#जीवन शैली

Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:39
नमस्कार प्रश्न है कि किस प्रकार मनुष्य परिस्थितियों को बदल सकता है या प्रस्तुतियां मनुष्य यदि मनुष्य ने ठान रखा है और वह हार नहीं मानता तू परिस्थितियों को बदल सकता है और परिस्थितियां अगर हावी हो जाए और मनुष्य हार मान ले तो रसिया मनुष्य को बदल देती है इसलिए यह निर्भर करता है उस व्यक्ति की सोच पर उस व्यक्ति के माइंडसेट पर की परिस्थितियों को बदलना है कि आप प्रस्तुतियों के अनुकूल खुद को बदलना धन्यवाद

और जवाब सुनें

Deven  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Deven जी का जवाब
Valuepreneur Adventurer Life Explorer Dreamer
4:51
किस प्रकार एक मनुष्य परिस्थितियों को बदल दिया परिस्थितियां मनुष्य को बदल सकती है लेकिन अकेले में नहीं करती जब ह्यूमन बिंग साथ पैदा होते हैं उनके आसपास होते हैं उनका एक बार भी एनुअल मीट आदि उपस्थित थे हमारा कंट्रोल नहीं होता है और यह जो इफेक्ट होता है जो ह्यूमन लाइफ बनती है यह शिव मंत्र इफेक्ट उनके परिस्थितियों पर उस परिस्थिति का एक ही मन में ये दोनों का मिश्रण होता है एक सिंपल सा एग्जांपल देता अभी कोविड-19 लेना कल मैं आपकी सिचुएशन अच्छी बनी है कि कोई एक महामारी चल तो यह परिस्थिति में सुमन लाइफ इंपैक्ट हुई है और सुमन लाइट्स ने परिस्थिति को भी इंपैक्ट किया है आने पर टूटी वहां से जैसे वैक्सिंग फ्रेश होना या सोशल डिस्टेंसिंग मांगता हूं तो यह ह्यूमन अकेले नहीं जी सकता उसने इनको हमेशा इंवॉल्वमेंट साथी जीवन जीना पड़ता क्योंकि हमारा हम अविभाज्य घटक है इस यूनिवर्सल अब एक परिचित क्या होता है कि एक मनुष्य के अंदर में जब अर्जित परिस्थितियों में रह रहे उपस्थित है बहुत बार ऐसा होता है कि अगर मनुष्य अवेयरनेस को जानकारी नहीं होती के किस तरीके से बाहरी परिस्थिति उसके माइंड के अंदर कर ली तो धीरे-धीरे क्या होता है या सरकंडी में चलते रहते तो क्या यह इंटरेक्शन आपका कंटिन्यू चल रहा है उस परिस्थिति में उन लोगों के साथ हो फिर भी हमें उस माहौल में आप पढ़ रहे हो पढ़ रहे हो पढ़ रहे हो तो देदे क्या होता है कि आप इस बात पर गौर करना आप जैसे अच्छे लोगों के साथ रहते हो मैंने जो भी सोच आपके घर वालों की होगी आपके दोस्तों के होगी उसे अपने आप और किसी और यह खुद तो पर गांव करना या फिर अपने आसपास के लोगों पर कॉल कर उनकी सोच के ऊपर कॉल करना ही क्यों होता है क्योंकि आप चाहो या ना चाहो तो भी आप जब प्रेम हंड्रेड परसेंट वर्किंग मॉडल ऑफ 714 बीपी पिक्चर दो तभी तो आप जाते हो तो आप बहुत सारी चीजों को कंट्रोल नहीं करते आप क्या कौन क्या कर रहा है आप क्या टीवी देख लो आप फेसबुक पर क्या देख लो कंट्रोल नहीं करते और हमारे प्रेम को क्या होता है कि ऐसे नए चीजों से बुरा लगा होता है यूट्यूब में उसको पढ़ना अच्छा लगता है नहीं हम पढ़ते हैं बहुत ऐसी न्यूज़ हम पढ़ते क्राइम को लेकर बड़ा अच्छा लगता है सब पढ़ने में प्रेम को पढ़ते भी रहते हैं लोगों से सुनते रहते हैं पिक्चर और ज्यादा तो तुम करते क्या हो रहा है जाने अनजाने में परिस्थितियों के छोटे-छोटे घटक है जो आपके ऊपर अभी प्रभाव डालता के प्रेम और वैसे ही उल्टा प्रतिबल लेकिन होता है क्या है कि मनुष्य उतना अगर ही नहीं होता है उसकी लाइफ में क्यों क्यों पूरे जग भर में क्यूट है से तीन परसेंट लोग इससे स्कूलों का चोर बाकी के लोग नहीं होगा इसका कारण यह है कि बहुत सारे लोग का रास्ता उनके जीवन में वह सुबह उठते हैं काम पर जाते हैं शाम को खाना खाते हो सोते हैं और लगभग यही चलता मैं कल एलपीजी दौड़ते एकदम से कुछ संकट आ जाता है अब घबरा जाते थोड़ा बहुत उच्च विचार करते हैं या नहीं भी करते लेकिन मनुष्य की लाइफ के स्तर पर है जिस से भी ऊपर उठना है और यह उठना ही चाहिए क्योंकि तभी तो उसका मीनिंग है कि ना पहने जल्दी कहां जाएगा खुद पर काम करना आप मेडिटेशन कर और कुछ अच्छा ट्रीन लहरपुर खुद के ऊपर पंकिस्तान काम करना तो उससे क्या होता 1st लेवल बढ़ जाएगा जड़ से साफ क्या भेजने फिल्म लेवल बढ़ती जाएगी आप पर ही कोई नफरत करना शुरू करो आपको फर्क नहीं पड़ता है कि बाहर में क्या हो रहा है आपके हिसाब से आप की चीजें करते हो और आप आओ वेयर रहते हो ऐसे लोगों के बारे में ऐसी परिस्थिति के बारे में जो आकर को धड़क रही है और नेगेटिव एनर्जी आपके अंदर डालनी है अपने आप आगे रहने से क्या होता है वह चीज में आएगी आप जैसा फोर व्हीलर चला रहे हो आप अकेले हो कि कोई आकर खुद धड़कन तो उस हिसाब से आप लेफ्ट राइट करते रहना चाहिए अगर लाइफ में होना है अगर उसको तिलक से ही रख लो गणपति सुपरहिट

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • किस प्रकार एक मनुष्य परिस्थितियों को बदल सकता है या परिस्थितियां मनुष्य को किस प्रकार एक मनुष्य परिस्थितियों को बदल सकता है
URL copied to clipboard