#undefined

bolkar speaker

बत्तख पालन व्यवसाय क्या है इसे कैसे शुरू कर सकते है?

Battakh Palan Vyavasay Kya Hai Ise Kaise Shuru Kar Sakte Hai
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:40
बत्तख पालन व्यवसाय क्या है यह कैसे शुरू कर सकते हैं जिस प्रकार से मुर्गी पालन होता है उसी प्रकार से पालन होता है जिस प्रकार मुर्गी के अंडे बिकते हैं उसी प्रकार बत्तख के भी अंडे बाजारों में बिकते हैं तो इसलिए आप जिस प्रकार मूल्यों का पालन होता है उसी प्रकार बच्चों का लेकिन बच के पानी में रहती है उसके लिए थोड़ा पानी की व्यवस्था इस प्रकार से कोई बनाना पड़ता है सिस्टम कि वह में पानी भी हो तो बस बच्चों का पालन कर सकते हैं और उसके अंधे हैं वह क्या समझते हैं
Battakh paalan vyavasaay kya hai yah kaise shuroo kar sakate hain jis prakaar se murgee paalan hota hai usee prakaar se paalan hota hai jis prakaar murgee ke ande bikate hain usee prakaar battakh ke bhee ande baajaaron mein bikate hain to isalie aap jis prakaar moolyon ka paalan hota hai usee prakaar bachchon ka lekin bach ke paanee mein rahatee hai usake lie thoda paanee kee vyavastha is prakaar se koee banaana padata hai sistam ki vah mein paanee bhee ho to bas bachchon ka paalan kar sakate hain aur usake andhe hain vah kya samajhate hain

और जवाब सुनें

bolkar speaker
बत्तख पालन व्यवसाय क्या है इसे कैसे शुरू कर सकते है?Battakh Palan Vyavasay Kya Hai Ise Kaise Shuru Kar Sakte Hai
India is Great Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए India जी का जवाब
Master Chef in House
1:20
सबसे पहले आप एक बहुत ही बड़ा तलाब यह बना लीजिए और अगर यदि आपके आसपास कोई तालाब है तो वहीं पर या फिर समझ सकते कि जैसे फैक्ट्री होता है तो 15 तो बहुत खर्चा करना पड़ता उसमें आपको जरूरत नहीं पड़ेगा आप कुछ नहीं तो एक महीना या फिर अल्बेस्टर का घर बना सकते हैं और वह भी छोटा मोटा बड़ा की जरूरत नहीं लंबा चौड़ा बस होना जरूरी है वह और उसके अलावा मैं आपको कुछ चीजों की जरूरत पड़ेगा जैसे कि दाना डालने वाली मशीन आता है प्लास्टिक के कोई खास नहीं कर एवं ₹100 में पर एक डब्बा मिल जाता है तो आप को लाने की जरूरत पड़ेगी कम से कम दो ढाई साल ले आइए कभी आपको इतना रखिए और उसकी देखभाल करना शुरू कीजिए और स्टार्टिंग में उसकी हैबिट डालिए 2050 तक से स्टार्ट कीजिए और फिर हंसते हंसते जब बढ़ता जाएगा और फिर आप उसकी काम कर सकते हैं यह मुझे ज्यादा कुछ पता नहीं है लेकिन हमारे बगल में बिहार चंदन मैंने देखा है ऐसा सेम टू सेम वही देख कर के मैं अनुभव किया कि इस तरह से इन से पालते हैं तो वही बात हमने आपको बताया है
Sabase pahale aap ek bahut hee bada talaab yah bana leejie aur agar yadi aapake aasapaas koee taalaab hai to vaheen par ya phir samajh sakate ki jaise phaiktree hota hai to 15 to bahut kharcha karana padata usamen aapako jaroorat nahin padega aap kuchh nahin to ek maheena ya phir albestar ka ghar bana sakate hain aur vah bhee chhota mota bada kee jaroorat nahin lamba chauda bas hona jarooree hai vah aur usake alaava main aapako kuchh cheejon kee jaroorat padega jaise ki daana daalane vaalee masheen aata hai plaastik ke koee khaas nahin kar evan ₹100 mein par ek dabba mil jaata hai to aap ko laane kee jaroorat padegee kam se kam do dhaee saal le aaie kabhee aapako itana rakhie aur usakee dekhabhaal karana shuroo keejie aur staarting mein usakee haibit daalie 2050 tak se staart keejie aur phir hansate hansate jab badhata jaega aur phir aap usakee kaam kar sakate hain yah mujhe jyaada kuchh pata nahin hai lekin hamaare bagal mein bihaar chandan mainne dekha hai aisa sem too sem vahee dekh kar ke main anubhav kiya ki is tarah se in se paalate hain to vahee baat hamane aapako bataaya hai

