#undefined

bolkar speaker

सांस फूलने की बीमारी कौन से कारणों से होती है और इसका उपचार कैसे करें?

Saans Foolne Ki Bimari Kaun Se Karano Se Hoti Hai Aur Iska Upchar Kaise Karein
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
2:56
उसने पूछा क्या सांस फूलने की बीमारी कौन से कारणों से होती है और इसका उपचार कैसे करें लेकिन सांस लेने में दिक्कत यह देखिए आमजन उससे ज्यादा खाना खाने के बाद भी देखिए सांस लेने में परेशानी होने लगती है लेकिन देखिए ऐसा देखे बार-बार होगा तो लंबे समय तक यह स्थिति देखी बनी है अगर है तो ध्यान देने की बहुत जरूरत है सांस नली के जाम होने या फेफड़ों में छोटी मोटी परेशानी होने पर भी देखे साथ से छोटी आने लगती है तो आपको यह समस्या अगर लंबे समय से तो यह किसी दूसरी बीमारी का लक्षण हो सकता है जैसे मैं आपको बता दो अस्थमा हो गया क्रॉनिक हो गया और पलमोनरी डिजीज यानी कि सीओपीडी और निमोनिया तो मैं आपको बता दूं जो लोग बहुत अधिक तनाव में रहते हैं उन्हें अक्सर सांस लेने में लिखिए समस्या होती वे या तो बहुत जल्दी जल्दी साथ लेते या सीने में भारीपन का एहसास होने का कारण उनकी जो सांस लेने की गति बहुत धीमी होने लगती है तो इन दोनों ही परिस्थितियों में क्या है उनकी तो सांसे पहुंच छोटी होती तो इस कारण उनके फेफड़ों में जो पर्याप्त मात्रा में जो अक्सीजन है वह नहीं पहुंच पाता और उससे क्या है सांस लेने में दिक्कत भी होती है मैं बताऊं तो सांस की नली में सूजन किस इन्फेक्शन या किसी अन्य कारण से जब ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में शरीर के अंदर प्रवेश नहीं कर पाती तो आप ही तो सांसे हो छोटे होने लगती यह बीमारी अगर लंबे समय से चली आ रही तो अस्तमा निमोनिया एक रानी कल सुनो सकता है और जिसका वजन देखिए जितना ज्यादा होगा उसे सांस लेने में उतरी देखी तकलीफ होगी आपको बता दें कि मोटे लोगों को सांस फूलने की बहुत ही ज्यादा समस्या रहती है ऐसे में थोड़ा सा चलने हो गया दौड़ लिया सीढ़ियां चढ़ने पट्टे की परेशानी होने लगती होगी जैसे कि आपने पूछा इसका उपचार कैसे करें तो देखिए अपने घर को साफ रखने के अलावा अपने बिस्तर को भी देखे साफ रखें घर में वेंटिलेशन का पूरा ध्यान दें सिगरेट पीते हैं तो इसे जल्दी से छोड़ दे धूम्रपान की वजह से न केवल देखी आप को सांस लेने में दिक्कत होगी बल्कि कैंसर जैसी कई गंभीर समस्याओं का भी आपको सामना करना पड़ सकता है वह हम नहीं करते तो आप सुबह शाम देकर व्यायाम करना शुरू कर दें तो ध्यान दें अगर आप प्रदूषित शहर में रहते हैं तो कोशिश करें कि आप घर पर ही रखेंगे आप करें वजन कम करने की कोशिश करें मोटापा पर पढ़ो मोदी की सही ढंग से काम करने से रोकता है तो उसके लिए आप देखिए अपने खाने पीने पर ध्यान दें तो यह सब जो मैंने आपको बताया है आप इससे उपचार मिल जाएगा जय हिंद जय भारत
