#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker

यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?

Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:54

और जवाब सुनें

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
घनश्याम वन Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए घनश्याम जी का जवाब
मंदिर सेवा
0:54

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Trainer Yogi Yogendra Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trainer जी का जवाब
Motivational Speaker | Career Coach | Corporate Trainer | Marketing & Management Expert's. Follow Us YouTube channel : https://www.youtube.com/channel/UCKY3o0Bey-4L8mWF9hyTRdQ
0:51

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
2:28

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Naman Singh Patel Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Naman जी का जवाब
Student & Social worker
1:49

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Vikas Sharma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vikas जी का जवाब
Student
1:04

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
pooja Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए pooja जी का जवाब
Student
0:35

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:40

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Mohitrajput Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Mohitrajput जी का जवाब
Unknown
0:43

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
ravi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए ravi जी का जवाब
Unknown
0:52

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:52

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:29

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Ashish Lavania Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Ashish जी का जवाब
Yoga Instructor
0:55

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
6:58

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
pooja Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए pooja जी का जवाब
Student
0:35

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
1:41

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Nav kishor Aggarwal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nav जी का जवाब
Service
1:47

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Navnit Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Navnit जी का जवाब
QUALITY ENGINEER
2:25
बिल्कुल भी नहीं यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो सबसे पहले यह देखे कि वह आपका साथ क्यों नहीं दे रहे हैं किस हॉट से वह आपके वह कन्वेंस नहीं है किस बात से आपके वो कंही नहीं है किस बात से वह आप से अलग हो रहे हैं पहले यह देखिए अगर आपके पास में कोई कमी है आपके जो सोच है आपके जो विचार है इस में कुछ कमी है तो आप उसको चेंज कीजिए अगर आपको यह लग रहा है कि वह आप को नहीं समझ पा रहे हैं तो आराम से उनसे बैठकर पहले बात की है पहले आराम से बैठ कर बात कीजिए एक बार 2 बार 4 बार 5 बार 10 बार भी आप को समझाना पड़े तो आप समझाइए क्योंकि वह आपके माता पिता है भगवान बाद में आता पहले माता पिता के यह जान लीजिए भगवान को कितने पूछ लीजिए अगर आप माता पिता को छोड़ दीजिएगा अलग हो जाएगा वह आपके साथ नहीं रहेंगे पूजा भगवान की पूजा करते हैं वह आपके साथ नहीं रहेंगे खुद गणेश जी की ताली अपने माता-पिता की भी पूजा किए थे तो प्रथम पूज्य देवता का यह कहने की बात नहीं है सिर्फ ऐसा नहीं है कि यह सब कहने की बात है धरती पर जो लाए हैं आपको वह आपके भगवान है उनको नहीं आदत दीजिएगा तो आपकी पित्र हो चाहे आपके देवी देवताओं कोई आपको नहीं अपनाएंगे तो आपको एक बार 2 बार 5 बार 10 बार जितना बार भी समझाना पड़े उनको आराम से बैठकर समझाइए अगर फिर भी नहीं समझ पा रहे हैं वह तो कुछ टाइम के लिए आपको अलग नहीं हुई है लेकिन हां जो आपको करना है जो आपको लग रहा है कि आप सही हैं उनको कीजिए आपको लग रहा है कि आप से यह पिक कीजिए जरूरी नहीं है कि आप हर चीज पर डिस्कस ठीक करें और करें आपको लग रहा है सही तो कीजिए कल को वह देखेंगे कि आप सक्सेस कर रहे हैं इसमें तो वह आपको सपोर्ट करेंगे तो बहुत बार होता है बिगाड़ जनिया को भी बच्चा लेट से समझता है कोई दिक्कत नहीं आप उनको समझा कर देख कर नहीं तो फिर आपको जो चाहिए वह कीजिए ना तो फिर वह समझ जाएंगे लेकिन थोड़ी नहीं बरवाला भगवान तो बाद में पहले तो यह नीचे वाले हैं वही भगवान है
Bilkul bhee nahin yadi maata-pita hamaara saath na de to sabase pahale yah dekhe ki vah aapaka saath kyon nahin de rahe hain kis hot se vah aapake vah kanvens nahin hai kis baat se aapake vo kanhee nahin hai kis baat se vah aap se alag ho rahe hain pahale yah dekhie agar aapake paas mein koee kamee hai aapake jo soch hai aapake jo vichaar hai is mein kuchh kamee hai to aap usako chenj keejie agar aapako yah lag raha hai ki vah aap ko nahin samajh pa rahe hain to aaraam se unase baithakar pahale baat kee hai pahale aaraam se baith kar baat keejie ek baar 2 baar 4 baar 5 baar 10 baar bhee aap ko samajhaana pade to aap samajhaie kyonki vah aapake maata pita hai bhagavaan baad mein aata pahale maata pita ke yah jaan leejie bhagavaan ko kitane poochh leejie agar aap maata pita ko chhod deejiega alag ho jaega vah aapake saath nahin rahenge pooja bhagavaan kee pooja karate hain vah aapake saath nahin rahenge khud ganesh jee kee taalee apane maata-pita kee bhee pooja kie the to pratham poojy devata ka yah kahane kee baat nahin hai sirph aisa nahin hai ki yah sab kahane kee baat hai dharatee par jo lae hain aapako vah aapake bhagavaan hai unako nahin aadat deejiega to aapakee pitr ho chaahe aapake devee devataon koee aapako nahin apanaenge to aapako ek baar 2 baar 5 baar 10 baar jitana baar bhee samajhaana pade unako aaraam se baithakar samajhaie agar phir bhee nahin samajh pa rahe hain vah to kuchh taim ke lie aapako alag nahin huee hai lekin haan jo aapako karana hai jo aapako lag raha hai ki aap sahee hain unako keejie aapako lag raha hai ki aap se yah pik keejie jarooree nahin hai ki aap har cheej par diskas theek karen aur karen aapako lag raha hai sahee to keejie kal ko vah dekhenge ki aap sakses kar rahe hain isamen to vah aapako saport karenge to bahut baar hota hai bigaad janiya ko bhee bachcha let se samajhata hai koee dikkat nahin aap unako samajha kar dekh kar nahin to phir aapako jo chaahie vah keejie na to phir vah samajh jaenge lekin thodee nahin baravaala bhagavaan to baad mein pahale to yah neeche vaale hain vahee bhagavaan hai

