#भारत की राजनीति

bolkar speaker

राज्यपाल पद की क्या जरूरत है?

Rajypal Pad Ki Kya Jarurat Hai
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
1:00
नमस्कार आपका प्रश्न राज्यपाल पद की क्या जरूरत है तो आपको बता दें कि जो संघ का ढांचा है यहां पर भारत में उसमें जो राष्ट्रपति है वो सबसे ऊपर सब सर्वप्रथम आते हैं और उनके रिप्रेजेंटेटिव राज्यपाल के रूप में राज्यों में सबसे ऊपर आते हैं इसे कैसे अगर वैसे देखा जाए तो लोकसभा में जो टॉप वो सोते हैं वह प्रधानमंत्री होते हैं जो राज्य में होते हैं वहां पर चीफ मिनिस्टर होता है तो इस तरह की संघीय व्यवस्था यहां पर है तो जो राज्यपाल है वह राष्ट्रपति के रिपिटेटिव है और अगर किसी कारण से उस राज्य में कोई सरकार नहीं है या फिर वह सरकार हटा ली गई है या संसद भंग हो गई है वहां की तो फिर ऐसी स्थिति में राज्यपाल का शासन लग जाता है और वह फिर राष्ट्रपति के द्वारा ही लगाया जाता है मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद

और जवाब सुनें

bolkar speaker
राज्यपाल पद की क्या जरूरत है?Rajypal Pad Ki Kya Jarurat Hai
Udham Prasad Gautam Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Udham जी का जवाब
Unknown
0:57
तो नमस्कार गुड मॉर्निंग आपका प्रश्न है कि राज्यपाल पद की क्या जरूरत है वस्तुत जरूरत है बिना जरूरत के राज्यपाल पद आता ही नहीं क्योंकि संविधान के नियम के अनुसार जितने भी सरकारी पद हैं ठीक है चाहे राष्ट्रपति हो प्रधानमंत्री हो ठीक है और जितने भी मुख्यमंत्री जाए कुछ भी पद हो अगर वह संविधान के लिए थे नियमों का पालन करता है तो उसको कहीं न कहीं शिकंजा भी कसने के लिए संविधान के नियम रूल द्वारा एक पद बनाए जाते हैं ठीक है तो उस तरह से ताकि कोई भी अपना मनमानी ना कर पाए इतनी राज्यपाल पद की भी जरूरत पड़ती है क्योंकि मुख्यमंत्री अगर अपनी कार्यवाही करने लगे अपनी मनमानी करने लगे उसका जो है डाटा कलेक्ट कर के राज्यपाल खुद राष्ट्रपति को देता है जिससे वह डर बना रहता है कि दायमा मुख्यमंत्री जो है वह कोई उल्टा पुल्टा कार्य ना करें ठीक है इसलिए राज्यपाल पद की जरूरत पड़ती है ठीक है दोस्तों धन्यवाद

bolkar speaker
राज्यपाल पद की क्या जरूरत है?Rajypal Pad Ki Kya Jarurat Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
1:42
मैं सवाल पूछा कि राज्यपाल पद की क्या जरूरत तो राज्यपाल भारत के संविधान का संख्यात्मक विश्लेषण तथा राज्यों के सत्संग के संबंध में प्रस्ताव किया गया है सविधान के भाग 6 में राज्य शासन के लिए प्रस्ताव राज्य की सब्जी प्रचलित शब्द राज्यपाल की नियुक्ति राज्यों के मेवाती तथा केंद्र शासित प्रदेशों में उप राज्यपाल की नियुक्ति होती है भारत में 8 केंद्र शासित प्रदेश है जिनमें से 3 केंद्र शासित राज्य के उप राज्यपाल बनने में 3 केंद्र शासित राज्य निम्न में से अंडमान निकोबार दीप समूह जिले के फर्नीचर के 4 केंद्र शासित राज्यों के प्रशासनिक होते हैं जहां पर उप राज्यपाल का पद नहीं होता है वह 5 केंद्र शासित राज्य चंडीगढ़ दमन और दीव दादरा हवेली और लक्ष्यदीप जम्मू कश्मीर लद्दाख राज्य की कार्यपालिका का प्रमुख राज्यपाल गवर्नर होता है जो कि मंत्रिपरिषद मंत्रिपरिषद की सलाह के अनुसार कार्य करते हैं कुछ मामलों में राज्यपाल की विवेक का अधिकार दिया जाता है ऐसे में ऐसे मामलों में मंत्रिपरिषद की सलाह के बिना ही कार्य कर सकता है राज्यपाल अपने राज्य के सभी विश्वविद्यालय के कुलाधिपति भी होते हैं उनकी सूची राज्य में वह होती है जो केंद्र के केंद्र में राष्ट्रपति की होते हैं केंद्र शासित प्रदेशों में उपराज्यपाल होते हैं और सातवें संशोधन 1956 के तहत एक राज्यपाल एक से अधिक राज्यों के लिए भी नुक्ती किया जाता है धन्यवाद

