#भारत की राजनीति

bolkar speaker

बिहार में एक भी बड़ा कंपनी क्यों नहीं है?

Bihar Me Ek Bhi Bada Compneyi Kyo Nahi Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
2:27
दोस्तों प्रश्न है कि बिहार में एक भी बड़ा कंपनी क्यों नहीं है तो दोस्तों अगर आप बिहार का इतिहास देखें तो बिहार में इतने मिनरल्स इतनी चीजें कीमती निकलती हैं जो कि जब बिहार का एक टुकड़ा हुआ झारखंड हो गया तो बहुत सारी चीजें वहां चली गई बस में है कि बड़ी कंपनी क्यों नहीं है तो दोस्तों वहां जैसे पहले आप इतिहास में देखेंगे तो जंगल एक प्रकार से राजस्थान जाति पर वोटिंग होती थी तो सभी राजनीतिक पार्टियों ने इसका लाभ उठाया और आप तो जानते होंगे एक पार्टी का वर्चस्व रहा तो वहां जैसा कि मैं लोगों से बात करता था कहते थे वहां 5:00 बजे तो सब लोग घरों में चले जाते थे और दुकानों को लूट ली जाती थी किसी का नेता का शादी ब्याह होता था तो गाड़ियों उठाई जाती थी पूरा जंगलराज था इसलिए कोई कंपनी हिम्मत नहीं की ना सरकार ने कोई ऐसा कंपनियों को बुलाने का प्रोत्साहित किया इसलिए ऐसा वहां पर रहा बहुत सारे मैसेज लोगों को जानता हूं मेरे मित्र हैं जो वहां पर बहुत बड़ी उद्योग था उनका लेकिन ने भागकर दिल्ली आना पड़ा कुछ कच्चे माल की सप्लाई में दिक्कत थी कुशवाहा जंगलराज की वजह से दिल्ली में अपना कार्य शुरू किया तो जो पहले करोड़ों में खेला करते थे जो कहते थे हमारी किस्मत ऐसी खराब है कि आज हम यहां पर छोटा सा व्यापार कर रहे हैं तो जब सरकार प्रोत्साहित करती है तो लोग आगे बढ़ते हैं उद्योग आगे बढ़ता है बेरोजगारी इतनी चरम सीमा पर है बिहार में है तो देखिए दिल्ली मुंबई और कहां-कहां के छोटे से छोटा काम करना पड़ता है और हिंदी से कई जगह जो छोटे कार्य करते हैं उनको देखा जाता है और निश्चित रूप से जो अपनी कमर कस रखी है दृढ़ निश्चय कर रखा है और सबसे ज्यादा जो लोग हैं वह आईएस हैं क्योंकि उनके पास कोई व्यापार करने का कुछ नहीं है या तो ढूंढते सरकारी नौकरी मिले नहीं तो नहीं छोटा-मोटा कार्य करना पड़ता है इसका वजह से ही बिहार में कोई उद्योग नहीं है अब नीतीश सरकार पीछे मैं देख रहा था कई उद्योगों को आकर्षित कर रही थी तो हो सकता है कि आगे कुछ बिहार के किस्मत बदले धन्यवाद
Doston prashn hai ki bihaar mein ek bhee bada kampanee kyon nahin hai to doston agar aap bihaar ka itihaas dekhen to bihaar mein itane minarals itanee cheejen keematee nikalatee hain jo ki jab bihaar ka ek tukada hua jhaarakhand ho gaya to bahut saaree cheejen vahaan chalee gaee bas mein hai ki badee kampanee kyon nahin hai to doston vahaan jaise pahale aap itihaas mein dekhenge to jangal ek prakaar se raajasthaan jaati par voting hotee thee to sabhee raajaneetik paartiyon ne isaka laabh uthaaya aur aap to jaanate honge ek paartee ka varchasv raha to vahaan jaisa ki main logon se baat karata tha kahate the vahaan 5:00 baje to sab log gharon mein chale jaate the aur dukaanon ko loot lee jaatee thee kisee ka neta ka shaadee byaah hota tha to gaadiyon uthaee jaatee thee poora jangalaraaj tha isalie koee kampanee himmat nahin kee na sarakaar ne koee aisa kampaniyon ko bulaane ka protsaahit kiya isalie aisa vahaan par raha bahut saare maisej logon ko jaanata hoon mere mitr hain jo vahaan par bahut badee udyog tha unaka lekin ne bhaagakar dillee aana pada kuchh kachche maal kee saplaee mein dikkat thee kushavaaha jangalaraaj kee vajah se dillee mein apana kaary shuroo kiya to jo pahale karodon mein khela karate the jo kahate the hamaaree kismat aisee kharaab hai ki aaj ham yahaan par chhota sa vyaapaar kar rahe hain to jab sarakaar protsaahit karatee hai to log aage badhate hain udyog aage badhata hai berojagaaree itanee charam seema par hai bihaar mein hai to dekhie dillee mumbee aur kahaan-kahaan ke chhote se chhota kaam karana padata hai aur hindee se kaee jagah jo chhote kaary karate hain unako dekha jaata hai aur nishchit roop se jo apanee kamar kas rakhee hai drdh nishchay kar rakha hai aur sabase jyaada jo log hain vah aaeees hain kyonki unake paas koee vyaapaar karane ka kuchh nahin hai ya to dhoondhate sarakaaree naukaree mile nahin to nahin chhota-mota kaary karana padata hai isaka vajah se hee bihaar mein koee udyog nahin hai ab neeteesh sarakaar peechhe main dekh raha tha kaee udyogon ko aakarshit kar rahee thee to ho sakata hai ki aage kuchh bihaar ke kismat badale dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
बिहार में एक भी बड़ा कंपनी क्यों नहीं है?Bihar Me Ek Bhi Bada Compneyi Kyo Nahi Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:39
नमस्कार आपका सवाल है बिहार एक बड़ा कंपनी क्यों नहीं है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है बिहार में बड़ी कंपनी नहीं होने का कारण एक तो वहां की सरकार जिम्मेदार है जो बिहार में बड़े कंपनियों का निवेश में लापरवाही को बरसती है एक दूसरा कारण वहां बिहार में रोड की सही व्यवस्था नहीं है पानी की समस्या है और ट्रांसपोर्ट सुविधा नहीं होने की वजह से बिहार में बड़ी कंपनियां नहीं लग पा रही है धन्यवाद साथियों खुश रहो
Namaskaar aapaka savaal hai bihaar ek bada kampanee kyon nahin hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai bihaar mein badee kampanee nahin hone ka kaaran ek to vahaan kee sarakaar jimmedaar hai jo bihaar mein bade kampaniyon ka nivesh mein laaparavaahee ko barasatee hai ek doosara kaaran vahaan bihaar mein rod kee sahee vyavastha nahin hai paanee kee samasya hai aur traansaport suvidha nahin hone kee vajah se bihaar mein badee kampaniyaan nahin lag pa rahee hai dhanyavaad saathiyon khush raho

