#undefined

bolkar speaker

वर्तमान समय में चीन का पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत है?

Vartmaan Samay Mein China Ka Piche Hatna Kya Bharat Ki Kutneetik Jeet Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:29
फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है वर्तमान समय में इनका पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत है जी हां फ्रेंड इन जब पीछे हट गया है तो भारत की जीत तो जरूरी है फुट नैतिक जीत है भारत की और विश्व में सब जगह लोग देख रहे हैं कि भारत की कूटनीतिक नीतियों के कारण और यहां के दबाव के कारण ही चीन पीछे हट गया और भारत की जीत जरूर हुई है धन्यवाद
Phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn hai vartamaan samay mein inaka peechhe hatana kya bhaarat kee kootaneetik jeet hai jee haan phrend in jab peechhe hat gaya hai to bhaarat kee jeet to jarooree hai phut naitik jeet hai bhaarat kee aur vishv mein sab jagah log dekh rahe hain ki bhaarat kee kootaneetik neetiyon ke kaaran aur yahaan ke dabaav ke kaaran hee cheen peechhe hat gaya aur bhaarat kee jeet jaroor huee hai dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
वर्तमान समय में चीन का पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत है?Vartmaan Samay Mein China Ka Piche Hatna Kya Bharat Ki Kutneetik Jeet Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:01
वर्तमान समय में चीन का पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत में दो हमें तो खुश होना चाहिए कि चिंदरकर पीछे हटा है क्योंकि कभी देख हमारे साथ हैं अगर चीन गुस्ताखी करता है तो यह बखूबी जानता है कि भारतीय चुप बैठने वालों में से नहीं है कहने का मतलब यह है जितना तो हमारा मकसद है चाहे जान लेनी पड़े चाहे जान देनी पड़े कूटनीति और राजनीति जंग में हमेशा चलती चली आई है जंग से हमारे देश के कई वीरों की जान भी जा सकती हैं अगर जंग को जीतना है तो कूटनीति का इस्तेमाल करना होगा तभी आप जन को पूरी प्रकार से जीत सकते हैं जंग में सब का नुकसान है जंग ना हो बात तुला सहमति देनी पड़ जाए तो बहुत ही अच्छा होता है क्योंकि कारगिल युद्ध अभी लोगों को याद है जो व्यक्ति बिना जंग के जंग जीता है वह काफी बुद्धिमान होता धन्यवाद मित्र
Vartamaan samay mein cheen ka peechhe hatana kya bhaarat kee kootaneetik jeet mein do hamen to khush hona chaahie ki chindarakar peechhe hata hai kyonki kabhee dekh hamaare saath hain agar cheen gustaakhee karata hai to yah bakhoobee jaanata hai ki bhaarateey chup baithane vaalon mein se nahin hai kahane ka matalab yah hai jitana to hamaara makasad hai chaahe jaan lenee pade chaahe jaan denee pade kootaneeti aur raajaneeti jang mein hamesha chalatee chalee aaee hai jang se hamaare desh ke kaee veeron kee jaan bhee ja sakatee hain agar jang ko jeetana hai to kootaneeti ka istemaal karana hoga tabhee aap jan ko pooree prakaar se jeet sakate hain jang mein sab ka nukasaan hai jang na ho baat tula sahamati denee pad jae to bahut hee achchha hota hai kyonki kaaragil yuddh abhee logon ko yaad hai jo vyakti bina jang ke jang jeeta hai vah kaaphee buddhimaan hota dhanyavaad mitr

bolkar speaker
वर्तमान समय में चीन का पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत है?Vartmaan Samay Mein China Ka Piche Hatna Kya Bharat Ki Kutneetik Jeet Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
0:51
का 200 सवाल के आगे मत नाचना में किनका पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत है जी हां दोस्तों बिल्कुल भारत की जीत है उसने चाइना को पीछे हटा दिया है अन्यथा हम अक्सर देते हुए ना कभी अरुणाचल प्रदेश को अपने क्षेत्र के अंतर्गत दिखाता है तो कभी यार 3 जुलाई से सभी पाठकों और दूसरी बात कि हमारे क्षेत्र के ऊपर अधिपत्य स्थापित करने के लिए हमेशा भारत को उत्साह था रहता है और यह जानकर काफी खुशी हो रही है कि वर्तमान समय में चीन को पीछे हटना कमरिया कूटनीतिक जीत है क्योंकि हमारा एक कट्टर जो देश है वह हमारे द्वारा दी गई चेतावनी के माध्यम से पीछे हट रहे हो बिल्कुल दोस्तों भारत किए कूटनीतिक जी धन्यवाद
Ka 200 savaal ke aage mat naachana mein kinaka peechhe hatana kya bhaarat kee kootaneetik jeet hai jee haan doston bilkul bhaarat kee jeet hai usane chaina ko peechhe hata diya hai anyatha ham aksar dete hue na kabhee arunaachal pradesh ko apane kshetr ke antargat dikhaata hai to kabhee yaar 3 julaee se sabhee paathakon aur doosaree baat ki hamaare kshetr ke oopar adhipaty sthaapit karane ke lie hamesha bhaarat ko utsaah tha rahata hai aur yah jaanakar kaaphee khushee ho rahee hai ki vartamaan samay mein cheen ko peechhe hatana kamariya kootaneetik jeet hai kyonki hamaara ek kattar jo desh hai vah hamaare dvaara dee gaee chetaavanee ke maadhyam se peechhe hat rahe ho bilkul doston bhaarat kie kootaneetik jee dhanyavaad

