#भारत की राजनीति

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:31

और जवाब सुनें

VIKRAM  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए VIKRAM जी का जवाब
Coach with entrepreneur mindset...sharing my experiences.
2:59
मित्रों नमस्कार सवाल है क्या मोदी जी की लाचार और विपक्ष सरकार को यह तीनों कृषि कानून अभिलंब रद्द कर देनी चाहिए तो मेरी राय थोड़ी इधर है हां मैं यह कहना चाहूंगा कि यह सरकार लाचार और बेबस है यह थोड़ा मुझे लगता नहीं है क्योंकि पहले 5 साल में जब इंडिया की सरकार थी तो भी लोग कहते थे कि यह सरकार ऐसी है काम नहीं करती यह नहीं करती वह नहीं करती लाचार है बेबस है गठबंधन है जो भी है पूर्ण बहुमत से सरकार बनी थी एनडीए की पर उन्होंने ऐसा कुछ बहुत सारा गलत काम किया है साहब मीडिया में आया था विपक्षी पार्टियां बोल रही थी जबकि अगली बार इलेक्शन हुआ तो पब्लिक ने जो भारत के 130 करोड़ वासियों ने इनको मिलकर दोबारा और अधिक बहुमत से और अधिक पावर से उनको उठाया है देश पर राज करने के लिए तो आप समझ सकते हैं कि लाचार और बेबस तो मुझे नहीं दिखती है क्योंकि जिनके पास पावर है अब पब्लिक उनको पसंद करती है उनको स्पीड दे रही है यह कोई राष्ट्र थोड़ी है कि आकर वह कुर्सी पर बैठ गए उनके पापा मंत्री थे जैसे वह बैठ गया क्या पता नहीं किधर गांधी के बेटे राहुल राजीव गांधी थे जो मर गई इंदिरा गांधी तो तुरंत उनके बेटे बन गया प्रधानमंत्री ऐसा हुआ नहीं यह तो उनकी सरकार की कृषि कानून को बंद कर देना चाहिए हटा देना चाहिए कृषि कानून को बंद करना चाहिए नहीं करना चाहिए इस पर सुप्रीम कोर्ट ने एक कमेटी बनाई है वह लोग जो ज्ञान विद्या ज्ञानी लोग हैं इस पर डिस्कशन करेंगे और पता करेंगे सही है गलत उसके बाद डिसीजन लेंगे एक कॉमन लॉजिक में जो मेरे दिमाग में आ रहा है वह आप गलत सोच है तो शायद मैं अपनी राय बताना चाहूंगा वही है कि पिछले 2 महीने से यह नंबर मैंने से प्रदर्शन चल रहा है और ऐसा भाई बना हुआ है कि सारे किसान इसके विरोध में यह कानून बहुत खराब है ऐसा है वैसा है तो अगर सारे किसान विरोधी है या मखदूम या बहुमत में किसान विरोध में है तो पिछले 2 महीने से किसान विरोध कर रहे हैं काम नहीं कर रहे हैं आपने गौर किया आपके आसपास में फल सब्जियों के दाम आसमान को छू ले आप याद करेंगे जब लॉकडाउन वन हुआ था जब सारे ट्रांसपोर्ट बंद थी तो सारी चीजें महंगी हो गई थी तो मंडी में एक हफ्ते आवक नहीं आती है तो दाम दोगुना तीन गुणा ट्रैवल हो जाता है प्याज की कहानी देखनी क्या हाल में जो हो रहा है आप गौर करेंगे फल सब्जियां और जितनी हमारे जो आते हैं सामान वह सारे आप देखेंगे उनका प्रोडक्शन उनके सप्लाई कंटीन्यूअस कहीं भी आप देखेंगे ऐसा नहीं कि आप सर्च है तो मैं तो बोलूंगा कि अगर सारे किसान उसके विरोध में होते तो आपको मार्केट में इस कॉलोनी इंपैक्ट दिख जाता जो कि नहीं दिख रहा है इससे पता चलता है कि सर्टेन पार्ट कुछ लोग और खासकर के 2 स्टेट के लोग हैं आपको पता है और जो माना जा रहा है कि यह 2 स्टेट के पंजाब और हरियाणा के जो किसान है जो किसान नहीं है वह आ जाती हैं ब्रोकर हैं क्योंकि वह प्रोकस अच्छा पैसा कमाते थे उनकी इस किसान रूल से उनको दिक्कत होगी तो उन्होंने उसके खिलाफ मोर्चा खोला है उसको बहुत ही रिफंडिंग है एक पाठ वह