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
2:29
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए दोस्तों देखिए कुछ कारण होते हैं जिसकी वजह से माता-पिता को ऐसा करना पड़ सकता है इन्हीं सभी के माता-पिता एक जैसे बहुत ही ज्यादा समझदार बहुत ही ज्यादा उनसे ही महान तो हो नहीं सकते हो सकता है थोड़ी सोच सोच में फर्क हो दोस्तों आपको यदि अलग ही करना चाहते हैं तो हो सकता है कि वह व्यवहार में थोड़ी सी ऐसे ही चंचलता बढ़ते ऐसी बातें करें जिससे कि आप समझो कि वह हमें अलग करना चाहते हैं तो यदि ऐसी बात है तो आप उनसे एक दिन पूछ लीजिए हमारे साथ ऐसा क्यों हो रहा है आपको अच्छा नहीं लगता है तो हम अलग हो जाते हैं और दूसरी बात यह है दोस्तों की वह क्या पता आपको शर्म के मारे बताते ना हो और आप में ही कुछ कमियां हो या आप जिस रास्ते पर चल रहे हैं जो कार्य करते हैं वह आपको पसंद ना हो और आपको कह दे तो आप नाराज हो जाए तो इसलिए वह आपको कहीं भी ना तो इसलिए थोड़ा सा व्यवहार रुखा हो जाता है तो दो कारण हो सकते हैं एक तो वास्तव में जैसे कि घर में बहुत ज्यादा विधि सदस्य होते हैं तो बड़े-बड़े जो आदमी होते हैं युवा जो हो जाते हैं तो उनको अलग होना ही पड़ता है एक घर में कैसे गुजारा हो सकता है बहुत ज्यादा बिजी हो जाते हैं तो अलग हो जाने में कोई दिक्कत नहीं है या फिर दूसरी बात आप में कोई कमी हो सकती है या आप काम गलत करते होंगे या कार्य को ठीक से नहीं करते होंगे या फिर बुरी आदतों के शिकार होंगे आप तो इसलिए उनका मन आप से हट गया होगा तो आप पर ध्यान कम देते हैं कैसे भी हो दोस्तों आपको इस बात का जरूर पता लगा लेना कि कम से कम कारण क्या है यह तो हम गलत चलते हैं बुरे कार्य करते हैं या ठीक ढंग से कार्य नहीं करते इसलिए हमें अलग करने की सोच रहे हैं या फिर हम घर में ज्यादा व्यक्ति हैं इसलिए अलग करने की सोच रहे हैं तो कोई न कोई कारण तो इसके पीछे जरूर होता ही है दोस्त वह आपको जरूर ढूंढा चाहिए और धैर्य से शांतिपूर्वक बात करते हुए धन्यवाद
Namaskaar doston aapaka prashn hai yadi maata-pita hamaara saath na de to hamen maata-pita se alag ho jaana chaahie doston dekhie kuchh kaaran hote hain jisakee vajah se maata-pita ko aisa karana pad sakata hai inheen sabhee ke maata-pita ek jaise bahut hee jyaada samajhadaar bahut hee jyaada unase hee mahaan to ho nahin sakate ho sakata hai thodee soch soch mein phark ho doston aapako yadi alag hee karana chaahate hain to ho sakata hai ki vah vyavahaar mein thodee see aise hee chanchalata badhate aisee baaten karen jisase ki aap samajho ki vah hamen alag karana chaahate hain to yadi aisee baat hai to aap unase ek din poochh leejie hamaare saath aisa kyon ho raha hai aapako achchha nahin lagata hai to ham alag ho jaate hain aur doosaree baat yah hai doston kee vah kya pata aapako sharm ke maare bataate na ho aur aap mein hee kuchh kamiyaan ho ya aap jis raaste par chal rahe hain jo kaary karate hain vah aapako pasand na ho aur aapako kah de to aap naaraaj ho jae to isalie vah aapako kaheen bhee na to isalie thoda sa vyavahaar rukha ho jaata hai to do kaaran ho sakate hain ek to vaastav mein jaise ki ghar mein bahut jyaada vidhi sadasy hote hain to bade-bade jo aadamee hote hain yuva jo ho jaate hain to unako alag hona hee padata hai ek ghar mein kaise gujaara ho sakata hai bahut jyaada bijee ho jaate hain to alag ho jaane mein koee dikkat nahin hai ya phir doosaree baat aap mein koee kamee ho sakatee hai ya aap kaam galat karate honge ya kaary ko theek se nahin karate honge ya phir buree aadaton ke shikaar honge aap to isalie unaka man aap se hat gaya hoga to aap par dhyaan kam dete hain kaise bhee ho doston aapako is baat ka jaroor pata laga lena ki kam se kam kaaran kya hai yah to ham galat chalate hain bure kaary karate hain ya theek dhang se kaary nahin karate isalie hamen alag karane kee soch rahe hain ya phir ham ghar mein jyaada vyakti hain isalie alag karane kee soch rahe hain to koee na koee kaaran to isake peechhe jaroor hota hee hai dost vah aapako jaroor dhoondha chaahie aur dhairy se shaantipoorvak baat karate hue dhanyavaad

