#undefined

bolkar speaker

क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?

Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:22

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
RAJESH KUMAR PANDEY Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAJESH जी का जवाब
Director of Study Gateway+
0:15

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
1:10

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
NeelamAwasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए NeelamAwasthi जी का जवाब
I am housewife
0:36

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Christina KC Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Christina जी का जवाब
MBA Govt job in PSU/Assistant Manager (HR)
0:21

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Ashok Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए Ashok जी का जवाब
कृषक👳💦
1:12

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:41

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Maayank Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Maayank जी का जवाब
College
1:28

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:21

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:43

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Vikas Sharma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vikas जी का जवाब
Student
0:54

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:53

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Tanu saini Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Tanu जी का जवाब
Unknown
0:25

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
0:47

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Sumit Goswami Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Sumit जी का जवाब
Engineering, psychology, philosophy, Technology, health & fitness
2:27

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
0:58

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
0:50

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
ᴊᴀt raj me Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए ᴊᴀt जी का जवाब
𝓝𝓾𝓻𝓼𝓲𝓷𝓰 𝓼𝓪𝓯𝓮 𝓶𝓮 𝔀𝓸𝓻𝓴𝓲𝓷𝓰
2:41

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
ABHAI PRATAP SINGH Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए ABHAI जी का जवाब
teacher
1:42
आपका प्रश्न है क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं देखिए काला होने के दो पीछे कारण है मूल रूप से आपकी त्वचा में मेलेनिन आपका एक पदार्थ पाया जाता है जब सूर्य की रोशनी आपके शरीर पर पड़ती है तो मैं ले नहीं सकती हो जाता है जिससे रंगशाला होने लगता है और जब आप धूप में नहीं बैठते हैं तो मैंने निष्क्रिय होने लगता है और आपका रंग फेयर होने लगता है तो कुल मिलाकर मलिन बढ़ने से रंग सांवला हो होना तय है या धूप में बैठते हैं तो रंग थोड़ा बहुत सामने जरूर होगा अब इससे बचने के लिए आप चाहे तो अजय देवगन बैठे कि आपका चेहरा साईं में रहे और आपका बाकी शरीर पर धूप पड़ता रहे खैर अगर कुछ दिनों के लिए ठंडक के महीने में अगर अगर आप धूप में बैठते हैं तो यह भले ही आपका रंग थोड़ा सा भीम हो लेकिन आपके लिए बहुत ही पर्याप्त लाभदायक है इसके लिए बेहतर ही है क्या आप चेहरे को अपने कमेंट करने किसी तरीके से और बाकी शरीर पर जो पढ़ता रहे कि आपके शरीर के लिए लाभदायक होगा धन्यवाद
Aapaka prashn hai kya sach mein dhoop mein baithane se log kaale ho jaate hain dekhie kaala hone ke do peechhe kaaran hai mool roop se aapakee tvacha mein melenin aapaka ek padaarth paaya jaata hai jab soory kee roshanee aapake shareer par padatee hai to main le nahin sakatee ho jaata hai jisase rangashaala hone lagata hai aur jab aap dhoop mein nahin baithate hain to mainne nishkriy hone lagata hai aur aapaka rang pheyar hone lagata hai to kul milaakar malin badhane se rang saanvala ho hona tay hai ya dhoop mein baithate hain to rang thoda bahut saamane jaroor hoga ab isase bachane ke lie aap chaahe to ajay devagan baithe ki aapaka chehara saeen mein rahe aur aapaka baakee shareer par dhoop padata rahe khair agar kuchh dinon ke lie thandak ke maheene mein agar agar aap dhoop mein baithate hain to yah bhale hee aapaka rang thoda sa bheem ho lekin aapake lie bahut hee paryaapt laabhadaayak hai isake lie behatar hee hai kya aap chehare ko apane kament karane kisee tareeke se aur baakee shareer par jo padhata rahe ki aapake shareer ke lie laabhadaayak hoga dhanyavaad

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Saloni vishwkarma   Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Saloni जी का जवाब
Unknown
0:29

