#जीवन शैली

bolkar speaker

क्या बिना अपनी गलती के कोई आपको बद्दुआ दे तो क्या वह बद्दुआ लग जाती है?

Kya Bina Apni Galti Ke Koi Aapko Baddua De To Kya Vah Baddua Lag Jati Hai
Amit Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Amit जी का जवाब
Student 🇮🇳🇮🇳🇮🇳 mission Indian Army🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
0:56
नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप को बिल्कुल नहीं है मैं मानता हूं लेकिन आप लोग क्या मानते अपना जवाब जरूर दीजिएगा तो आपको दुआ देगा कि कोई गलती नहीं आपने किसी का कोई बिगाड़ा ही नहीं किसी का कुछ नुकसान नहीं किया तो बद्दुआ देगा क्यों क्यों देता है ना कोई ऐसे बहुत से लोग होते पर बहुत ज्यादा जलते हैं हमारी कामयाबी से जलते हैं तो वह लोग बद्दुआ दे भी देते हैं तो आपको बिल्कुल बद्दुआ नहीं लगेगी क्योंकि ऊपर वाला तो सब देख रहा है कि आप नीलम निर्दोष हैं किसी भी प्रकार की कोई गलती तो इंसान आपको बद्दुआ दे रहा तो आपको बद्दुआ नहीं लगेगी उम्मीद करता हूं सवाल का जवाब अच्छा लगा होगा धन्यवाद
Namaskaar doston kaise hain aap ko bilkul nahin hai main maanata hoon lekin aap log kya maanate apana javaab jaroor deejiega to aapako dua dega ki koee galatee nahin aapane kisee ka koee bigaada hee nahin kisee ka kuchh nukasaan nahin kiya to baddua dega kyon kyon deta hai na koee aise bahut se log hote par bahut jyaada jalate hain hamaaree kaamayaabee se jalate hain to vah log baddua de bhee dete hain to aapako bilkul baddua nahin lagegee kyonki oopar vaala to sab dekh raha hai ki aap neelam nirdosh hain kisee bhee prakaar kee koee galatee to insaan aapako baddua de raha to aapako baddua nahin lagegee ummeed karata hoon savaal ka javaab achchha laga hoga dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या बिना अपनी गलती के कोई आपको बद्दुआ दे तो क्या वह बद्दुआ लग जाती है?Kya Bina Apni Galti Ke Koi Aapko Baddua De To Kya Vah Baddua Lag Jati Hai
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:39
विकी क्या भूल गई थी कि कोई आपको बद्दुआ दे दो क्या वह तकिया लग सकती है तो इसी नंबर तो लग सकती है क्योंकि आप कितने भी अच्छे कर्म करेंगे कि जब तक यह करने का याद है उसके साथ आपके ऊपर बद्दुआ हावी हो जाती है कोशिश की आप तो हम लोगों से दूर नहीं जा सकती तुमसे द्वारा आपके लिए कुछ खराब बोला जा सकता है कि दिन भर में सरस्वती आरती में बात करती है कि सचिन जी नहीं तो आपके बारे में बुरा बोलेंगे नहीं
Vikee kya bhool gaee thee ki koee aapako baddua de do kya vah takiya lag sakatee hai to isee nambar to lag sakatee hai kyonki aap kitane bhee achchhe karm karenge ki jab tak yah karane ka yaad hai usake saath aapake oopar baddua haavee ho jaatee hai koshish kee aap to ham logon se door nahin ja sakatee tumase dvaara aapake lie kuchh kharaab bola ja sakata hai ki din bhar mein sarasvatee aaratee mein baat karatee hai ki sachin jee nahin to aapake baare mein bura bolenge nahin

bolkar speaker
क्या बिना अपनी गलती के कोई आपको बद्दुआ दे तो क्या वह बद्दुआ लग जाती है?Kya Bina Apni Galti Ke Koi Aapko Baddua De To Kya Vah Baddua Lag Jati Hai
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
1:15