bolkar speaker
बत्तख पालन व्यवसाय क्या है इसे कैसे शुरू कर सकते है?Battakh Palan Vyavasay Kya Hai Ise Kaise Shuru Kar Sakte Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
4:01
पालन व्यवसाय क्या है इसे कैसे शुरू कर सकते हैं इस समय किस आंदोलन का शुरुआत कर रहे हैं और बहुत सारे लोग इसकी शुरुआत की है भरा होता है बत्तख के मांस और अंडे की बढ़ी डिमांड रही है और कहते हैं कि दोनों को प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती है इनकी मांग और अंडे दोनों में प्रोटीन की बड़ी आवश्यकता होती है और मुर्गी पालन में तौर पर तुलना में बत्तख पालन बेहतर होता है क्योंकि इनकी मृत्यु दर भी बहुत कम होती है हम कहते हैं कि इसकी शुरुआत कैसे करें सबसे पहले तो एक जगह का चुनाव करना बड़े तालाब होंगे और आसानी से आप इसकी शुरुआत कर सकते यह जगह ऑनलाइन हो तो उसमें तालाब में बड़ी संख्या में बहू और इसकी शुरुआत की जाएगी पालन भी किया जा सकता है मछलियां भी आप उसमें पाल सकते हैं और सेठ की तरफ देखते हैं नालियां ल फुल सकते हैं ताकि उसमें हमेशा पानी का भाव भी बनाए रखें एक से दूसरे और तीसरे में तो कहने का मतलब है माध्यम से आप इसकी शुरुआत करें दूसरे हमारे एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी में केरल हसबेंडरी पर काम कर रहे हैं अपने क्षेत्र में कौन कौन सी प्रजाति है इसमें सबसे बेहतर है है जो खाकी रंग की होती है वह महत्व है यह लगभग 300 से ज्यादा बेहतर ढंग से स्कोर बैटिंग करें कि कोई दूसरी प्रजाति के जानवर जंगली जानवर के कनेक्शन रखी है तो इनका हर काम को ध्यान रखना पड़ेगा हम को घरों में तालाबों में जो कुदरती तौर पर पहुंचे होते हैं देंगे होते हैं जली जल दोहन की खुराक होते हैं जिनका आप ध्यान में रखेंगे और प्यार की व्यवस्था करें और निश्चित तौर पर है वहां पर जानकारी के अनुसार रोहतक मंडल करते हैं तो ढंग लगवाना जरूरी है और हर 2 महीने के अंतराल पर सेना ने किया उसकी कीटनाशक करते रहे तो इस तरह से बर्तन का आप खुद ही देख कर के रोजगार शुरु कर सकते हैं ध्यान रहे उसके पास बस हरियाली हो उसमें कुछ जली ही हो पौधे हो जिससे वह अपना प्रोग्राम ले सकें और बढ़ती घटनाएं एनिमल हसबेंडरी डिपार्टमेंट से डिस्ट्रिक्ट लेवल पर होते हैं इनको कर लें तो ज्यादा अच्छा होगा रोजगार का साधन है और इसकी शुरुआत की जा सकती है
Paalan vyavasaay kya hai ise kaise shuroo kar sakate hain is samay kis aandolan ka shuruaat kar rahe hain aur bahut saare log isakee shuruaat kee hai bhara hota hai battakh ke maans aur ande kee badhee dimaand rahee hai aur kahate hain ki donon ko pratirodhak kshamata badhaatee hai inakee maang aur ande donon mein proteen kee badee aavashyakata hotee hai aur murgee paalan mein taur par tulana mein battakh paalan behatar hota hai kyonki inakee mrtyu dar bhee bahut kam hotee hai ham kahate hain ki isakee shuruaat kaise karen sabase pahale to ek jagah ka chunaav karana bade taalaab honge aur aasaanee se aap isakee shuruaat kar sakate yah jagah onalain ho to usamen taalaab mein badee sankhya mein bahoo aur isakee shuruaat kee jaegee paalan bhee kiya ja sakata hai machhaliyaan bhee aap usamen paal sakate hain aur seth kee taraph dekhate hain naaliyaan la phul sakate hain taaki usamen hamesha paanee ka bhaav bhee banae rakhen ek se doosare aur teesare mein to kahane ka matalab hai maadhyam se aap isakee shuruaat karen doosare hamaare egreekalchar yoonivarsitee mein keral hasabendaree par kaam kar rahe hain apane kshetr mein kaun kaun see prajaati hai isamen sabase behatar hai hai jo khaakee rang kee hotee hai vah mahatv hai yah lagabhag 300 se jyaada behatar dhang se skor baiting karen ki koee doosaree prajaati ke jaanavar jangalee jaanavar ke kanekshan rakhee hai to inaka har kaam ko dhyaan rakhana padega ham ko gharon mein taalaabon mein jo kudaratee taur par pahunche hote hain denge hote hain jalee jal dohan kee khuraak hote hain jinaka aap dhyaan mein rakhenge aur pyaar kee vyavastha karen aur nishchit taur par hai vahaan par jaanakaaree ke anusaar rohatak mandal karate hain to dhang lagavaana jarooree hai aur har 2 maheene ke antaraal par sena ne kiya usakee keetanaashak karate rahe to is tarah se bartan ka aap khud hee dekh kar ke rojagaar shuru kar sakate hain dhyaan rahe usake paas bas hariyaalee ho usamen kuchh jalee hee ho paudhe ho jisase vah apana prograam le saken aur badhatee ghatanaen enimal hasabendaree dipaartament se distrikt leval par hote hain inako kar len to jyaada achchha hoga rojagaar ka saadhan hai aur isakee shuruaat kee ja sakatee hai