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Raghvendra  Tiwari Pandit Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Raghvendra जी का जवाब
Unknown
2:37
हेलो फ्रेंड जैसा कि आपका प्रश्न है क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं दिखे ऐसा कुछ भी नहीं होता कि लोग धूप में बैठने से काले हो जाते हैं हां अगर सूर्य का प्रकाश जो है वह बहुत तेज है धूप बहुत तेज है तो हमारी चेहरे का रंग जो है वह थोड़ा सा सावला हो जाता है यह नहीं होता कि हम काले हो जाते हैं जैसे कि अगर सांवले है तू थोड़ा सा सावला हो जाता है अगर गोरी है तो हमारे चेहरे पर वह प्रकाश जो है वह उसकी गर्मी झेल नहीं पाता हमारा चेहरा तो हमारा चेहरा जो है वह सूर्य के प्रकाश से पूरी तरीके से लाल हो जाता है पूरी लालिमा में हो जाता है और ऐसी बिल्कुल बात नहीं है कि हम काले हो जाते हैं कि फ्रेंड सूर्य के प्रकाश से जो है वह हमें विटामिन डी की प्राप्ति होती है जो कि हमारी बॉडी के लिए बहुत ही आवश्यक है आप देखिए कि आप धूप का सेवन बिल्कुल ना करें धूप में ना निकला बाहर बिल्कुल ना निकले अब ठंडे माहौल में रहे आप हमेशा ऐसी में रहे एक में बंद रहे कुछ दिन बाद आप निकलेंगे फ्रेंड जब बाहर तो आप उस माहौल को जेल नहीं पाएंगे और आपकी मृत्यु तक हो सकती है इसलिए वातावरण जो बना हुआ है सूर्य का प्रकाश हुआ घर का हुआ यह सबकी अपनी-अपनी जो है सब महत्व है सूर्य के प्रकाश जो है वह हमें विटामिन डी की प्राप्ति देता है यह बहुत ही लाभकारी होता है चाहे पशुओं के लिए हो चाहे पक्षियों के लिए हो चाहे पेड़ पौधे के लिए हो चाहे इंसान के लिए हो पेड़ पौधे के लिए भी बहुत ही लाभदायक होता है क्योंकि अगर सूर्य का प्रकाश नहीं मिलेगा तो यह पेड़ पौधे अपना जो भोजन है प्रकाश संश्लेषण के द्वारा ही बनाते हैं और अपना भोजन ना बना पाएंगे अगर प्रकाश नहीं निकलेगा तो यह प्रकाश संश्लेषण के द्वारा अपने भोजन जो है पेड़ पौधे नहीं बना पाएंगे और पेड़ पौधे कभी होंगे ही नहीं आपने देखा है जो कुछ पेड़ लगाते हैं आप वह हो जाता है अगर सूर्य नहीं तो आप लाख प्रयास कर लीजिए वह पेड़ नहीं लगने वाला है आप कभी कोई पेड़ जो है अपने रूम में लगा कर देखिए नहीं लगेगा वह क्यों नहीं लगेगा कि वहां पर सूर्य का प्रकाश जो है उसे नहीं मिल पाएगा और वह पेड़ अपना भोजन जो है वह नहीं बना पाएगा अक्सर हम देखते हैं कि पेड़ पौधे जो लगाते हैं वह धूप में लगाते हैं जिससे पेड़ पौधे को प्रकाश संश्लेषण मिल सके उतना भूषण बना सके और अच्छे से अपना पौष्टिक आहार मिल सके उसे और एक अच्छे पेड़ के रूप में विकसित हो सके आशा है कि आप सभी को ऐसे वापस नहीं होगा शुक्रिया
