#undefined

bolkar speaker

भांग की पत्तियों के औषधि लाभ क्या है?

Bhaang Ki Pattiyon Ke Aushadhi Laabh Kya Hai
India is Great Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए India जी का जवाब
Master Chef in House
0:37
भांग की पक्की है जो है वह बहुत लाभकारी है जो कि जब आप उसे छोड़ दे वह सूख जाता है तो उसका गंजा बन जाता है और वह गांजा काफी महंगा मिलता है जब तक काफी ज्यादा महंगा मिलता है जो कि वह हमारे गांव में कहीं कहीं होता है भांग की पेड़ जो कि उसे सूख जाने के बाद में एक जाट की तरह बन जाता है और फिर उसे यूज करते हैं कुछ लोग भेजते भी जुड़ जाते हैं ज्यादा होता है तो उसका फायदा है
Bhaang kee pakkee hai jo hai vah bahut laabhakaaree hai jo ki jab aap use chhod de vah sookh jaata hai to usaka ganja ban jaata hai aur vah gaanja kaaphee mahanga milata hai jab tak kaaphee jyaada mahanga milata hai jo ki vah hamaare gaanv mein kaheen kaheen hota hai bhaang kee ped jo ki use sookh jaane ke baad mein ek jaat kee tarah ban jaata hai aur phir use yooj karate hain kuchh log bhejate bhee jud jaate hain jyaada hota hai to usaka phaayada hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
भांग की पत्तियों के औषधि लाभ क्या है?Bhaang Ki Pattiyon Ke Aushadhi Laabh Kya Hai
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
2:23
पूजा के भांग की पत्तियों के औषधि लाभ क्या है भांग की प्रतियोगिता के औषधि लाभ की बात करें तो भांग का उपयोग कैंसर की दवाओं के निर्माण में दिखी किया जाता है इसके साथ-साथ इसका उपयोग उपयोग जो है वह एचआईवी ऐड्स दवाओं के निर्माण में भी दिखे किया जा रहा है अभी भी देखिए वैज्ञानिक मांग को लेकर प्रयोग कर रहे हैं लेकिन प्रयोगशाला में दिखे भांग के उपयोग से कैंसर कोशिकाओं को नष्ट होते देखा गया है और अगर मैं बात करूं तो भांग के रस की आठ से 10 बूंद कान में नीचे डालने से कान की दुखे वह मर जाते हैं और देखिए कान दर्द से छुटकारा मिलता है पहले भांग को दिखे अच्छी तरह से पीस लें फिर दिखे उसे सरसों के तेल में अच्छी तरह पकड़ कर दिल को चांदनी अब देखिए उस तेल को कान में डाले तो इससे किसी भी प्रकार के कान के दिल के दर्द से छुटकारा मिलता है तो भानगढ़ के पत्तों को इसका थोड़ा बना लो अगर किसी को मतलब पेचिश आ रही है और 124 आपको मैं बताऊं मिलीग्राम भांग के चूर्ण को सौंप के छह बूंद रस के साथ दिन में 2 बार लेने से पीछे जो समस्याओं को दूर होती है भांग के 100 मिलीग्राम छोड़ के साथ 50 मिलीग्राम पोस्ट सुधारने के होते हैं उस का चूर्ण मिलाकर सुबह-शाम आप अगर सेवन करते हो 10:00 के साथ आओ की समस्या भी दिखे समाप्त हो जाती है इसके अलावा में बात करो तो सीखी हुई भांग के 125 मिलीग्राम चूर्ण को शहद के साथ दिन में 2 बार सेवन करने से 10 और पेचिश की समस्या समाप्त हो जाती है भांग के देखिए बहुत से औषधि लाभ है लेकिन देख इसके नुकसान भी बहुत है भांग के अधिक सेवन से शरीर में दिखी कमजोरी आती है भांग का अधिक सेवन पुरुष को नपुंसक चरित्रहीन और विचार ही बनाता है इसलिए इसका उपयोग सेक्स उत्तेजना या नशे के लिए नहीं करें और गर्भवती महिलाओं को इसका उपयोग कभी नहीं करना चाहिए इसके सेवन से अनेकों समस्या देखी उत्पन्न हो सकती है तो कहीं अगर फायदे अगर आपको मिले तो कई देख इसके नुकसान भी मिल जाएंगे आपको जय हिंद जय भारत