bolkar speaker
राज्यपाल पद की क्या जरूरत है?Rajypal Pad Ki Kya Jarurat Hai
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:48
कहे कि पर राज्यपाल पद की क्या जरूरत है जिस प्रकार देश के लिए राष्ट्रपति का पद होता है उसी प्रकार राज्य के लिए राज्यपाल का पद होता है कभी-कभी सरकार सही ढंग से काम करने पर राज्य सरकार है वह सही तरीके से नहीं चलती है तो उस वक्त राष्ट्रपति शासन लगाया जाता है तो उसके लिए जो निर्णय है वह सारे राज्यपाल ही लेता है तो इसलिए बहुत सारे काम ऐसे होते हैं जो जिनमें सामंजस्य बैठाने के लिए राज्य सरकार और केंद्र के बीच का कार्य राज्यपाल करते थे से राजस्थान में मारो कांग्रेस की सरकार केंद्र में बीजेपी की सरकार है तो उनका मत था कि राज्यपाल होते हैं इसलिए जरूरी है क्योंकि यह किसी राजनीतिक पार्टी से जुड़ा हुआ नहीं होता इसलिए निष्पक्षता के लिए यह पद सृजित किया गया है धन्यवाद

bolkar speaker
राज्यपाल पद की क्या जरूरत है?Rajypal Pad Ki Kya Jarurat Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:40
पदवीधर क्यों राज्यपाल पद की जरूरत इसलिए है क्योंकि राज्य के ऊपर जब केंद्र का डायरेक्ट नियंत्रण नहीं होता है किस स्टेट के ऊपर हिसाब से राज्य सरकार को कहते हैं परंतु हम राज्य किसी हमारे स्टेट जॉब पर है राजस्थान और मध्य प्रदेश हो गए इन चीजों को लेकर की बात कर रहा हूं वहां पर मुख्यमंत्री और प्रशासन किस तरीके से काम कर रहा है किस तरीके से नहीं क्यों तानाशाही के ऊपर चल रहा है या किसी और तरीके से बंदोबस्त करने के लिए राज्यपाल की नियुक्ति दोस्तों के ऊपर ध्यान रखें

bolkar speaker
राज्यपाल पद की क्या जरूरत है?Rajypal Pad Ki Kya Jarurat Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
2:27
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है राज्यपाल पद की क्या जरूरत होती है तो तू आजा नोट कौन सी पोस्ट के अनुसार जानकारी लेते हैं दोस्तों किसी भी प्रदेश का एक ही राज्यपाल होता है लेकिन एक शख्स दो राज्यों का राज्यपाल नियुक्त हो सकता है राज्यपाल संसद या विधानसभा का सदस्य नहीं हो सकता और उन्हें कई शक्तियां दी जाती है जिसके अनुसार उन्हें गिरफ्तार करने के लिए भी अलग-अलग प्रावधान होता है जो राज्यपाल की शक्तियां कार्यकारी विधान नए को आपात काल के आधार पर विभाजित किया गया है राज्यपाल मुख्यमंत्री समेत कई उच्च पद पर नियुक्त करता है राज्यपाल की स्थिति उसी तरह होती है जिस तरह देश में राष्ट्रपति की होती है दोस्तों राज्यपाल सुनिश्चित करता है कि वार्षिक वित्तीय विवरण यानी राज्य बजट बजट को राज्य विधानमंडल के सामने रखा जाए धन विधायकों को राज्यपाल की पूर्व अनुमति के बाद ही विधानसभा में प्रस्तुत किया जा सकता है उनकी सहमति के बिना किसी अनुदान की मांग नहीं की जा सकती पंचायतों एवं नगर पालिकाओं की वित्तीय स्थिति की हर 5 साल में समीक्षा के लिए वह वित्त आयोग का गठन करता है राज्यपाल किसी दोषी की सजा में बदलाव या फैसले पर रोक लगा सकता है राज्यपाल अपने विवेक के आधार पर कुछ स्थितियों में बिना मंत्रियों की सलाह दी काम करता है साथ ही राज्यपाल को विधानसभा में संदेश भेजने संबोधन देने संबंधित वह सभी अधिकार होते हैं जो कि राष्ट्रपति को संसद के लिए होते हैं किसी भी विधानसभा में पास हुए बिल राज्यपाल की सहमति के बिना कानून नहीं बन सकते हैं ना कि मंदिर के अलावा राज्यपाल भी राज्यपाल सभी बिल को वापस भेज सकता है जब कोई भी पार्टी को विधानसभा में बहुमत हासिल नहीं होता है जो राज्यपाल मुख्यमंत्री चुनने के लिए विशेष अधिकार का इस्तेमाल करता है वही आपातकाल के वक्त वे राष्ट्रपति के बिहाव बाद राष्ट्रपति कानून लागू करता है तो दोस्तों इस प्रकार से राज्यपाल के पद की अहमियत होती है धन्यवाद

