#undefined

bolkar speaker

क्या रात 8:00 बजे के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद हो जाती है?

Kya Raat 8 Bje Ke Baad Bhojan Ke Pachan Ki Prakriya Band Ho Jati Hai
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:25

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या रात 8:00 बजे के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद हो जाती है?Kya Raat 8 Bje Ke Baad Bhojan Ke Pachan Ki Prakriya Band Ho Jati Hai
Harender Kumar Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Harender जी का जवाब
As School administration & Principal
2:03
कह रहा था 8:00 बजे के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद हो जाते हैं लेकिन बंद होती है हमारी प्रतिक्रिया 24 घंटे चलती रहती है लेकिन ध्यान दें कि जैसे-जैसे रात्रि बढ़ती जाती है जानते हैं जब दिन रुकता है मान लीजिए 5:07 बजे 6:00 बजे दिल रोता है तो उसके 2 घंटे बाद तक इसका प्रभाव रहता है जिसमें हमारी जितनी भी एंजाइम्स होती है वह ज्यादा एक्टिवेट होते हैं और आसानी से ज्यादा डाइजेस्टिव जूस निकलती है और फिर डाइजेशन प्रोसेस आसानी से हो जाता हूं चित्तौड़ पर हमारे समय मिल जाता काफी एंजाइम को रिलीज होने में और आसानी से लड़ाई शुरू हो जाता है लोग जो 10:00 या 12:00 बजे खाते हैं तो फिर के बाद सो जाते हैं तो समय कम मिलता घर जानते हैं कि हमारा शरीर में ही उसका प्रभाव सूरज के प्रकाश की रोशनी का और तिकापुर प्रभावित होता है तो फिर भी टाइम आप देख लीजिए कि आपके शरीर में ऊर्जा तो मिलती है ऊर्जा के कारण से निश्चित तौर पर हमारे शरीर के जितने भी गेम है वह एक्टिव होती है और ज्यादा से ज्यादा जूस निकालते हैं जिससे हमारा डायरी से सिस्टम होता है और दिन में हम वर्कआउट भी करते हैं कुछ काम करते हैं चाहे शारीरिक श्रम करते हो मानसिक श्रम करते हो या दूसरे भी बिल्कुल कि 8:00 बजे के बाद बंद हो जाते बिल्कुल नहीं बनती हम की गति धीमी जरूर हो जाती है जिससे पाचन करने में हमें थोड़ा सा हमें लगता है प्रचंड गरियाबंद बिल्कुल नहीं
Kah raha tha 8:00 baje ke baad bhojan ke paachan kee prakriya band ho jaate hain lekin band hotee hai hamaaree pratikriya 24 ghante chalatee rahatee hai lekin dhyaan den ki jaise-jaise raatri badhatee jaatee hai jaanate hain jab din rukata hai maan leejie 5:07 baje 6:00 baje dil rota hai to usake 2 ghante baad tak isaka prabhaav rahata hai jisamen hamaaree jitanee bhee enjaims hotee hai vah jyaada ektivet hote hain aur aasaanee se jyaada daijestiv joos nikalatee hai aur phir daijeshan proses aasaanee se ho jaata hoon chittaud par hamaare samay mil jaata kaaphee enjaim ko rileej hone mein aur aasaanee se ladaee shuroo ho jaata hai log jo 10:00 ya 12:00 baje khaate hain to phir ke baad so jaate hain to samay kam milata ghar jaanate hain ki hamaara shareer mein hee usaka prabhaav sooraj ke prakaash kee roshanee ka aur tikaapur prabhaavit hota hai to phir bhee taim aap dekh leejie ki aapake shareer mein oorja to milatee hai oorja ke kaaran se nishchit taur par hamaare shareer ke jitane bhee gem hai vah ektiv hotee hai aur jyaada se jyaada joos nikaalate hain jisase hamaara daayaree se sistam hota hai aur din mein ham varkaut bhee karate hain kuchh kaam karate hain chaahe shaareerik shram karate ho maanasik shram karate ho ya doosare bhee bilkul ki 8:00 baje ke baad band ho jaate bilkul nahin banatee ham kee gati dheemee jaroor ho jaatee hai jisase paachan karane mein hamen thoda sa hamen lagata hai prachand gariyaaband bilkul nahin

bolkar speaker
क्या रात 8:00 बजे के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद हो जाती है?Kya Raat 8 Bje Ke Baad Bhojan Ke Pachan Ki Prakriya Band Ho Jati Hai
