#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker

प्रकाश प्रदूषण क्या है यह आजकल इतना महत्वपूर्ण क्यों बन गया है?

Prakash Pradushan Kya Hai Yah Aajkal Itna Mehtvpurn Kyun Ban Gaya Hai
RAM NIWASH AWASTHI Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAM जी का जवाब
विद्यार्थी
0:38
जैसा कि आप का सवाल है प्रकाश प्रदूषण क्या है जो आजकल इतना महत्वपूर्ण क्यों है देखिए मैं आपको बताना चाहूंगा कि प्रकाश को शहर में रहने वाले लोगों के लिए रात्रिकालीन आकाश में सितारों को धुंधला कर देता है खगोलीय वेधशाला ओं के साथ रेप करता हूं और प्रदूषण के किसी भी अन्य रूप की तरह परिस्थिति तंत्र को बाधित करता है स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर डालता है प्रकाश प्रदूषण और दो की सभ्यता का एक पक्ष प्रभाव है धन्यवाद
Jaisa ki aap ka savaal hai prakaash pradooshan kya hai jo aajakal itana mahatvapoorn kyon hai dekhie main aapako bataana chaahoonga ki prakaash ko shahar mein rahane vaale logon ke lie raatrikaaleen aakaash mein sitaaron ko dhundhala kar deta hai khagoleey vedhashaala on ke saath rep karata hoon aur pradooshan ke kisee bhee any roop kee tarah paristhiti tantr ko baadhit karata hai svaasthy par pratikool asar daalata hai prakaash pradooshan aur do kee sabhyata ka ek paksh prabhaav hai dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
प्रकाश प्रदूषण क्या है यह आजकल इतना महत्वपूर्ण क्यों बन गया है?Prakash Pradushan Kya Hai Yah Aajkal Itna Mehtvpurn Kyun Ban Gaya Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:38
प्रकाश प्रदूषण क्या है आजकल इतना महत्वपूर्ण क्यों बंद है दोस्तों प्रकाश का प्रदूषण रात के समय आसमान पर दिखने वाली चमक-दमक को कहते हैं प्रकाश का प्रदूषण हमारे घरों में दरवाजे खड़ी थी और सड़कों पर लगे हुए बिजली के खंभों से भी घुस जाता है जो मौजूदा जिंदगी में अनिवार्य और जरूरी चीज बन जाता है उसको रोकने का काम करने का तरीका यही है कि रोशनी पढ़ने और प्रदूषण के प्रकार पर निर्भर करता है सितारों से आने वाली रोशनी और कुछ प्राकृतिक गैस और चमकदार पदार्थों से झलकती हुई धुंधली देश में इस वजह से आने वाली रोशनी की वजह से फोन पर बात के वर्क दम दमाती हुई लाली मैडम खाना नजर आती है इसी के साथ ईमानदारी और गैस कड़वी बातों की मात्रा अधिक हो जाने दे दो नीचे आ जाते जिससे बोल भी दो को प्रशिक्षण में बाधा आती है आप कर सकते हो
Prakaash pradooshan kya hai aajakal itana mahatvapoorn kyon band hai doston prakaash ka pradooshan raat ke samay aasamaan par dikhane vaalee chamak-damak ko kahate hain prakaash ka pradooshan hamaare gharon mein daravaaje khadee thee aur sadakon par lage hue bijalee ke khambhon se bhee ghus jaata hai jo maujooda jindagee mein anivaary aur jarooree cheej ban jaata hai usako rokane ka kaam karane ka tareeka yahee hai ki roshanee padhane aur pradooshan ke prakaar par nirbhar karata hai sitaaron se aane vaalee roshanee aur kuchh praakrtik gais aur chamakadaar padaarthon se jhalakatee huee dhundhalee desh mein is vajah se aane vaalee roshanee kee vajah se phon par baat ke vark dam damaatee huee laalee maidam khaana najar aatee hai isee ke saath eemaanadaaree aur gais kadavee baaton kee maatra adhik ho jaane de do neeche aa jaate jisase bol bhee do ko prashikshan mein baadha aatee hai aap kar sakate ho