bolkar speaker
बत्तख पालन व्यवसाय क्या है इसे कैसे शुरू कर सकते है?Battakh Palan Vyavasay Kya Hai Ise Kaise Shuru Kar Sakte Hai
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
0:45
बतख पालन है क्या ऐसे कैसे शुरू कर सकते हैं एक पशु का पालन है बच्चों का पालन है और इस गोपाल का नंबर तक के अंडों से बच्चे को जूते सच्चे जीवन दे सकते हैं और उन बच्चों को बेचकर अपना जिओ का उपार्जन कर सकते हैं इसको शुरू करने के लिए आपके पास एक लास्ट 36 डेज ट्रांसफर से स्थान और साक्षी स्थान के साथ-साथ आपके पास समुचित इनकी सुरक्षा और पालन से संबंधित संसाधन होने चाहिए
Batakh paalan hai kya aise kaise shuroo kar sakate hain ek pashu ka paalan hai bachchon ka paalan hai aur is gopaal ka nambar tak ke andon se bachche ko joote sachche jeevan de sakate hain aur un bachchon ko bechakar apana jio ka upaarjan kar sakate hain isako shuroo karane ke lie aapake paas ek laast 36 dej traansaphar se sthaan aur saakshee sthaan ke saath-saath aapake paas samuchit inakee suraksha aur paalan se sambandhit sansaadhan hone chaahie