Usane poochha kya saans phoolane kee beemaaree kaun se kaaranon se hotee hai aur isaka upachaar kaise karen lekin saans lene mein dikkat yah dekhie aamajan usase jyaada khaana khaane ke baad bhee dekhie saans lene mein pareshaanee hone lagatee hai lekin dekhie aisa dekhe baar-baar hoga to lambe samay tak yah sthiti dekhee banee hai agar hai to dhyaan dene kee bahut jaroorat hai saans nalee ke jaam hone ya phephadon mein chhotee motee pareshaanee hone par bhee dekhe saath se chhotee aane lagatee hai to aapako yah samasya agar lambe samay se to yah kisee doosaree beemaaree ka lakshan ho sakata hai jaise main aapako bata do asthama ho gaya kronik ho gaya aur palamonaree dijeej yaanee ki seeopeedee aur nimoniya to main aapako bata doon jo log bahut adhik tanaav mein rahate hain unhen aksar saans lene mein likhie samasya hotee ve ya to bahut jaldee jaldee saath lete ya seene mein bhaareepan ka ehasaas hone ka kaaran unakee jo saans lene kee gati bahut dheemee hone lagatee hai to in donon hee paristhitiyon mein kya hai unakee to saanse pahunch chhotee hotee to is kaaran unake phephadon mein jo paryaapt maatra mein jo akseejan hai vah nahin pahunch paata aur usase kya hai saans lene mein dikkat bhee hotee hai main bataoon to saans kee nalee mein soojan kis inphekshan ya kisee any kaaran se jab okseejan paryaapt maatra mein shareer ke andar pravesh nahin kar paatee to aap hee to saanse ho chhote hone lagatee yah beemaaree agar lambe samay se chalee aa rahee to astama nimoniya ek raanee kal suno sakata hai aur jisaka vajan dekhie jitana jyaada hoga use saans lene mein utaree dekhee takaleeph hogee aapako bata den ki mote logon ko saans phoolane kee bahut hee jyaada samasya rahatee hai aise mein thoda sa chalane ho gaya daud liya seedhiyaan chadhane patte kee pareshaanee hone lagatee hogee jaise ki aapane poochha isaka upachaar kaise karen to dekhie apane ghar ko saaph rakhane ke alaava apane bistar ko bhee dekhe saaph rakhen ghar mein ventileshan ka poora dhyaan den sigaret peete hain to ise jaldee se chhod de dhoomrapaan kee vajah se na keval dekhee aap ko saans lene mein dikkat hogee balki kainsar jaisee kaee gambheer samasyaon ka bhee aapako saamana karana pad sakata hai vah ham nahin karate to aap subah shaam dekar vyaayaam karana shuroo kar den to dhyaan den agar aap pradooshit shahar mein rahate hain to koshish karen ki aap ghar par hee rakhenge aap karen vajan kam karane kee koshish karen motaapa par padho modee kee sahee dhang se kaam karane se rokata hai to usake lie aap dekhie apane khaane peene par dhyaan den to yah sab jo mainne aapako bataaya hai aap isase upachaar mil jaega jay hind jay bhaarat

