#रिश्ते और संबंध

Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:55
एंड क्यूब कैसे बनाया जाता है वैलेंटाइन डे मनाने की इतिहास क्या है तो दोस्तों रोमन साम्राज्य के अंदर एक वैलेंटाइन डे था परंतु जब वाकई एक ऐसा सकता जिसको जिसको जब पता चला कि ऐसी कोई एक व्यक्ति है जो इस तरीके से विवाह करा जाता मुकरता और इन चीजों के सख्त खिलाफ इस वजह से उसने 14 फरवरी के दिन वैलेंटाइन की 23 की फांसी की सजा सुना दी और उसी दिन उसको सुन प्यार की 25 है उसके ऊपर चढ़ा दी यह घटना जो दूसरी शताब्दी और एस नाम का एक राजा था रोमन साम्राज्य के द्वारा वैलेंटाइन को फांसी पर चढ़ाया गया और खुशी की याद के अंदर दो
End kyoob kaise banaaya jaata hai vailentain de manaane kee itihaas kya hai to doston roman saamraajy ke andar ek vailentain de tha parantu jab vaakee ek aisa sakata jisako jisako jab pata chala ki aisee koee ek vyakti hai jo is tareeke se vivaah kara jaata mukarata aur in cheejon ke sakht khilaaph is vajah se usane 14 pharavaree ke din vailentain kee 23 kee phaansee kee saja suna dee aur usee din usako sun pyaar kee 25 hai usake oopar chadha dee yah ghatana jo doosaree shataabdee aur es naam ka ek raaja tha roman saamraajy ke dvaara vailentain ko phaansee par chadhaaya gaya aur khushee kee yaad ke andar do