हेलो जीवन तो आज आप का सवाल है कि क्या बिना अपनी गलती में हुई आपको बद्दुआ दे तो क्या वह बद्दुआ लग जाती है तो सबसे पहले मैं यह बद्दुआ जाती है जो मैं बिल्कुल भी विश्वास नहीं करती अगर ऐसा होता तो गलती हो या गलती नहीं हूं हर एक इंसान मतलब बद्दुआ से ही मतलब हर एक चीज कर देता तो ईश्वर फिर मतलब हमें देखने में समझ रहे थे तुम पर निर्भर करता है हमारे कर्तव्य पर निर्भर करता है अगर आप अच्छा काम करते हैं तो ऊपर वाले का सहारा आपके साथ होते प्लेसिंग देखिए क्या होता क्योंकि बोला तुम बहुत अच्छा करोगे तो जरूर बिना मेहनत की है कि मुझे कोई इतना अच्छी बातें बोल रहा मुझे कुछ अच्छा करना चाहिए ऐसा टाइप का मतलब नहीं कि हाथी आशीर्वाद भी दिया कोई दुआ भी दिया है तो हां वह तुरंत काम कर जाता है मैं बिना कुछ किया था नहीं आपको एक तरह की दिमाग में पॉजिटिव वाइफ चाहता है कि हम मुझे किस करना चित्र आपकी जान अपना मैन गांधी की नीलू मुझे इतना प्यार इतना तो संसार इतना कुछ मेरे बारे में अच्छा बोल रहे तो मुझे ऐसा करना चाहिए और बद्दुआ की भी बात बोले तो बिना आपकी गलती हो गई गलती तो कोई भी ऐसे आते हैं देकर चला जाए तो आज दुनिया में मतलब कोई भी इंसान से बीजेपी ने भरा था
Helo jeevan to aaj aap ka savaal hai ki kya bina apanee galatee mein huee aapako baddua de to kya vah baddua lag jaatee hai to sabase pahale main yah baddua jaatee hai jo main bilkul bhee vishvaas nahin karatee agar aisa hota to galatee ho ya galatee nahin hoon har ek insaan matalab baddua se hee matalab har ek cheej kar deta to eeshvar phir matalab hamen dekhane mein samajh rahe the tum par nirbhar karata hai hamaare kartavy par nirbhar karata hai agar aap achchha kaam karate hain to oopar vaale ka sahaara aapake saath hote plesing dekhie kya hota kyonki bola tum bahut achchha karoge to jaroor bina mehanat kee hai ki mujhe koee itana achchhee baaten bol raha mujhe kuchh achchha karana chaahie aisa taip ka matalab nahin ki haathee aasheervaad bhee diya koee dua bhee diya hai to haan vah turant kaam kar jaata hai main bina kuchh kiya tha nahin aapako ek tarah kee dimaag mein pojitiv vaiph chaahata hai ki ham mujhe kis karana chitr aapakee jaan apana main gaandhee kee neeloo mujhe itana pyaar itana to sansaar itana kuchh mere baare mein achchha bol rahe to mujhe aisa karana chaahie aur baddua kee bhee baat bole to bina aapakee galatee ho gaee galatee to koee bhee aise aate hain dekar chala jae to aaj duniya mein matalab koee bhee insaan se beejepee ne bhara tha

bolkar speaker
क्या बिना अपनी गलती के कोई आपको बद्दुआ दे तो क्या वह बद्दुआ लग जाती है?Kya Bina Apni Galti Ke Koi Aapko Baddua De To Kya Vah Baddua Lag Jati Hai
neelam mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए neelam जी का जवाब
Job
1:42
गुड आफ्टरनून किसी मित्र ने कहा है कि क्या बिना अपनी गलती को कोई आपको बद्दुआ दे तो क्या हुआ बुधवार लगती है तू जी बिल्कुल नहीं दोस्त हमें कभी ऐसी कोई बद्दुआ नहीं लगती है जो बिना हमारी गलती क्या बेवजह दी जाए बद्दुआ वही लगती है जब किसी का हम दिल दुखाते हैं किसी को तकलीफ देते हैं और उसके अंदर से वह दुआ निकल रही हो दिल से वह चीज को ऊंचाई वह मुंह से कहे ना करें लेकिन जब उसके शरीर को कष्ट होता है उसके आत्मा को कष्ट होता है और वह आत्मा से दुखी होकर मुंह से बदबू आने के लिए आपको बद्दुआ दे तो बद्दुआ लगती है कभी किसी की वजह से दुआ देते हैं तो बिल्कुल नहीं लगती है क्योंकि अगर किसी को बुरा नहीं करेंगे किसी साथ किसी का हक नहीं करेंगे किसी को तकलीफ नहीं देंगे तो वह तुम हमें पहली बार क्यों हमें बता देगा नहीं और अगर फिर भी अगर कोई देता है तो वह दुआ बिल्कुल हमें नहीं सकती क्योंकि हमें वही बद्दुआ बद्दुआ लगती है जो तेल से दिया जाएगा फिर वही लगती है जो दिल से दिया जाए और वह लगती तो सजा कोई बद्दुआ मिलेगा जवाब देंगे तो ऐसा नहीं है कि हमें कोई ऐसे ऐसे आते जाते कोई भी बद्दुआ दे दे और लग जाए तो ऐसा बिल्कुल नहीं मर्दों हमें ऐसा वैसा कोई बद्दुआ लगता नहीं है हम नहीं किसी का दिल दुखाने के बाद अगर उसके लिए उसे तकलीफ होती है और कोई बात लगती है वही लगती है बाकी और कोई दुआ नहीं होती