Helo phrend jaisa ki aapaka prashn hai kya sach mein dhoop mein baithane se log kaale ho jaate hain dikhe aisa kuchh bhee nahin hota ki log dhoop mein baithane se kaale ho jaate hain haan agar soory ka prakaash jo hai vah bahut tej hai dhoop bahut tej hai to hamaaree chehare ka rang jo hai vah thoda sa saavala ho jaata hai yah nahin hota ki ham kaale ho jaate hain jaise ki agar saanvale hai too thoda sa saavala ho jaata hai agar goree hai to hamaare chehare par vah prakaash jo hai vah usakee garmee jhel nahin paata hamaara chehara to hamaara chehara jo hai vah soory ke prakaash se pooree tareeke se laal ho jaata hai pooree laalima mein ho jaata hai aur aisee bilkul baat nahin hai ki ham kaale ho jaate hain ki phrend soory ke prakaash se jo hai vah hamen vitaamin dee kee praapti hotee hai jo ki hamaaree bodee ke lie bahut hee aavashyak hai aap dekhie ki aap dhoop ka sevan bilkul na karen dhoop mein na nikala baahar bilkul na nikale ab thande maahaul mein rahe aap hamesha aisee mein rahe ek mein band rahe kuchh din baad aap nikalenge phrend jab baahar to aap us maahaul ko jel nahin paenge aur aapakee mrtyu tak ho sakatee hai isalie vaataavaran jo bana hua hai soory ka prakaash hua ghar ka hua yah sabakee apanee-apanee jo hai sab mahatv hai soory ke prakaash jo hai vah hamen vitaamin dee kee praapti deta hai yah bahut hee laabhakaaree hota hai chaahe pashuon ke lie ho chaahe pakshiyon ke lie ho chaahe ped paudhe ke lie ho chaahe insaan ke lie ho ped paudhe ke lie bhee bahut hee laabhadaayak hota hai kyonki agar soory ka prakaash nahin milega to yah ped paudhe apana jo bhojan hai prakaash sanshleshan ke dvaara hee banaate hain aur apana bhojan na bana paenge agar prakaash nahin nikalega to yah prakaash sanshleshan ke dvaara apane bhojan jo hai ped paudhe nahin bana paenge aur ped paudhe kabhee honge hee nahin aapane dekha hai jo kuchh ped lagaate hain aap vah ho jaata hai agar soory nahin to aap laakh prayaas kar leejie vah ped nahin lagane vaala hai aap kabhee koee ped jo hai apane room mein laga kar dekhie nahin lagega vah kyon nahin lagega ki vahaan par soory ka prakaash jo hai use nahin mil paega aur vah ped apana bhojan jo hai vah nahin bana paega aksar ham dekhate hain ki ped paudhe jo lagaate hain vah dhoop mein lagaate hain jisase ped paudhe ko prakaash sanshleshan mil sake utana bhooshan bana sake aur achchhe se apana paushtik aahaar mil sake use aur ek achchhe ped ke roop mein vikasit ho sake aasha hai ki aap sabhee ko aise vaapas nahin hoga shukriya