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Shudhanshu Saxena Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Shudhanshu जी का जवाब
बिजनेसमैन
0:46
सके तो सो सकते हो आप अगर आपके मां-बाप अच्छा आदमी दे रहे तो आप उनका साथ छोड़ दोगे बचपन से बाप को पाल रहे हैं लेकिन आपकी कितनी गलती हैं तो परेशान किया होगा आपने उन्हें तो ने आपको छोड़ दिया यह बेतुके सवाल तो आप अपने माइंड से निकाल दीजिए ठीक है ना कोई ना कोई दिक्कत कमी तो रही होगी आप में जो आपके मॉम डेड नहीं डिसीजन लिया है कि आप को साथ में दे रहे हैं पहले आप अपनी गलती सुधारी है सोचिए ठीक है ना खुद पर अकेले बैठकर एक जगह सोचे कि मुझसे क्या गलती हुई है जो मेरे मां-बाप मेरे साथ ऐसा कर रहे हैं ठीक है ना माता-पिता कभी कोई गलती नहीं करते हैं ठीक है ईश्वर का दूसरा रूप है वो तो आप खुद अपने आप से पूछा कि मैंने क्या गलती की है जो मैं को मेरे मॉम डैड नहीं समझ रहे हो के
Sake to so sakate ho aap agar aapake maan-baap achchha aadamee de rahe to aap unaka saath chhod doge bachapan se baap ko paal rahe hain lekin aapakee kitanee galatee hain to pareshaan kiya hoga aapane unhen to ne aapako chhod diya yah betuke savaal to aap apane maind se nikaal deejie theek hai na koee na koee dikkat kamee to rahee hogee aap mein jo aapake mom ded nahin diseejan liya hai ki aap ko saath mein de rahe hain pahale aap apanee galatee sudhaaree hai sochie theek hai na khud par akele baithakar ek jagah soche ki mujhase kya galatee huee hai jo mere maan-baap mere saath aisa kar rahe hain theek hai na maata-pita kabhee koee galatee nahin karate hain theek hai eeshvar ka doosara roop hai vo to aap khud apane aap se poochha ki mainne kya galatee kee hai jo main ko mere mom daid nahin samajh rahe ho ke

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Sameera khaan Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Sameera जी का जवाब
Unknown
0:43
मेरे हिसाब से तो ऐसा ही करता हूं और आप क्यों नहीं आए
Mere hisaab se to aisa hee karata hoon aur aap kyon nahin aae

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Nilesh singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Nilesh जी का जवाब
Accounts department
1:11
दोस्तों जैसा कि यह सवाल है यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए तो इसका मैं आपको जवाब देना चाहूंगा कि माता-पिता हमारे जीवन का और संबंध है या वह महत्वपूर्ण व्यक्ति है हमारी जिंदगी की जिसे हम कभी अलग नहीं हो सकते हैं क्योंकि उन्होंने हमें जीवन दिया होने के कारण हमारा अस्तित्व है हमारी किसी गलती से यहां हमारे किसी बात क्यों नहीं बुरा लगा है जिस वजह से वो हमसे अलग हो रहे हैं या हमारा साथ नहीं दे रहे हैं तो भी हमारी एक कोशिश होनी चाहिए कि हम अपने माता पिता यानी कि जिन्हें हम भगवान नहीं समझते हैं अपने से किसी भी हाल में अलग ना हो उन से बैठकर बातें करें अपनी गलतियों का क्षमा मांगना चाहिए और उन्हें जिस बात से ठेस पहुंची है तो उसे यह प्रॉमिस करें कि हम यह काम दोबारा नहीं करेंगे और मैं आपको यह सजेशन दूंगा कि कभी अपने माता-पिता से किसी भी हालत में आपको अलग नहीं होना चाहिए क्योंकि वह है तो जीवन है और उन से बढ़कर हमारे दुनिया में कोई नहीं हो सकता है
Doston jaisa ki yah savaal hai yadi maata-pita hamaara saath na de to kya hamen maata-pita se alag ho jaana chaahie to isaka main aapako javaab dena chaahoonga ki maata-pita hamaare jeevan ka aur sambandh hai ya vah mahatvapoorn vyakti hai hamaaree jindagee kee jise ham kabhee alag nahin ho sakate hain kyonki unhonne hamen jeevan diya hone ke kaaran hamaara astitv hai hamaaree kisee galatee se yahaan hamaare kisee baat kyon nahin bura laga hai jis vajah se vo hamase alag ho rahe hain ya hamaara saath nahin de rahe hain to bhee hamaaree ek koshish honee chaahie ki ham apane maata pita yaanee ki jinhen ham bhagavaan nahin samajhate hain apane se kisee bhee haal mein alag na ho un se baithakar baaten karen apanee galatiyon ka kshama maangana chaahie aur unhen jis baat se thes pahunchee hai to use yah promis karen ki ham yah kaam dobaara nahin karenge aur main aapako yah sajeshan doonga ki kabhee apane maata-pita se kisee bhee haalat mein aapako alag nahin hona chaahie kyonki vah hai to jeevan hai aur un se badhakar hamaare duniya mein koee nahin ho sakata hai