Gud aaphtaranoon kisee mitr ne kaha hai ki kya bina apanee galatee ko koee aapako baddua de to kya hua budhavaar lagatee hai too jee bilkul nahin dost hamen kabhee aisee koee baddua nahin lagatee hai jo bina hamaaree galatee kya bevajah dee jae baddua vahee lagatee hai jab kisee ka ham dil dukhaate hain kisee ko takaleeph dete hain aur usake andar se vah dua nikal rahee ho dil se vah cheej ko oonchaee vah munh se kahe na karen lekin jab usake shareer ko kasht hota hai usake aatma ko kasht hota hai aur vah aatma se dukhee hokar munh se badaboo aane ke lie aapako baddua de to baddua lagatee hai kabhee kisee kee vajah se dua dete hain to bilkul nahin lagatee hai kyonki agar kisee ko bura nahin karenge kisee saath kisee ka hak nahin karenge kisee ko takaleeph nahin denge to vah tum hamen pahalee baar kyon hamen bata dega nahin aur agar phir bhee agar koee deta hai to vah dua bilkul hamen nahin sakatee kyonki hamen vahee baddua baddua lagatee hai jo tel se diya jaega phir vahee lagatee hai jo dil se diya jae aur vah lagatee to saja koee baddua milega javaab denge to aisa nahin hai ki hamen koee aise aise aate jaate koee bhee baddua de de aur lag jae to aisa bilkul nahin mardon hamen aisa vaisa koee baddua lagata nahin hai ham nahin kisee ka dil dukhaane ke baad agar usake lie use takaleeph hotee hai aur koee baat lagatee hai vahee lagatee hai baakee aur koee dua nahin hotee

bolkar speaker
क्या बिना अपनी गलती के कोई आपको बद्दुआ दे तो क्या वह बद्दुआ लग जाती है?Kya Bina Apni Galti Ke Koi Aapko Baddua De To Kya Vah Baddua Lag Jati Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:46
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है क्या बिना निकलती है कि कोई आपको बद्दुआ दे तो क्या वह बद्दुआ लग जाती है तो फ्रेंड से दुआ बद्दुआ यह सब मरने वाली बातें होती हैं और यह बद्दुआ दुआएं से नहीं लगती है और पहली बार जब आपने गलती नहीं की है तो आपको क्यों बद्दुआ लगेगी किसी के बोलने से ऐसे किसी को कुछ नहीं होता है ऐसे अगर किसी के बोलने से किसी को कुछ हो जाए तो जो जिसका दुश्मन है वह उसके लिए बुरा ही मनाए और बुरा ही करें पर किसी के बोलने से बद्दुआ देने से किसी का बुरा नहीं होता है मैं उसके कर्मों पर निर्भर होता है अगर इंसान अच्छे कर्म करता है तो उसका अच्छा होता है अगर वह बुरे कर्म करता है तो उसका बुरा होता है बद्दुआ देने वगैरह से कोई फर्क नहीं पड़ता है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai kya bina nikalatee hai ki koee aapako baddua de to kya vah baddua lag jaatee hai to phrend se dua baddua yah sab marane vaalee baaten hotee hain aur yah baddua duaen se nahin lagatee hai aur pahalee baar jab aapane galatee nahin kee hai to aapako kyon baddua lagegee kisee ke bolane se aise kisee ko kuchh nahin hota hai aise agar kisee ke bolane se kisee ko kuchh ho jae to jo jisaka dushman hai vah usake lie bura hee manae aur bura hee karen par kisee ke bolane se baddua dene se kisee ka bura nahin hota hai main usake karmon par nirbhar hota hai agar insaan achchhe karm karata hai to usaka achchha hota hai agar vah bure karm karata hai to usaka bura hota hai baddua dene vagairah se koee phark nahin padata hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या बिना अपनी गलती के कोई आपको बद्दुआ दे तो क्या वह बद्दुआ लग जाती है?Kya Bina Apni Galti Ke Koi Aapko Baddua De To Kya Vah Baddua Lag Jati Hai
