#undefined

bolkar speaker

क्या अधिक चालाक बनने के चक्कर में मनुष्य मानसिक रूप से अस्थिर होता चला जाता है?

Kya Adhik Chalak Banne Ke Chakkar Mein Manushya Maanasik Roop Se Asthir Hota Chala Jata Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:22
स्वागत है आपका आपका प्रश्न एक या अधिक चालाक बनने के चक्कर में मनुष्य मानसिक रूप से स्थिर होता चला जाता है जी हां फ्रेंड जो हद से भी ज्यादा चालाक बनता है वह मानसिक रूप से जरूर अस्थिर हो जाता है क्योंकि वह अपनी चला कि बहुत दिखाने की कोशिश करता है तुम्हें जिंदगी में जरूरी धोखा खाता है और लोगों का मजाक का बात भी बनता है धन्यवाद
Svaagat hai aapaka aapaka prashn ek ya adhik chaalaak banane ke chakkar mein manushy maanasik roop se sthir hota chala jaata hai jee haan phrend jo had se bhee jyaada chaalaak banata hai vah maanasik roop se jaroor asthir ho jaata hai kyonki vah apanee chala ki bahut dikhaane kee koshish karata hai tumhen jindagee mein jarooree dhokha khaata hai aur logon ka majaak ka baat bhee banata hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • चतुर बनें चालाक नहीं, चालाक बनने के चक्कर में मनुष्य मानसिक रूप से अस्थिर होता चला जाता है
URL copied to clipboard