bolkar speaker
बत्तख पालन व्यवसाय क्या है इसे कैसे शुरू कर सकते है?Battakh Palan Vyavasay Kya Hai Ise Kaise Shuru Kar Sakte Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
3:24
आज मेरे सभी बोलकर परिवार के सभी मित्रों को आज का सवाल हमारा वेतन से संबंधित है सवाल नंबर एक बत्तख पालन व्यवसाय क्या है इसे कैसे तू कर सकते हैं तो आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से है पत्रक पालन करना एक नहीं बल्कि बहुत ही फायदे निया में कई देश ऐसे हैं जहां बस को का इस्तेमा अमित जितेन के बाद अंडा मांस उत्पादन के लिए दूसरे नंबर पर है माना जाता है कोई भी किसान या बुधनी या छोटे व्यापारी दोनों स्तर को शुरू कर सकता है यहां तक छोटे स्तर की बात करें तो घर के पिछवाड़े दूधिया इत्यादि के साथ भी किया जा सकता है पालन के मौत से फायदे हैं बस पालन को आप एक सफल और कर भी शुरू कर सकते हो जिसके कारण से वह एक बेहतरीन को शुरू कर सकते हो और कम खर्चे में कर सकते हो बता क्यों भेज दी मजबूत पक्ष होते हैं और बत्तख के अधिकतर सुबह शाम को अंडे देते हैं बदक पालन के लिए गाने की तुलना में कम जगह की ही आवश्यकता होती है और सामान्य रोगों के लिए बच्चों को सही प्रतिरोधी होते हैं जिसके चलते यह बीमार भी बहुत कम होते हैं यह दुनिया यह बता क्या बताएं बहुत ही अच्छा है बतख पालन एक ही स्थाई रोजगार का साधन भी हो सकता है इसलिए मेरे शरीर रोजगार भाइयों के लिए बहुत ही अच्छा है जो शिक्षित नौजवान इस बिजनेस को कर सकते हैं और अपना रोजगार का जरिया बना सकते हैं और बत्तख के पालन के लिए किस प्रकार से शुरुआत करें पोपट को के लिए आवास होना चाहिए बतख पालन के फायदों के बारे में हम बात करते हैं समय हम यह भी जानते हैं बस को के लिए आवाज बड़ी आसानी से बना जाता है यह जगह इसकी ऊंची नीची दिल्ली सुखी जगह आसानी से इनको पाला जा सकता है और इनके नकल के चुनाव किस प्रकार से करें उतनी के द्वारा बिना आवाज के लिए प्रबंध करने लेने के बाद वह जो नस्ल होती है उनका चुनाव करना चाहिए ताकि एक अच्छी उत्पादकता वाली नस्ल को अपनी बताकर पालन में अपना हिस्सा बना पाए और अपना एक अच्छा व्यवसाय को कामयाब कर सकती है इसलिए पूरे विश्व में बात को कहने की प्रजातियां पाई जाती है लेकिन हुआ था कि तुम पर बात करते हैं कमाई करने के लिए बंदूकों की सभी प्रजातियां उपयोगिता नहीं होती है कुछ बताती है ऐसी होती है जिनको अंडे देने के उद्देश्य से पाला जा सकता है कुछ ऐसी होती है जिनका पालन मीठी उत्पादन के लिए किया जाता है इसलिए अगर हम देखे तो बस को रतिया मुख्य तौर पर तीन भागों में विभाजित कर सकते हैं और इनमें सभी की क्वालिटी को हमें अपने बताओ वाकई में शामिल कर सकते हैं जिन्हें आप बता परंतु महेंद्र जी आप एक अच्छा रोजगार सर्जन कर सकते हैं और आपके जो रोजगार भाइयों को भी आप रोजगार दे सकते हो धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Aaj mere sabhee bolakar parivaar ke sabhee mitron ko aaj ka savaal hamaara vetan se sambandhit hai savaal nambar ek battakh paalan vyavasaay kya hai ise kaise too kar sakate hain to aapake savaal ka uttar is prakaar se hai patrak paalan karana ek nahin balki bahut hee phaayade niya mein kaee desh aise hain jahaan bas ko ka istema amit jiten ke baad anda maans utpaadan ke lie doosare nambar par hai maana jaata hai koee bhee kisaan ya budhanee ya chhote vyaapaaree donon star ko shuroo kar sakata hai yahaan tak chhote star kee baat karen