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
1:39
क्या बिना अपने घर की क्यों कोई आपको बद्दुआ दे तो चावल बद्दुआ लग जाती है देखिए दुआ भी इंसान को तभी लगती है जब आपने किसी के ऊपर उपकार किया है किसी के जीवन को सहारा दिया किसी के मान सम्मान को अपने अग्रसर किया और किसी व्यक्ति के जीवन में एक्स्ट्रा बनके करेंगे तो उस इंसान की आत्मा और उस इंसान की आवाज में जो वाणी है वह दवा के रूप में निश्चित रूप से आपको लगती है लेकिन अगर आपका कहीं किसी से कोई इस तरह का संबंध ही नहीं है नहीं आप उसके लिए कौन जिम्मेदार है वास्तविक रूप में जून में जानू इसलिए नहीं किया आपने मानते कि मैं जिम्मेदार बल्कि वास्तव में आप किसी भी रूप में जिम्मेदार नहीं है आपने किसी तरह की कोई पहल नहीं की है ना जान बिटवीन अनजाने में तो आपको किसी भी प्रकार की आवाज चमक चमक रात में कोई है ना प्राथमिक को आपको प्रभावित नहीं करेंगे लेकिन रानी हिना रानी अगर आपकी किसी को स्विच इन थे किसी इंसान को पीड़ा पहुंची है तो पेट में दर्द पहुंचाएं तो निसंदेह आप को उस व्यक्ति की भावना ही अवैध प्रभावित करेंगे जिसे आप बद्दुआ कहते हैं
Kya bina apane ghar kee kyon koee aapako baddua de to chaaval baddua lag jaatee hai dekhie dua bhee insaan ko tabhee lagatee hai jab aapane kisee ke oopar upakaar kiya hai kisee ke jeevan ko sahaara diya kisee ke maan sammaan ko apane agrasar kiya aur kisee vyakti ke jeevan mein ekstra banake karenge to us insaan kee aatma aur us insaan kee aavaaj mein jo vaanee hai vah dava ke roop mein nishchit roop se aapako lagatee hai lekin agar aapaka kaheen kisee se koee is tarah ka sambandh hee nahin hai nahin aap usake lie kaun jimmedaar hai vaastavik roop mein joon mein jaanoo isalie nahin kiya aapane maanate ki main jimmedaar balki vaastav mein aap kisee bhee roop mein jimmedaar nahin hai aapane kisee tarah kee koee pahal nahin kee hai na jaan bitaveen anajaane mein to aapako kisee bhee prakaar kee aavaaj chamak chamak raat mein koee hai na praathamik ko aapako prabhaavit nahin karenge lekin raanee hina raanee agar aapakee kisee ko svich in the kisee insaan ko peeda pahunchee hai to pet mein dard pahunchaen to nisandeh aap ko us vyakti kee bhaavana hee avaidh prabhaavit karenge jise aap baddua kahate hain

bolkar speaker
क्या बिना अपनी गलती के कोई आपको बद्दुआ दे तो क्या वह बद्दुआ लग जाती है?Kya Bina Apni Galti Ke Koi Aapko Baddua De To Kya Vah Baddua Lag Jati Hai
lalit Netam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए lalit जी का जवाब
Unknown
2:36