Pooja ke bhaang kee pattiyon ke aushadhi laabh kya hai bhaang kee pratiyogita ke aushadhi laabh kee baat karen to bhaang ka upayog kainsar kee davaon ke nirmaan mein dikhee kiya jaata hai isake saath-saath isaka upayog upayog jo hai vah echaeevee aids davaon ke nirmaan mein bhee dikhe kiya ja raha hai abhee bhee dekhie vaigyaanik maang ko lekar prayog kar rahe hain lekin prayogashaala mein dikhe bhaang ke upayog se kainsar koshikaon ko nasht hote dekha gaya hai aur agar main baat karoon to bhaang ke ras kee aath se 10 boond kaan mein neeche daalane se kaan kee dukhe vah mar jaate hain aur dekhie kaan dard se chhutakaara milata hai pahale bhaang ko dikhe achchhee tarah se pees len phir dikhe use sarason ke tel mein achchhee tarah pakad kar dil ko chaandanee ab dekhie us tel ko kaan mein daale to isase kisee bhee prakaar ke kaan ke dil ke dard se chhutakaara milata hai to bhaanagadh ke patton ko isaka thoda bana lo agar kisee ko matalab pechish aa rahee hai aur 124 aapako main bataoon mileegraam bhaang ke choorn ko saump ke chhah boond ras ke saath din mein 2 baar lene se peechhe jo samasyaon ko door hotee hai bhaang ke 100 mileegraam chhod ke saath 50 mileegraam post sudhaarane ke hote hain us ka choorn milaakar subah-shaam aap agar sevan karate ho 10:00 ke saath aao kee samasya bhee dikhe samaapt ho jaatee hai isake alaava mein baat karo to seekhee huee bhaang ke 125 mileegraam choorn ko shahad ke saath din mein 2 baar sevan karane se 10 aur pechish kee samasya samaapt ho jaatee hai bhaang ke dekhie bahut se aushadhi laabh hai lekin dekh isake nukasaan bhee bahut hai bhaang ke adhik sevan se shareer mein dikhee kamajoree aatee hai bhaang ka adhik sevan purush ko napunsak charitraheen aur vichaar hee banaata hai isalie isaka upayog seks uttejana ya nashe ke lie nahin karen aur garbhavatee mahilaon ko isaka upayog kabhee nahin karana chaahie isake sevan se anekon samasya dekhee utpann ho sakatee hai to kaheen agar phaayade agar aapako mile to kaee dekh isake nukasaan bhee mil jaenge aapako jay hind jay bhaarat

bolkar speaker
भांग की पत्तियों के औषधि लाभ क्या है?Bhaang Ki Pattiyon Ke Aushadhi Laabh Kya Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
1:52
भांग की पत्तियों की औषधि लड़का को अधिकतम भी होता है लेकिन अगर सही मात्रा में इसका इस्तेमाल किया जाए ऐसे तो सब आम की पत्तियों के आरक्षण के पत्तियों से मानसिक बीमारी दूर करने वाला लड़का और मानसिक लोगों को इस को दिया जाता है तो इसमें फायदेमंद होता है दूसरा ही भांग निश्चित तौर पर मेडिसिनल प्लांट के ऑपरेशन भोजपुरी दवाइयां वगैरह बनाने वाला और दूसरा है कि अगर पेशाब किसी को मुक्ति है आप साथ में प्रॉब्लम होती है कुल मिलाकर मेरे को पढ़कर करने में मददगार मानसिक रोगों के लिए मानसिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है और कभी आपने देखा होगा कि भांग की ठंडाई बनाकर पिया जाए तो बड़ी शांति और सुकून और सिस्टम भी ठीक करता है और इसकी अधिकता अगर है तो निश्चित तौर पर नशे के तौर पर काम भी करता है जो कि भांग का नशा कुछ अजीब सा होता है तो कहने का मतलब है कि प्लांट है और निश्चित तौर पर इसका प्रयोग सही ढंग से किया जाए सही दिशा में जो मानसिक रोगियों के लिए मानसिक स्वास्थ्य के लिए सब संधी रोगों के लिए बड़ा लाभदायक होता है