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Dinesh Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dinesh जी का जवाब
Ji
1:34
सवाल पूछा गया है कि यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए या नहीं तो सवाल करता तो बता दें कि अगर वह माता पिता है तो आप भी बच्चे हैं और बच्चे जो होते हैं बहुत ही ज्यादा बिजी होते हैं तो आप बिल्कुल जिद पकड़ कर बैठ जाइए कि चाहे आप मेरा साथ दो या नहीं दो भले ही दुनिया उलट-पुलट हो जाए पर हम तो आपको नहीं छोड़ने वाले हैं और आपको जो है हमारी सार संभाल करनी ही पड़ेगी भले ही आप कुछ काम ना ही करें तो भी हम आपको भले ही काम करके देंगे पर आपका जो आशीर्वाद रहेगा जो आपकी दुआएं रहेंगी उस उससे हमें अलग बिल्कुल नहीं रहना है क्योंकि मित्र मैं आपको बता दूं कि जिंदगी जो है उसमें दुआ और आशीर्वाद के सिवाय और कुछ भी नहीं है और उसी से ही जिंदगी सफल हो जाएगी इसलिए मैं प्रार्थना करता हूं और दर्द करता हूं सभी अपने बंधुओं से कि अपने माता-पिता का साथ कभी कभी कभी नहीं छोड़े वह भले ही अभी आपका साथ किसी दो या तीन चार विचारों में उनका आपका विचार नहीं मिलता होगा साथ नहीं दे रहे हैं तू भी उस चीजों को इग्नोर करके आप उनको लोग साथ में रखें और उनका साथ कभी ना छोड़ेंगे अगर उत्तर पसंद आया तो मुझे पर्सनली भी कभी आप मुझसे बात कर लीजिएगा इस बारे में धन्यवाद
Savaal poochha gaya hai ki yadi maata-pita hamaara saath na de to kya hamen maata-pita se alag ho jaana chaahie ya nahin to savaal karata to bata den ki agar vah maata pita hai to aap bhee bachche hain aur bachche jo hote hain bahut hee jyaada bijee hote hain to aap bilkul jid pakad kar baith jaie ki chaahe aap mera saath do ya nahin do bhale hee duniya ulat-pulat ho jae par ham to aapako nahin chhodane vaale hain aur aapako jo hai hamaaree saar sambhaal karanee hee padegee bhale hee aap kuchh kaam na hee karen to bhee ham aapako bhale hee kaam karake denge par aapaka jo aasheervaad rahega jo aapakee duaen rahengee us usase hamen alag bilkul nahin rahana hai kyonki mitr main aapako bata doon ki jindagee jo hai usamen dua aur aasheervaad ke sivaay aur kuchh bhee nahin hai aur usee se hee jindagee saphal ho jaegee isalie main praarthana karata hoon aur dard karata hoon sabhee apane bandhuon se ki apane maata-pita ka saath kabhee kabhee kabhee nahin chhode vah bhale hee abhee aapaka saath kisee do ya teen chaar vichaaron mein unaka aapaka vichaar nahin milata hoga saath nahin de rahe hain too bhee us cheejon ko ignor karake aap unako log saath mein rakhen aur unaka saath kabhee na chhodenge agar uttar pasand aaya to mujhe parsanalee bhee kabhee aap mujhase baat kar leejiega is baare mein dhanyavaad

