#जीवन शैली

bolkar speaker

क्या जीवन हमारी सोच से भी ज्यादा विशाल है?

Kya Jeevan Humari Soch Se Bhi Jyada Vishal Hai
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:39
जी हां हमारा जीवन समझ सबसे ज्यादा विश्वास है जब भी हम बहुत छोटा सोच लेते हैं लेकिन हमारे जीवन में बहुत पढ़ा लिखा होता है या हम बड़ा प्राप्त कर सकते हैं और सारा जीवन निर्भर करता है सोच पर हम जितना सोचेंगे उतना ही प्राप्त होता है इसी कला प्रदर्शन करते हैं और इसी को के लिए कहते कि थैंक रसियारी बड़ा सोचिए अपने दिल की पुस्तक सोचिए और अमीर बनने के बारे में सुना होगा तो वह यही कहते हैं कि जितना आप सूचना प्राप्त कर लोगे तो इसलिए हमारी सोच से बहुत आगे जीवन है जितना ज्यादा सोचते करेंगे उतना ही पाप होता है
Jee haan hamaara jeevan samajh sabase jyaada vishvaas hai jab bhee ham bahut chhota soch lete hain lekin hamaare jeevan mein bahut padha likha hota hai ya ham bada praapt kar sakate hain aur saara jeevan nirbhar karata hai soch par ham jitana sochenge utana hee praapt hota hai isee kala pradarshan karate hain aur isee ko ke lie kahate ki thaink rasiyaaree bada sochie apane dil kee pustak sochie aur ameer banane ke baare mein suna hoga to vah yahee kahate hain ki jitana aap soochana praapt kar loge to isalie hamaaree soch se bahut aage jeevan hai jitana jyaada sochate karenge utana hee paap hota hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या जीवन हमारी सोच से भी ज्यादा विशाल है?Kya Jeevan Humari Soch Se Bhi Jyada Vishal Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:54
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है क्या जीवन हमारी सोच से भी ज्यादा हाल है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार है हमारा जीवन एक विशाल है और इंसान की सोच बहुत थोड़ी है हमें जो दिखता है उस पर हम भरोसा करते हैं और उसके बारे में सोच लेते हैं परिणाम तक पहुंच जाते हैं जीवन जिसने दिया है वह सब कुछ जानता है और इंसान की सोच कहां खत्म हो जाती है वहां से इंसान को बनाने वाला सोचता और करता है बनाने वाला हाल है उसकी बनाई हुई चीज भी विशाल होती है इसलिए चिंता नहीं करना चाहिए उत्तेजना और दूसरे को भी दिला देना चाहिए धन्यवाद साथियों खुश रहो
Namaskaar doston aapaka prashn hai kya jeevan hamaaree soch se bhee jyaada haal hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar hai hamaara jeevan ek vishaal hai aur insaan kee soch bahut thodee hai hamen jo dikhata hai us par ham bharosa karate hain aur usake baare mein soch lete hain parinaam tak pahunch jaate hain jeevan jisane diya hai vah sab kuchh jaanata hai aur insaan kee soch kahaan khatm ho jaatee hai vahaan se insaan ko banaane vaala sochata aur karata hai banaane vaala haal hai usakee banaee huee cheej bhee vishaal hotee hai isalie chinta nahin karana chaahie uttejana aur doosare ko bhee dila dena chaahie dhanyavaad saathiyon khush raho

bolkar speaker
क्या जीवन हमारी सोच से भी ज्यादा विशाल है?Kya Jeevan Humari Soch Se Bhi Jyada Vishal Hai
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:25
पिक्चर जीवन हमारी सोच से भी ज्यादा गुस्सा भी तो साथ जीवन हमारी सोच से भी ज्यादा बसावेश्वरा कम लोगों के बीच में लिखे जा सकते हैं कोशिश करें कि तुम लोगों के साथ रहें अच्छे लोगों की संख्या में सुखी रहें यदि पूरे विस्तार जिंदगी को जीना चाहते हैं तो तू ज्यादा कंजूस कम पाएंगे क्योंकि अच्छे लोग ही मिलते हैं तो खराब लोग मिलते हैं तो बैठे हैं आप अच्छे लोगों के बीच नहीं रहे
Pikchar jeevan hamaaree soch se bhee jyaada gussa bhee to saath jeevan hamaaree soch se bhee jyaada basaaveshvara kam logon ke beech mein likhe ja sakate hain koshish karen ki tum logon ke saath rahen achchhe logon kee sankhya mein sukhee rahen yadi poore vistaar jindagee ko jeena chaahate hain to too jyaada kanjoos kam paenge kyonki achchhe log hee milate hain to kharaab log milate hain to baithe hain aap achchhe logon ke beech nahin rahe