ABHAI PRATAP SINGH Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए ABHAI जी का जवाब
teacher
1:46
मित्र आप का प्रश्न है क्या रात 8:00 बजे के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद हो जाती है देखिए आयुर्वेद के मतानुसार सूरज डूबने के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया की गति चलो हो जाती है 88 में हो जाती है पाठ्यक्रम के बनने की गति धीमी हो जाने के कारण भोजन के पाचन में समस्या आती है इसलिए कहा जाता है कि प्रातः काल सूरज निकलने के पश्चात हमें सबसे अधिक भरपूर मात्रा में ब्रेकफास्ट करना चाहिए फिर लंच उससे थोड़ा सा कम करना चाहिए और डिनर तो बहुत ही लाइट करना चाहिए क्योंकि इसके पीछे वैज्ञानिक कारण से खून निकलने के तत्काल बाद हमारी पाचन शक्ति बहुत तीव्र होती है दोपहर के समय सुबह से थोड़ा सा कम होता है और रात के समय तो बहुत कम हो जाता है तो आपका पर तू है 8:00 बजे के बाद तो 8:00 बजे के बाद पार्किंग की प्रक्रिया बंद नहीं होती लेकिन काफी धीमी हो जाती है धन्यवाद
Mitr aap ka prashn hai kya raat 8:00 baje ke baad bhojan ke paachan kee prakriya band ho jaatee hai dekhie aayurved ke mataanusaar sooraj doobane ke baad bhojan ke paachan kee prakriya kee gati chalo ho jaatee hai 88 mein ho jaatee hai paathyakram ke banane kee gati dheemee ho jaane ke kaaran bhojan ke paachan mein samasya aatee hai isalie kaha jaata hai ki praatah kaal sooraj nikalane ke pashchaat hamen sabase adhik bharapoor maatra mein brekaphaast karana chaahie phir lanch usase thoda sa kam karana chaahie aur dinar to bahut hee lait karana chaahie kyonki isake peechhe vaigyaanik kaaran se khoon nikalane ke tatkaal baad hamaaree paachan shakti bahut teevr hotee hai dopahar ke samay subah se thoda sa kam hota hai aur raat ke samay to bahut kam ho jaata hai to aapaka par too hai 8:00 baje ke baad to 8:00 baje ke baad paarking kee prakriya band nahin hotee lekin kaaphee dheemee ho jaatee hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या रात 8:00 बजे के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद हो जाती है?Kya Raat 8 Bje Ke Baad Bhojan Ke Pachan Ki Prakriya Band Ho Jati Hai
Vijay shankar pal Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Vijay जी का जवाब
My youtube channel - Tech with vijay
0:51
नमस्कार साथियों सवाल है क्या रात 8:00 बजे के बाद भोजन पाचन प्रक्रिया बंद हो जाती है तो साथियों ऐसा कोई भी बात नहीं है कि 8:00 बजे के बाद आपके भोजन के पाचन प्रक्रिया बंद हो जाएगी ऐसा नहीं होता है हां बल्कि ऐसा हो सकता है कि जैसे आप 8:00 बजे के बाद जब सोने लग जाते हैं आप काम नहीं करते हैं तो फिर आपका खून कम दौड़ता है इससे मतलब कि हमारे जो पाचन प्रक्रिया उसमें थोड़ा कमी आ सकती है लेकिन ऐसा नहीं है कि आपका पाचन क्रिया बिल्कुल बंद हो जाएगा काम नहीं करेगा और बिल्कुल पाचन क्रिया नहीं होगा तो ऐसा नहीं है अगर हम रात को भी काम करते हैं तो रात को भी पाचन प्रक्रिया चालू रहेगी तो यह होता है जिसे हम रुक गए काम नहीं कर रहे हैं तो उसमें मतलब धीमा हो जाएगा लेकिन ऐसा नहीं है कि बंद हो जाएगा
Namaskaar saathiyon savaal hai kya raat 8:00 baje ke baad bhojan paachan prakriya band ho jaatee hai to saathiyon aisa koee bhee baat nahin hai ki 8:00 baje ke baad aapake bhojan ke paachan prakriya band ho jaegee aisa nahin hota hai haan balki aisa ho sakata hai ki jaise aap 8:00 baje ke baad jab sone lag jaate hain aap kaam nahin karate hain to phir aapaka khoon kam daudata hai isase matalab ki hamaare jo paachan prakriya usamen thoda kamee aa sakatee hai lekin aisa nahin hai ki aapaka paachan kriya bilkul band ho jaega kaam nahin karega aur bilkul paachan kriya nahin hoga to aisa nahin hai agar ham raat ko bhee kaam karate hain to raat ko bhee paachan prakriya chaaloo rahegee to yah hota hai jise ham ruk gae kaam nahin kar rahe hain to usamen matalab dheema ho jaega lekin aisa nahin hai ki band ho jaega