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Deepak Sharma Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Deepak जी का जवाब
संस्कृतप्रचारक:
0:52
नमस्कार मित्र आपने प्रश्न किया है यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए मित्र माता पिता वह है जिन्होंने हमें इस दुनिया में जन्म दिया है अगर वह हमारा साथ नहीं दे रहे हैं तो इसका सबसे पहले कारण जानिए कि या तो हम गलत है या जिस कार्य के लिए हम उनका साथ चाहते हैं वह कार्य गलत है यह सही नहीं है कि माता-पिता से अलग हो जाना क्योंकि जब उन्होंने जन्म दिया है तो उनको उन्होंने हमसे ज्यादा दुनिया देखी है उन्हें सब पता होता है और क्या सही है क्या गलत यह वह जानते हैं इसलिए जरूरी नहीं कि वह हमेशा हर बार हमारा साथ दें धन्यवाद
Namaskaar mitr aapane prashn kiya hai yadi maata-pita hamaara saath na de to kya hamen maata-pita se alag ho jaana chaahie mitr maata pita vah hai jinhonne hamen is duniya mein janm diya hai agar vah hamaara saath nahin de rahe hain to isaka sabase pahale kaaran jaanie ki ya to ham galat hai ya jis kaary ke lie ham unaka saath chaahate hain vah kaary galat hai yah sahee nahin hai ki maata-pita se alag ho jaana kyonki jab unhonne janm diya hai to unako unhonne hamase jyaada duniya dekhee hai unhen sab pata hota hai aur kya sahee hai kya galat yah vah jaanate hain isalie jarooree nahin ki vah hamesha har baar hamaara saath den dhanyavaad

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Kanhiya Awasthi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Kanhiya जी का जवाब
Student
1:04
प्रश्न है यदि माता-पिता का हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग होना चाहिए गाना चाहिए नहीं माता आई माता पिता हमारे एक जीवन साथी होते हैं जिनसे हमें अलग नहीं हुआ चाहिए क्योंकि उन्होंने हमें थोड़ा पाल पोस कर बड़ा किया है वह जो करेंगे हमारे हित में ही करते हैं और जो होगा वह अच्छा ही होगा कोई छोड़कर चला जाए तो उस से मतलब नहीं मगर मैं आपको नहीं छोड़ना चाहिए किसी को और मिलनी है मां-बाप जो भी ढूंढ लेंगे जिसको भी दौड़ेंगे तुम्हारे लिए अच्छा ही होगा इसलिए कभी हम लोगों को अपने माता पिता को नहीं छोड़ना चाहिए माता पिता ही जीवन का संसार होते हैं इनसे अलग होना मतलब दुनिया से अलग हो इसलिए माता-पिता को कभी भी नहीं छोड़ना चाहिए कितनी भी कठिन से कठिन सोना है
Prashn hai yadi maata-pita ka hamaara saath na de to kya hamen maata-pita se alag hona chaahie gaana chaahie nahin maata aaee maata pita hamaare ek jeevan saathee hote hain jinase hamen alag nahin hua chaahie kyonki unhonne hamen thoda paal pos kar bada kiya hai vah jo karenge hamaare hit mein hee karate hain aur jo hoga vah achchha hee hoga koee chhodakar chala jae to us se matalab nahin magar main aapako nahin chhodana chaahie kisee ko aur milanee hai maan-baap jo bhee dhoondh lenge jisako bhee daudenge tumhaare lie achchha hee hoga isalie kabhee ham logon ko apane maata pita ko nahin chhodana chaahie maata pita hee jeevan ka sansaar hote hain inase alag hona matalab duniya se alag ho isalie maata-pita ko kabhee bhee nahin chhodana chaahie kitanee bhee kathin se kathin sona hai