bolkar speaker
क्या जीवन हमारी सोच से भी ज्यादा विशाल है?Kya Jeevan Humari Soch Se Bhi Jyada Vishal Hai
Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
0:57
नमस्कार दोस्तों प्रश्न है क्या जीवन हमारी सोच से भी ज्यादा विशाल है तो निश्चित रूप से दोस्तों हमारी जितनी सोच है उससे जीत जीवन बहुत ही लंबा है हमारी कल्पना मात्र छोटी होती है जैसे जैसे व्यक्ति बाहर जाता है लोगों के बड़े बड़े लोगों के सानिध्य में आता है तो उसकी सोच खुलती जाती है वह व्यक्ति किस समाज में रहा है उसकी सोच वहां तक ही रहती है तो सोच अभी हम जैसे जैसे देख रहे हैं सबकी सोच जहां जहां जाती वह जिस वातावरण में रहता है जो शहर में रहता है उसकी सोच अलग होती है थोड़ी उधार होने की होती है यार निश्चित होती है जो ग्रामीण क्षेत्र में हो रहा था उसकी सोच का दायरा काम होता है तो निश्चित रूप से सोच सोच के ऊपर फर्क पड़ता है अभी वैज्ञानिक काफी शोध में लगे हुए हैं बहुत सारी चीजें थी बाद में पता चलती है कि बहुत सारी चीजें यह है वह है वह है तो निश्चित रूप से जीवन काफी लंबा है जैसे जैसे सोच बढ़ती है तो ही सोचते हैं यह भी होता है यह भी होता है तो निश्चित रूप से सत्य है धन्यवाद
Namaskaar doston prashn hai kya jeevan hamaaree soch se bhee jyaada vishaal hai to nishchit roop se doston hamaaree jitanee soch hai usase jeet jeevan bahut hee lamba hai hamaaree kalpana maatr chhotee hotee hai jaise jaise vyakti baahar jaata hai logon ke bade bade logon ke saanidhy mein aata hai to usakee soch khulatee jaatee hai vah vyakti kis samaaj mein raha hai usakee soch vahaan tak hee rahatee hai to soch abhee ham jaise jaise dekh rahe hain sabakee soch jahaan jahaan jaatee vah jis vaataavaran mein rahata hai jo shahar mein rahata hai usakee soch alag hotee hai thodee udhaar hone kee hotee hai yaar nishchit hotee hai jo graameen kshetr mein ho raha tha usakee soch ka daayara kaam hota hai to nishchit roop se soch soch ke oopar phark padata hai abhee vaigyaanik kaaphee shodh mein lage hue hain bahut saaree cheejen thee baad mein pata chalatee hai ki bahut saaree cheejen yah hai vah hai vah hai to nishchit roop se jeevan kaaphee lamba hai jaise jaise soch badhatee hai to hee sochate hain yah bhee hota hai yah bhee hota hai to nishchit roop se saty hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या जीवन हमारी सोच से भी ज्यादा विशाल है?Kya Jeevan Humari Soch Se Bhi Jyada Vishal Hai
Vijay shankar pal Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Vijay जी का जवाब
My youtube channel - Tech with vijay
0:26
नमस्कार साथियों क्या जीवन हमारी सोच से भी ज्यादा विशाल है तो साथियों जीवन हमारा जो है हमारे सोच पर निर्भर करता है यह तो सही बात है क्योंकि अगर हम सोच ले अगर कोई चीज ठान ले तो कोई भी असंभव कार्य नहीं है हर एक कार्य दुनिया में संभव है और अगर आप उस कार्य को करने के लिए खा लिए हो करने के लिए सोच लिया हो तो अवश्य ही पूरा होगा उसे कोई रोक नहीं सकता है
Namaskaar saathiyon kya jeevan hamaaree soch se bhee jyaada vishaal hai to saathiyon jeevan hamaara jo hai hamaare soch par nirbhar karata hai yah to sahee baat hai kyonki agar ham soch le agar koee cheej thaan le to koee bhee asambhav kaary nahin hai har ek kaary duniya mein sambhav hai aur agar aap us kaary ko karane ke lie kha lie ho karane ke lie soch liya ho to avashy hee poora hoga use koee rok nahin sakata hai