bolkar speaker
राज्यपाल पद की क्या जरूरत है?Rajypal Pad Ki Kya Jarurat Hai
Naayank Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Naayank जी का जवाब
College
2:14
लिखकर हिंदी में राष्ट्रपति प्रमुख राष्ट्रपति होता है उसी प्रकार राज्य में राज्य का कौन सा राज्य पर प्रत्येक राज्य का राज्यपाल दृष्टि केंद्रीय मंत्रिमंडल की सिफारिश पर राष्ट्रपति द्वारा नियुक्त किया जाता है एवं वह राज्य के मुख्यमंत्री किस नाम से बुला सकता है उसकी प्रत्येक राज्य का राज्यपाल वहां लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई सरकार के संचालन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है भारतीय संविधान के अनुच्छेद सूचित किया गया राज्य के राज्यपाल की भूमिका कमोबेश देश के राष्ट्रपति के समान होती है राज्यपाल समानता राज्य के लिए राष्ट्रपति जैसी भूमिका निर्वाह करते हैं उसका चार भागों में काम बटा हुआ है एक है कार्यकारी एक या विधायक इंडियन इकोनॉमिक और एक है न्यायिक में विभाग अब कार्यकारी की बात करें तो इसमें बहुमत प्राप्त दल के नेता को राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में नियुक्त करना राज्य मंत्रिमंडल के गठन में मुख्यमंत्री की सहायता करना भी शामिल है ताकि राज्य के महाधिवक्ता तथा राज्य लोक आयोग के अध्यक्ष सदस्यों की नियुक्ति का कार्य में राज्यपाल द्वारा ही किया जाता है विधायकों ने राज्यपाल के पास राज्य की विधान सभा की बैठक को किसी भी आपात स्थिति में बुलाने और किसी भी समय का गीत करने का अधिकार होता है साथ में दोनों सदनों की संयुक्त बैठक बुलाने का भी अधिकार होता है राज्यपाल को सुनिश्चित करने का राज्य विधान मंडल मंडल के सामने रखा जाये साथ ही किसी भी धन विधेयक को विधानसभा में उसके अनुमति के बाद ही प्रस्तुत किया जा सकता है राज्यपाल की न्यायिक कार्यों में राज्य के उच्च न्यायालय के साथ विचार करें जिला न्यायाधीशों की नियुक्ति अंतरण और पदोन्नति संबंधी निर्णय लेने
Likhakar hindee mein raashtrapati pramukh raashtrapati hota hai usee prakaar raajy mein raajy ka kaun sa raajy par pratyek raajy ka raajyapaal drshti kendreey mantrimandal kee siphaarish par raashtrapati dvaara niyukt kiya jaata hai evan vah raajy ke mukhyamantree kis naam se bula sakata hai usakee pratyek raajy ka raajyapaal vahaan lokataantrik roop se chunee gaee sarakaar ke sanchaalan mein mahatvapoorn bhoomika nibhaata hai bhaarateey sanvidhaan ke anuchchhed soochit kiya gaya raajy ke raajyapaal kee bhoomika kamobesh desh ke raashtrapati ke samaan hotee hai raajyapaal samaanata raajy ke lie raashtrapati jaisee bhoomika nirvaah karate hain usaka chaar bhaagon mein kaam bata hua hai ek hai kaaryakaaree ek ya vidhaayak indiyan ikonomik aur ek hai nyaayik mein vibhaag ab kaaryakaaree kee baat karen to isamen bahumat praapt dal ke neta ko raajy ke mukhyamantree ke roop mein niyukt karana raajy mantrimandal ke gathan mein mukhyamantree kee sahaayata karana bhee shaamil hai taaki raajy ke mahaadhivakta tatha raajy lok aayog ke adhyaksh sadasyon kee niyukti ka kaary mein raajyapaal dvaara hee kiya jaata hai vidhaayakon ne raajyapaal ke paas raajy kee vidhaan sabha kee baithak ko kisee bhee aapaat sthiti mein bulaane aur kisee bhee samay ka geet karane ka adhikaar hota hai saath mein donon sadanon kee sanyukt baithak bulaane ka bhee adhikaar hota hai raajyapaal ko sunishchit karane ka raajy vidhaan mandal mandal ke saamane rakha jaaye saath hee kisee bhee dhan vidheyak ko vidhaanasabha mein usake anumati ke baad hee prastut kiya ja sakata hai raajyapaal kee nyaayik kaaryon mein raajy ke uchch nyaayaalay ke saath vichaar karen jila nyaayaadheeshon kee niyukti antaran aur padonnati sambandhee nirnay lene

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • राज्यपाल पद की क्या जरूरत है राज्यपाल पद की जरूरत
URL copied to clipboard