#भारत की राजनीति

bolkar speaker

पीयूष गोयल के रेल मंत्री बनने के बाद भारतीय रेल में क्या नए बदलाव आया है?

Piyush Goyal Ke Rail Mantri Banne Ke Baad Bhartiye Rail Me Kya Naye Badlav Aya Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:33
तो तू सवाल है आपका कि पीयूष गोयल के रेल मंत्री बनने के बाद भारतीय रेल में क्या नहीं बदलाव आया है तो बदलाव तो यही आया है कि जो पीयूष गोयल है जी जो हैं रेलवे मंत्री इन्होंने भारतीय रेलवे विकास पोर्टल लॉन्च किया सबसे बड़ी बात तो इसके अतिरिक्त जो है इन्होंने क्या क्या विकास किया है क्या-क्या नहीं अभी रेलवे के अंदर देख सकते हैं कुछ वैकेंसी जो थी वह वाली जा रही है परंतु जो भर्तियां जो है कभी लेट हो चुकी है
To too savaal hai aapaka ki peeyoosh goyal ke rel mantree banane ke baad bhaarateey rel mein kya nahin badalaav aaya hai to badalaav to yahee aaya hai ki jo peeyoosh goyal hai jee jo hain relave mantree inhonne bhaarateey relave vikaas portal lonch kiya sabase badee baat to isake atirikt jo hai inhonne kya kya vikaas kiya hai kya-kya nahin abhee relave ke andar dekh sakate hain kuchh vaikensee jo thee vah vaalee ja rahee hai parantu jo bhartiyaan jo hai kabhee let ho chukee hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
पीयूष गोयल के रेल मंत्री बनने के बाद भारतीय रेल में क्या नए बदलाव आया है?Piyush Goyal Ke Rail Mantri Banne Ke Baad Bhartiye Rail Me Kya Naye Badlav Aya Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
4:39
सवाल यह है कि पीयूष गोयल के रेल मंत्री बनने के बाद भारतीय रेल में क्या नए बदलाव आए हैं भारतीय रेलवे रिजर्वेशन चार्ट ऑनलाइन दिखाना शुरू की एक कर दिया है इसका मतलब यह है कि रिजर्वेशन चार्ट बनने के बाद आप खाली वह दोनों आंशिक रूप से बुक किए गए बाढ़ की जानकारी पा सकते हैं केंद्रीय सरकार मंत्री पीयूष गोयल ने इस बारे में ट्वीट किया आप बिना परेशानी के रेल यात्रा कर सकते हैं अब आप महज एक क्लिक पर रिजर्वेशन चार्ट बनने के बाद खाली बुक किए गए और आंशिक रूप से बुक किए गए कि की जानकारी देख सकते हैं भारतीय रेलवे की सेवा से यात्रियों को रेलवे में सफर करने में आसानी होगी किसी भी ट्रेन में सीट की उपलब्धता देखने की सुविधा की वजह से चार्ट बनने के बाद भी खाली सीट के बारे में आपको जानकारी मिल सकती है अगर आप उस ट्रेन से यात्रा करना चाहते हैं तो आप संबंधित रेलवे स्टेशन या ट्रेन में टीटी की सेटिंग कट बनवाकर यात्रा कर ते हैं पहला रिजर्वेशन चार्ट स्क्रीन के खुलने के 4 घंटे पहले ऑनलाइन देखा जा सकता है जबकि दूसरा चार्ट ट्रेन खुलने के समय से आधे घंटे पहले देख कर देखा जा सकता है अगर आप दूसरे चार्ट के हिसाब से ट्रेन में खाली सीट किस से भी देखना चाहते हैं तो जीत के आवंटन में किया गया कोई बदलाव आपको आसानी से दिख लगता है रिजर्वेशन चार्ट देखने का है नया पिक्चर आईआरसीटीसी की टिकट बुकिंग प्लेटफार्म के व्यापार में पाइप मोबाइल दोनों पर ही वजन पर उपलब्ध है और रेलवे के इस नए * पेट में ट्रेन में रिजर्वेशन के लिए इस्तेमाल होने वाले सभी नदियों का लेआउट किया गया है वहीं भारतीय रेलवे ने युवाओं के लिए बंपर भर्ती निकाली है जहां रेलवे 91 हजार से ज्यादा लोगों को भर्ती न करने की तैयारी कर रहा है वहीं रेलवे भर्ती नियंत्रण बोर्ड की ओर से वैकेंसी निकलने के बाद परीक्षार्थियों ने उम्र सीमा को लेकर बिहार में प्रदर्शन की जिसके बाद उम्र सीमा में भी बदलाव किए गए वहीं अब भर्ती को लेकर रेल मंत्री पीयूष गोयल ने हम घोषणा की है उन्होंने कहा है कि रेलवे भर्ती परीक्षा के लिए बढ़ाई गई ग्रामीणों रिफंडेबल होगी उन्होंने कहा कि अगर उम्मीदवार रेलवे भर्ती परीक्षा देता है तुझे बड़ी फीस उसे बाद में वापस कर दी जाएगी बता दें कि रेलवे भर्ती के लिए उम्मीदवारों के लिए ढाई ₹100 और जनरल और ओबीसी के लिए ₹500 एग्जामिनेशन