to ghar ke pichhavaade doodhiya ityaadi ke saath bhee kiya ja sakata hai paalan ke maut se phaayade hain bas paalan ko aap ek saphal aur kar bhee shuroo kar sakate ho jisake kaaran se vah ek behatareen ko shuroo kar sakate ho aur kam kharche mein kar sakate ho bata kyon bhej dee majaboot paksh hote hain aur battakh ke adhikatar subah shaam ko ande dete hain badak paalan ke lie gaane kee tulana mein kam jagah kee hee aavashyakata hotee hai aur saamaany rogon ke lie bachchon ko sahee pratirodhee hote hain jisake chalate yah beemaar bhee bahut kam hote hain yah duniya yah bata kya bataen bahut hee achchha hai batakh paalan ek hee sthaee rojagaar ka saadhan bhee ho sakata hai isalie mere shareer rojagaar bhaiyon ke lie bahut hee achchha hai jo shikshit naujavaan is bijanes ko kar sakate hain aur apana rojagaar ka jariya bana sakate hain aur battakh ke paalan ke lie kis prakaar se shuruaat karen popat ko ke lie aavaas hona chaahie batakh paalan ke phaayadon ke baare mein ham baat karate hain samay ham yah bhee jaanate hain bas ko ke lie aavaaj badee aasaanee se bana jaata hai yah jagah isakee oonchee neechee dillee sukhee jagah aasaanee se inako paala ja sakata hai aur inake nakal ke chunaav kis prakaar se karen utanee ke dvaara bina aavaaj ke lie prabandh karane lene ke baad vah jo nasl hotee hai unaka chunaav karana chaahie taaki ek achchhee utpaadakata vaalee nasl ko apanee bataakar paalan mein apana hissa bana pae aur apana ek achchha vyavasaay ko kaamayaab kar sakatee hai isalie poore vishv mein baat ko kahane kee prajaatiyaan paee jaatee hai lekin hua tha ki tum par baat karate hain kamaee karane ke lie bandookon kee sabhee prajaatiyaan upayogita nahin hotee hai kuchh bataatee hai aisee hotee hai jinako ande dene ke uddeshy se paala ja sakata hai kuchh aisee hotee hai jinaka paalan meethee utpaadan ke lie kiya jaata hai isalie agar ham dekhe to bas ko ratiya mukhy taur par teen bhaagon mein vibhaajit kar sakate hain aur inamen sabhee kee kvaalitee ko hamen apane batao vaakee mein shaamil kar sakate hain jinhen aap bata parantu mahendr jee aap ek achchha rojagaar sarjan kar sakate hain aur aapake jo rojagaar bhaiyon ko bhee aap rojagaar de sakate ho dhanyavaad doston khush raho

bolkar speaker
बत्तख पालन व्यवसाय क्या है इसे कैसे शुरू कर सकते है?Battakh Palan Vyavasay Kya Hai Ise Kaise Shuru Kar Sakte Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:27
या फिर से शुरू कर सकती है तो फ्रेंड जिस तरह मुर्गी पालन व्यवसाय बाजार में बिकते हैं वैसे ही बात को क्यों नहीं बजा सकते हैं और काफी अच्छा है मतलब बलम वैशाली से मुर्गी पालन व्यवसाय के जैसे ही शुरु कर सकते हैं
Ya phir se shuroo kar sakatee hai to phrend jis tarah murgee paalan vyavasaay baajaar mein bikate hain vaise hee baat ko kyon nahin baja sakate hain aur kaaphee achchha hai matalab balam vaishaalee se murgee paalan vyavasaay ke jaise hee shuru kar sakate hain

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • बत्तख पालन की जानकारी, बत्तख का चारा, बतख के अंडे का बाजार
URL copied to clipboard