#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker

खून लाल होने के बावजूद नशे नीली और हरी क्यों दिखाई देती है?

Khoon Laal Hone Ke Bavjood Nashe Nili Aur Hari Kyun Dikhai Deti Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:05
सवाल कौन लाल होने के बाद में मिले तो हरी को दिखाई देते हैं उनसे मिलकर बना होता है तब लाइट के पहचान मिली लाइट नहीं कर पाती है यदि पर्याप्त रूप से जो आपकी आंखें लाल परावर्तित प्रकाश की तुलना में अधिक देरी दिखाई देती है समझा जा सकता है कि पहले से और ज्यादा प्रवर्तित हो जाती है दूसरों की बात करें तो लाल रंग के अंदर तक जाती है इसी कारण वायक आया नसों का रंग नीला दिखाई दे
Savaal kaun laal hone ke baad mein mile to haree ko dikhaee dete hain unase milakar bana hota hai tab lait ke pahachaan milee lait nahin kar paatee hai yadi paryaapt roop se jo aapakee aankhen laal paraavartit prakaash kee tulana mein adhik deree dikhaee detee hai samajha ja sakata hai ki pahale se aur jyaada pravartit ho jaatee hai doosaron kee baat karen to laal rang ke andar tak jaatee hai isee kaaran vaayak aaya nason ka rang neela dikhaee de

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • खून लाल होने के बावजूद हमारी नशे नीली और हरी दिखती है इसका क्या कारण है,
URL copied to clipboard