#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker

कृषि आंदोलन क्या है ?

Krishi Andholan Kya Hai
Vaishnavi Pandey Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Vaishnavi जी का जवाब
Student / Artist
1:50
गायक ने प्रश्न किया है कि कृषि आंदोलन क्या है तो देखिए 20 और 5 सितंबर 2020 को भारत की संसद में कृषि से संबंधित तीन विधेयकों को पारित किया था जिसे 27 सितंबर को भारत के राष्ट्रपति ने मंजूरी दे दी और इसके बाद यह तीनों विधायक जो थे वह कानून बन गए आए रे किसान जो है इन तीनों कानूनों का विरोध कर रहे हैं और आंदोलन कर रहे हैं इसे ही कृषि आंदोलन कहा जा रहा है और इसमें क्या है कि जो इन कानूनों के जरिए मौजूदा एपीएमसी जो है यानी एग्रीकल्चर प्रोड्यूस मार्केट कमिटी है कि मंडियों के साथ-साथ निजी कंपनियों को भी किसानों के साथ अनुबंध खेती खदानों की खरीद और भंडारण के अलावा बिक्री करने का अधिकार होगा इन कानूनों के मुताबिक तो किसान जो है वह विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और इस बात की आशंका जता रहे हैं कि सरकार किसानों से गेहूं और धान जैसी फसलों की खरीद को कम करते हुए बंद कर सकती है उन्होंने पूरी तरह से बाजार के भरोसे रहना होगा किसानों को इस बात की आशंका भी है कि इससे निजी कंपनियों को फायदा होगा और न्यूनतम समर्थन मूल्य के खत्म होने से किसानों की मुश्किलें बढ़ेंगी हालांकि तीनों नए कानूनों में एपीएमसी मंडियों के बंद करने या एमएसपी सिस्टम को खत्म करने की बात जो है वह शामिल नहीं है लेकिन किसानों को यह डर है कि इन कानूनों के जरिए निजी कंपनियां हैं निजी कंपनियों के इस बाजार में आने से अंत में यही होगा धन्यवाद
Gaayak ne prashn kiya hai ki krshi aandolan kya hai to dekhie 20 aur 5 sitambar 2020 ko bhaarat kee sansad mein krshi se sambandhit teen vidheyakon ko paarit kiya tha jise 27 sitambar ko bhaarat ke raashtrapati ne manjooree de dee aur isake baad yah teenon vidhaayak jo the vah kaanoon ban gae aae re kisaan jo hai in teenon kaanoonon ka virodh kar rahe hain aur aandolan kar rahe hain ise hee krshi aandolan kaha ja raha hai aur isamen kya hai ki jo in kaanoonon ke jarie maujooda epeeemasee jo hai yaanee egreekalchar prodyoos maarket kamitee hai ki mandiyon ke saath-saath nijee kampaniyon ko bhee kisaanon ke saath anubandh khetee khadaanon kee khareed aur bhandaaran ke alaava bikree karane ka adhikaar hoga in kaanoonon ke mutaabik to kisaan jo hai vah virodh pradarshan kar rahe hain aur is baat kee aashanka jata rahe hain ki sarakaar kisaanon se gehoon aur dhaan jaisee phasalon kee khareed ko kam karate hue band kar sakatee hai unhonne pooree tarah se baajaar ke bharose rahana hoga kisaanon ko is baat kee aashanka bhee hai ki isase nijee kampaniyon ko phaayada hoga aur nyoonatam samarthan mooly ke khatm hone se kisaanon kee mushkilen badhengee haalaanki teenon nae kaanoonon mein epeeemasee mandiyon ke band karane ya emesapee sistam ko khatm karane kee baat jo hai vah shaamil nahin hai lekin kisaanon ko yah dar hai ki in kaanoonon ke jarie nijee kampaniyaan hain nijee kampaniyon ke is baajaar mein aane se ant mein yahee hoga dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • कृषि सबसे अधिक किस राज्य में होती है ? किसान आंदोलन क्यों कर रहे है ?
URL copied to clipboard