#भारत की राजनीति

bolkar speaker

आत्मसम्मान कितने प्रकार का होता है?

Aatmasamman Kitne Prakar Ka Hota Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
2:00
दोस्तों आपका प्रश्न है आत्म सम्मान कितने प्रकार का होता है तो दोस्तों मेरे हिसाब से सोचने के अनुसार जो आदमी समान होता है दो प्रकार का होता है दोस्तों एक तो आत्म सम्मान घमंड के अनुसार होता है और दूसरा होता है दोस्तों कर भी ला आत्म सम्मान जो के स्वाभिमान की तरह होता है घमंड यानी कि का अभिमान अपना अपना गौरव यानी कि अपना स्वाभिमान दो दोनों हाथ में समान अवधि के ₹100 होता है उसमें उसके अंतर्गत जो लोग आते ही घमंडी होते हैं अरे झूठा दिखावा करने वाले होते हैं झूठ बोलने वाले और जो कि उसके पास धन संपत्ति होती है उसका दुरुपयोग करने वाले होते हैं और उसका बेकार में घमंड करते हैं उसको उसकी खूब ज्यादा दिखावा और प्रशंसा करते हैं लेकिन दोस्तों कुछ लोग ऐसे होते हैं जो धनवान होकर भी और दिखावा नहीं करते हैं बल्कि लोगों की भाई के लिए वह ऐसा करते हैं और मैं अपना कोई प्रचार प्रसार करते हैं बल्कि सविता ही हो जाता है जब वह भलाई करते हैं तो लोगों को यह पता चल जाता है कि इतना धनवान है और अपने गौरव के लिए यह सब कर रहा है बल्कि उसके पास कोई भी किसी भी प्रकार का कमेंट नहीं होता है तो उसका स्वाभिमान होता है व्यक्ति खुद के लिए दो-दो सुविधाएं अपने अंदर अपने व्यवहारों में जो बड़ी करता है महान करता है तो उनका स्वाभिमान होता है इसलिए वह ऐसा करता है आत्म सम्मान की भावना से करता है घमंड की भावना से नहीं करता तो दोस्तों अभिमान और स्वाभिमान तो एक ऐसी चीज है अभिमान का मतलब जो व्यक्ति कमेंट करता है और स्वाभिमान का मतलब है कि अपने गौरव को बनाए रखता है उसमें व्यक्ति कमेंट तो नहीं करता लेकिन अपने स्वाभिमान को तो जिंदा रख ही सकता है धन्यवाद
Doston aapaka prashn hai aatm sammaan kitane prakaar ka hota hai to doston mere hisaab se sochane ke anusaar jo aadamee samaan hota hai do prakaar ka hota hai doston ek to aatm sammaan ghamand ke anusaar hota hai aur doosara hota hai doston kar bhee la aatm sammaan jo ke svaabhimaan kee tarah hota hai ghamand yaanee ki ka abhimaan apana apana gaurav yaanee ki apana svaabhimaan do donon haath mein samaan avadhi ke ₹100 hota hai usamen usake antargat jo log aate hee ghamandee hote hain are jhootha dikhaava karane vaale hote hain jhooth bolane vaale aur jo ki usake paas dhan sampatti hotee hai usaka durupayog karane vaale hote hain aur usaka bekaar mein ghamand karate hain usako usakee khoob jyaada dikhaava aur prashansa karate hain lekin doston kuchh log aise hote hain jo dhanavaan hokar bhee aur dikhaava nahin karate hain balki logon kee bhaee ke lie vah aisa karate hain aur main apana koee prachaar prasaar karate hain balki savita hee ho jaata hai jab vah bhalaee karate hain to logon ko yah pata chal jaata hai ki itana dhanavaan hai aur apane gaurav ke lie yah sab kar raha hai balki usake paas koee bhee kisee bhee prakaar ka kament nahin hota hai to usaka svaabhimaan hota hai vyakti khud ke lie do-do suvidhaen apane andar apane vyavahaaron mein jo badee karata hai mahaan karata hai to unaka svaabhimaan hota hai isalie vah aisa karata hai aatm sammaan kee bhaavana se karata hai ghamand kee bhaavana se nahin karata to doston abhimaan aur svaabhimaan to ek aisee cheej hai abhimaan ka matalab jo vyakti kament karata hai aur svaabhimaan ka matalab hai ki apane gaurav ko banae rakhata hai usamen vyakti kament to nahin karata lekin apane svaabhimaan ko to jinda rakh hee sakata hai dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
आत्मसम्मान कितने प्रकार का होता है?Aatmasamman Kitne Prakar Ka Hota Hai
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
0:30
नमस्कार दोस्तों बोलकर आप में स्वागत है नवा लकी आत्मसम्मान कितने प्रकार का होता है तो दोस्तों आत्मसम्मान दो प्रकार का होता है जैसे कुछ और स्टील आत्मकथा कुछ और एक था शेर और कम और ज्यादा पर आपका मुक्तक स्वाभिमान यह नो आत्मसम्मान
Namaskaar doston bolakar aap mein svaagat hai nava lakee aatmasammaan kitane prakaar ka hota hai to doston aatmasammaan do prakaar ka hota hai jaise kuchh aur steel aatmakatha kuchh aur ek tha sher aur kam aur jyaada par aapaka muktak svaabhimaan yah no aatmasammaan

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • आत्मसम्मान का अर्थ, आत्मसम्मान क्या है, आत्मसम्मान क्या होता है
  • आत्मसम्मान का अर्थ, आत्मसम्मान क्या है, आत्मसम्मान क्या होता है
URL copied to clipboard