#जीवन शैली

bolkar speaker

क्या समय की चाल को बदला जा सकता है?

Kya Samye Ki Chaal Ko Badla Ja Sakta Hai
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:24
आरा कपासन के समय की चाल को बदला जा सकता है तो आपको बता जाएंगे लेकिन समय सबसे अधिक बलवान है समय पर यदि नहीं लगती समय राजा को रंक और रंक को राजा बना देता है तो यहां पर आप अगर सोचते हैं कि समय से अगर आप भी जाएंगे तो आपकी सोच गलत है क्योंकि इस समय की 4 को कोई कभी नहीं बदल पाया है मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Aara kapaasan ke samay kee chaal ko badala ja sakata hai to aapako bata jaenge lekin samay sabase adhik balavaan hai samay par yadi nahin lagatee samay raaja ko rank aur rank ko raaja bana deta hai to yahaan par aap agar sochate hain ki samay se agar aap bhee jaenge to aapakee soch galat hai kyonki is samay kee 4 ko koee kabhee nahin badal paaya hai main shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या समय की चाल को बदला जा सकता है?Kya Samye Ki Chaal Ko Badla Ja Sakta Hai
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:16
विकी के समय की चाल को बदला जा सकता है कि नहीं समय की चाल को कभी नहीं बदला जा सकता है यह अपनी गति से आगे बढ़ती जाती है कभी मौका देती है यह कैसी चली जैसे भारी पड़ना चाहती है
Vikee ke samay kee chaal ko badala ja sakata hai ki nahin samay kee chaal ko kabhee nahin badala ja sakata hai yah apanee gati se aage badhatee jaatee hai kabhee mauka detee hai yah kaisee chalee jaise bhaaree padana chaahatee hai

bolkar speaker
क्या समय की चाल को बदला जा सकता है?Kya Samye Ki Chaal Ko Badla Ja Sakta Hai
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
0:30
काले चने की दाल को बदला जा सकता है कर सकते हैं कुछ बोल सकते हैं और अपने परिवार का समय अच्छा लगते हैं तो करते हैं पर कोई नहीं करते हैं सवाल का जवाब बन जाएगा
Kaale chane kee daal ko badala ja sakata hai kar sakate hain kuchh bol sakate hain aur apane parivaar ka samay achchha lagate hain to karate hain par koee nahin karate hain savaal ka javaab ban jaega

