hai kyonki bhaarat mein janm lene vaala har vyakti bhaarateey usake baad vah hindoo hai ya muslim hai agar ham muslimon ko napharat se dekhana band kar den aur muslim hinduon ke prati bhedabhaav chhod den yah bhaav apane andar utpann karane to kabhee saampradaayik dange honge hee nahin aur kabhee kadaachit kisee raajaneetik kaaran se vah bhee jaate hain ya karava die jaate hain to aisee sthiti mein ham bhaeechaare ke kaaran unako unase bachenge nahin balki un rangon ka ham ant kar denge aur yah sthiti aane hee nahin denge

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • सांप्रदायिक दंगे क्या होते है, सांप्रदायिक दंगो से कैसे दूर रहे, सांप्रदायिक दंगो के क्या कारण है
URL copied to clipboard