#जीवन शैली

bolkar speaker

यदि जीवन एक बधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें?

Yadi Jivan Ek Badhua Majdur Ki Tarah Lagne Lage To Kya Kare
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:54
क्या हमारे मोबाइल नंबर का हमारे जीवन पर कुछ प्रभाव पड़ता है यह बिल्कुल आप के मोबाइल नंबर काफी जीवन के पर काफी प्रभाव पड़ता है क्योंकि आपका जो नंबर होता है दोस्तों उसी पर ऊपर आपके जो कॉल वगैरह कुछ भी आता है वो बिजनेस रिलेटेड होते हैं आपकी फैमिली के रिलेटेड होते हैं हर व्यक्ति के पास होने लगा है किसी को भी कोई फिक्र होती है आपकी यह किसी व्यक्ति को आप की होती है तो दीजिए मोबाइल नंबर का बहुत ज्यादा महत्व हो जाता है क्योंकि आप उसी नंबर पर कॉल करते हैं और अपने हाल-चाल पूछते परेशानी है तकलीफ अपना बिजनेस करते हैं परंतु आपके व्यवसाय को लेकर के आपके जीवन को लेकर भी काफी ज्यादा इसमें प्रभाव देखने को मिलता है धन्यवाद

और जवाब सुनें

bolkar speaker
यदि जीवन एक बधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें?Yadi Jivan Ek Badhua Majdur Ki Tarah Lagne Lage To Kya Kare
Rohit Rathore Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rohit जी का जवाब
Student
1:03
वेलकम बैक साइड आप सबका मेरे बोलकर प्रोफाइल पर रोहित राठौर को और हमें अपने जीवन एक बधुआ मजदूर की तरह लगने लग जाए तो क्या करें आपका जीवन आपको बथुआ बुजुर्ग मजदूर की तरह तभी लगेगा तब आपके जीवन में उमंग खत्म हो जाएगी आपके जीवन में वही चीज देनी रिपीट कर रहे हो कुछ नया सीख सकते हैं इस सब चीजों से दूर होने के लिए आप व्यक्ति सपने बड़ी गलतियां करता है कि बस एक समय पर आकर सीखना बंद कर देता है कि हम उन्हें अपने जीवन भर जितना देखते रहना चाहिए क्योंकि जब तक हम जीवन में चेक करेंगे नहीं कि जो के थ्रू जाएंगे हम कभी बधुआ मजदूर की तरह महसूस ही नहीं करेंगे तो अगर आपको ऐसा महसूस होने लगा कर हमें कुछ जीवन में नया करना चाहिए आपको सबसे पहले की ताबीर करनी चाहिए कुछ नया सीखना चाहिए जिसमें आपका इंटरेस्ट हो अपनी बचपन की कुछ यादें कुछ याद करो जिसमें मुझे बचपन में सोचते कि हम भी बहुत ही करूंगा अब उन चीजों को सुलझा सकते हैं जिससे आपका जीवन सुखमय और आनंदित हो सकता है धन्यवाद चाहूंगा मिर्जा पुलिस वालों के लिए क्या

bolkar speaker
यदि जीवन एक बधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें?Yadi Jivan Ek Badhua Majdur Ki Tarah Lagne Lage To Kya Kare
Md Mahmud Alam Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Md जी का जवाब
स्टूडेंट विद्यार्थी
0:49
आज का सवाल है यदि जीवन एक बंधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें सवाल का जबरदस्त बहुत अच्छा यदि आपको लगता है कि यह काम बहुत ही श्रद्धा मेहनत के साथ करते हैं उसके बावजूद भी हम अंकुरित नहीं कर पाते तो ऐसी स्थिति में उस काम को आप छोड़ दे तो आपके जीवन में अगर आप को सफल बनाना है तो आपको तो मेहनत जरूर करना होगा लेकिन मेहनत नहीं जो जिसका सफलता मैंने उसकी सफलता का कोई राज है ना जैसे उदाहरण के लिए बता दें कि रिक्शावाला रिक्शावाला मेहनत करता फिर भी वह वक्त की रोटी कमाने का पता लेकिन मेहनत है तो ऐसा कीजिए ताकि हम ऑफिस में आने वाले समय में आपकी जीवन की संघर्ष का रूप आलमीन सके तो बाद में मजदूर की तरह नहीं बल्कि स्मार्ट वर्क करके अब आगे बढ़ सकते हैं धन्यवाद