Bhaang kee pattiyon kee aushadhi ladaka ko adhikatam bhee hota hai lekin agar sahee maatra mein isaka istemaal kiya jae aise to sab aam kee pattiyon ke aarakshan ke pattiyon se maanasik beemaaree door karane vaala ladaka aur maanasik logon ko is ko diya jaata hai to isamen phaayademand hota hai doosara hee bhaang nishchit taur par medisinal plaant ke opareshan bhojapuree davaiyaan vagairah banaane vaala aur doosara hai ki agar peshaab kisee ko mukti hai aap saath mein problam hotee hai kul milaakar mere ko padhakar karane mein madadagaar maanasik rogon ke lie maanasik svaasthy ke lie phaayademand hota hai aur kabhee aapane dekha hoga ki bhaang kee thandaee banaakar piya jae to badee shaanti aur sukoon aur sistam bhee theek karata hai aur isakee adhikata agar hai to nishchit taur par nashe ke taur par kaam bhee karata hai jo ki bhaang ka nasha kuchh ajeeb sa hota hai to kahane ka matalab hai ki plaant hai aur nishchit taur par isaka prayog sahee dhang se kiya jae sahee disha mein jo maanasik rogiyon ke lie maanasik svaasthy ke lie sab sandhee rogon ke lie bada laabhadaayak hota hai

bolkar speaker
भांग की पत्तियों के औषधि लाभ क्या है?Bhaang Ki Pattiyon Ke Aushadhi Laabh Kya Hai
anuj gothwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए anuj जी का जवाब
9828597645
0:59
चार दोस्तों बोलकर आपने स्वागत है शबाना की मांग की पत्तियों के औषधि लाभ क्या है तो इसके लिए आप नियम है कि भांग भांग से हम कई बीमारियों को दूर कर सकते हैं जैसे कि एक व्यक्ति को बार बार पेशाब आने की समस्या हो तो सिर्फ भांग खा लेना चाहिए और किसी व्यक्ति के कान में दर्द हो तो सब भांग की पत्तियों के रस के काम में डाल देना से व कान दर्द ठीक हो जाता है तथा कोई व्यक्ति खांसी जुखाम बुखार इन से परेशान है वह व्यक्ति भी अंग की पत्तियों को सुखाकर पल की पत्ती और नीमच और शॉट इन सबको मिलाकर चूर्ण बना लें उसको खाने से यह सब ठीक हो जाती है
Chaar doston bolakar aapane svaagat hai shabaana kee maang kee pattiyon ke aushadhi laabh kya hai to isake lie aap niyam hai ki bhaang bhaang se ham kaee beemaariyon ko door kar sakate hain jaise ki ek vyakti ko baar baar peshaab aane kee samasya ho to sirph bhaang kha lena chaahie aur kisee vyakti ke kaan mein dard ho to sab bhaang kee pattiyon ke ras ke kaam mein daal dena se va kaan dard theek ho jaata hai tatha koee vyakti khaansee jukhaam bukhaar in se pareshaan hai vah vyakti bhee ang kee pattiyon ko sukhaakar pal kee pattee aur neemach aur shot in sabako milaakar choorn bana len usako khaane se yah sab theek ho jaatee hai

bolkar speaker
भांग की पत्तियों के औषधि लाभ क्या है?Bhaang Ki Pattiyon Ke Aushadhi Laabh Kya Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:31
10 वालों की धान की पत्तियों के औषधि लाके हमको अगर आप बैंक की पक्की हो को कान में दर्द हो रहा है तो भांग की पत्तियों से इसका इलाज कर सकते हैं और उन्हें किसी को खांसी आ रही है तो उससे पत्तों को सुखाकर पीपल की पत्ती का काली मिर्च को शांत कर उनका सेवन करने पर सलाह दी जाती है कि वह पूर्ण रुप से सही हो जाता है
10 vaalon kee dhaan kee pattiyon ke aushadhi laake hamako agar aap baink kee pakkee ho ko kaan mein dard ho raha hai to bhaang kee pattiyon se isaka ilaaj kar sakate hain aur unhen kisee ko khaansee aa rahee hai to usase patton ko sukhaakar peepal kee pattee ka kaalee mirch ko shaant kar unaka sevan karane par salaah dee jaatee hai ki vah poorn rup se sahee ho jaata hai

bolkar speaker
भांग की पत्तियों के औषधि लाभ क्या है?Bhaang Ki Pattiyon Ke Aushadhi Laabh Kya Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:46