bolkar speaker
क्या रात 8:00 बजे के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद हो जाती है?Kya Raat 8 Bje Ke Baad Bhojan Ke Pachan Ki Prakriya Band Ho Jati Hai
T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
4:57
आपका प्रश्न है कि क्या रात 8:00 बजे के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद हो जाती है आपका प्रश्न आम व्यक्ति के लिए आम जनमानस के लिए समझने के लिए बहुत जरूरी है कि क्यों हमको भोजन शाम के समय जल्दी करना चाहिए क्यों हम रात को लेट अगर खाना खाने तो उसके क्या नुकसान हो सकते हैं और क्या कारण है कि हम को रात को लेट खाना नहीं खाना चाहिए 8:00 बजे के बाद खाना नहीं खाना चाहिए इसका उत्तर में थोड़ा विस्तार में देना चाहूंगा ताकि हर व्यक्ति को इसका फायदा मिले क्योंकि गलत समय पर खाया गया खाना या गलत समय पर किया गया डिनर आपके दिन भर की मेहनत पर पानी फेर देता है डेली रूटीन में हम बहुत सारी चीजों का ख्याल रखते हैं प्रोटीन युक्त आहार लेते हैं व्यायाम भी करते हैं लो कैलोरी का भी ख्याल रखते हैं लेकिन बेवक्त रात का खाना खाकर आप अपने दिन भर की मेहनत पर पानी फेर देते हैं यह हम तो समझना बहुत जरूरी है और आपको इस जरूर सुनना चाहिए अगर आप उन लोगों में से हैं जो अक्सर रात को देर से खाना खाते हैं तो आपको जानना चाहिए कि देर रात को खाना खाना आपकी सेहत के लिए कैसे नुकसानदायक है जब भी आप रात को 8:00 बजे बाद खाना खाते हैं जो कुछ इस परिस्थिति में 8:00 बजे के बाद आप जो कुछ भी अपने शरीर में लेते हैं शरीर उसको मेटाबोलिज करता है और क्योंकि इस वक्त आपका शरीर ज्यादा सक्रिय नहीं होता आप इस समय के बाद में अक्सर सोने चले जाते हैं ऐसे बैठे रहते हैं आपका कोई शारीरिक कार्य नहीं होता इसके कारण क्योंकि आपका शरीर सक्रिय नहीं हैं तो मेटाबोलिज्म के परिणाम स्वरुप आपके शरीर की जो मजा है वह भाषा के रूप में पेट के रूप में संजीत होने लगती है अंततः यह आपके शरीर के लिए बहुत हानिकारक होता है एक एक एक मेडिकल स्टडी किया गया है एक चिकित्सा अध्ययन किया गया उस में पाया गया है कि सुबह 8:00 से शाम के 7:00 बजे के बीच भोजन करने की तुलना में रात को 8:00 से 12:00 के बीच भोजन करने से आपका ब्लड ग्लूकोस आपका इंसुलिन कोलेस्ट्रोल का स्तर बढ़ जाता है और देखिए अगर आप देर से खाना खाते हैं तो उसके जो मुख्य प्रभाव है उसे न सिर्फ आप देर से सोते हैं आपकी नींद पूरी नहीं होती आपका स्लीपिंग साइकिल बिगड़ जाता है लेकिन आपका खराब पाचन होता है क्योंकि जब आप देर से खाना खाते हैं तो यह कई गैस्ट्रिक परेशानियों को जन्म देता है आपके पेट में एसिडिटी ज्यादा होने लगती है आपके शरीर का वजन बढ़ने लगता है क्योंकि रात के समय शरीर का मेटाबॉलिज्म धीमा हो जाता है जिससे आपकी कैलोरी बर्न इतनी अच्छे से नहीं होती जितनी कि दिन में होती हैं इस वजह से आपका वजन बढ़ने लगता है आपकी मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है जब आप ठीक से नहीं सोते हैं तो आपके पूरे होते हैं देर से खाने के कारण आप अपने शरीर के बॉडी क्लॉक में गड़बड़ करते हैं इससे आपको अवसाद और चिंता की संभावना अधिक होती है इससे आपको ब्लड प्रेशर में वृद्धि हो सकती है रात को देर से खाना और सोने से भी हाई ब्लड प्रेशर और शुगर की बीमारी होने का खतरा अधिक होता है इसलिए कोशिश करें हमेशा कोशिश करें कि आपका भोजन रात को शाम को 7:00 से 8:00 बजे से पहले पहले हो जाए 8:00 बजे के बाद खाना सुनाना सर्वथा अनुचित है और फिर भी किसी कारणवश अगर आपको रात को खाना खाना पड़े उसमें कार्बोहाइड्रेट युक्त खाना खाने से परहेज करें उसमें शक्कर बेटी चीजों को कम यूज करें उसमें आप जंक फूड को डिब्बाबंद चीजों को कम यूज में करें फास्ट फूड को शामिल ना करें तो मैं समझता हूं कि आपको आपके प्रश्न का उत्तर पूर्ण रूप से मिला होगा कि क्या हमारे भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद हो जाती 8:00 बजे जी चित्तौड़ से कम हो जाती क्योंकि मोटा बलिदान के कारण ऐसा होता है धन्यवाद