bolkar speaker
बिहार में एक भी बड़ा कंपनी क्यों नहीं है?Bihar Me Ek Bhi Bada Compneyi Kyo Nahi Hai
Rakesh Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Rakesh जी का जवाब
👨‍🏫 Teacher.
1:22
आपका प्रार्थना बिल्कुल जायज है और कहना भी जायज है कि बिहार में अभी तक के कोई भी एक बड़ी कंपनी नहीं है इसका मुख्य कारण है कि यहां का सरकार इसके प्रति उदासीन है सरकार कंपनियों को ऑफर नहीं देती है उसके लिए भूमि उपलब्ध नहीं करवाती है उसके लिए सब्सिडी नहीं दे पाती है अगर सरकार जो है रोजगार सृजन के लिए कई हजार करोड़ बाजार के पास करती है और ऐसा दावा करती है कि रोजगार लोगों को देंगे लेकिन कुछ रिश्ते जो है अगर नई कंपनियों को ऑफर देकर जमीन देकर यहां पर अगर व्यवस्था की जाए तो बहुत सारे लोगों को रोजगार मिलेंगे और यह सारी चीजें या सारे बेनिफिट हमारे राज्य में ही होंगे तो बिहार में से देखा जाता है के चुनाव के पहले बहुत सारा है यह घोषणा होते हैं लेकिन यह कभी पूरे नहीं हो पाए हैं अभी बिहार की हम बात करें तो केवल शुगर मिल ही है जिसमें गाना की पढ़ाई होती है और वह भी जो है कई जिलों में बंद पड़ी हुई है देखकर चिंताजनक स्थिति है हालांकि कच्चे माल की दृष्टि से देखा जाए तो बहुत सारी चीजों में बिहार बहुत आगे हैं अगर यहां पर फैक्ट्री स्थापित की जाती है तो बहुत अच्छी आमदनी होगी और बहुत लोगों को रोजगार मिलेगा
Aapaka praarthana bilkul jaayaj hai aur kahana bhee jaayaj hai ki bihaar mein abhee tak ke koee bhee ek badee kampanee nahin hai isaka mukhy kaaran hai ki yahaan ka sarakaar isake prati udaaseen hai sarakaar kampaniyon ko ophar nahin detee hai usake lie bhoomi upalabdh nahin karavaatee hai usake lie sabsidee nahin de paatee hai agar sarakaar jo hai rojagaar srjan ke lie kaee hajaar karod baajaar ke paas karatee hai aur aisa daava karatee hai ki rojagaar logon ko denge lekin kuchh rishte jo hai agar naee kampaniyon ko ophar dekar jameen dekar yahaan par agar vyavastha kee jae to bahut saare logon ko rojagaar milenge aur yah saaree cheejen ya saare beniphit hamaare raajy mein hee honge to bihaar mein se dekha jaata hai ke chunaav ke pahale bahut saara hai yah ghoshana hote hain lekin yah kabhee poore nahin ho pae hain abhee bihaar kee ham baat karen to keval shugar mil hee hai jisamen gaana kee padhaee hotee hai aur vah bhee jo hai kaee jilon mein band padee huee hai dekhakar chintaajanak sthiti hai haalaanki kachche maal kee drshti se dekha jae to bahut saaree cheejon mein bihaar bahut aage hain agar yahaan par phaiktree sthaapit kee jaatee hai to bahut achchhee aamadanee hogee aur bahut logon ko rojagaar milega

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • बिहार में कितनी कंपनी है, बिहार में सबसे बड़ी कम्पनी किसकी है, बिहार में किसकी सरकार है
URL copied to clipboard