#टेक्नोलॉजी

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:44
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है कि भारत में लोक डाउन होने के बाद ऐसी कौन सी नई चीजें देखने को मिल रही है जो बहुत सालों के बाद देखने को मिल रही हैं तो दोस्तों लाभ डाउन के बाद जो सबसे ज्यादा चीजें देखने को मिल रही है जो कि लुप्त हो चुकी थी परिवार का एक साथ रहना चाहे पति पत्नी को एक साथ रह रहे उनके बच्चे रहे हो साथ में माता-पिता रहे हैं कहने का मतलब है कि क्वालिटी टाइम एक बित्ता ना आपस में लोगों को समझना और जैसे पहले लोग अपने आप को आर्थिक दृष्टि से नीचे देखते थे या थे भी उनकी पोजीशन व स्थिति दोबारा देखने को नहीं मिल रही थी पैसा होते हुए भी लाइन में लगकर और एक निश्चित मात्रा में सामान मिल रहा था तो बहुत बिजी है सबसे ज्यादा यह अनुभव लोगों ने किया और उन्हें अच्छा भी लगा इसके काफी सफल परिणाम भी प्राप्त हुए लेकिन फिर से वही धीरे-धीरे अब बात भी दुनिया हो रही है पिता के पास समय नहीं है बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो अपने बच्चे का शक्ल ही नहीं देख पाते बात ही नहीं कर पाते जैसे कि वह सुबह सोया रहता है तो जल्दी निकल जाते हैं और रात को आते हैं तो भी बच्चा सो जाता है तो ऐसी समस्या है या परिवार को बिल्कुल समय भी नहीं दे पाते हैं लोग लेकिन क्या करें जीवन यापन करने के लिए वह भी जरूरी है लेकिन लॉकडाउन में सबसे बढ़िया चीज किया कि लोगों को अपनों को करीब लाया धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai ki bhaarat mein lok daun hone ke baad aisee kaun see naee cheejen dekhane ko mil rahee hai jo bahut saalon ke baad dekhane ko mil rahee hain to doston laabh daun ke baad jo sabase jyaada cheejen dekhane ko mil rahee hai jo ki lupt ho chukee thee parivaar ka ek saath rahana chaahe pati patnee ko ek saath rah rahe unake bachche rahe ho saath mein maata-pita rahe hain kahane ka matalab hai ki kvaalitee taim ek bitta na aapas mein logon ko samajhana aur jaise pahale log apane aap ko aarthik drshti se neeche dekhate the ya the bhee unakee pojeeshan va sthiti dobaara dekhane ko nahin mil rahee thee paisa hote hue bhee lain mein lagakar aur ek nishchit maatra mein saamaan mil raha tha to bahut bijee hai sabase jyaada yah anubhav logon ne kiya aur unhen achchha bhee laga isake kaaphee saphal parinaam bhee praapt hue lekin phir se vahee dheere-dheere ab baat bhee duniya ho rahee hai pita ke paas samay nahin hai bahut saare aise log hain jo apane bachche ka shakl hee nahin dekh paate baat hee nahin kar paate jaise ki vah subah soya rahata hai to jaldee nikal jaate hain aur raat ko aate hain to bhee bachcha so jaata hai to aisee samasya hai ya parivaar ko bilkul samay bhee nahin de paate hain log lekin kya karen jeevan yaapan karane ke lie vah bhee jarooree hai lekin lokadaun mein sabase badhiya cheej kiya ki logon ko apanon ko kareeb laaya dhanyavaad