Aapaka prashn hai ki kya raat 8:00 baje ke baad bhojan ke paachan kee prakriya band ho jaatee hai aapaka prashn aam vyakti ke lie aam janamaanas ke lie samajhane ke lie bahut jarooree hai ki kyon hamako bhojan shaam ke samay jaldee karana chaahie kyon ham raat ko let agar khaana khaane to usake kya nukasaan ho sakate hain aur kya kaaran hai ki ham ko raat ko let khaana nahin khaana chaahie 8:00 baje ke baad khaana nahin khaana chaahie isaka uttar mein thoda vistaar mein dena chaahoonga taaki har vyakti ko isaka phaayada mile kyonki galat samay par khaaya gaya khaana ya galat samay par kiya gaya dinar aapake din bhar kee mehanat par paanee pher deta hai delee rooteen mein ham bahut saaree cheejon ka khyaal rakhate hain proteen yukt aahaar lete hain vyaayaam bhee karate hain lo kailoree ka bhee khyaal rakhate hain lekin bevakt raat ka khaana khaakar aap apane din bhar kee mehanat par paanee pher dete hain yah ham to samajhana bahut jarooree hai aur aapako is jaroor sunana chaahie agar aap un logon mein se hain jo aksar raat ko der se khaana khaate hain to aapako jaanana chaahie ki der raat ko khaana khaana aapakee sehat ke lie kaise nukasaanadaayak hai jab bhee aap raat ko 8:00 baje baad khaana khaate hain jo kuchh is paristhiti mein 8:00 baje ke baad aap jo kuchh bhee apane shareer mein lete hain shareer usako metaabolij karata hai aur kyonki is vakt aapaka shareer jyaada sakriy nahin hota aap is samay ke baad mein aksar sone chale jaate hain aise baithe rahate hain aapaka koee shaareerik kaary nahin hota isake kaaran kyonki aapaka shareer sakriy nahin hain to metaabolijm ke parinaam svarup aapake shareer kee jo maja hai vah bhaasha ke roop mein pet ke roop mein sanjeet hone lagatee hai antatah yah aapake shareer ke lie bahut haanikaarak hota hai ek ek ek medikal stadee kiya gaya hai ek chikitsa adhyayan kiya gaya us mein paaya gaya hai ki subah 8:00 se shaam ke 7:00 baje ke beech bhojan karane kee tulana mein raat ko 8:00 se 12:00 ke beech bhojan karane se aapaka blad glookos aapaka insulin kolestrol ka star badh jaata hai aur dekhie agar aap der se khaana khaate hain to usake jo mukhy prabhaav hai use na sirph aap der se sote hain aapakee neend pooree nahin hotee aapaka sleeping saikil bigad jaata hai lekin aapaka kharaab paachan hota hai kyonki jab aap der se khaana khaate hain to yah kaee gaistrik pareshaaniyon ko janm deta hai aapake pet mein esiditee jyaada hone lagatee hai aapake shareer ka vajan badhane lagata hai kyonki raat ke samay shareer ka metaabolijm dheema ho jaata hai jisase aapakee kailoree barn itanee achchhe se nahin hotee jitanee ki din mein hotee hain is vajah se aapaka vajan badhane lagata hai aapakee maanasik svaasthy par bura prabhaav padata hai jab aap theek se nahin sote hain to aapake poore hote hain der se khaane ke kaaran aap apane shareer ke bodee klok mein gadabad karate hain isase aapako avasaad aur chinta kee sambhaavana adhik hotee hai isase aapako blad preshar mein vrddhi ho sakatee hai raat ko der se khaana aur sone se bhee haee blad preshar aur shugar kee beemaaree hone ka khatara adhik hota hai isalie