फीस रखी गई है लेकिन अब परीक्षा के बाद जनरल वर्ग के उम्मीदवारों को ₹400 वापस किए जाएंगे अरे प्रति वर्ग के उम्मीदवारों को पूरी फीस वापस कर दी जाएगी वहीं इससे पहले भी जो भर्तियां रेलवे में निकाली गई थी उसमें जनरल वर्ग के उम्मीदवारों के लिए शोर के बीच रखी गई थी जब जब की अच्छी-अच्छी भर के लिए उम्मीदवारों के लिए कोई फीस नहीं रखी गई थी रेलवे ने काफी समय बाद ग्रुप डी कर्मचारियों की भर्ती निकालने के बाद छात्र काफी खुश हुए लेकिन आप क्योंकि रेलवे में काफी लंबे समय बाद उसने पदों पर वैकेंसी निकली है लेकिन ग्रुप डी की परीक्षाओं के लिए आईटीआई होना अनिवार्य करना उम्र सीमा को कम करना और फीस बढ़ा देने पर छात्रों ने प्रदर्शन प्रदर्शन किया था हालांकि प्रदर्शन के बाद रेलवे ने उम्र सीमा को लेकर बदलाव किए जिसमें लोको पायलट और असिस्टेंट लोको पायलट के लिए उम्र सीमा बढ़ाकर 30 साल कर दी है और ग्रुप डी की परीक्षा में आवेदन करने वाले जनरल वर्ग के उम्मीदवारों के लिए उम्र सीमा 28 साल से बढ़ाकर 30 साल कर दी गई है रेलवे भर्ती परीक्षा में ग्रुप डी के लिए आईटीआई की अनिवार्यता खत्म कर दी गई है जिसकी जानकारी ट्वीट के जरिए दी गई अब ग्रुप डी परीक्षाओं के लिए आईटीआई या एलसीडी योगिता की दरकार नहीं रहेगी रेलवे नौकरियों के लिए आवेदन करने वाले वालों के लिए पिछले साल तक पालन किए जाने वाले नियमों में गुरुवार को छूट दे कर दे दी गई है वही रेल मंत्री के इस निर्णय से उन्नाव लाखों छात्रों का प्रयास रंग लाया है जो पिछले कई दिनों से आंदोलन कर रहे थे पीयूष गोयल ने कहा कि रेलवे भर्ती के लिए आवेदन की तिथि बढ़ाई गई थी ताकि इसके लिए वही उम्मीद उम्मीदवार करें इस भर्ती को लेकर गंभीर है उन्होंने कहा कि कई बार आवेदन पीठ कम होने पर कई उम्मीदवार आवेदन तो कर देते हैं पर इसका नुकसान सरकार को होता है बता दे कि रेल मंत्री ने यह भी घोषणा की है कि बढ़ती परीक्षाएं जल्द ही क्षेत्रीय भाषाओं मलयालम तमिल कन्नड़ ओड़िआ तेलुगू और बांग्ला में भी होंगी
Savaal yah hai ki peeyoosh goyal ke rel mantree banane ke baad bhaarateey rel mein kya nae badalaav aae hain bhaarateey relave rijarveshan chaart onalain dikhaana shuroo kee ek kar diya hai isaka matalab yah hai ki rijarveshan chaart banane ke baad aap khaalee vah donon aanshik roop se buk kie gae baadh kee jaanakaaree pa sakate hain kendreey sarakaar mantree peeyoosh goyal ne is baare mein tveet kiya aap bina pareshaanee ke rel yaatra kar sakate hain ab aap mahaj ek klik par rijarveshan chaart banane ke baad khaalee buk kie gae aur aanshik roop se buk kie gae ki kee jaanakaaree dekh sakate hain bhaarateey relave kee seva se yaatriyon ko relave mein saphar karane mein aasaanee hogee kisee bhee tren mein seet kee upalabdhata dekhane kee suvidha kee vajah se chaart banane ke baad bhee khaalee seet ke baare mein aapako jaanakaaree mil sakatee hai agar aap us tren se yaatra karana chaahate hain to aap sambandhit relave steshan ya tren mein teetee kee seting kat banavaakar yaatra kar te hain pahala rijarveshan chaart skreen ke khulane ke 4 ghante pahale onalain dekha ja sakata hai jabaki doosara chaart tren khulane ke samay se aadhe ghante pahale dekh kar dekha ja sakata hai agar aap doosare chaart ke hisaab se tren mein khaalee seet kis se bhee dekhana chaahate hain to jeet ke aavantan mein kiya gaya koee badalaav aapako aasaanee se dikh lagata hai rijarveshan chaart dekhane ka hai naya pikchar aaeeaaraseeteesee kee tikat buking pletaphaarm ke vyaapaar mein paip mobail donon par hee vajan par upalabdh hai aur relave ke is nae * pet mein tren mein rijarveshan ke lie istemaal hone vaale sabhee nadiyon ka leaut kiya gaya hai vaheen