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
neelam mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए neelam जी का जवाब
I am nurse
1:51
नमस्कार दोस्तों आपका सवाल है यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए जी बिल्कुल नहीं हमें अपने माता-पिता का साथ कभी नहीं छोड़ना चाहिए अगर वह हमारा साथ ना दे रहे हो दोनों से बैठ के बात किया जा सकता है उन्हें अपनी समस्या अपनी परेशानी बताई जा सकती है और कोई भी दुनिया का ऐसा मां-बाप नहीं जो अपने बच्चों का बात नहीं सुनेगा बच्चों का भला नहीं जाएगा हमारे मां-बाप हमारा साथ कभी नहीं देते हैं जब वह चीज हमारे लिए सही नहीं होती क्योंकि हम से वह बड़े हैं हमसे ज्यादा उन्होंने दुनिया देखी हमसे ज्यादा वह समाज को जानते हैं हमारा साथ हो तभी नहीं देंगे जब उस चीज हमारे लिए गलत होगा और अगर वह गलत होगा या फिर नहीं होगा अगर चलो मान लो मेरी गलत नहीं है फिर भी मां-बाप उस चीज को 2:00 से बैठ कर बात किया जा सकता है उन्हें समझाया जा सकता है नहीं बनाया जा सकता है लेकिन किसी भी हालत में अपने मां-बाप को छोड़ा नहीं जा सकता है और कभी भी अपने मां-बाप के साथ नहीं होना झलक नहीं होना चाहिए क्योंकि उन्होंने हमें पैदा किया बहुत तकलीफ झेल के पैदा किया अब पढ़ाया लिखाया हमें इस काबिल बनाया है कि आज हम उनसे यह कहे कि हमारा साथ नहीं दे रहे हैं तो अलग हो जाएं क्योंकि जब हम छोटे थे जब हमें जरूरत थी जब हम चल नहीं सकते थे हम खुद से खा नहीं सकते थे खुद का काम नहीं कर सकते थे तब मां बाप ने उस समय हमारा साथ खड़ा होके हमारा साथिया आज नहीं जब हमारी जरूरत होगी तो समय हमसे अलग हो जाए यह बहुत बुरा होगा तो ऐसा कभी नहीं करना चाहिए मां बाप अगर हमारा साथ नहीं दे रहे हैं तो उन्हें किसी तरह से भी नहीं जा सकते उन्हें समझाया जा सकता है हमारा साथ देने के लिए लेकिन उनसे अलग होना कोई ऑप्शन नहीं है तो उसने तो मेरे हिसाब से कभी भी अपने मां-बाप से अलग नहीं होना चाहिए चाहे कोई भी परिस्थिति हर परिस्थिति में अपने मामा के साथ खड़ा रहना चाहिए धन्यवाद
Namaskaar doston aapaka savaal hai yadi maata-pita hamaara saath na de to kya hamen maata-pita se alag ho jaana chaahie jee bilkul nahin hamen apane maata-pita ka saath kabhee nahin chhodana chaahie agar vah hamaara saath na de rahe ho donon se baith ke baat kiya ja sakata hai unhen apanee samasya apanee pareshaanee bataee ja sakatee hai aur koee bhee duniya ka aisa maan-baap nahin jo apane bachchon ka baat nahin sunega bachchon ka bhala nahin jaega hamaare maan-baap hamaara saath kabhee nahin dete hain jab vah cheej hamaare lie sahee nahin hotee kyonki ham se vah bade hain hamase jyaada unhonne duniya dekhee hamase jyaada vah samaaj ko jaanate hain hamaara saath ho tabhee nahin denge jab us cheej hamaare lie galat hoga aur agar vah galat hoga ya phir nahin hoga agar chalo maan lo meree galat nahin hai phir bhee maan-baap us cheej ko 2:00 se baith kar baat kiya ja sakata hai unhen samajhaaya ja sakata hai nahin banaaya ja sakata hai lekin kisee bhee haalat mein apane maan-baap ko chhoda nahin ja sakata hai aur kabhee bhee apane maan-baap ke saath nahin hona jhalak nahin hona chaahie kyonki unhonne hamen paida kiya bahut takaleeph jhel ke paida kiya ab padhaaya likhaaya hamen is kaabil banaaya hai ki aaj ham unase yah kahe ki hamaara saath nahin de rahe hain to alag ho jaen kyonki jab ham chhote the jab hamen jaroorat thee jab ham chal nahin sakate the ham khud se kha nahin sakate the khud ka kaam nahin kar sakate the tab maan baap ne us samay hamaara saath khada hoke hamaara saathiya aaj nahin jab hamaaree jaroorat hogee to samay hamase alag ho jae yah bahut bura hoga to aisa kabhee nahin karana chaahie maan baap agar hamaara saath nahin de rahe hain to unhen kisee tarah se bhee nahin ja sakate unhen samajhaaya ja sakata hai hamaara saath dene ke lie lekin unase alag hona koee opshan nahin hai to usane to mere hisaab se kabhee bhee apane maan-baap se alag nahin hona chaahie chaahe koee bhee paristhiti har paristhiti mein apane maama ke saath khada rahana chaahie dhanyavaad

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Lali Shukla Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Lali जी का जवाब
Unknown
1:21
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या मैं माता-पिता से अलग होना चाहिए यह बहुत ही खराब सवाल है उन्होंने हमें हमें बड़ा किया ऑल पहुंच कर माता ने 9 महीने में गर्भ में रखा और यह क्या बात हुई कि हमें माता-पिता से अलग होना चाहिए जब आप माता-पिता को जब बचपन में सताते हैं तो क्या कर्तव्य करते हैं कि जाने दो उस को भगाओ यहां से हमें क्या करना है इसका तो क्या माता-पिता भी हमको कहीं नाली में डाल आते हैं क्या कि इतना रोता है इनकी मतलब मल मूत्र साफ करते हैं हमारे माता-पिता ने कितनी कट जाए उसमें पाल पोस कर बड़ा किया इसलिए कि हमको यह बुढ़ापे में तो माता-पिता से अलग हो जाएंगे कोई बात पहली बात तो माता-पिता हमारे हर काम में हमारा साथ देते हैं कई माता-पिता होते हैं ऐसे जो सिर्फ अच्छे में देते कोई भी माता-पिता अपने बच्चे के साथ देगा यह बहुत ही बिल्कुल नहीं लगता है मुझसे भी उनका मानना है
Yadi maata-pita hamaara saath na de to kya main maata-pita se alag hona chaahie yah bahut hee kharaab savaal hai unhonne hamen hamen bada kiya ol pahunch kar maata ne 9 maheene mein garbh mein rakha aur yah kya baat huee ki hamen maata-pita se alag hona chaahie jab aap maata-pita ko jab bachapan mein sataate hain to kya kartavy karate hain ki jaane do us ko bhagao yahaan se hamen kya karana hai isaka to kya maata-pita bhee hamako kaheen naalee mein daal aate hain kya ki itana rota hai inakee matalab mal mootr saaph karate hain hamaare maata-pita ne kitanee kat jae usamen paal pos kar bada kiya isalie ki hamako yah budhaape mein to maata-pita se alag ho jaenge koee baat pahalee baat to maata-pita hamaare har kaam mein hamaara saath dete hain kaee maata-pita hote hain aise jo sirph achchhe mein dete koee bhee maata-pita apane bachche ke saath dega yah bahut hee bilkul nahin lagata hai mujhase bhee unaka maanana hai