और जवाब सुनें

vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
1:18
प्रणाम सर आपका प्रशन है भारत में लोक डाउन होने के बाद ऐसी कौन सी नई चीजें देखने को मिल रही है जो बहुत सालों के बाद देखने को मिल रही है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है भारत में लोक डाउन होने के बाद ऐसी बहुत सी चीजें हैं देखने को मिल रही है जो हमें कई सालों बाद देखने को मिल रही है क्योंकि ज्यादातर लोग मास्क लगाने लग गए हैं और कॉमेडी के टीके लगाने लग गए हैं और एक हमारे हिंदुस्तान में सबसे ज्यादा लोग बेरोजगार हो गए हैं और एक दूसरा व्यक्ति डिस्टेंस बनाए रखने लग गए हैं और प्रत्येक व्यक्ति सावधानी बनाए रखने लग गए हैं जो बाहर जो भी हम सब्जी या भार का समान लेकर आते हैं उनको साफ-सुथरा करके ही इस्तेमाल करने लग गए हैं और स्वास्थ्य के प्रति लोग बहुत ही जागरूक हो गए हैं इसलिए भारत में लोक डाउन होने के बाद ऐसी बहुत सी चीजें देखने को मिल रही है धन्यवाद दोस्तों खुश रहो
Pranaam sar aapaka prashan hai bhaarat mein lok daun hone ke baad aisee kaun see naee cheejen dekhane ko mil rahee hai jo bahut saalon ke baad dekhane ko mil rahee hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai bhaarat mein lok daun hone ke baad aisee bahut see cheejen hain dekhane ko mil rahee hai jo hamen kaee saalon baad dekhane ko mil rahee hai kyonki jyaadaatar log maask lagaane lag gae hain aur komedee ke teeke lagaane lag gae hain aur ek hamaare hindustaan mein sabase jyaada log berojagaar ho gae hain aur ek doosara vyakti distens banae rakhane lag gae hain aur pratyek vyakti saavadhaanee banae rakhane lag gae hain jo baahar jo bhee ham sabjee ya bhaar ka samaan lekar aate hain unako saaph-suthara karake hee istemaal karane lag gae hain aur svaasthy ke prati log bahut hee jaagarook ho gae hain isalie bhaarat mein lok daun hone ke baad aisee bahut see cheejen dekhane ko mil rahee hai dhanyavaad doston khush raho

Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:25
पास में लड़का होने के बाद ऐसी कौन सी नई चीजें देखने में बहुत सालों बाद है कि मुझे केक तो अपने परिवार के साथ बैठकर बातें करना परिवार से मिलना वह लोग कभी गांव आए नहीं थे सर में रह रहे थे 20 साल से 50 साल तक उन्होंने जाम देखा और कुछ नहीं भेजना शायरी आ जाए बहुत सारे लोगों ने अपने बिजनेस चेंज किया तो यह कि नहीं
Paas mein ladaka hone ke baad aisee kaun see naee cheejen dekhane mein bahut saalon baad hai ki mujhe kek to apane parivaar ke saath baithakar baaten karana parivaar se milana vah log kabhee gaanv aae nahin the sar mein rah rahe the 20 saal se 50 saal tak unhonne jaam dekha aur kuchh nahin bhejana shaayaree aa jae bahut saare logon ne apane bijanes chenj kiya to yah ki nahin

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:36
हेलो दोस्तों स्वागत है आपका बोलकर एप्पल तो फ्रेंड संगम प्रश्न है भारत में लोक डाउन होने के बाद ऐसी कौन सी चीजें नहीं देखने को मिली है जो बहुत सालों के बाद देखने को मिल रही है तो फ्रेंड से लॉक डाउन के बाद सबसे ज्यादा तो मार्च का प्रयोग जैसे कि लोग मांस का प्रयोग करने लगे पहले लोग मासूम नहीं लगाते थे लॉक डाउन के बाद करो ना के बाद दो मत लगाना चालू कर दिए हैं और सैनिटाइजर का उपयोग लोग बात कर रहे हैं ना तो होते हैं अपने तो पहले लोग इतना नहीं धोते थे और सबसे ज्यादा आत्मनिर्भर बना है भारत लोक डाउन के बाद हर चीज भारत में बनने लगी है धन्यवाद
Helo doston svaagat hai aapaka bolakar eppal to phrend sangam prashn hai bhaarat mein lok daun hone ke baad aisee kaun see cheejen nahin dekhane ko milee hai jo bahut saalon ke baad dekhane ko mil rahee hai to phrend se lok daun ke baad sabase jyaada to maarch ka prayog jaise ki log maans ka prayog karane lage pahale log maasoom nahin lagaate the lok daun ke baad karo na ke baad do mat lagaana chaaloo kar die hain aur sainitaijar ka upayog log baat kar rahe hain na to hote hain apane to pahale log itana nahin dhote the aur sabase jyaada aatmanirbhar bana hai bhaarat lok daun ke baad har cheej bhaarat mein banane lagee hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • भरत में लॉकडाउन कब लगा, भारत में लाकडाउन के क्या परिणाम दिखे
URL copied to clipboard