बिना अपनी गलती की कोई आपको बद्दुआ दे तो क्या बदुआ लग जाती है तो जवाब नहीं आप पहले ही समझ के बद्दुआ और दुआ क्या है ठीक है आपको बार पता है तुम जैसे आप कोई अच्छा काम करते हो तो कोई आप लोगों का भला हो तो आप आप अच्छे हो जैसे कि आप सदा खुश रहो इसी तरह आशीर्वाद देते तो आप चुम्मा लेते स्वीकार कर लेते हो ठीक है वैसे ही अगर आप कुछ गलत कर्म करते हो और कोई आपको कुछ गलत बोलता है और आप उसे स्वीकार कर लेते हो जरूर बोल दे कि आप कभी अपने जीवन में सफल नहीं होगे तुम हमेशा दुखी रहोगे से कोई बोल दिया और आप उसे अपने आप स्वीकार कर लेते हो तो वह असर करेगा ठीक है अब आपके ऊपर है कि आज शिकार करते हो या अस्वीकार करते हो ठीक है दोनों आपके ऊपर अगर आप स्वीकार करते हुए वह चीज आपको पर काम करेगी अगर आप स्वीकार नहीं करते तो आपके ऊपर काम नहीं करेगी चाहे वह आपने कितने बैलेंस काम की हो लेकिन हम जो भी आकार में करो उसका फल तो भगवान जरूर देगा जो का नाच प्रोग्राम भाग है तू भी आकर में करती उसका फल जरूर मिलता है ठीक है तो बद्दुआ कोई अगर आपको देता है तो वह आपके ऊपर आप उसे स्वीकार करते हुए अस्वीकार करते हो अगर आप मुझसे शिकार किया तो आपको परेशान होगा अगर आप इसे स्वीकार नहीं करते तो आपको परेशानी हो राजू करके उसका फल तो आप को भुगतना पड़ेगा ठीक है जो भी आप कर्म करते हो शर्म करो आप दूसरे के साथ फिर कोई भी कर्म कर उसका फल तो आप को भुगतना ही पड़ेगा ठीक है तो आप कोई भी कहते हैं तुमने मेरे साथ यह क्या मैं उसका बदला लूंगा बदला लेने से क्या होगा वह डबल करना कर रहा है नहीं तो सभी का फल मिलेगा तो मैं ही बोलूंगा आप आपके साथ अगर कुछ बुरा करता है तो आपने निश्चित रहिए क्योंकि भगवान सब देख रहा सब का फल मिलेगा आपको बदला नहीं लेना अगर कोई आपके साथ बुरा करता है कुछ भी करता है तो आपको बस शांत हो करके देखना है ठीक है क्यों देखना क्योंकि आपको अगर फिर शाहरुख आपने कुछ गलत भी गलत काम किया तो उसका फल आपको भुगतना पड़ेगा है तो जो वह कर कर मैं कह रहा हूं उसका गाना उसका कर्म बन रहा है ठीक है उसका भाग्य बन रहा है आप जो कर्म करवाने की उसका उसे शिकार करोगे शिकार नहीं करोगे वह आपके ऊपर है ठीक है तो आपको ही बोलूंगा की बद्दुआ दुआ यह सब आपके ऊपर आप स्वीकार करते हो तो वह आपके ऊपर काम करेगा शिकार नहीं करते अपनी तो आपको परेशान नहीं करेगा ठीक वैसे ही जैसे कि अगर आपको बोले कि आप इस कपड़ों में अच्छे लग रहे हो ठीक है तो आप इंकार कर लेते हो कि हां मैं कपड़े में अच्छा लग रहा हूं ठीक है और कोई आकर दूसरा को आपको बोल दिया कि आप एक कपड़े में अच्छा नहीं लगा यह कपड़ा को पर अच्छा नहीं लग रहा फिर आप स्वीकार कर लेते हो और दूसरा कपड़ा चेंज कर लेते हो वैसे ही ठीक है तो यह सब आपके ऊपर आप स्वीकार करते हो या फिर अस्वीकार बुआ को प्रणाम
Bina apanee galatee kee koee aapako baddua de to kya badua lag jaatee hai to javaab nahin aap pahale hee samajh ke baddua aur dua kya hai theek hai aapako baar pata hai tum jaise aap koee achchha kaam karate ho to koee aap logon ka bhala ho to aap aap achchhe ho jaise ki aap sada khush raho isee tarah aasheervaad dete to aap chumma lete sveekaar kar lete ho theek hai vaise hee agar aap kuchh galat karm karate ho aur koee aapako kuchh galat bolata hai aur aap use sveekaar kar lete ho jaroor bol de ki aap kabhee apane jeevan mein saphal nahin hoge tum hamesha dukhee rahoge se koee bol diya aur aap use apane aap sveekaar kar lete ho to vah asar karega theek hai ab aapake oopar hai ki aaj shikaar karate ho ya asveekaar karate ho theek hai donon aapake oopar agar aap sveekaar karate hue vah cheej aapako par kaam karegee agar aap sveekaar nahin karate to aapake oopar kaam nahin karegee chaahe vah aapane kitane bailens kaam kee ho lekin ham jo bhee aakaar mein karo usaka phal to bhagavaan jaroor dega jo ka naach prograam bhaag hai too bhee aakar mein karatee usaka phal jaroor milata hai theek hai to baddua koee agar aapako deta hai to vah aapake oopar aap use sveekaar karate hue asveekaar karate ho agar aap mujhase