#रिश्ते और संबंध

Saurabh Rai Bolkar App
Top Speaker,Level 88
सुनिए Saurabh जी का जवाब
Software Engineer
0:56
का प्रश्न है कि शादी के कुछ टाइम बाद अगर पति की मृत्यु हो जाती है तो क्या पति के घर पर पत्नी का कोई अधिकार नहीं होता है लेकिन मैं आपको बताना चाहता हूं कि अगर पति की मृत्यु हो जाती है तो झूठ पहले आधिकारिक पत्नी का था वह बाद में भी अधिकार जो है सिम रहेगा उस अधिकार में कोई भी बदलाव नहीं होता है जो भारत में हिंदू मैरिज एक्ट है उसके तहत आपको बता रहा हूं हालांकि क्या है कुछ डांस और कंडीशन जो है वह चेंज हो जाती हैं अगर जो पत्नी जो है यानी कि अगर महिला जो है वह अगर किसी दूसरे पुरुष से शादी कर लेती हैं तब कुछ टर्म्स एंड कंडीशन कुछ चेंज होती हैं अदर वाइज वह भी जो है सिम ले रोती हैं जैसा अधिकार आपका पहले था वैसा ही अधिकार अभी भी रहेगा जो जो संपत्ति पति की थी वह संपत्ति जो है पत्नी की भी रहेगी कोई इससे कुछ हटा नहीं सकता कानूनी रूप से आपका भी उतना ही हक है धन्यवाद
Ka prashn hai ki shaadee ke kuchh taim baad agar pati kee mrtyu ho jaatee hai to kya pati ke ghar par patnee ka koee adhikaar nahin hota hai lekin main aapako bataana chaahata hoon ki agar pati kee mrtyu ho jaatee hai to jhooth pahale aadhikaarik patnee ka tha vah baad mein bhee adhikaar jo hai sim rahega us adhikaar mein koee bhee badalaav nahin hota hai jo bhaarat mein hindoo mairij ekt hai usake tahat aapako bata raha hoon haalaanki kya hai kuchh daans aur kandeeshan jo hai vah chenj ho jaatee hain agar jo patnee jo hai yaanee ki agar mahila jo hai vah agar kisee doosare purush se shaadee kar letee hain tab kuchh tarms end kandeeshan kuchh chenj hotee hain adar vaij vah bhee jo hai sim le rotee hain jaisa adhikaar aapaka pahale tha vaisa hee adhikaar abhee bhee rahega jo jo sampatti pati kee thee vah sampatti jo hai patnee kee bhee rahegee koee isase kuchh hata nahin sakata kaanoonee roop se aapaka bhee utana hee hak hai dhanyavaad

और जवाब सुनें

डा. इन्दु प्रकाश सिंह  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए डा. जी का जवाब
शिक्षण-कार्य, कालेज शिक्षा में प्राचार्य हूँ
0:54
आपका पर्सनल शादी के कुछ टाइम बाद पति की मृत्यु हो जाती है तो क्या पति के घर पर पत्नी का कोई अधिकार नहीं होता नहीं मित्र ऐसा तो नहीं है हिंदू मैरिज एक्ट जो है हिंदू विवाह अधिनियम उसके अनुसार पत्नी जो है शादी के बाद पति की संपत्ति की उसी प्रकार अधिकार नहीं होती है चाहे वह कुछ ही समय में विधवा हो या कुछ लंबे समय तक पति के साथ रहे कुछ कंडीशन सच में है कि अगर वह पुनर विवाह करना चाहती है या कन्या कर लेती है तो इसमें कुछ शहर बदलाव आते हैं अन्यथा अधिकार उसका जो प्रेम पथ के घर में वह बना रहता है उसे निरस्त नहीं किया जहां अपनी छाप छोड़ना चाहे तो नहीं हो सकती है अगर शादी करके दूसरी जगह चली जाती है तो फिर
Aapaka parsanal shaadee ke kuchh taim baad pati kee mrtyu ho jaatee hai to kya pati ke ghar par patnee ka koee adhikaar nahin hota nahin mitr aisa to nahin hai hindoo mairij ekt jo hai hindoo vivaah adhiniyam usake anusaar patnee jo hai shaadee ke baad pati kee sampatti kee usee prakaar adhikaar nahin hotee hai chaahe vah kuchh hee samay mein vidhava ho ya kuchh lambe samay tak pati ke saath rahe kuchh kandeeshan sach mein hai ki agar vah punar vivaah karana chaahatee hai ya kanya kar letee hai to isamen kuchh shahar badalaav aate hain anyatha adhikaar usaka jo prem path ke ghar mein vah bana rahata hai use nirast nahin kiya jahaan apanee chhaap chhodana chaahe to nahin ho sakatee hai agar shaadee karake doosaree jagah chalee jaatee hai to phir

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • शादी के कुछ टाइम बाद क्या लड़के में बदलाव आते है ? शादी के कुछ टाइम लड़कियो को किन बातो का ध्यान रखना चाईए ?
URL copied to clipboard