bolkar speaker
क्या समय की चाल को बदला जा सकता है?Kya Samye Ki Chaal Ko Badla Ja Sakta Hai
Daulat Ram sharma Shastri Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Daulat जी का जवाब
Retrieved sr tea . social activist,
4:27
आप समय की चाल को बदल तो नहीं सकते लेकिन हम ब्लॉक कर दे सकते हो और हर इंसान को इस संसार में जन्म लेकर कि खाना पीना है और शोला और शक्ति को आगे बढ़ाना है उनका कबूल करते भी नहीं है क्योंकि एक संस्कृति मंत्री जी महान नित्य कभी रही हैं उन्होंने लिखा है कि आहार निद्रा भय मैच मंच सामान्य तपस्वी नारायण बुद्धि की देर शाम अधिक को विशेषण सैनी भी ना बस बस जमाना खाना-पीना दी को पैदा करना और सुना यह सब तो इंसानों में समान होते हैं किंतु मानव में बुद्धि ही होती है जो से पशुओं से भिन्नता यदि उसको भी बेहतरीन से भी रहते हैं तो निश्चित मानो उस में पशुओं में कोई अंतर नहीं है पशु के समान ही जीवन की कथा हम संसार में आएंगे तो कुछ ऐसी कार्य करके जाएंगे जिनसे लोग हमारे जाने के बाद भी याद करें यह समय पर अपनी छाप छोड़ना होता है आप समय पर आज ही छात्र छोड़कर जाएगी जिससे लोग आपको याद करते रहे आप के पर्व को याद करते रहें और हमेशा आप अविस्मरणीय बने रहें जिससे अब आप देखिए कि हमारे देश को जिन्होंने स्वतंत्र कराया अमर शहीद सरदार भगत सिंह चंद्रशेखर आजाद रामप्रसाद बिस्मिल जैसे महान शहीदों ने अपनी जान देकर के इनाम को भारतीय इतिहास में अविस्मरणीय बना दिया है हमेशा उनको याद किया जाता रहेगा हमारी भारत की तो देशभक्त लोगों की पीढ़ियां हैं जो वफादार हैं जो देश को निष्ठा पूर्वक टाइम करते हैं जो देश को चाहते हैं जो देश की उन्नति चाहते हैं जिनमें देशभक्ति भरी हुई है ऐसे लोग उन्हें कभी नहीं भूल पाएंगे उनकी पीढ़ी अभी उनको याद करते रहेंगे तो उन्होंने ऐसी कार्यों की अपनी छाप छोड़ी है जिसको समय कभी नहीं छुपा सकेगा और हमें हमेशा ही उनको याद करता रहेगा ऐसे ही कार्य करने चाहिए ऐसे ही कार्य करने के लिए सेवा भाव के साथ जीने के लिए दूसरों के हित करने के लिए ही आप को भगवान ने जन्म दिया है और वह चाहता है कि प्रत्येक मानव दूसरे मानव के साथ मिलजुल कर के रहे प्रेम पूर्वक रहे भाई चारे के साथ रहे एक दूसरे की सेवा सहायता करें इसे ही देवत्व कहते हैं कभी इस संबंध में बहुत अच्छा कहा कभी कबीरा जब हम पैदा हुए जग हंसे हम रोए और ऐसी करनी कर चलो कि हम हंसे जग रोए और इन्हीं शब्दों को मानव मात्र की सेवा करने के लिए मानव मात्र की भलाई करने के लिए मानव मात्र का उपकार करने के लिए मानव मात्र के हितों की रक्षा करने के लिए ही राष्ट्रकवि मैथिलीशरण गुप्त ने भी प्रेरित किया है उनके शब्दों में विचार लो कि मृत्यु हो न मृत्यु से डरो कभी मरो परंतु यू मारो की याद तो करें अभी तुम अपनी समय पर बैठक छोड़कर जाओ जिससे युवक तुमको कभी तो मिलना बना सके कभी तुम्हारे नाम को छुपाना सके तुम्हारा नाम बैंक कावट मंडी हस्ताक्षर बंद करके लोगों को प्रेरित करता है लोगों को एक पर प्रदर्शन करता रहे
Aap samay kee chaal ko badal to nahin sakate lekin ham blok kar de sakate ho aur har insaan ko is sansaar mein janm lekar ki khaana peena hai aur shola aur shakti ko aage badhaana hai unaka kabool karate bhee nahin hai kyonki ek sanskrti mantree jee mahaan nity kabhee rahee hain unhonne likha hai ki aahaar nidra bhay maich manch saamaany tapasvee naaraayan buddhi kee der shaam adhik ko visheshan sainee bhee na bas bas jamaana khaana-peena dee ko paida karana aur suna yah sab to insaanon mein samaan hote hain kintu maanav mein buddhi hee hotee hai jo se pashuon se bhinnata yadi usako bhee behatareen se bhee rahate hain to nishchit maano us mein pashuon mein koee antar nahin hai pashu ke samaan hee jeevan kee katha ham sansaar mein aaenge to kuchh aisee kaary karake jaenge jinase log hamaare jaane ke baad bhee yaad karen yah samay par apanee chhaap chhodana hota hai aap samay par aaj hee chhaatr chhodakar jaegee jisase log aapako yaad karate rahe aap ke parv ko yaad karate rahen aur hamesha aap avismaraneey bane rahen jisase ab aap dekhie ki hamaare desh ko jinhonne svatantr karaaya amar shaheed saradaar bhagat sinh chandrashekhar aajaad raamaprasaad bismil jaise mahaan shaheedon ne apanee jaan dekar ke inaam ko bhaarateey itihaas mein avismaraneey bana diya hai hamesha unako yaad kiya jaata rahega hamaaree bhaarat kee to deshabhakt logon kee peedhiyaan hain jo vaphaadaar hain jo desh ko nishtha poorvak taim karate hain jo desh ko chaahate hain jo desh kee unnati chaahate hain jinamen deshabhakti bharee huee hai aise log unhen kabhee nahin bhool paenge unakee peedhee abhee unako yaad karate rahenge to unhonne aisee kaaryon kee apanee chhaap chhodee hai jisako samay kabhee nahin chhupa sakega aur hamen hamesha hee unako yaad karata rahega aise hee kaary karane chaahie aise hee kaary karane ke lie seva bhaav ke saath jeene ke lie doosaron ke hit karane ke lie hee aap ko bhagavaan ne janm diya hai aur vah chaahata hai ki pratyek maanav doosare maanav ke saath milajul kar ke rahe prem poorvak rahe bhaee chaare ke saath rahe ek doosare kee seva sahaayata karen ise hee devatv kahate hain kabhee is sambandh mein bahut achchha kaha kabhee kabeera jab ham paida hue jag hanse ham roe aur aisee karanee kar chalo ki ham hanse jag roe aur inheen shabdon ko maanav maatr kee seva karane ke lie maanav maatr kee bhalaee karane ke lie maanav maatr ka upakaar karane ke lie maanav maatr ke hiton kee raksha karane ke lie hee raashtrakavi maithileesharan gupt ne bhee prerit kiya hai unake shabdon mein vichaar lo ki mrtyu ho na mrtyu se daro kabhee maro parantu yoo maaro kee yaad to karen abhee tum apanee samay par baithak chhodakar jao jisase yuvak tumako kabhee to milana bana sake kabhee tumhaare naam ko chhupaana sake tumhaara naam baink kaavat mandee hastaakshar band karake logon ko prerit karata hai logon ko ek par pradarshan karata rahe