और जवाब सुनें

Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
2:39
सवाल यह है कि वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है कैसे बनाया जाता है और वैलेंटाइन वैलेंटाइन डे मनाने का इतिहास क्या है वैलेंटाइन डे को लेकर वर्तमान समय में दुनिया भर के युवाओं में उत्साह देखने को मिलता है आमतौर पर प्यार का इजहार करने का दिन माना जाता है मगर बहुत से लोगों को यह मालूम नहीं होता कि आखिर क्यों इस दिन का खास महत्व है इसके पीछे क्या तिहार जुड़ा है क्योंकि वैलेंटाइन के रूप डे के रूप में मनाते हैं वैलेंटाइन डे के बारे में ऑडियो ऑफ जैकोबिन वर्जन की किताब में जिक्र किया गया था इसमें बताया गया कि यह दिन रूम के पादरी संत वैलेंटाइन को समर्पित है उनके बारे में कहा जाता है कि 270 ईसवी में संत वैलेंटाइन हुआ करते थे जो प्रेम को बहुत बढ़ावा देते थे वही उस समय रोम के राजा प्रेम संबंधों से के सख्त विरोध में थे यही कारण है कि संत वैलेंटाइन के बारे में यह बातें रोम के राजा को खटक कीजिए क्योंकि वह प्रेम विवाह में विश्वास नहीं रोम के राजा क्लाउडियस के का यह मानना था कि प्रेम या किसी के प्रति झुकाव के चलते सैनिकों का ध्यान भंग होता था और रोम के लोग सेना में भर्ती नहीं होना चाहते थे ऐसे में क्लाउडियस के रूम में सैनिकों की शादी और सगाई पर पाबंदी लगा दी गई थी यह बात संत वैलेंटाइन को बिल्कुल भी पसंद नहीं आई और उन्होंने इसके खिलाफ आवाज उठा कर विरोध जताया इतना ही नहीं संत वैलेंटाइन डे रूम के राजा के निर्णय के विरुद्ध जाकर शादियां भी कराई इस वजह से 14 फरवरी के दिन संत वैलेंटाइन को फांसी पर चढ़ा दिया गया तब से संत वैलेंटाइन की याद में 14 फरवरी को वैलेंटाइन डे सेलिब्रेट किया जाने लगा तो वहीं कुछ इतिहासकार मानते हैं कि जब उसका लेटर संत वैलेंटाइन को जेल में बंद थे तब उन्होंने वहां से जेल की बेटी को एक लेटर लिखा था जेलर की बेटी बेटी को एक लेटर लिखा था जो देख नहीं सकती थी और उन्हें बहुत मानती थी इस लेटर के अंत में संत ने फ्रॉम यू और वैलेंटाइन भी लिखा था ब्रिटिश वेबसाइट की मानें तो जेलर की बेटी की आंखों में संत वैलेंटाइन की प्रार्थना से चमत्कार के रूप में रोशनी आ गई थी कुछ रिपोर्ट कहती है कि वर्ष 496 में पहला वेलेंटाइन डे मनाया गया था इसके मुताबिक वैलेंटाइन डे की शुरुआत रोमन फेस्टिवल से हुई थी पांचवी शताब्दी के अंत तक पहुंची उसके ने 14 फरवरी को संत संत वैलेंटाइन डे हैप्पी वैलेंटाइन डे घोषित कर दिया तभी से मनाया जाने लगा रोम वासियों को लूट कर ले लिया नामक एक त्यौहार फरवरी में मध्य में मनाया जाता है इस सामूहिक विवाह होते हैं
Savaal yah hai ki vailentain de kyon manaaya jaata hai kaise banaaya jaata hai aur vailentain vailentain de manaane ka itihaas kya hai vailentain de ko lekar vartamaan samay mein duniya bhar ke yuvaon mein utsaah dekhane ko milata hai aamataur par pyaar ka ijahaar karane ka din maana jaata hai magar bahut se logon ko yah maaloom nahin hota ki aakhir kyon is din ka khaas mahatv hai isake peechhe kya tihaar juda hai kyonki vailentain ke roop de ke roop mein manaate hain vailentain de ke baare mein odiyo oph jaikobin varjan kee kitaab mein jikr kiya gaya tha isamen bataaya gaya ki yah din room ke paadaree sant vailentain ko samarpit hai unake baare mein kaha jaata hai ki 270 eesavee mein sant vailentain hua karate the jo prem ko bahut badhaava dete the vahee us samay rom ke raaja prem sambandhon se ke sakht virodh mein the yahee kaaran hai ki sant vailentain ke baare mein yah baaten rom ke raaja ko khatak keejie kyonki vah prem vivaah mein vishvaas nahin rom ke raaja klaudiyas ke ka yah maanana tha ki prem ya kisee ke prati jhukaav ke chalate sainikon ka dhyaan bhang hota tha aur rom ke log sena mein bhartee nahin hona chaahate the aise mein klaudiyas ke room mein sainikon kee shaadee aur sagaee par paabandee laga dee gaee thee yah baat sant vailentain ko bilkul bhee pasand nahin aaee aur unhonne isake khilaaph aavaaj utha kar virodh jataaya itana hee nahin sant vailentain de room ke raaja ke nirnay ke viruddh jaakar shaadiyaan bhee karaee is vajah se 14 pharavaree ke din sant vailentain ko phaansee par chadha diya gaya tab se sant vailentain kee yaad mein 14 pharavaree ko vailentain de selibret kiya jaane laga to vaheen kuchh itihaasakaar maanate hain ki jab usaka letar sant vailentain ko jel mein band the tab unhonne vahaan se jel kee betee ko ek letar likha tha jelar kee betee betee ko ek letar likha tha jo dekh nahin sakatee thee aur unhen bahut maanatee thee is letar ke ant mein sant ne phrom yoo aur vailentain bhee likha tha british vebasait kee maanen to jelar kee betee kee aankhon mein sant vailentain kee praarthana se chamatkaar ke roop mein roshanee aa gaee thee kuchh riport kahatee hai ki varsh 496 mein pahala velentain de manaaya gaya tha isake mutaabik vailentain de kee shuruaat roman phestival se huee thee paanchavee shataabdee ke ant tak pahunchee usake ne 14 pharavaree ko sant sant vailentain de haippee vailentain de ghoshit kar diya tabhee se manaaya jaane laga rom vaasiyon ko loot kar le liya naamak ek tyauhaar pharavaree mein madhy mein manaaya jaata hai is saamoohik vivaah hote hain