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Ganga Asati Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ganga जी का जवाब
Unknown
0:27
मैं बैठी नहीं टाइम तक बैठी है यदि आप ज्यादा में ठंडी तो नॉर्मल काले तो होंगे क्योंकि जैसे लोग ऐसे होते हैं ना कि बैठते हैं धूप में घूमते हैं और आकर नहाते नहीं है सच में होते हैं तो उन लोगों के लिए दिक्कत ज्यादा जाती है किस रूप में बैठेंगे तो आप बाहर बैठेंगे ना जहां से बस कार वगैरह निकलती है धूल उड़ेगी है तब मेरी बात समझ रहे हैं ऐसा करने से आप खाली होंगे जी
Main baithee nahin taim tak baithee hai yadi aap jyaada mein thandee to normal kaale to honge kyonki jaise log aise hote hain na ki baithate hain dhoop mein ghoomate hain aur aakar nahaate nahin hai sach mein hote hain to un logon ke lie dikkat jyaada jaatee hai kis roop mein baithenge to aap baahar baithenge na jahaan se bas kaar vagairah nikalatee hai dhool udegee hai tab meree baat samajh rahe hain aisa karane se aap khaalee honge jee

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Sandeep pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Sandeep जी का जवाब
Student
1:29
हेलो फ्रेंड्स कैसे हो आप आशा करता हूं अच्छे होंगे फ्रेंड सवाल है क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं कि इस सवाल का आपने कई बार कई जवाब सुने होंगे शायद आपको जवाब पसंद आया हो तो फ्रेंड सुनिए ध्यान से सुनिए गाड़ियों को आपको धूप में बैठने से काला हो जाना शायद ही कोई उस पर भरोसा करता हो क्योंकि जो लोग गोरे होते हैं वह धूप में बैठने से काले नहीं होते आप देखेंगे कोई किसान खेत में काम करता है तो उसके शरीर से पसीने गिरते हैं बल्कि वह काला ही होता है तो देखने में भी काला लगता है अगर आप गोरे हो कर के खेत में काम करेंगे तो आपके शरीर से भी पैसे नहीं करेंगे ना कि आप काली हो जाएंगे अगर आप कड़ी धूप में ऐसा करते हैं तो हो सकता है आपकी स्क्रीन पर थोड़ा प्रभाव पड़े कड़ी धूप में कड़ी दूर के बड़े भाई यहां बात करता हूं ना कि कोई नार्मल दो कि क्योंकि कड़ी धूप में आप जाएंगे तो आपकी त्वचा पर उसका प्रभाव तो देखने को मिलेगा ही अगर आप गोरे हैं और नॉर्मल रूप में आप जाते हैं कुछ देर के लिए रहते हैं तो बिल्कुल आप काले नहीं होंगे बल्कि वह आपके शरीर के लिए फायदेमंद होगा आशा करता हूं जवाब अच्छा लगा अगर अच्छा लगा हो तो एक लाइक करें धन्यवाद
Helo phrends kaise ho aap aasha karata hoon achchhe honge phrend savaal hai kya sach mein dhoop mein baithane se log kaale ho jaate hain ki is savaal ka aapane kaee baar kaee javaab sune honge shaayad aapako javaab pasand aaya ho to phrend sunie dhyaan se sunie gaadiyon ko aapako dhoop mein baithane se kaala ho jaana shaayad hee koee us par bharosa karata ho kyonki jo log gore hote hain vah dhoop mein baithane se kaale nahin hote aap dekhenge koee kisaan khet mein kaam karata hai to usake shareer se paseene girate hain balki vah kaala hee hota hai to dekhane mein bhee kaala lagata hai agar aap gore ho kar ke khet mein kaam karenge to aapake shareer se bhee paise nahin karenge na ki aap kaalee ho jaenge agar aap kadee dhoop mein aisa karate hain to ho sakata hai aapakee skreen par thoda prabhaav pade kadee dhoop mein kadee door ke bade bhaee yahaan baat karata hoon na ki koee naarmal do ki kyonki kadee dhoop mein aap jaenge to aapakee tvacha par usaka prabhaav to dekhane ko milega hee agar aap gore hain aur normal roop mein aap jaate hain kuchh der ke lie rahate hain to bilkul aap kaale nahin honge balki vah aapake shareer ke lie phaayademand hoga aasha karata hoon javaab achchha laga agar achchha laga ho to ek laik karen dhanyavaad

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
rohit paste Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए rohit जी का जवाब
Unknown
0:58
सवाल तो अच्छा है धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं जी जरूर धूप में बैठने से काले हो जाते हैं लेकिन वह काला बंद हमारे जिंदगी भर नहीं रहता शरीर पर कुछ वक्त अगर हम धूप से परे हो जाएं तो हमें फिर से हमारा नैसर्गिक रंग मिल सकता है और उसी के साथ साथ एक महत्वपूर्ण बात यह बताता हूं कि अगर हम दिन में 45 मिनट आगे या उससे ज्यादा उसके आसपास हम धूप में ना रहे तो हमारे हड्डियों को जितना कैल्शियम जितनी ताकत की जरूरत रहती है हमारी टीम को हमारी मांसपेशियों को जितनी ऊर्जा की जरूरत रहती है वह हमें नहीं मिल सकती इसलिए काला हो जाओ लेकिन शरीर मजबूत करो
Savaal to achchha hai dhoop mein baithane se log kaale ho jaate hain jee jaroor dhoop mein baithane se kaale ho jaate hain lekin vah kaala band hamaare jindagee bhar nahin rahata shareer par kuchh vakt agar ham dhoop se pare ho jaen to hamen phir se hamaara naisargik rang mil sakata hai aur usee ke saath saath ek mahatvapoorn baat yah bataata hoon ki agar ham din mein 45 minat aage ya usase jyaada usake aasapaas ham dhoop mein na rahe to hamaare haddiyon ko jitana kailshiyam jitanee taakat kee jaroorat rahatee hai hamaaree teem ko hamaaree maansapeshiyon ko jitanee oorja kee jaroorat rahatee hai vah hamen nahin mil sakatee isalie kaala ho jao lekin shareer majaboot karo