bolkar speaker
क्या समय की चाल को बदला जा सकता है?Kya Samye Ki Chaal Ko Badla Ja Sakta Hai
Rohit Rathore Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rohit जी का जवाब
Student
1:09
कम बैक शायद आप सबका मेरे बोल कर एक प्रोफाइल पर और आप सुन रहे हैं रोहित राठौर को आपका जो टाइप क्वेश्चन है आज के कि क्या टाइम टेबल किया जा सकता है क्या समय की चाल को बदला जा सकता तो एक समिति तू कौन है तो संभव नहीं हो पाया और कई बार ऐसे तथ्य सामने आए हैं कई बार निकोला टेस्ला अगर आप जानते हो तो बहुत ही फेमस साइंटिस्ट है वह बहुत ही काबिल साइंटिस्ट थे जिन्होंने कई बार यह भी बताया कि मैं टाइम टेबल कर चुका हूं कई बार इससे दुर्घटनाएं भी हुई है जिसमें ट्रेन एयरोप्लेन स्काइप हुए हैं और वह दूसरे समय पर मिले हैं जहां पर या तूने पी 20 साल 100 साल 10 साल पीछे मिले हैं कुछ उनके ऐसे तथ्य मिले इसे सबूत मिले हैं जिससे सब लगता है कभी कबार कि हां टाइम ट्रैवल पॉसिबल है कोई कहीं ना कहीं पॉसिबल भी है पर हमें अभी चीजों के बारे में भी चर्चा चल रही है आपको पता होगा कहीं सैंटिस इन चीजों में दिन रात लगे हुए हैं तो उस समय की छाल को बदला जा सकता है पर किस तरह चीज को हमें समझने में उस चीज को में अप्लाई करने में थोड़ा समय लगेगा क्योंकि बहुत बड़ी देवरी है यह छोटी कोई चीज नहीं है यह काफी फास्ट कॉन्सेप्ट्स हमें समझने में थोड़ा समय जरूर लगेगा तो धन्यवाद मिलते हैं आपसे अगले सवाल में जब तक के लिए ट्रैक किया
Kam baik shaayad aap sabaka mere bol kar ek prophail par aur aap sun rahe hain rohit raathaur ko aapaka jo taip kveshchan hai aaj ke ki kya taim tebal kiya ja sakata hai kya samay kee chaal ko badala ja sakata to ek samiti too kaun hai to sambhav nahin ho paaya aur kaee baar aise tathy saamane aae hain kaee baar nikola tesla agar aap jaanate ho to bahut hee phemas saintist hai vah bahut hee kaabil saintist the jinhonne kaee baar yah bhee bataaya ki main taim tebal kar chuka hoon kaee baar isase durghatanaen bhee huee hai jisamen tren eyaroplen skaip hue hain aur vah doosare samay par mile hain jahaan par ya toone pee 20 saal 100 saal 10 saal peechhe mile hain kuchh unake aise tathy mile ise saboot mile hain jisase sab lagata hai kabhee kabaar ki haan taim traival posibal hai koee kaheen na kaheen posibal bhee hai par hamen abhee cheejon ke baare mein bhee charcha chal rahee hai aapako pata hoga kaheen saintis in cheejon mein din raat lage hue hain to us samay kee chhaal ko badala ja sakata hai par kis tarah cheej ko hamen samajhane mein us cheej ko mein aplaee karane mein thoda samay lagega kyonki bahut badee devaree hai yah chhotee koee cheej nahin hai yah kaaphee phaast konsepts hamen samajhane mein thoda samay jaroor lagega to dhanyavaad milate hain aapase agale savaal mein jab tak ke lie traik kiya

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • समय कितनी तेज़ चलता है, क्या समय को रोका जा सकता है
URL copied to clipboard