bhaarateey relave ne yuvaon ke lie bampar bhartee nikaalee hai jahaan relave 91 hajaar se jyaada logon ko bhartee na karane kee taiyaaree kar raha hai vaheen relave bhartee niyantran bord kee or se vaikensee nikalane ke baad pareekshaarthiyon ne umr seema ko lekar bihaar mein pradarshan kee jisake baad umr seema mein bhee badalaav kie gae vaheen ab bhartee ko lekar rel mantree peeyoosh goyal ne ham ghoshana kee hai unhonne kaha hai ki relave bhartee pareeksha ke lie badhaee gaee graameenon riphandebal hogee unhonne kaha ki agar ummeedavaar relave bhartee pareeksha deta hai tujhe badee phees use baad mein vaapas kar dee jaegee bata den ki relave bhartee ke lie ummeedavaaron ke lie dhaee ₹100 aur janaral aur obeesee ke lie ₹500 egjaamineshan phees rakhee gaee hai lekin ab pareeksha ke baad janaral varg ke ummeedavaaron ko ₹400 vaapas kie jaenge are prati varg ke ummeedavaaron ko pooree phees vaapas kar dee jaegee vaheen isase pahale bhee jo bhartiyaan relave mein nikaalee gaee thee usamen janaral varg ke ummeedavaaron ke lie shor ke beech rakhee gaee thee jab jab kee achchhee-achchhee bhar ke lie ummeedavaaron ke lie koee phees nahin rakhee gaee thee relave ne kaaphee samay baad grup dee karmachaariyon kee bhartee nikaalane ke baad chhaatr kaaphee khush hue lekin aap kyonki relave mein kaaphee lambe samay baad usane padon par vaikensee nikalee hai lekin grup dee kee pareekshaon ke lie aaeeteeaee hona anivaary karana umr seema ko kam karana aur phees badha dene par chhaatron ne pradarshan pradarshan kiya tha haalaanki pradarshan ke baad relave ne umr seema ko lekar badalaav kie jisamen loko paayalat aur asistent loko paayalat ke lie umr seema badhaakar 30 saal kar dee hai aur grup dee kee pareeksha mein aavedan karane vaale janaral varg ke ummeedavaaron ke lie umr seema 28 saal se badhaakar 30 saal kar dee gaee hai relave bhartee pareeksha mein grup dee ke lie aaeeteeaee kee anivaaryata khatm kar dee gaee hai jisakee jaanakaaree tveet ke jarie dee gaee ab grup dee pareekshaon ke lie aaeeteeaee ya elaseedee yogita kee darakaar nahin rahegee relave naukariyon ke lie aavedan karane vaale vaalon ke lie pichhale saal tak paalan kie jaane vaale niyamon mein guruvaar ko chhoot de kar de dee gaee hai vahee rel mantree ke is nirnay se unnaav laakhon chhaatron ka prayaas rang laaya hai jo pichhale kaee dinon se aandolan kar rahe the peeyoosh goyal ne kaha ki relave bhartee ke lie aavedan kee tithi badhaee gaee thee taaki isake lie vahee ummeed ummeedavaar karen is bhartee ko lekar gambheer hai unhonne kaha ki kaee baar aavedan peeth kam hone par kaee ummeedavaar aavedan to kar dete hain par isaka nukasaan sarakaar ko hota hai bata de ki rel mantree ne yah bhee ghoshana kee hai ki badhatee pareekshaen jald hee kshetreey bhaashaon malayaalam tamil kannad odia telugoo aur baangla mein bhee hongee

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • पीयूष गोयल किस पार्टी से है ... पीयूष गोयल को कब रेल मंत्रालय दिया गया ..
  • पीयूष गोयल कौन है, पीयूष गोयल को रेल मंत्रालय कब दिया गया, पीयूष गोयल और रेल मंत्रालय
  • पीयूष गोयल के रेल मंत्री बनने के बाद भारतीय रेल में क्या नए बदलाव आया है, भारतीय रेल में क्या नए बदलाव आया है, indian railway kr naye badlaav
  • पीयूष गोयल कौन है, पीयूष गोयल को रेल मंत्री कब बनाया गया, पीयूष गोयल ने भारतीय रेल में क्या बदलाव किए
  • भारतीय रेल में क्या नए बदलाव आया है
URL copied to clipboard