bolkar speaker
यदि जीवन एक बधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें?Yadi Jivan Ek Badhua Majdur Ki Tarah Lagne Lage To Kya Kare
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:24
हेलो दोस्तों स्वागत है आपका आपका प्रश्न कैसे जीवन एक बंधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें तो फ्रेंड सकर जीवन बंधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो ऐसे जीवन को तुरंत बदल लीजिए और ऐसे जीवन से बाहर निकलने की कोशिश कीजिए आपको जो बंधुआ मजदूर बनाना चाहता है उससे आप बिल्कुल हट जाइए और अलग हो जाइए और अलग आप अपनी जिंदगी शुरू कीजिए धन्यवाद

bolkar speaker
यदि जीवन एक बधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें?Yadi Jivan Ek Badhua Majdur Ki Tarah Lagne Lage To Kya Kare
Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
0:51
नमस्कार प्रश्न है कि यदि जीवन एक मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें बाउंस बैक कीजिए कुछ नया कुछ नया करके जीवन को नष्ट होने से बचाने के लिए चेक बाउंस बैक कीजिए वापस आइए कुछ न कुछ अलग कीजिए कुछ रिश्ता क्या करेंगे लिए नया सीखिए नया पढ़िए नया लिखिए नया बोलिए नए लोगों से मिली है जीवन में मतलब बदलाव लाइए हैबिट्स बदलिए कारण ढूंढिए क्यों मेरे जीवन में नीरसता है क्या कारण है मैं कुछ ऐसा कीजिए जीवन की लिस्ट समाप्त हो जाए उन कारणों को भेज दिया चेक करके उन कारणों को दूर लीजिए और जीवन को खुशहाल बनाइए जवाब सुनने के लिए आपका धन्यवाद बोलकर पर आप मुझे सब्सक्राइब कर सकते हैं कमेंट कर सकते हैं लाइक कर सकते हैं और आप मेरा हौसला बढ़ा सकते हैं धन्यवाद

bolkar speaker
यदि जीवन एक बधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें?Yadi Jivan Ek Badhua Majdur Ki Tarah Lagne Lage To Kya Kare
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
7:00
यदि झोली भर दो बंधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें सबसे बड़ा अगर कोई पाप है और उन्हें हर है या अपमान है या नीचे कौन है तो वह पूरा गिरी और यदि किसी को जीवनदान बंधुआ मजदूर की पिक्चर आ जानी चाहिए गुलामी की जंजीरें और उसके लिए कुछ भी हो पर लगाने की जरूरत पड़ी प्रोजेक्ट दांव पर लगाना चाहिए इसके अलावा कोई रास्ता नहीं है पहले खुलना चाहिए कि ऐसा क्यों लगता है कि देश के क्या कारण है जीवन ऐसा बंधन पाकिस्तान रहा है इस चीज के कारण दर्द को कैसे ठीक से झांक लेना चाहिए एकांत में इंटर करना चाहिए क्योंकि यह गुलामगिरी की जो मंजूरे खुदा कभी पैसों के कारण कभी-कभी अपने करियर में उसको गुलामगिरी की तरह रहना पड़ता है उसको फैमिली में गुलाबी महसूस अनेक प्रकार की बंदूक करता है और वह कंफर्टेबल महसूस करता है कई बार कुछ विचार बीएसआर जकड़ कर लेते हैं कि जैसे उससे छुटकारा पाने को जी चाहता है उस गुरु बाबा हुआ है उस पार्टी संगठन या विचारधारा अब उसी में घुसा रहता है उसके दिमाग से उसका एक मारा होता है गुलामी पिक्चर कट जाता है दुबई से मुक्त होना चाहिए और इस खुले आकाश में उड़ने वाले पंछी जैसी हो एक स्वतंत्रता का अनुभव करते हैं उसी तरह मेडिटेशन करके अपने मन में जो भी भी कुछ धारणाओं को धार ना हो पकड़ा हुआ है धर्मों को छोड़ देना चाहिए मेडिटेशन इस में काम आता है और मेडिटेशन उसका एक तंत्र और उसके हिसाब से समझकर किया जाए तो मानसिक जंजीरों से बाहर आ जाते हैं और यह सामाजिक और आर्थिक होती है उसे भी बाहर आ जा सकता है उसको कुछ प्रयास करने पड़ते हैं जैसे कोई काम है उसमें से जकड़ लिया है तू छोड़ना भी नहीं थोड़ा भी नहीं जा सकता और उसको कर दे मैं हर वक्त गुलामी में तो ऐसे बसवापुर जो इसके कारण है उनको घूम कर को दूर कर देख कर ले चाहिए उसमें काम छोड़ देने का भी प्रयोग होता है वैसे भी के सापेक्ष कारण और सोनू संडे को कॉल करने की आवश्यकता है तब जाकर जीवन जोखिम कारक नहीं रहेंगे तो तंत्र का और शांति और आनंद भाई साहब सभी शिक्षकों के लिए कर कर रहे

