#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker

हमारी विनम्रता को कब हमारी कमजोरी समझा जाने लगता है?

Humari Vinamrata Ko Kab Humari Kamjori Samjha Jaane Lagta Hai
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
1:00
रख प्रश्न हमारे विनम्रता को कब हमारी कमजोरी समझा जाने लगता है तो आपको बताना चाहेंगे देखे विनम्र होना बहुत अच्छी बात है व्यक्ति को विनम्रता दिखानी चाहिए बल्कि संस्कृत में श्लोक भी है कि विद्या ददाति विनयं विनयाद्याति पात्रताम् पा तत्वाधान मानवता का धर्म तथा सुखम् यानी कि अगर आप मैं बुद्धिमता है तो फिर आपका नाम होते हैं उधमिता से आपको विनम्रता आती है विनम्रता से ही व्यक्ति पात्र बनता है और जवाब पात्रता आपके अंदर आ जाती है तो उससे आपको धन की प्राप्ति होती है और धन से ही आपको सुख का अनुभव होता है तो इसलिए व्यक्ति को अपने जीवन में विनम्र होना चाहिए और कोई अगर आपकी विनम्रता को अगर कमजोरी समझ रहा है तो उसकी प्रॉब्लम है आपकी आपका जैसा एटीट्यूड है जैसे आप दम है वैसे आप बने रहें यही आपको बुलंदियों तक पहुंचाएगा मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Rakh prashn hamaare vinamrata ko kab hamaaree kamajoree samajha jaane lagata hai to aapako bataana chaahenge dekhe vinamr hona bahut achchhee baat hai vyakti ko vinamrata dikhaanee chaahie balki sanskrt mein shlok bhee hai ki vidya dadaati vinayan vinayaadyaati paatrataam pa tatvaadhaan maanavata ka dharm tatha sukham yaanee ki agar aap main buddhimata hai to phir aapaka naam hote hain udhamita se aapako vinamrata aatee hai vinamrata se hee vyakti paatr banata hai aur javaab paatrata aapake andar aa jaatee hai to usase aapako dhan kee praapti hotee hai aur dhan se hee aapako sukh ka anubhav hota hai to isalie vyakti ko apane jeevan mein vinamr hona chaahie aur koee agar aapakee vinamrata ko agar kamajoree samajh raha hai to usakee problam hai aapakee aapaka jaisa eteetyood hai jaise aap dam hai vaise aap bane rahen yahee aapako bulandiyon tak pahunchaega main shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
हमारी विनम्रता को कब हमारी कमजोरी समझा जाने लगता है?Humari Vinamrata Ko Kab Humari Kamjori Samjha Jaane Lagta Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:31
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका बोल कर अपना नंबर तक हमारी कमजोरी समझा जाने लगता है जब हद से ज्यादा विनम्रता करें आपको कोई गलत भी बोल रहा है पर आप उसका जवाब नहीं दे रहे हैं आपकी कोई अगर बेइज्जती करें और तो भी आप उसका जवाब नहीं दे रहे हैं तो उनके लिए कमजोरी समझा जाने लगता है कि यह हद से ज्यादा फिदा है तो आपको इतना भी विनम्र रशीदा नहीं होना है कि आपका कोई अपमान भी कर दे तो आप कुछ ना बोलें आपको थोड़ा बोलना भी है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka bol kar apana nambar tak hamaaree kamajoree samajha jaane lagata hai jab had se jyaada vinamrata karen aapako koee galat bhee bol raha hai par aap usaka javaab nahin de rahe hain aapakee koee agar beijjatee karen aur to bhee aap usaka javaab nahin de rahe hain to unake lie kamajoree samajha jaane lagata hai ki yah had se jyaada phida hai to aapako itana bhee vinamr rasheeda nahin hona hai ki aapaka koee apamaan bhee kar de to aap kuchh na bolen aapako thoda bolana bhee hai dhanyavaad

bolkar speaker
हमारी विनम्रता को कब हमारी कमजोरी समझा जाने लगता है?Humari Vinamrata Ko Kab Humari Kamjori Samjha Jaane Lagta Hai
umashankar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए umashankar जी का जवाब
Farmer
0:42
हमारी विनम्रता को कब हमारी कमी को भी समझा जाने लगता है जब हम निरंतर विमर्श विनम्र बने रहते हैं तो लोग उस को हमारी कमजोरी समझ में आ जाते हैं तो थोड़ी सी कठोरता भी लानी पड़ती है जैसा आदमी आपसे मिलता है जैसा व्यवहार करता है वैसा उसके साथ जो हर करना सरकार की नियति बन चुकी है और हमेशा भी नंबर रहने से हर कोई आप को कमजोर समझने लगता है तो जैसी स्थितियों व संदीप करें तो सारी समस्याएं दूर होंगी आपको कोई कमजोर नहीं समझेगा
Hamaaree vinamrata ko kab hamaaree kamee ko bhee samajha jaane lagata hai jab ham nirantar vimarsh vinamr bane rahate hain to log us ko hamaaree kamajoree samajh mein aa jaate hain to thodee see kathorata bhee laanee padatee hai jaisa aadamee aapase milata hai jaisa vyavahaar karata hai vaisa usake saath jo har karana sarakaar kee niyati ban chukee hai aur hamesha bhee nambar rahane se har koee aap ko kamajor samajhane lagata hai to jaisee sthitiyon va sandeep karen to saaree samasyaen door hongee aapako koee kamajor nahin samajhega

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • हमारी विनम्रता को कमजोरी न समझें, विनम्रता इंसान की कमजोरी नहीं,
URL copied to clipboard