स वाले की भांग की पत्तियों के औषधि लाभ क्या है तो भांग आपके सीखने और याद करने की क्षमता को बढ़ाती है अगर भांग का उपयोग सीखने और याद करने के दौरान किया जाता है तो पूरी कोई बातें आसानी से याद किया सकती है भांग का इस्तेमाल कई मानसिक बीमारियों में भी किया जाता है जिन्हें एकाग्रता की कमी होती है उन्हें डॉक्टर के सही मात्रक इस्तेमाल की सलाह देते हैं जिन्हें बार बार पेशाब करने की बीमारी होती है उन्हें भांग के इस्तेमाल की सलाह दी जाती है कान का दर्द होने पर विभाग की पत्तियों के रस को कान में डालने से दर्द से राहत मिलती है जिन्हें ज्यादा खास होती है उन्हें भांग की पत्तियों को सुखाकर पीपल की पत्ती काली मिर्च और पाठ मिलाकर सेवन करने की सलाह दी जाती है
Sa vaale kee bhaang kee pattiyon ke aushadhi laabh kya hai to bhaang aapake seekhane aur yaad karane kee kshamata ko badhaatee hai agar bhaang ka upayog seekhane aur yaad karane ke dauraan kiya jaata hai to pooree koee baaten aasaanee se yaad kiya sakatee hai bhaang ka istemaal kaee maanasik beemaariyon mein bhee kiya jaata hai jinhen ekaagrata kee kamee hotee hai unhen doktar ke sahee maatrak istemaal kee salaah dete hain jinhen baar baar peshaab karane kee beemaaree hotee hai unhen bhaang ke istemaal kee salaah dee jaatee hai kaan ka dard hone par vibhaag kee pattiyon ke ras ko kaan mein daalane se dard se raahat milatee hai jinhen jyaada khaas hotee hai unhen bhaang kee pattiyon ko sukhaakar peepal kee pattee kaalee mirch aur paath milaakar sevan karane kee salaah dee jaatee hai

bolkar speaker
भांग की पत्तियों के औषधि लाभ क्या है?Bhaang Ki Pattiyon Ke Aushadhi Laabh Kya Hai
TechVR ( Vikas RanA) Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए TechVR जी का जवाब
IT Professional
2:30
हेलो अभिमानी आई होप आप सब ठीक होंगे आयोजन में पूछा भांग की पत्तियों के औषधि लाभ क्या है जैसा कि हम जानते हैं होली हो और भांग का जिक्र ना हो वह कभी हो नहीं सकता लोग जो हैं होली में भांग घोट नई में मिलाकर पीते हैं कई लोग इसे पीसकर भी खाते हैं कई लोग भांग पीने के बाद खुशी महसूस करते हैं दरअसल भांग खाने से कम इन हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है डॉक्यूमेंट हारमोंस हुआ है प्यार में होता है जो हमारे मोड को कंट्रोल करता है खुशी का स्तर को और ज्यादा बढ़ा देता है अंग्रेजी में है कैनाबिस मारिजुआना भी कहते हैं इसमें जो है ना ट्रैक्टर हाइड्रोकार्बन विनोद पाया जाता है जिसे अक्सर आसान शब्दों में पीएचसी का चाहिए इसे लेने के बाद अजीब सी खुशी का महसूस होता है छुपाने के लिए बार-बार चाहत में लोग उसके आधे घंटे लगते हैं जो कि सही नहीं है और भांग का जो असर होता बहुत जल्दी ऐसे लोग रहते हैं वहां क्या करें उसके उस दिन आपसे बात करें और उसे दवा के रूप में इस्तेमाल से भी उस को दिखाया था कि कहीं सुना शादी गुण भी पाए जाते हैं अगर हम सेंटिफिक लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक दुनिया में करीब 2.5 सीसी की आबादी जाने की 14 पॉइंट 7 करोड़ लोग इसका इस्तेमाल करते हैं दुनिया में स्पष्ट मांग तेजी से बढ़ रहा है क्योंकि एक सस्ता नशा भी है और सस्ता मिल भी जाता है और यह थोड़ा नीचे लगाता कोकेन उर्दू से अधिक से अधिक करेंगे तो ज्यादा हानिकारक होते हैं अगर हम इसका सही ढंग से जो है उनके डॉक्टरों के अनुसार जब जो भी हमारे चिकित्सक होते हैं उनके सारे करें तो भांग आपके सीखने और याद करने की क्षमता बढ़ाती है अगर भांग का प्रयोग सीखने और याद करने के लिए दौरान किया जाता है फिर बोलेगी बातें आपको सामने से याद आ जाते हैं भांग का इस्तेमाल कई मानसिक बीमारियों में भी किया जाता है जिन्हें एकाग्रता की कमी अंखियों में डॉक्टर सही मात्रा में इसका इस्तेमाल की सलाह देते हैं जिन्हें बार बार पेशाब करने की उम्र में रहते हो