shikaar kiya to aapako pareshaan hoga agar aap ise sveekaar nahin karate to aapako pareshaanee ho raajoo karake usaka phal to aap ko bhugatana padega theek hai jo bhee aap karm karate ho sharm karo aap doosare ke saath phir koee bhee karm kar usaka phal to aap ko bhugatana hee padega theek hai to aap koee bhee kahate hain tumane mere saath yah kya main usaka badala loonga badala lene se kya hoga vah dabal karana kar raha hai nahin to sabhee ka phal milega to main hee boloonga aap aapake saath agar kuchh bura karata hai to aapane nishchit rahie kyonki bhagavaan sab dekh raha sab ka phal milega aapako badala nahin lena agar koee aapake saath bura karata hai kuchh bhee karata hai to aapako bas shaant ho karake dekhana hai theek hai kyon dekhana kyonki aapako agar phir shaaharukh aapane kuchh galat bhee galat kaam kiya to usaka phal aapako bhugatana padega hai to jo vah kar kar main kah raha hoon usaka gaana usaka karm ban raha hai theek hai usaka bhaagy ban raha hai aap jo karm karavaane kee usaka use shikaar karoge shikaar nahin karoge vah aapake oopar hai theek hai to aapako hee boloonga kee baddua dua yah sab aapake oopar aap sveekaar karate ho to vah aapake oopar kaam karega shikaar nahin karate apanee to aapako pareshaan nahin karega theek vaise hee jaise ki agar aapako bole ki aap is kapadon mein achchhe lag rahe ho theek hai to aap inkaar kar lete ho ki haan main kapade mein achchha lag raha hoon theek hai aur koee aakar doosara ko aapako bol diya ki aap ek kapade mein achchha nahin laga yah kapada ko par achchha nahin lag raha phir aap sveekaar kar lete ho aur doosara kapada chenj kar lete ho vaise hee theek hai to yah sab aapake oopar aap sveekaar karate ho ya phir asveekaar bua ko pranaam

bolkar speaker
क्या बिना अपनी गलती के कोई आपको बद्दुआ दे तो क्या वह बद्दुआ लग जाती है?Kya Bina Apni Galti Ke Koi Aapko Baddua De To Kya Vah Baddua Lag Jati Hai
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:27
आपका सवाल है कि क्या बिना को अपनी गलती के कोई आपको बंद हो तो बद्दुआ लग जाती है तो देखें बद्दुआ और कुछ नहीं सिर्फ नेगेटिव भाई थे जो कोई व्यक्ति आपके लिए दे रहा है उसने kt22 को आप किस तरीके से डील कर रहे हैं आपका पर डिपेंड करता है अगर आप आज केवल उसको देखेंगे तो आपके पर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है और अगर आप उसमें चीटिंग वाइफ को नेगेटिव थॉट को लेकर किसी के बारे में सोचते रहेंगे स्ट्रेस लेते रहेंगे तो निश्चित तौर पर आपके ऊपर असर देखने को मिलेगा आपका दिन शुभ रहे थे नहीं बात
Aapaka savaal hai ki kya bina ko apanee galatee ke koee aapako band ho to baddua lag jaatee hai to dekhen baddua aur kuchh nahin sirph negetiv bhaee the jo koee vyakti aapake lie de raha hai usane kt22 ko aap kis tareeke se deel kar rahe hain aapaka par dipend karata hai agar aap aaj keval usako dekhenge to aapake par koee phark nahin padane vaala hai aur agar aap usamen cheeting vaiph ko negetiv thot ko lekar kisee ke baare mein sochate rahenge stres lete rahenge to nishchit taur par aapake oopar asar dekhane ko milega aapaka din shubh rahe the nahin baat

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या बिना अपनी गलती के कोई आपको बद्दुआ दे तो क्या वह बद्दुआ लग जाती है, क्या बद्दुआ लग जाती है
URL copied to clipboard