bolkar speaker
प्रकाश प्रदूषण क्या है यह आजकल इतना महत्वपूर्ण क्यों बन गया है?Prakash Pradushan Kya Hai Yah Aajkal Itna Mehtvpurn Kyun Ban Gaya Hai
vijay singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vijay जी का जवाब
Social worker in india
0:40
जैसा कि दोस्तों आप का सवाल है प्रकाश प्रदूषण क्या है यह आजकल इतना महत्वपूर्ण क्यों बन गया है तो दोस्तों आपके सवाल का उत्तर इस प्रकार से प्रकाश प्रदूषण शहर में रहने वाले लोगों के लिए रात्रिकालीन आकाश में सितारों का धुंधला कर देता है जो खगोलीय वेधशाला ओं के साथ अच्छा करता है प्रदूषण के किसी भी अन्य रूप की तरह परिस्थितिकी तंत्र को बाधित करने का कार्य करता है जो हमारे स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर डालता है धन्यवाद सचिव खुश रहो
Jaisa ki doston aap ka savaal hai prakaash pradooshan kya hai yah aajakal itana mahatvapoorn kyon ban gaya hai to doston aapake savaal ka uttar is prakaar se prakaash pradooshan shahar mein rahane vaale logon ke lie raatrikaaleen aakaash mein sitaaron ka dhundhala kar deta hai jo khagoleey vedhashaala on ke saath achchha karata hai pradooshan ke kisee bhee any roop kee tarah paristhitikee tantr ko baadhit karane ka kaary karata hai jo hamaare svaasthy par pratikool asar daalata hai dhanyavaad sachiv khush raho

bolkar speaker
प्रकाश प्रदूषण क्या है यह आजकल इतना महत्वपूर्ण क्यों बन गया है?Prakash Pradushan Kya Hai Yah Aajkal Itna Mehtvpurn Kyun Ban Gaya Hai
ekta Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए ekta जी का जवाब
Unknown
1:20
कल पूछा गया है प्रकाश प्रदूषण क्या है या आजकल इतना महत्वपूर्ण क्यों बन गया है दृश्य प्रकाश प्रदूषण अभी अभी जो है बहुत ज्यादा इसके बारे में बात होने लगी है पर यह काफी ज्यादा गंभीर मामला है क्योंकि हम लोग रात में बहुत ज्यादा लाइट यूज करते हैं आजकल शादी हुई आयोजनों में ऐसे लाइट कि उसके जाने लेकिन की रोशनी बहुत तेज होती है सीधा समान तक जाती है इन से क्या होता है कि जिन नेचुरल जो हमारे अलावा जो जीव जंतु जो नेचुरल हैबिटेट के आदी हैं उन लोगों के लिए काफी मुश्किल हो जाती है तो फिर क्योंकि उन्हें आर्टिफिशियल लाइट के बारे में नहीं पता उन्हें तो बस एक ही लाइट के बारे में पता जो सनलाइट है तो उसकी वजह से कई बार उन लोगों को बहुत ज्यादा मुसीबतों का सामना करना पड़ता है और लाइट जो पोलूशन है हमारे लिए भी अच्छा नहीं हमारे दिमाग पर भी इसका सीधा असर पड़ता है अगर आप रात में सो और हल्का सा भी लाइट आपके आसपास ए तापीय समझिए कि आपकी उस दिन नींद खराब होनी है और उसके अलावा आप अगर आपको से सड़क नहीं भी पड़ रहा है इंटरनेट भी आपको उससे फर्क पड़ता जो अपने आप को पता नहीं चल पाता है तो यह काफी ज्यादा गंभीर मामला है उम्मीद करती हूं आपको मेरा जवाब पसंद आया होगा धन्यवाद
Kal poochha gaya hai prakaash pradooshan kya hai ya aajakal itana mahatvapoorn kyon ban gaya hai drshy prakaash pradooshan abhee abhee jo hai bahut jyaada isake baare mein baat hone lagee hai par yah kaaphee jyaada gambheer maamala hai kyonki ham log raat mein bahut jyaada lait yooj karate hain aajakal shaadee huee aayojanon mein aise lait ki usake jaane lekin kee roshanee bahut tej hotee hai seedha samaan tak jaatee hai in se kya hota hai ki jin nechural jo hamaare alaava jo jeev jantu jo nechural haibitet ke aadee hain un logon ke lie kaaphee mushkil ho jaatee hai to phir kyonki unhen aartiphishiyal lait ke baare mein nahin pata unhen to bas ek hee lait ke baare mein pata jo sanalait hai to usakee vajah se kaee baar un logon ko bahut jyaada museebaton ka saamana karana padata hai aur lait jo polooshan hai hamaare lie bhee achchha nahin hamaare dimaag par bhee isaka seedha asar padata hai agar aap raat mein so aur halka sa bhee lait aapake aasapaas e taapeey samajhie ki aapakee us din neend kharaab honee hai aur usake alaava aap agar aapako se sadak nahin bhee pad raha hai intaranet bhee aapako usase phark padata jo apane aap ko pata nahin chal paata hai to yah kaaphee jyaada gambheer maamala hai ummeed karatee hoon aapako mera javaab pasand aaya hoga dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • प्रकाश प्रदूषण क्या है यह आजकल इतना महत्वपूर्ण क्यों बन गया है प्रकाश प्रदूषण क्या है
URL copied to clipboard