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
raksha Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए raksha जी का जवाब
Unknown
0:04

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
nitu Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए nitu जी का जवाब
Online Store
0:18

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Dr.Pragya Tiwari Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Dr.Pragya जी का जवाब
Medical student (future doctor)
0:29
जी हां यह बात सच है कि ज्यादा धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं ऐसा इसलिए होता है क्योंकि हमारी बॉडी में एक पिगमेंट पाया जाता है जिसे हम मेलेनिन बोलते हैं जो कि धूप में निकलने से ज्यादा प्रोड्यूस होने लगता है और हमारी बॉडी का जो कलर होता है वह इसके कारण डार्क होने लगता है इसीलिए जब हम ज्यादा धूप में बैठते हैं तो हमारी बॉडी का कलर 10 होने लगता है और हम काले होने सकते हैं
Jee haan yah baat sach hai ki jyaada dhoop mein baithane se log kaale ho jaate hain aisa isalie hota hai kyonki hamaaree bodee mein ek pigament paaya jaata hai jise ham melenin bolate hain jo ki dhoop mein nikalane se jyaada prodyoos hone lagata hai aur hamaaree bodee ka jo kalar hota hai vah isake kaaran daark hone lagata hai iseelie jab ham jyaada dhoop mein baithate hain to hamaaree bodee ka kalar 10 hone lagata hai aur ham kaale hone sakate hain

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Daulat Ram sharma Shastri Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Daulat जी का जवाब
Retrieved sr tea . social activist,
1:20
अति हर चीज की खराब होती है कोई भी चीज हो तो कि अधिक भोजन भी आदमी को अलग चलाता है बीमार करता है तो अधिक भूखे रहना भी घातक है ठीक इसी प्रकार से जो दवाई मानव को सही करती है स्वास्थ्यवर्धक होती है उसकी बीमारियों को सही करती है उस दवाई का भी अधिक प्रयोग आपको बीमार कर सकता है आपके लिए घातक हो सकता है ठीक इसी प्रकार ही मैसेज धूप में बैठ जानू में बैठना चाहिए यह विटामिन डी देता है लेकिन आती तो हर चीज की खराब है पति से आपका शरीर काला भी पड़ सकता है और गर्मियों में बैठकर तो त्वचा जल सकती है इसलिए सीमाओं का ध्यान रखें अनुपात में दी हुई दवाई एक स्वास्थ्यवर्धक होती है बीमारी को मिटाने वाली होती है और सीमाओं से जाकर की अति रूप में दवाई लेनी प्रदेश अध्यक्ष घातक होती है ठीक इसी प्रकार से दूध को भी माने दूध का नियमित सेवन करें लेकिन लिमिट के अनुसार करें अनुपात में करें और समय अवधि विशेष में ही करें
Ati har cheej kee kharaab hotee hai koee bhee cheej ho to ki adhik bhojan bhee aadamee ko alag chalaata hai beemaar karata hai to adhik bhookhe rahana bhee ghaatak hai theek isee prakaar se jo davaee maanav ko sahee karatee hai svaasthyavardhak hotee hai usakee beemaariyon ko sahee karatee hai us davaee ka bhee adhik prayog aapako beemaar kar sakata hai aapake lie ghaatak ho sakata hai theek isee prakaar hee maisej dhoop mein baith jaanoo mein baithana chaahie yah vitaamin dee deta hai lekin aatee to har cheej kee kharaab hai pati se aapaka shareer kaala bhee pad sakata hai aur garmiyon mein baithakar to tvacha jal sakatee hai isalie seemaon ka dhyaan rakhen anupaat mein dee huee davaee ek svaasthyavardhak hotee hai beemaaree ko mitaane vaalee hotee hai aur seemaon se jaakar kee ati roop mein davaee lenee pradesh adhyaksh ghaatak hotee hai theek isee prakaar se doodh ko bhee maane doodh ka niyamit sevan karen lekin limit ke anusaar karen anupaat mein karen aur samay avadhi vishesh mein hee karen