ekta Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए ekta जी का जवाब
Unknown
0:35
पूछा गया है वैलेंटाइन डे क्यों और कैसे मनाया जाता है वैलेंटाइन डे मनाने की इतिहास क्या है वैलेंटाइन डे मनाने के पीछे का इतिहास जो है कि हमारे पास अवेलेबल नहीं है सब लोग इस से रिलेटेड अलग-अलग कहानियां सुनाते हैं इनमें से कोई एक सबसे फेमस और जो सबसे ज्यादा प्रचलित कहानी कुछ ऐसी है कि कोई वैलेंटाइन नाम के साथ और लोगों को प्रेम का संदेश दिया करते थे और उन्हीं की याद में वैलेंटाइन डे जो है मनाया जाता है उम्मीद करती हूं आपको मेरा जवाब पसंद आया होगा धन्यवाद
Poochha gaya hai vailentain de kyon aur kaise manaaya jaata hai vailentain de manaane kee itihaas kya hai vailentain de manaane ke peechhe ka itihaas jo hai ki hamaare paas avelebal nahin hai sab log is se rileted alag-alag kahaaniyaan sunaate hain inamen se koee ek sabase phemas aur jo sabase jyaada prachalit kahaanee kuchh aisee hai ki koee vailentain naam ke saath aur logon ko prem ka sandesh diya karate the aur unheen kee yaad mein vailentain de jo hai manaaya jaata hai ummeed karatee hoon aapako mera javaab pasand aaya hoga dhanyavaad

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:53
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है वैलेंटाइन डे क्यों और कैसे बनाया जाता है और वैलेंटाइन डे मनाने का इतिहास क्या है तो फ्रेंड्स इन सभी को पता है कि वैलेंटाइन डे 14 फरवरी को मनाया जाता है और यह विदेशों का त्यौहार है हमारे यहां लोग अंदर 21 को मनाने लगे हैं वैलेंटाइन डे हमारे यहां नहीं मनाया जाता था पहले जनसत्ता का है लेकिन फिर भी यहां पर लोग और वैलेंटाइन डे मनाते हैं और इसके बारे में लोग तरह-तरह की बातें बताते हैं बहुत सारी कहानियां बहुत सारी कथाएं प्रचलित हैं बहुत सारी बातें हैं जो वैलेंटाइन डे मनाने की होती है एक वैलेंटाइन डे एक वैलेंटाइन नाम के साथ होते तो वे सबको प्रेम बांटते थे प्यार से बात करते थे सबसे समय प्यार चलाते थे इसी लियोनी के नाम पर है वैलेंटाइन डे त्यौहार मनाया जाता है अन्य बात है
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai vailentain de kyon aur kaise banaaya jaata hai aur vailentain de manaane ka itihaas kya hai to phrends in sabhee ko pata hai ki vailentain de 14 pharavaree ko manaaya jaata hai aur yah videshon ka tyauhaar hai hamaare yahaan log andar 21 ko manaane lage hain vailentain de hamaare yahaan nahin manaaya jaata tha pahale janasatta ka hai lekin phir bhee yahaan par log aur vailentain de manaate hain aur isake baare mein log tarah-tarah kee baaten bataate hain bahut saaree kahaaniyaan bahut saaree kathaen prachalit hain bahut saaree baaten hain jo vailentain de manaane kee hotee hai ek vailentain de ek vailentain naam ke saath hote to ve sabako prem baantate the pyaar se baat karate the sabase samay pyaar chalaate the isee liyonee ke naam par hai vailentain de tyauhaar manaaya jaata hai any baat hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • वैलेंटाइन डे क्या है... वैलेंटाइन डे इतना खास क्यो होता है
URL copied to clipboard