#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker

बहू का सास से झगड़ा होते हुए देखकर, पति को क्या करना चाहिए?

Bahu Ka Saas Se Jhagda Hote Hue Dekhkar Pati Ko Kya Karna Chaiye
Bhupesh Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Bhupesh जी का जवाब
Entrepreneur , Blogger, Influencer
1:17

और जवाब सुनें

bolkar speaker
बहू का सास से झगड़ा होते हुए देखकर, पति को क्या करना चाहिए?Bahu Ka Saas Se Jhagda Hote Hue Dekhkar Pati Ko Kya Karna Chaiye
ᴊᴀt raj me Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए ᴊᴀt जी का जवाब
𝓝𝓾𝓻𝓼𝓲𝓷𝓰 𝓼𝓪𝓯𝓮 𝓶𝓮 𝔀𝓸𝓻𝓴𝓲𝓷𝓰
1:09

bolkar speaker
बहू का सास से झगड़ा होते हुए देखकर, पति को क्या करना चाहिए?Bahu Ka Saas Se Jhagda Hote Hue Dekhkar Pati Ko Kya Karna Chaiye
Vikas Sharma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vikas जी का जवाब
Student
1:13

bolkar speaker
बहू का सास से झगड़ा होते हुए देखकर, पति को क्या करना चाहिए?Bahu Ka Saas Se Jhagda Hote Hue Dekhkar Pati Ko Kya Karna Chaiye
Ankita Sahu Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ankita जी का जवाब
Unknown
0:25

bolkar speaker
बहू का सास से झगड़ा होते हुए देखकर, पति को क्या करना चाहिए?Bahu Ka Saas Se Jhagda Hote Hue Dekhkar Pati Ko Kya Karna Chaiye
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:56

bolkar speaker
बहू का सास से झगड़ा होते हुए देखकर, पति को क्या करना चाहिए?Bahu Ka Saas Se Jhagda Hote Hue Dekhkar Pati Ko Kya Karna Chaiye
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
1:09

bolkar speaker
बहू का सास से झगड़ा होते हुए देखकर, पति को क्या करना चाहिए?Bahu Ka Saas Se Jhagda Hote Hue Dekhkar Pati Ko Kya Karna Chaiye
डा. इन्दु प्रकाश सिंह  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए डा. जी का जवाब
शिक्षण-कार्य, कालेज शिक्षा में प्राचार्य हूँ
1:47
बेटा आपका प्रश्न है की बहू का सास से झगड़ा होते हुए देखकर पति को क्या करना चाहिए पति कौन सा बहू वाला एहसास वाला पहली बात तो आपने क्लियर नहीं किया तो मैं अपने पुत्र वधू के ससुरजी अथवा पुत्र वधू के पति देव तो मेरे विचार से सबसे पहला तो रास्ता यह है वहां से चुपचाप हट जाना चाहिए ताकि दोनों को ही पता ना लगे कि आप वहां उनकी बात सुन रहे हैं समझे आपने कुछ देर में झगड़ा खत्म हो जाएगा चाहे जिस स्तर पर खत्म हो उसके बाद आप की नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि पूरे मामले को समझें और समझने के बाद जिसका 200 हो समझे आपने पहले क्लियर करें क्योंकि झगड़ा खत्म होने के बाद वह अपनी अपनी सफाई जरूर देंगे पूछने पर तो पूरे मामले को समझें और समझ करके फिर कोई समाधान निकालने की कोशिश करें लेकिन ध्यान ऐसा करते हुए ठीक वह हालत भी हो सकती जैसे आहुति करके कहा जाता ना होम करते हाथ जल जाता है समझा अपने आप जरा सा भी किसी के पक्ष में गए तो दूसरा पक्ष निश्चित रूप से आप को दोषी करार देगा इसलिए बहुत सोच समझकर कदम उठाना चाहिए और तत्काल तो मेरे विचार से अगर स्थितियां बहुत भी शर्म नहीं है तो इंटरफेयर ना करके उसे टाल जाना चाहिए जब वह शाम तो हो जाए तब धीरे-धीरे एक-एक से पूछे पूरे मामले को समझिए कोई और अगर वहां उपस्थित हो तो उससे पूछिए और फिर थोड़ा सा दबाव बनाने की कोशिश करिए और इसमें आपको तटस्थ रहना पड़ेगा लेटेस्ट देखना पड़ेगा और तटस्थ उनको एहसास भी कराना पड़ेगा
Beta aapaka prashn hai kee bahoo ka saas se jhagada hote hue dekhakar pati ko kya karana chaahie pati kaun sa bahoo vaala ehasaas vaala pahalee baat to aapane kliyar nahin kiya to main apane putr vadhoo ke sasurajee athava putr vadhoo ke pati dev to mere vichaar se sabase pahala to raasta yah hai vahaan se chupachaap hat jaana chaahie taaki donon ko hee pata na lage ki aap vahaan unakee baat sun rahe hain samajhe aapane kuchh der mein jhagada khatm ho jaega chaahe jis star par khatm ho usake baad aap kee naitik jimmedaaree banatee hai ki poore maamale ko samajhen aur samajhane ke baad jisaka 200 ho samajhe aapane pahale kliyar karen kyonki jhagada khatm hone ke baad vah apanee apanee saphaee jaroor denge poochhane par to poore maamale ko samajhen aur samajh karake phir koee samaadhaan nikaalane kee koshish karen lekin dhyaan aisa karate hue theek vah haalat bhee ho sakatee jaise aahuti karake kaha jaata na hom karate haath jal jaata hai samajha apane aap jara sa bhee kisee ke paksh mein gae to doosara paksh nishchit roop se aap ko doshee karaar dega isalie bahut soch samajhakar kadam uthaana chaahie aur tatkaal to mere vichaar se agar sthitiyaan bahut bhee sharm nahin hai to intarapheyar na karake use taal jaana chaahie jab vah shaam to ho jae tab dheere-dheere ek-ek se poochhe poore maamale ko samajhie koee aur agar vahaan upasthit ho to usase poochhie aur phir thoda sa dabaav banaane kee koshish karie aur isamen aapako tatasth rahana padega letest dekhana padega aur tatasth unako ehasaas bhee karaana padega

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • सास बहू घरेलू झगड़ा, सास बहू झगड़ा होता
URL copied to clipboard