Mitron namaskaar savaal hai kya modee jee kee laachaar aur vipaksh sarakaar ko yah teenon krshi kaanoon abhilamb radd kar denee chaahie to meree raay thodee idhar hai haan main yah kahana chaahoonga ki yah sarakaar laachaar aur bebas hai yah thoda mujhe lagata nahin hai kyonki pahale 5 saal mein jab indiya kee sarakaar thee to bhee log kahate the ki yah sarakaar aisee hai kaam nahin karatee yah nahin karatee vah nahin karatee laachaar hai bebas hai gathabandhan hai jo bhee hai poorn bahumat se sarakaar banee thee enadeee kee par unhonne aisa kuchh bahut saara galat kaam kiya hai saahab meediya mein aaya tha vipakshee paartiyaan bol rahee thee jabaki agalee baar ilekshan hua to pablik ne jo bhaarat ke 130 karod vaasiyon ne inako milakar dobaara aur adhik bahumat se aur adhik paavar se unako uthaaya hai desh par raaj karane ke lie to aap samajh sakate hain ki laachaar aur bebas to mujhe nahin dikhatee hai kyonki jinake paas paavar hai ab pablik unako pasand karatee hai unako speed de rahee hai yah koee raashtr thodee hai ki aakar vah kursee par baith gae unake paapa mantree the jaise vah baith gaya kya pata nahin kidhar gaandhee ke bete raahul raajeev gaandhee the jo mar gaee indira gaandhee to turant unake bete ban gaya pradhaanamantree aisa hua nahin yah to unakee sarakaar kee krshi kaanoon ko band kar dena chaahie hata dena chaahie krshi kaanoon ko band karana chaahie nahin karana chaahie is par supreem kort ne ek kametee banaee hai vah log jo gyaan vidya gyaanee log hain is par diskashan karenge aur pata karenge sahee hai galat usake baad diseejan lenge ek koman lojik mein jo mere dimaag mein aa raha hai vah aap galat soch hai to shaayad main apanee raay bataana chaahoonga vahee hai ki pichhale 2 maheene se yah nambar mainne se pradarshan chal raha hai aur aisa bhaee bana hua hai ki saare kisaan isake virodh mein yah kaanoon bahut kharaab hai aisa hai vaisa hai to agar saare kisaan virodhee hai ya makhadoom ya bahumat mein kisaan virodh mein hai to pichhale 2 maheene se kisaan virodh kar rahe hain kaam nahin kar rahe hain aapane gaur kiya aapake aasapaas mein phal sabjiyon ke daam aasamaan ko chhoo le aap yaad karenge jab lokadaun van hua tha jab saare traansaport band thee to saaree cheejen mahangee ho gaee thee to mandee mein ek haphte aavak nahin aatee hai to daam doguna teen guna traival ho jaata hai pyaaj kee kahaanee dekhanee kya haal mein jo ho raha hai aap gaur karenge phal sabjiyaan aur jitanee hamaare jo aate hain saamaan vah saare aap dekhenge unaka prodakshan unake saplaee kanteenyooas kaheen bhee aap dekhenge aisa nahin ki aap sarch hai to main to boloonga ki agar saare kisaan usake virodh mein hote to aapako maarket mein is kolonee impaikt dikh jaata jo ki nahin dikh raha hai isase pata chalata hai ki sarten paart kuchh log aur khaasakar ke 2 stet ke log hain aapako pata hai aur jo maana ja raha hai ki yah 2 stet ke panjaab aur hariyaana ke jo kisaan hai jo kisaan nahin hai vah aa jaatee hain brokar hain kyonki vah prokas achchha paisa kamaate the unakee is kisaan rool se unako dikkat hogee to unhonne usake khilaaph morcha khola hai usako bahut hee riphanding hai ek paath vah

pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:07

LAXMI DEVI SANT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए LAXMI जी का जवाब
Spiritual coach,Poetrywriter DV youtube channel ,LDS Motivational speaker only on khabri app
2:02

LAXMI DEVI SANT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए LAXMI जी का जवाब
Spiritual coach,Poetrywriter DV youtube channel ,LDS Motivational speaker only on khabri app
2:02

LAXMI DEVI SANT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए LAXMI जी का जवाब
Spiritual coach,Poetrywriter DV youtube channel ,LDS Motivational speaker only on khabri app
2:02

LAXMI DEVI SANT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए LAXMI जी का जवाब
Spiritual coach,Poetrywriter DV youtube channel ,LDS Motivational speaker only on khabri app
2:02

LAXMI DEVI SANT Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए LAXMI जी का जवाब
Spiritual coach,Poetrywriter DV youtube channel ,LDS Motivational speaker only on khabri app
2:02

DEBIDUTTA SWAIN Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए DEBIDUTTA जी का जवाब
Motivational speaker
0:27

Ashish Lavania Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Ashish जी का जवाब
Yoga Instructor
0:53

Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
3:22

Maayank Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Maayank जी का जवाब
College Student
1:51

पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:15

umashankar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए umashankar जी का जवाब
Farmer
0:46
जी हां आपका सवाल सही है कि मोदी जी को इस समय किसान कृषि कानून अगला मदद कर देना चाहिए जो तीनों कानून है इनको अगले मदद कर देना चाहिए क्योंकि इससे किसानों का हित ही होना है इतना ही होना है किसान जानता है कि सरकार की मंशा क्या है और सरकार भी जानती है कि हमने क्या पाप किया है उसका क्या प्रभाव पड़ेगा इसको असलम सरकार को बंद कर देना चाहिए एक किसान की मांग पर अड़ा हुआ है और सरकार को सुनना भी चाहिए

A TO Z TECH VIDEOS Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए A जी का जवाब
बेरोजगार
1:07
नमस्कार दोस्तों जैसा कि आप का सवाल है क्या मोदी जी की लहर और यह सरकार को यह तीनों की दुकान ओलंपिक कर देनी चाहिए दोस्त पहले तो मेरे को यह बता दो कि मोदी जी की सरकार जो है इसे कभी लाचार वेबस मत लीजिएगा क्योंकि यह तो ऐसी सरकार है जो जिसमें सबकुछ हुआ यार अच्छा हो रहा है और हमेशा चाहता कि रहेगा तो इसलिए हमें चेला जरूर विश नहीं कर सकते फिर ए मत कहना कि अब तो कानून तो ऐसे बनते ही रहते हैं जैसे कांग्रेस ने भी इतने छोटे-छोटे कानून बना रखे हैं उनको भी तो देखना चाहिए और जो लोग उनको ना देख कर भी और मोदी जी की सरकार को नजरों से कह रहे हैं बहुत गलत है अगर जवाब से लगाओ तो ऑडियो को लाइक करें चैनल को सब्सक्राइब करें धन्यवाद

RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH जी का जवाब
Director of Study Gateway+
1:02
अर्चना जी क्या मोदी जी लाचार अवयव सरकार को जातियों कृषि का रोल नंबर ऐड कर देना चाहिए गोरमेंट लाचार और बेबस नहीं है बोली होती है और यह जो का किसान आंदोलन है यह सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य पंजाब है और पंजाब में कांग्रेस की सरकार है सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य पंजाब तो कहीं ना कहीं इसमें राजनीति में कुछ कमियां हैं जिसे बातचीत के द्वारा संशोधन करके दूर किया जा सकता है लेकिन बहुत बढ़ा चढ़ाकर पेश करना यह भी बच्चे का काम है और होना भी चाहिए क्योंकि विपक्ष अगर मजबूत रहेगा तभी लोकतंत्र सही रहेगा तो सरकार बेबस लाचार नहीं है और बिल मुझे लगा कि रात भी नहीं होगा संशोधन हो सकता है अभी बातें चल रही है