bolkar speaker
यदि जीवन एक बधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें?Yadi Jivan Ek Badhua Majdur Ki Tarah Lagne Lage To Kya Kare
DR.OM PRAKASH SHARMA Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए DR.OM जी का जवाब
Principal, RSRD COLLEGE OF COMMERCE AND ARTS
1:26
14 जून कानपुर जाने क्या अपने आप को एक बंधुआ मजदूर समझने लगे हैं उन पर कुछ और कुछ और अपनी जॉब को देखें इसमें आपको फोन करने को दिया इन कमियों की का मानचित्र दिखाएं डर्टी फोटो आपकी मर्जी तू हिंदू बनेगा

bolkar speaker
यदि जीवन एक बधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें?Yadi Jivan Ek Badhua Majdur Ki Tarah Lagne Lage To Kya Kare
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:25
अजनारा का प्रश्न यदि जीवन एक बुधवार मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें तो आपको बताना चाहेंगे इसका मतलब है कि आपके जीवन में कोई नई चीज नहीं हो रही है आप ही के रूटीन लाइफ जी रहे हैं वही कर रहे हैं और उसका कोई बेनिफिट भी आपको नहीं मिल रहा है तो कोशिश कर रहे अपने जीवन में कुछ बदलाव लाने की अपनी लाइफ स्टाइल मतलब आने की तभी आपने जीवन को इंजॉय कर पाएंगे में शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद

bolkar speaker
यदि जीवन एक बधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें?Yadi Jivan Ek Badhua Majdur Ki Tarah Lagne Lage To Kya Kare
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
2:11
कि यदि जीवन एक बंधुआ मजदूर की तरह लगने लगे तो क्या करें देखिए जीवन में उतार चढ़ाव तो आ नहीं आना है आज दुख है तो कल दुख है कल दुख है तो परसों सुख में तो जीवन का नाम ही यही है बहुत से ऐसे लोग हैं क्या है कि बचपन में ही जब वह किसी भी उम्र के हो उनके माता-पिता गुजर जाते हैं वह भी दिखे जीवन में अगर वह घर का सदस्य बना है उसमें दिखे बहुत कुछ परिवर्तन देखने को आपको मिल जाएगा उसको यह लगेगा कि मेरी बहन है मेरे छोटे भाई हैं उनको पढ़ाना है दिखाना को कि बापू जल गया तो जीवन में सुख दुख किसी के साथ सुख है पूरे जीवन सुखी रहता है वह उक्त कैदी की समस्या तो हर इंसान के साथ आते हो गई लेकिन आज की डेट में पैसे की अहमियत आप जानते हो कि आपको बताने की जरूरत नहीं है आप समझते हो कि पैसे क्या चीज है आज की डेट में आपकी बहुत से सपने पैसे पूरे कर सकते हैं लेकिन एक जो इज्जत होती है इज्जत होती जब कमा निकले टाइम लगता है आप चाहे जितने पैसे कमा लो लेकिन इज्जत आप पैसे से नहीं कमा सकते हो तो जो इंसान सोचता कि मेरा एक बंधुआ मजदूर की तरह लगने लगा है जीवन तो मैं आपको एक ही बोलूंगा कि जीवन में प्रयास करते रहो मेहनत करता मजदूर भी एक इंसान होता है हमेशा अपने माइंड नहीं रखो मजदूर की एक इंसान होता अपने बच्चों को पढ़ाता लिख आता है और जब हुजूर का बच्चा जब एक आईपीएस अधिकारी और बड़े-बड़े पोस्ट में जाता है ना तो वह उसी की ताकत होती है उस बेचारे मजदूर की जिसको आप कह रहे एक बंधुआ मजदूर की तरह लगने का तो एक बद्दुआ में जो मजदूर होता ना वह भी अपने बच्चों को बहुत पढ़ा लिखा देता है जो समझदार मजदूर होता है सब की बात नहीं करना नहीं तो बहुत से से मजदूर हैं कि उसे खा पी के मस्त रहते पैसे बचाते नहीं है गरीबी में जीते हैं नहीं जो जिसकी सोच अच्छी सकारात्मक सोच रखता है उसे से जो मिले वह जिंदगी को कहते मैंने सब कुछ हासिल कर ले क्योंकि उनके बच्चे हमेशा खुश रखूंगा परिवार हमेशा खुश रहता है कभी भी अपने जीवन में यह न सोचे कि मैं गरीब हूं आप सबसे बड़े अमीर क्योंकि आपको जीवन एक इंसान का मिला है इंसानियत के तौर पर आप सोचे समझे और जिंदगी का खुशहाल जीवन जिए आप खुश रहें मस्त रहें लोगों को खुश रखे जय हिंद जय भारत

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • बंधुआ मजदूरी क्या है, बंधुआ मजदूर, बंधुआ मजदूर की समस्या
URL copied to clipboard