bolkar speaker
क्या जीवन हमारी सोच से भी ज्यादा विशाल है?Kya Jeevan Humari Soch Se Bhi Jyada Vishal Hai
Rohit Rathore Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rohit जी का जवाब
Student
1:15
तो मैं क्या इस स्वागत है आप सबका मेरे बोलता है प्रोफाइल पर और आप सुन रहे रोहित राठौर को तो के जीवन हमारी सोच से भी विशाल है यह बहुत बड़ा है आप लोगों को पता भी नहीं कि जीवन के अच्छी परिभाषा मतलब हम किस हद तक अपनी लाइफ को अच्छे इंजॉय कर सकते जी सकते दूसरों की लाइफ में वैल्यू ऐड कर सकते हैं और हम इतने खुश रहकर लाइफ जी सकते हैं अपने लोगों से मिल कर तो देख एक बार हर रोज अपने जीवन में ऐसी बनाई हफ्ते में कम से कम चार नए लोगों से मिल लूंगा उनसे बातचीत करूंगा शिवम बातचीत ही करनी है आप जब दूसरों के बारे में जानना सीक़ुगे अबकी कम्युनिकेशन स्किल्स अच्छी बनाने से कोई दूसरों को कुछ वैल्युएट करोगे लाइफ में बिना कुछ उनसे उसके बदले में कुछ मांगे अब क्यों आशा करें आप सब दूसरों की लाइफ में पहली और करेंगे वह भी खुशी मिलती है ना वह आपकी लाइफ वैल्यू एडिशन है कितना अच्छा वह भी है अगर आप दूसरों की लाइफ होता तो हमेशा नया सीकरी इमेज पर मैसेज तो देखते रहिए कभी तो अपनी जिंदगी में लाइफ में चाहती 6465 क्यों आप लाइफ में सीखना बंद ना करें और किताबों से इतना प्रेम करें क्योंकि किताब दे आपकी लाइफ बहुत बदल सकती दोस्तों किताबें हमेशा फोकस करता हूं किताबें पढ़ी अच्छी-अच्छी किताबें आपकी सी चाहत चीज पर्ची किताब मिल जाएगी आपको वह एजुकेशन किताबों से मिलता है जो आपको स्कूल कॉलेज एस और घर पर नहीं लिखा जाता तो धन्यवाद मिलते हैं आपसे अकेले सवाल में जब तक के लिए ट्रैक किया
To main kya is svaagat hai aap sabaka mere bolata hai prophail par aur aap sun rahe rohit raathaur ko to ke jeevan hamaaree soch se bhee vishaal hai yah bahut bada hai aap logon ko pata bhee nahin ki jeevan ke achchhee paribhaasha matalab ham kis had tak apanee laiph ko achchhe injoy kar sakate jee sakate doosaron kee laiph mein vailyoo aid kar sakate hain aur ham itane khush rahakar laiph jee sakate hain apane logon se mil kar to dekh ek baar har roj apane jeevan mein aisee banaee haphte mein kam se kam chaar nae logon se mil loonga unase baatacheet karoonga shivam baatacheet hee karanee hai aap jab doosaron ke baare mein jaanana seequge abakee kamyunikeshan skils achchhee banaane se koee doosaron ko kuchh vailyuet karoge laiph mein bina kuchh unase usake badale mein kuchh maange ab kyon aasha karen aap sab doosaron kee laiph mein pahalee aur karenge vah bhee khushee milatee hai na vah aapakee laiph vailyoo edishan hai kitana achchha vah bhee hai agar aap doosaron kee laiph hota to hamesha naya seekaree imej par maisej to dekhate rahie kabhee to apanee jindagee mein laiph mein chaahatee 6465 kyon aap laiph mein seekhana band na karen aur kitaabon se itana prem karen kyonki kitaab de aapakee laiph bahut badal sakatee doston kitaaben hamesha phokas karata hoon kitaaben padhee achchhee-achchhee kitaaben aapakee see chaahat cheej parchee kitaab mil jaegee aapako vah ejukeshan kitaabon se milata hai jo aapako skool kolej es aur ghar par nahin likha jaata to dhanyavaad milate hain aapase akele savaal mein jab tak ke lie traik kiya

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • जीवन में सकारात्मक सोच का महत्व, सकारात्मक सोच के लाभ, जीवन में सोच की भूमिका
URL copied to clipboard