ने भांग का इस्तेमाल की सलाह दी जाती है कान का दर्द होने पर भांग की पत्तियों के रस को कान के अंदर डालने से बहुत ज्यादा राहत मिलती है जिन्हें खांसी ज्यादा होती है उन्हें भांग की पत्तियों को सुखाकर पीपल की पत्ती वाले सूट मिलाकर सेवन करने से सेवन करने की सलाह दी जाती है तो इसके कुछ औषधीय लाभ है इसके अलावा बहुत सारे औषधि लाभ है उसके बारे में आप जो हमको कर कर सकते हैं यूट्यूब पर सर्च कर सकते हैं आशा करता हूं आप कोई जवाब पसंद आए तो लाइक और सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Helo abhimaanee aaee hop aap sab theek honge aayojan mein poochha bhaang kee pattiyon ke aushadhi laabh kya hai jaisa ki ham jaanate hain holee ho aur bhaang ka jikr na ho vah kabhee ho nahin sakata log jo hain holee mein bhaang ghot naee mein milaakar peete hain kaee log ise peesakar bhee khaate hain kaee log bhaang peene ke baad khushee mahasoos karate hain darasal bhaang khaane se kam in haarmon ka star badh jaata hai dokyooment haaramons hua hai pyaar mein hota hai jo hamaare mod ko kantrol karata hai khushee ka star ko aur jyaada badha deta hai angrejee mein hai kainaabis maarijuaana bhee kahate hain isamen jo hai na traiktar haidrokaarban vinod paaya jaata hai jise aksar aasaan shabdon mein peeechasee ka chaahie ise lene ke baad ajeeb see khushee ka mahasoos hota hai chhupaane ke lie baar-baar chaahat mein log usake aadhe ghante lagate hain jo ki sahee nahin hai aur bhaang ka jo asar hota bahut jaldee aise log rahate hain vahaan kya karen usake us din aapase baat karen aur use dava ke roop mein istemaal se bhee us ko dikhaaya tha ki kaheen suna shaadee gun bhee pae jaate hain agar ham sentiphik lie vishv svaasthy sangathan ke mutaabik duniya mein kareeb 2.5 seesee kee aabaadee jaane kee 14 point 7 karod log isaka istemaal karate hain duniya mein spasht maang tejee se badh raha hai kyonki ek sasta nasha bhee hai aur sasta mil bhee jaata hai aur yah thoda neeche lagaata koken urdoo se adhik se adhik karenge to jyaada haanikaarak hote hain agar ham isaka sahee dhang se jo hai unake doktaron ke anusaar jab jo bhee hamaare chikitsak hote hain unake saare karen to bhaang aapake seekhane aur yaad karane kee kshamata badhaatee hai agar bhaang ka prayog seekhane aur yaad karane ke lie dauraan kiya jaata hai phir bolegee baaten aapako saamane se yaad aa jaate hain bhaang ka istemaal kaee maanasik beemaariyon mein bhee kiya jaata hai jinhen ekaagrata kee kamee ankhiyon mein doktar sahee maatra mein isaka istemaal kee salaah dete hain jinhen baar baar peshaab karane kee umr mein rahate ho ne bhaang ka istemaal kee salaah dee jaatee hai kaan ka dard hone par bhaang kee pattiyon ke ras ko kaan ke andar daalane se bahut jyaada raahat milatee hai jinhen khaansee jyaada hotee hai unhen bhaang kee pattiyon ko sukhaakar peepal kee pattee vaale soot milaakar sevan karane se sevan karane kee salaah dee jaatee hai to isake kuchh aushadheey laabh hai isake alaava bahut saare aushadhi laabh hai usake baare mein aap jo hamako kar kar sakate hain yootyoob par sarch kar sakate hain aasha karata hoon aap koee javaab pasand aae to laik aur sabsakraib karen dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • भांग के लाभ, भांग के औषधीय लाभ, क्या भांग का सेवन करना सही है
URL copied to clipboard