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
kamlesh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए kamlesh जी का जवाब
Berojagaar
0:07

bolkar speaker
यदि माता-पिता हमारा साथ ना दे तो क्या हमें माता-पिता से अलग हो जाना चाहिए?Yadi Mata Pita Humara Saath Na De To Kya Hume Mata Pita Se Alag Ho Jana Chaiye
Umesh Upaadyay Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Umesh जी का जवाब
Life Coach | Motivational Speaker
3:59
अलग अलग व्यक्ति के अलग-अलग राय होगी लेकिन जो मैं बोल रहा हूं यह मेरी माता मेरी अपनी राय है नहीं दे रहे हैं तो ऐसा होगा नहीं कि किसी भी चीज में साथ नहीं दे रहे हो सकता है आपकी एक बात में एक साला में एक प्रोफेशनल यूज़ करना चाहते हैं कोई काम करना चाहते हैं वहां पर उनकी रजामंदी ना आप अपनी पसंद की लड़की के साथ शादी करना चाहते हैं वहां पर हो सकते उनकी रजामंदी ना हो यह ऐसा हो सकता है ऐसा कई बार ऐसा भी हो सकता है कि चलो आपकी बात मान लेते हैं कि वह वह आपके किसी भी बात से संतुष्ट नहीं है आपके साथ नहीं दे रहे हैं सभी होता है हो सकता है तुझे ऐसे में सबसे आसान तो यह होता है कि आप उनसे अलग हो जाएं और फिर वह करें जो आप कहना चाहते थे लेकिन सोच कर देखिए आप अलग हो जाते हैं तो क्या वह आपको सुख देगा टेंपरेरिली कुछ समय तक आपको लगेगा कि हां आपने वह हासिल कर लिया जो आप करना चाहते हैं हीरो आप बाबू बन गए आपने वह पालिया वगैरा-वगैरा ध्यान से देखेंगे तो आपको लगेगा कि उस खुशी का क्या फायदा जब खुशी में मेरे अपने ही शामिल ना हो और मेरे अपने कौन है यहां पर हमारे अपने माता-पिता का आशीर्वाद है उनकी ब्लेसिंग से उनका साथ अच्छा लगता है कि नहीं लगता उन्होंने हमें आप मेरे अच्छे तरीके से परवरिश दिए हमारे लालन-पालन किया है आज अगर किसी बात से नाखुश है तो हो सकता है हमारी भी कोई गा लेती हो सकते हैं उनका ऐसा नजरिया हो गया जो भी कुछ हो भाई मैं यह नहीं बोल रहा कि हमेशा वन कुमारी बन्ना एक्जेक्टली वैसे ही बना है लेकिन भाई भले ही अगर वह हमसे ना खुश हैं तो क्या इस चीज को बैलेंस किया जा सकता है क्या इसको थोड़ा सा वर्क आउट किया जा सकता है पहले वह प्रयास करना चाहिए अगर नहीं होता तो भी अलग नहीं होना चाहिए क्योंकि नहीं वह मेरा साथ नहीं दे रहे हैं लेकिन हमारे तो यह फर्ज बनता है ना क्योंकि कि हम उनका साथ दें क्योंकि कल या आने वाले समय में वह धीरे-धीरे वृद्ध होते चले जाएंगे और उनको हमारे साथ कि हमारे सहायता की जरूरत पड़ेगी हमारे प्रेजेंट की जरूरत पड़ेगी तो उस समय अगर हम उनके पास नहीं रहेंगे तो क्या ही अच्छी बात है सही बात है नहीं ना तुझको देखे तो इसीलिए भी भले ही वह आ जाते ना खुशियां जो भी कोई बात है वह आपके साथ नहीं दे रहे हैं लेकिन एक बच्चे का लड़का हो या लड़की फर्स्ट क्या होता है यही होता है ना कि अपने माता-पिता की सेवा करें जिन्होंने उनको या हमको ऐसा जीवन में सब कुछ देने का प्रयास किया है जो अच्छा ही होता है बचपन से लेकर अभी तक आज अगर कुछ बातें ऐसी है कुछ कहा नहीं आती है तो चलो कोई बात नहीं हम इसको ने गेट छोड़ना करते उनकी पूरी मेहनत की मेहनत को 15 20 साल 25 साल 30 साल जो उन्होंने आम पर लगाए हैं हमारे परवरिश में लगाए हैं देखरेख में लगाए हैं है ना तो मैं तो कुछ ऐसा देखता हूं सोचता हूं समझता हूं पर एक ही घर में आप रह रहे हैं और उनका साथ नहीं है रजामंदी नहीं है आपको ऐसा गलत काम मत कीजिए जिनसे उनकी आत्मा को ठेस पहुंचे उन को दुख पहुंचा बाकी पर या फिर भी यही करना चाहिए कि हम उनके साथ रहकर अब उनको जितना मदद हो सके और वह करें बाय भेजो मैं यह बोल रहा हूं यह खाली थियोरेटिकल नहीं है मैंने खुद भी एक्सपीरियंस किया है लाइफ और अपने तजुर्बे से मैं यह बता रहा हूं तो यह ऐसा नहीं है कि भाई मैं दूसरों के लिए ज्ञान दे रहा हूं यह जो मैं बता रहा हूं यह मुझ पर भी लागू है और मैं भी यही जीवनशैली अपनाता हूं और मुझे भी यही पसंद है बाकी आपको जैसा ठीक लगे