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
रमेश सिन्हा Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए रमेश जी का जवाब
Unknown
0:53
पड़ोस तो आपका प्रश्न है क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं तो मैं आपको बताना चाहूंगा ग्रुप जो है एक अच्छा स्रोत ए विटामिन डी का और डॉक्टर सलाह देते हैं कि लोगों को सुबह की ओके धूप में कम से कम 45 मिनट बैठना चाहिए और शाम के वर्क आफ्टर फाइव मिनट्स बैठना चाहिए ताकि उन्हें भरपूर मात्रा में विटामिन डी मिलता रहे और उनके शरीर में किसी भी प्रकार का जो है पूछ सकता ना रहे इसके अलावा अगर आप बड़ी धूप में टहलते हैं या बाहर जाते हैं तो इससे इसकी मिताली बनाने का खतरा होता है जानकारी स्पष्ट होगी धन्यवाद
Pados to aapaka prashn hai kya sach mein dhoop mein baithane se log kaale ho jaate hain to main aapako bataana chaahoonga grup jo hai ek achchha srot e vitaamin dee ka aur doktar salaah dete hain ki logon ko subah kee oke dhoop mein kam se kam 45 minat baithana chaahie aur shaam ke vark aaphtar phaiv minats baithana chaahie taaki unhen bharapoor maatra mein vitaamin dee milata rahe aur unake shareer mein kisee bhee prakaar ka jo hai poochh sakata na rahe isake alaava agar aap badee dhoop mein tahalate hain ya baahar jaate hain to isase isakee mitaalee banaane ka khatara hota hai jaanakaaree spasht hogee dhanyavaad

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Dinesh Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dinesh जी का जवाब
Ji
2:11
सवाल पूछा गया है क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं तो सवाल करता को बता दें यह जो सवाल है सिर्फ और सिर्फ तीन अलग-अलग स्किन टोन पर डिपेंड करता है सबका शरीर अलग है यह हम जानते हैं परंतु 3 तरीके की स्किन टाइप भी होती है और उस उनके स्किन टाइप्स में सबसे प्रभावशाली जो मौसम से ज्यादा प्रभावित जो स्किन टाइप रहती है वह इंडियन स्किन टाइप है जी हां इंडियन में इंडिया के जो लोग हैं ज्यादातर लोग हैं वह ब्राउन इस टाइप के होते हैं और जो ब्राउन श्याम बनके श्याम बनके होते हैं लोग उनकी स्किन बहुत ज्यादा प्रभाव करती है धूप में बैठने से जबकि आपने देखा होगा इंडियन से भी ज्यादा कई ज्यादा मात्रा में बाहर अमेरिकन के लोग जो होते हैं वह हमेशा बीच में ही बैठे रहते हैं रशियन लोग हैं वह हमेशा बीच पर बैठे रहते हैं गोवा में देखो पूरे रसिया में रसिया के लोग ही बैठे रहते हैं तो उनको तो अब तक पूरा तभी जैसा काला हो जाना चाहिए था परंतु नहीं उनकी स्किन टोन अमेरिकन है वह कभी भी रंग बदलेगी नहीं जल्दी और जो इंडियन स्किन है वह बहुत ज्यादा प्रभावी होती है मौसम की चेन होने के कारण तो मौसम और धूप से जो चेंज होती है उस किन टाइप को जो उस वह अगस्त में टाइप कर रहे हो बैठेगा धूप में तो बोल काला पड़ सकता है बहुत जल्दी और आपको एक चीज बता दे किस इंडियन स्किन साइंटिफिक रीजंस के अनुसार साइंस के अनुसार इंडियन स्किन बहुत ज्यादा अच्छी होती है उसके अंदर रोग प्रतिरोधक शब्द प्रतिरोधक शक्ति होती है जिसमें आपके पास कोई भी बीमारी जल्दी नहीं आ सकती जल्दी पकड़ नहीं सकती तो वह इंडियन स्किन टोन है इसलिए आपका स्किन टोन भी अगर इंडियन है तो बहुत ज्यादा अच्छा है आप अपने आप को लकी मान लें क्योंकि बाहर की जो स्किन टोन सोती है उसके अंदर लोग जो होते हैं वह बहुत ही जल्दी पकड़ सकते हैं अगर यह मेरा जवाब आपको पसंद आया हो तो अगले सवाल के साथ मुझसे जरूर जुड़े धन्यवाद
Savaal poochha gaya hai kya sach mein dhoop mein baithane se log kaale ho jaate hain to savaal karata ko bata den yah jo savaal hai sirph aur sirph teen alag-alag skin ton par dipend karata hai sabaka shareer alag hai yah ham jaanate hain parantu 3 tareeke kee skin taip bhee hotee hai aur us unake skin taips mein sabase prabhaavashaalee jo mausam se jyaada prabhaavit jo skin taip rahatee hai vah indiyan skin taip hai jee haan indiyan mein indiya ke jo log hain jyaadaatar log hain vah braun is taip ke hote hain aur jo braun shyaam banake shyaam banake hote hain log unakee skin bahut jyaada prabhaav karatee hai dhoop mein baithane se jabaki aapane dekha hoga indiyan se bhee jyaada kaee jyaada maatra mein baahar amerikan ke log jo hote hain vah hamesha beech mein hee baithe rahate hain rashiyan log hain vah hamesha beech par baithe rahate hain gova mein dekho poore rasiya mein rasiya ke log hee baithe rahate hain to unako to ab tak poora tabhee jaisa kaala ho jaana chaahie tha parantu nahin unakee skin ton amerikan hai vah kabhee bhee rang badalegee nahin jaldee aur jo indiyan skin hai vah bahut jyaada prabhaavee hotee hai mausam kee chen hone ke kaaran to mausam aur dhoop se jo chenj hotee hai us kin taip ko jo us vah agast mein taip kar rahe ho baithega dhoop mein to bol kaala pad sakata hai bahut jaldee aur aapako ek cheej bata de kis indiyan skin saintiphik reejans ke anusaar sains ke anusaar indiyan skin bahut jyaada achchhee hotee hai usake andar rog pratirodhak shabd pratirodhak shakti hotee hai jisamen aapake paas koee bhee beemaaree jaldee nahin aa sakatee jaldee pakad nahin sakatee to vah indiyan skin ton hai isalie aapaka skin ton bhee agar indiyan hai to bahut jyaada achchha hai aap apane aap ko lakee maan len kyonki baahar kee jo skin ton sotee hai usake andar log jo hote hain vah bahut hee jaldee pakad sakate hain agar yah mera javaab aapako pasand aaya ho to agale savaal ke saath mujhase jaroor jude dhanyavaad