koshish karen hamesha koshish karen ki aapaka bhojan raat ko shaam ko 7:00 se 8:00 baje se pahale pahale ho jae 8:00 baje ke baad khaana sunaana sarvatha anuchit hai aur phir bhee kisee kaaranavash agar aapako raat ko khaana khaana pade usamen kaarbohaidret yukt khaana khaane se parahej karen usamen shakkar betee cheejon ko kam yooj karen usamen aap jank phood ko dibbaaband cheejon ko kam yooj mein karen phaast phood ko shaamil na karen to main samajhata hoon ki aapako aapake prashn ka uttar poorn roop se mila hoga ki kya hamaare bhojan ke paachan kee prakriya band ho jaatee 8:00 baje jee chittaud se kam ho jaatee kyonki mota balidaan ke kaaran aisa hota hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या रात 8:00 बजे के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद हो जाती है?Kya Raat 8 Bje Ke Baad Bhojan Ke Pachan Ki Prakriya Band Ho Jati Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:41
हेलो एवरीवन स्वागत है आपका अपना प्रश्न है क्या रात 8:00 बजे के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद हो जाती है तो फ्रेंड ऐसी बात नहीं है भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद नहीं होती है रात में 11:12 बजे के बाद ही बंद होती है हमारे भोजन के पाचन किया चलती रहती है लेकिन रात में मैं ज्यादा भारी भोजन नहीं करना चाहिए क्योंकि वह हूं खाना खाकर सोते हैं तो ठीक से पचता नहीं है दिन में हम लोग काम करते रहती है तो खाना हमारा जल्दी से पच जाता है लेकिन रात में मैं खाना खाकर सोते हैं इसलिए वे मन का नहीं है इसलिए मैं रात में हल्का भोजन करना चाहिए और नहीं होती है धन्यवाद
Helo evareevan svaagat hai aapaka apana prashn hai kya raat 8:00 baje ke baad bhojan ke paachan kee prakriya band ho jaatee hai to phrend aisee baat nahin hai bhojan ke paachan kee prakriya band nahin hotee hai raat mein 11:12 baje ke baad hee band hotee hai hamaare bhojan ke paachan kiya chalatee rahatee hai lekin raat mein main jyaada bhaaree bhojan nahin karana chaahie kyonki vah hoon khaana khaakar sote hain to theek se pachata nahin hai din mein ham log kaam karate rahatee hai to khaana hamaara jaldee se pach jaata hai lekin raat mein main khaana khaakar sote hain isalie ve man ka nahin hai isalie main raat mein halka bhojan karana chaahie aur nahin hotee hai dhanyavaad

bolkar speaker
क्या रात 8:00 बजे के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद हो जाती है?Kya Raat 8 Bje Ke Baad Bhojan Ke Pachan Ki Prakriya Band Ho Jati Hai
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:27
रात 8:00 बजे के बाद भोजन के पाचन की प्रक्रिया बंद होती है लेकिन बंद तो नहीं होती है लेकिन जब हमारा शरीर लाजवाब होते हैं तुम्हारे शरीर की जोड़ बाकी सभी ग्रंथियां है बाकी सभी पाठ से वह भी को सबसे तेज हो जाती है सो जाते हैं तो उसकी वजह से पूर्ण पाचन प्रक्रिया रहे चलती जिसकी वजह से कहते कि भोजन करने से भोजन को सोने से 2 घंटे पहले लेना चाहिए
Raat 8:00 baje ke baad bhojan ke paachan kee prakriya band hotee hai lekin band to nahin hotee hai lekin jab hamaara shareer laajavaab hote hain tumhaare shareer kee jod baakee sabhee granthiyaan hai baakee sabhee paath se vah bhee ko sabase tej ho jaatee hai so jaate hain to usakee vajah se poorn paachan prakriya rahe chalatee jisakee vajah se kahate ki bhojan karane se bhojan ko sone se 2 ghante pahale lena chaahie

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • Raat 8 bje ke baad bhojan ke pachan ki prakriya kaisi ho jati hai, bhojan ke pachan ki prakriya raat 8 bje ke baad
URL copied to clipboard