Alag alag vyakti ke alag-alag raay hogee lekin jo main bol raha hoon yah meree maata meree apanee raay hai nahin de rahe hain to aisa hoga nahin ki kisee bhee cheej mein saath nahin de rahe ho sakata hai aapakee ek baat mein ek saala mein ek propheshanal yooz karana chaahate hain koee kaam karana chaahate hain vahaan par unakee rajaamandee na aap apanee pasand kee ladakee ke saath shaadee karana chaahate hain vahaan par ho sakate unakee rajaamandee na ho yah aisa ho sakata hai aisa kaee baar aisa bhee ho sakata hai ki chalo aapakee baat maan lete hain ki vah vah aapake kisee bhee baat se santusht nahin hai aapake saath nahin de rahe hain sabhee hota hai ho sakata hai tujhe aise mein sabase aasaan to yah hota hai ki aap unase alag ho jaen aur phir vah karen jo aap kahana chaahate the lekin soch kar dekhie aap alag ho jaate hain to kya vah aapako sukh dega temparerilee kuchh samay tak aapako lagega ki haan aapane vah haasil kar liya jo aap karana chaahate hain heero aap baaboo ban gae aapane vah paaliya vagaira-vagaira dhyaan se dekhenge to aapako lagega ki us khushee ka kya phaayada jab khushee mein mere apane hee shaamil na ho aur mere apane kaun hai yahaan par hamaare apane maata-pita ka aasheervaad hai unakee blesing se unaka saath achchha lagata hai ki nahin lagata unhonne hamen aap mere achchhe tareeke se paravarish die hamaare laalan-paalan kiya hai aaj agar kisee baat se naakhush hai to ho sakata hai hamaaree bhee koee ga letee ho sakate hain unaka aisa najariya ho gaya jo bhee kuchh ho bhaee main yah nahin bol raha ki hamesha van kumaaree banna ekjektalee vaise hee bana hai lekin bhaee bhale hee agar vah hamase na khush hain to kya is cheej ko bailens kiya ja sakata hai kya isako thoda sa vark aaut kiya ja sakata hai pahale vah prayaas karana chaahie agar nahin hota to bhee alag nahin hona chaahie kyonki nahin vah mera saath nahin de rahe hain lekin hamaare to yah pharj banata hai na kyonki ki ham unaka saath den kyonki kal ya aane vaale samay mein vah dheere-dheere vrddh hote chale jaenge aur unako hamaare saath ki hamaare sahaayata kee jaroorat padegee hamaare prejent kee jaroorat padegee to us samay agar ham unake paas nahin rahenge to kya hee achchhee baat hai sahee baat hai nahin na tujhako dekhe to iseelie bhee bhale hee vah aa jaate na khushiyaan jo bhee koee baat hai vah aapake saath nahin de rahe hain lekin ek bachche ka ladaka ho ya ladakee pharst kya hota hai yahee hota hai na ki apane maata-pita kee seva karen jinhonne unako ya hamako aisa jeevan mein sab kuchh dene ka prayaas kiya hai jo achchha hee hota hai bachapan se lekar abhee tak aaj agar kuchh baaten aisee hai kuchh kaha nahin aatee hai to chalo koee baat nahin ham isako ne get chhodana karate unakee pooree mehanat kee mehanat ko 15 20 saal 25 saal 30 saal jo unhonne aam par lagae hain hamaare paravarish mein lagae hain dekharekh mein lagae hain hai na to main to kuchh aisa dekhata hoon sochata hoon samajhata hoon par ek hee ghar mein aap rah rahe hain aur unaka saath nahin hai rajaamandee nahin hai aapako aisa galat kaam mat keejie jinase unakee aatma ko thes pahunche un ko dukh pahuncha baakee par ya phir bhee yahee karana chaahie ki ham unake saath rahakar ab unako jitana madad ho sake aur vah karen baay bhejo main yah bol raha hoon yah khaalee thiyoretikal nahin hai mainne khud bhee eksapeeriyans kiya hai laiph aur apane tajurbe se main yah bata raha hoon to yah aisa nahin hai ki bhaee main doosaron ke lie gyaan de raha hoon yah jo main bata raha hoon yah mujh par bhee laagoo hai aur main bhee yahee jeevanashailee apanaata hoon aur mujhe bhee yahee pasand hai baakee aapako jaisa theek lage

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • माता-पिता का सम्मान माता पिता की सेवा
URL copied to clipboard