और जवाब सुनें

bolkar speaker
सांस फूलने की बीमारी कौन से कारणों से होती है और इसका उपचार कैसे करें?Saans Foolne Ki Bimari Kaun Se Karano Se Hoti Hai Aur Iska Upchar Kaise Karein
Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma जी का जवाब
Asst. Teacher
1:08
नमस्कार मैं ब्रहम प्रकाश मिश्र आपका मन करे पर हार्दिक स्वागत करता हूं आपका प्रश्न है सांस फूलने की बीमारी कौन से कारणों से होती है और इसका उपचार कैसे करें तो जी मित्र कभी कभी अधिक भोजन कर लेने से भी हम को सांस लेने या सांस छोड़ने में दिक्कत आती है लेकिन यह अधिकार होता कभी कभार ही होता है यदि आपको सांस फूलने की रेगुलर समस्या है तो इसमें हो सकता है आप अस्थमा से पीड़ित हो या किसी प्रकार की कोई पलमोनरी डीपी वगैरह हो सकता है तो इसके लिए आप किसी योग्य चिकित्सक से परामर्श लें जांच करवाएं और उसके बताए अनुसार ही दवाइयों का सेवन करें और इस स्थिति को गंभीरता से देखें किसी भी प्रकार के घरेलू उपाय उपचारों का प्रयोग न करें क्योंकि यह घरेलू उपाय और उपचार आपको लाभ की बजाय नुकसान है दे सकते हैं तो मित्र के जवाब अच्छा लगा हो तो कृपया सब्सक्राइब लाइक शेयर और कमेंट करके जरूर बताएं धन्यवाद
Namaskaar main braham prakaash mishr aapaka man kare par haardik svaagat karata hoon aapaka prashn hai saans phoolane kee beemaaree kaun se kaaranon se hotee hai aur isaka upachaar kaise karen to jee mitr kabhee kabhee adhik bhojan kar lene se bhee ham ko saans lene ya saans chhodane mein dikkat aatee hai lekin yah adhikaar hota kabhee kabhaar hee hota hai yadi aapako saans phoolane kee regular samasya hai to isamen ho sakata hai aap asthama se peedit ho ya kisee prakaar kee koee palamonaree deepee vagairah ho sakata hai to isake lie aap kisee yogy chikitsak se paraamarsh len jaanch karavaen aur usake batae anusaar hee davaiyon ka sevan karen aur is sthiti ko gambheerata se dekhen kisee bhee prakaar ke ghareloo upaay upachaaron ka prayog na karen kyonki yah ghareloo upaay aur upachaar aapako laabh kee bajaay nukasaan hai de sakate hain to mitr ke javaab achchha laga ho to krpaya sabsakraib laik sheyar aur kament karake jaroor bataen dhanyavaad

bolkar speaker
सांस फूलने की बीमारी कौन से कारणों से होती है और इसका उपचार कैसे करें?Saans Foolne Ki Bimari Kaun Se Karano Se Hoti Hai Aur Iska Upchar Kaise Karein
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:35
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न सांस फूलने की बीमारी कौन से कारणों से होती है उसका उपचार कैसे करें तो फ्रेंड सांस फूलने की बीमारी बहुत सारी कारणों से होती है और उसके उपचार के लिए आपको डॉक्टर को दिखाना चाहिए भाई इसका इलाज बताएंगे जैसे साथ में कमजोरी की वजह से भी सांस फूलती है और कभी-कभी जिसको थायराइड होता है तो वह भी ज्यादा काम करता है तो उसकी सांस फूलने लगती है और जिसको कोई भी साथ संबंधी रोग भी होता है उसे भी सांस फूलने लगती है तो इसके उपचार के लिए आपको डॉक्टर से मिलना चाहिए उसे इलाज कराना चाहिए हमें बात
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn saans phoolane kee beemaaree kaun se kaaranon se hotee hai usaka upachaar kaise karen to phrend saans phoolane kee beemaaree bahut saaree kaaranon se hotee hai aur usake upachaar ke lie aapako doktar ko dikhaana chaahie bhaee isaka ilaaj bataenge jaise saath mein kamajoree kee vajah se bhee saans phoolatee hai aur kabhee-kabhee jisako thaayaraid hota hai to vah bhee jyaada kaam karata hai to usakee saans phoolane lagatee hai aur jisako koee bhee saath sambandhee rog bhee hota hai use bhee saans phoolane lagatee hai to isake upachaar ke lie aapako doktar se milana chaahie use ilaaj karaana chaahie hamen baat

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • सांस लेने में दिक्कत हो तो क्या करें घरेलू उपाय, सांस लेने में तकलीफ हो रही है घरेलू उपाय बताइए, सांस फूलने की मुख्य वजह
URL copied to clipboard