Sanjeev Pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Sanjeev जी का जवाब
Financial consultant and Ex banker
0:42
भैया के पास में क्या मोदी जी के लाचार और बेबस सरकार को यह तीनों किसी करना विलंब रद्द कर देना चाहिए सरकार की जो बातें उसको मान लेगी तो यह जो बिल है वह सरकार के लिए जो किसान दोनों के लिए अच्छा रहेगा क्योंकि जो किसान की मांगे हैं जैसे एमएसपी को म्यूट करना और कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग को हटाना अगर यह भाषा का मान लेती है तो यह अति उत्तम बिल कहा जाएगा तो मेरे हिसाब से रद्द करने से अच्छा है कि समझौते करके आपस में और जो किसान की मांग है उसको बिल में छूट करिए तो यह किसान और सरकार दोनों के लिए यह भी अच्छा काम करेगा
Bhaiya ke paas mein kya modee jee ke laachaar aur bebas sarakaar ko yah teenon kisee karana vilamb radd kar dena chaahie sarakaar kee jo baaten usako maan legee to yah jo bil hai vah sarakaar ke lie jo kisaan donon ke lie achchha rahega kyonki jo kisaan kee maange hain jaise emesapee ko myoot karana aur kontraikt phaarming ko hataana agar yah bhaasha ka maan letee hai to yah ati uttam bil kaha jaega to mere hisaab se radd karane se achchha hai ki samajhaute karake aapas mein aur jo kisaan kee maang hai usako bil mein chhoot karie to yah kisaan aur sarakaar donon ke lie yah bhee achchha kaam karega

Siya Ram Dubey Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Siya जी का जवाब
Youtuber, life coach, spiritual thinker, motivational speaker, social media influencer
1:37
नमस्कार आपका प्रश्न है क्या मोदी जी की लाचार और बेबस सरकार को यह तीनों कृषि कानून अविलंब रद्द कर देना चाहिए देखिए यही दुनिया की रीत है जो चुपचाप आपको सहन कर लेता है उसे लोग लाचार और बेबस समझ लेते हैं लेकिन यही सबसे बड़ी उनकी भूल होती है जब वह व्यक्ति अपने पर आ जाए तो फिर किसी का नहीं सुनता है और सब हथकंडे धरे के धरे रह जाएंगे जहां तक मोदी की बात है कि तीनों कृषि कानूनों का विलोम रद्द कर देना चाहिए तो मैं समझता हूं करता ही नहीं रद्द करना चाहिए क्योंकि इससे क्या प्रभाव पड़ेगा मैं आपको बताता हूं यदि कुछ गलत भी है तो जितने लोग इसके विरोध कर रहे हैं उससे कई गुना ज्यादा लोग इसके पक्ष में खड़े हैं वह अलग बात है कि वह सामने दिखाई नहीं देते हैं क्योंकि जिन को इससे परेशानी नहीं है वह खुलकर क्यों सामने आएंगे उस राबाद की अविलंब रद्द कर देना चाहिए या नहीं करना चाहिए तो बिल्कुल नहीं करना चाहिए इससे यह होगा कि कोई भी अगर कानून सरकार पास करेगी तो दो-चार हजार लोग रोड पर आकर खड़े हो जाएंगे और उसका विरोध करने लगेंगे और तब सरकार को फिर उस उसे वापस लेना पड़ेगा एक गलत धारणा बन जाएगी इसलिए जो भी सरकार कर रही है अच्छी कर रही है आपके इस प्रश्न के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद
Namaskaar aapaka prashn hai kya modee jee kee laachaar aur bebas sarakaar ko yah teenon krshi kaanoon avilamb radd kar dena chaahie dekhie yahee duniya kee reet hai jo chupachaap aapako sahan kar leta hai use log laachaar aur bebas samajh lete hain lekin yahee sabase badee unakee bhool hotee hai jab vah vyakti apane par aa jae to phir kisee ka nahin sunata hai aur sab hathakande dhare ke dhare rah jaenge jahaan tak modee kee baat hai ki teenon krshi kaanoonon ka vilom radd kar dena chaahie to main samajhata hoon karata hee nahin radd karana chaahie kyonki isase kya prabhaav padega main aapako bataata hoon yadi kuchh galat bhee hai to jitane log isake virodh kar rahe hain usase kaee guna jyaada log isake paksh mein khade hain vah alag baat hai ki vah saamane dikhaee nahin dete hain kyonki jin ko isase pareshaanee nahin hai vah khulakar kyon saamane aaenge us raabaad kee avilamb radd kar dena chaahie ya nahin karana chaahie to bilkul nahin karana chaahie isase yah hoga ki koee bhee agar kaanoon sarakaar paas karegee to do-chaar hajaar log rod par aakar khade ho jaenge aur usaka virodh karane lagenge aur tab sarakaar ko phir us use vaapas lena padega ek galat dhaarana ban jaegee isalie jo bhee sarakaar kar rahee hai achchhee kar rahee hai aapake is prashn ke lie bahut-bahut dhanyavaad

Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
1:55

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • तीनों कृषि कानून अविलंब रद्द कर देना चाहिए
URL copied to clipboard