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Shalinee Maurya Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Shalinee जी का जवाब
Graduate
1:35
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं तो यह बात सही है धूप व गर्म सुबह की धूप लेते हैं तो हमें विटामिन बी प्रचुर मात्रा में मिलता है लेकिन अगर हम पूरा दिन रूप में ही रहे तो वह धूप की वजह से लोग काले होते हैं और यह अगर मैं बताऊं तो प्रैक्टिकली मेरे साथ ऐसा हुआ है गांव के लोग अक्सर ऐसा बोलते हैं कि बच्चा पैदा होता है उसे धूप में रखें ताकि से सर्दी खांसी इस तरह की बीमारियों से सामना ना करना पड़े धूप में रहेंगे तो उनका टेंपरेचर बना रहेगा बीमार भी नहीं पड़ेंगे और ऐसा मेरे साथ ही हुआ था जब मैं पैदा हुई थी तो मेरा कलर इतना डार्क नहीं था लेकिन मेरी जनानी थी उन्होंने मुझे दो-तीन महीनों तक ऐसे ही जब सूरज निकलता था तो धूप में पूरा दिन के लिए मिटा देती थी ऊपर चर्चा हल्का से कपड़ा डाल दी थी फिर भी से धूप थी वह बच्चे को लगती थी मतलब मुझे लगती थी इस वजह से मेरे जो स्किन का कलर था बच्चे नाजुक होते हैं बहुत दुख कलर डार्क हो जाता है एकदम तू उस टाइम मेरा जो कलर था बहुत ही ज्यादा दांत मतलब ब्लैक कलर ब्लैक कलर में ही लिखता था लेकिन समय के साथ-साथ वह कल अपने आप कम हो गया और अभी मेरा कलर थोड़ा सावला कलर हो गया पहले बहुत ही ज्यादा डर था तो इसलिए मुझे ऐसा लगता है कि धूप में बैठने से लोग काले होते हैं और प्रैक्टिकली मेरी मां ने मेरे ऊपर यह पेमेंट किया था मेरी नानी ने किया था तो इसने मुझे यह अनुभव है और आई होप आप लोगों को जवाब अच्छा लगा होगा धन्यवाद
Kya sach mein dhoop mein baithane se log kaale ho jaate hain to yah baat sahee hai dhoop va garm subah kee dhoop lete hain to hamen vitaamin bee prachur maatra mein milata hai lekin agar ham poora din roop mein hee rahe to vah dhoop kee vajah se log kaale hote hain aur yah agar main bataoon to praiktikalee mere saath aisa hua hai gaanv ke log aksar aisa bolate hain ki bachcha paida hota hai use dhoop mein rakhen taaki se sardee khaansee is tarah kee beemaariyon se saamana na karana pade dhoop mein rahenge to unaka temparechar bana rahega beemaar bhee nahin padenge aur aisa mere saath hee hua tha jab main paida huee thee to mera kalar itana daark nahin tha lekin meree janaanee thee unhonne mujhe do-teen maheenon tak aise hee jab sooraj nikalata tha to dhoop mein poora din ke lie mita detee thee oopar charcha halka se kapada daal dee thee phir bhee se dhoop thee vah bachche ko lagatee thee matalab mujhe lagatee thee is vajah se mere jo skin ka kalar tha bachche naajuk hote hain bahut dukh kalar daark ho jaata hai ekadam too us taim mera jo kalar tha bahut hee jyaada daant matalab blaik kalar blaik kalar mein hee likhata tha lekin samay ke saath-saath vah kal apane aap kam ho gaya aur abhee mera kalar thoda saavala kalar ho gaya pahale bahut hee jyaada dar tha to isalie mujhe aisa lagata hai ki dhoop mein baithane se log kaale hote hain aur praiktikalee meree maan ne mere oopar yah pement kiya tha meree naanee ne kiya tha to isane mujhe yah anubhav hai aur aaee hop aap logon ko javaab achchha laga hoga dhanyavaad

