#undefined

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:43
बालाजी से सकारात्मक बांसुरी संगीत बजाने से सकारात्मक ऊर्जा होती है तो क्या नकारात्मक बजाने से नकारात्मक बचपन होता तो बिल्कुल होती है मैं देख रहा था द अनटोल्ड कुछ ऐसे नाम था उसका जिसमें दिखाया गया था कि जो बांसुरी है दोस्तों या कोई भी संगीत चुनाव तो संगीत जो है वह तो व्यक्ति को याद करते हैं और दूसरी एक ऐसी ही धुन थी उसी दौरान कि वह आपको इस तरीके से बजाई जाती थी कि वह व्यक्ति की जो मन को अच्छे अच्छे नकारात्मक वेब सीरीज है द अनटोल्ड नाम से आप उसको देखिए आपको एम एक्स प्लेयर के ऊपर मिलेगी हिंदी वर्जन में उपलब्ध है मेरे दोस्तों मैं काफी ज्यादा अच्छी लगी जिसमें संगीत को लेकर कुछ जानकारी दी गई है तब जाकर मुझे इस चीज का वासुदेव वास्तव में ऐसा भी होता है और यदि आप देखेंगे तो होती है किसी तरीके से दोस्तों काफी सारी जैसे मूवीज है जहां पर रोमांटिक सीन चल रही है कि मौत संगीत आप सुनोगे तो आपके अंदर प्यार जैसी जो भावना उत्पन्न हो जाएगी और कुछ अजीब तरीके म्यूजिक सुनते तो आपका जो मन है उसी की तरह हो जाएगा तो बिल्कुल और यह कहना उचित होगा कि जैसा संगीत सुनेंगे वैसे आपके विचार जो है यह जो है उसी के अनुरूप हो जाती है उसको आप मन और दिमाग दोनों के अंदर उतारते हैं यही कारण है कि मन और दिमाग में उतारने की वजह से जो आपके ऊपर इसका प्रभाव देखने को मिलेगा
Baalaajee se sakaaraatmak baansuree sangeet bajaane se sakaaraatmak oorja hotee hai to kya nakaaraatmak bajaane se nakaaraatmak bachapan hota to bilkul hotee hai main dekh raha tha da anatold kuchh aise naam tha usaka jisamen dikhaaya gaya tha ki jo baansuree hai doston ya koee bhee sangeet chunaav to sangeet jo hai vah to vyakti ko yaad karate hain aur doosaree ek aisee hee dhun thee usee dauraan ki vah aapako is tareeke se bajaee jaatee thee ki vah vyakti kee jo man ko achchhe achchhe nakaaraatmak veb seereej hai da anatold naam se aap usako dekhie aapako em eks pleyar ke oopar milegee hindee varjan mein upalabdh hai mere doston main kaaphee jyaada achchhee lagee jisamen sangeet ko lekar kuchh jaanakaaree dee gaee hai tab jaakar mujhe is cheej ka vaasudev vaastav mein aisa bhee hota hai aur yadi aap dekhenge to hotee hai kisee tareeke se doston kaaphee saaree jaise mooveej hai jahaan par romaantik seen chal rahee hai ki maut sangeet aap sunoge to aapake andar pyaar jaisee jo bhaavana utpann ho jaegee aur kuchh ajeeb tareeke myoojik sunate to aapaka jo man hai usee kee tarah ho jaega to bilkul aur yah kahana uchit hoga ki jaisa sangeet sunenge vaise aapake vichaar jo hai yah jo hai usee ke anuroop ho jaatee hai usako aap man aur dimaag donon ke andar utaarate hain yahee kaaran hai ki man aur dimaag mein utaarane kee vajah se jo aapake oopar isaka prabhaav dekhane ko milega

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • बांसुरी बजाना कैसे सीखे, नकारात्मक और सकारात्मक ऊर्जा क्या होती है
URL copied to clipboard