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Nav kishor Aggarwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nav जी का जवाब
Service
0:51
नमस्कार आपका सवाल है कि क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं जिन्हें ऐसा कुछ नहीं है धूप में बैठने से कभी भी कोई भी काला नहीं होता रंग का जो है धूप से कोई लेना देना नहीं होता शंकर जो लेना-देना होता है रंग जो होता है वह व्यक्ति का वह उसके हार्मोन पर निर्भर करता है व्यक्ति के जिस प्रकार के हार्मोन से होंगे उसके अंदर जिस तरह के आजम शुगर विटामिन होते हैं या उसे मानो उसके मम्मी पापा हैं मां-बाप हैं उनके द्वारा भी उस को रंग प्रदान किया जाता है या मिलता है इसके अलावा जो होता है व्यक्ति की भूमि पारिवारिक भूमि रहन-सहन कहां का क्षेत्र का है किस क्षेत्र का है यह सब चीजें डिपेंड करती है राम के ऊपर धूप में बैठने से कभी कोई काला नहीं होता धन्यवाद
Namaskaar aapaka savaal hai ki kya sach mein dhoop mein baithane se log kaale ho jaate hain jinhen aisa kuchh nahin hai dhoop mein baithane se kabhee bhee koee bhee kaala nahin hota rang ka jo hai dhoop se koee lena dena nahin hota shankar jo lena-dena hota hai rang jo hota hai vah vyakti ka vah usake haarmon par nirbhar karata hai vyakti ke jis prakaar ke haarmon se honge usake andar jis tarah ke aajam shugar vitaamin hote hain ya use maano usake mammee paapa hain maan-baap hain unake dvaara bhee us ko rang pradaan kiya jaata hai ya milata hai isake alaava jo hota hai vyakti kee bhoomi paarivaarik bhoomi rahan-sahan kahaan ka kshetr ka hai kis kshetr ka hai yah sab cheejen dipend karatee hai raam ke oopar dhoop mein baithane se kabhee koee kaala nahin hota dhanyavaad

bolkar speaker
क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं?Kya Sach Mein Dhoop Mein Baithne Se Log Kale Ho Jate Hain
Vikash Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vikash जी का जवाब
Unknown
1:20

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या सच में धूप में बैठने से लोग काले हो जाते हैं धूप में बैठने से काले हो जाते हैं
URL copied to clipboard