bolkar speaker
वर्तमान समय में चीन का पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत है?Vartmaan Samay Mein China Ka Piche Hatna Kya Bharat Ki Kutneetik Jeet Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
1:08
आकाश वाले की वर्तमान समय में चीन का पीछे हटने का क्या कारण हटना क्या कोर्ट ने भारत की कूटनीति है तो हाई स्कूल आप पूरी तरह से 35 मिनट कूटनीति कह सकते हैं क्योंकि भारत में चाइना से जितने भी ऐप या भी चाइनीस सामान आ रहा था उसको पूरी तरह से बैन किया और उसे चीन को लगभग दो ढाई अरब करोड का नुकसान हुआ था इसलिए चीन एक तरह से मजबूर था पीछे से और दूसरा रीजन देखा जाए तो अभी सर्दियां खत्म हो गए हैं और सर्दियों में हमें थोड़ी लड़ने में दिक्कत आ सकती थी पर अब सर्दी खत्म हो गई पूरी तरह से तो भारत और चीन का आई हो सकता था इसलिए सीन मैं पीछे हटने का निर्णय लिया होगा शायद
Aakaash vaale kee vartamaan samay mein cheen ka peechhe hatane ka kya kaaran hatana kya kort ne bhaarat kee kootaneeti hai to haee skool aap pooree tarah se 35 minat kootaneeti kah sakate hain kyonki bhaarat mein chaina se jitane bhee aip ya bhee chainees saamaan aa raha tha usako pooree tarah se bain kiya aur use cheen ko lagabhag do dhaee arab karod ka nukasaan hua tha isalie cheen ek tarah se majaboor tha peechhe se aur doosara reejan dekha jae to abhee sardiyaan khatm ho gae hain aur sardiyon mein hamen thodee ladane mein dikkat aa sakatee thee par ab sardee khatm ho gaee pooree tarah se to bhaarat aur cheen ka aaee ho sakata tha isalie seen main peechhe hatane ka nirnay liya hoga shaayad

bolkar speaker
वर्तमान समय में चीन का पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत है?Vartmaan Samay Mein China Ka Piche Hatna Kya Bharat Ki Kutneetik Jeet Hai
T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
3:54
अपने प्रश्न किया कि वर्तमान समय में चीन का पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत है निस्संदेह लेकिन जिनका पीछे हटना भारत की सैन्य शक्ति और भारत की राजनीति क्षेत्र दोनों कीजिए जो ताकतवर होता है वही स्वाभिमान के साथ समझौता कर सकता है अगर आज भारत ताकतवर नहीं होता तो स्वाभिमान के साथ समझौता संभव था ही नहीं और ताकतवर सैन्य शक्ति के मामलों में भी और ताकतवर राजनीतिक इच्छाशक्ति के मामलों में भी दोनों जगह ताकत बहुत जरूरी है निसंदेह भारत के दार्शनिक शक्ति भी अभूतपूर्व वृद्धि हुई है जब से भारत ने 400 और राफेल विमान हासिल किया है तब से भारत की सैन्य शक्ति में अभूतपूर्व वृद्धि हुई है और इस सरकार ने सेना के मामलों में बहुत अच्छी तरीके से संसाधनों को हासिल किया है मेड इन इंडिया को बढ़ावा दिया है और जहां जरूरत थी वहां पर विदेशी सैन्य सामानों की भी खरीदारी की है लेकिन इस वक्त के साथ बहुत जरूरी था राजनीतिक इच्छाशक्ति का परिचय अगर राजनीतिक इच्छाशक्ति का परिचय ना होता जिन हजारों 4 किलोमीटर जमीन भारत के पहले से ही हड़प रखे हैं जिसमें अक्साई चीन जिसमें तिब्बत वाला हिस्सा यह सब शामिल है जो कि नेहरू हिंदी चीनी भाई कर दे भाई भाई करते-करते देश के स्वाभिमान को गिरवी रख दिया था लेकिन खुशी की बात है कि यह सरकार करता साड़ी रही और देश की सीमाओं के साथ में देश के स्वाभिमान के साथ में कोई समझौता नहीं किया साथ ही साथ भारत की राजनीतिक इच्छाशक्ति भारत की पूरे विश्व के अंदर जो एक अलग परिचय भारत का बना कि भारत दृढ़ता से खड़ा रहता है यही वजह थी कि भारत की इतनी बड़ी जीत इसमें हो पाई निसंदेह बिना सैन्य शक्ति के संभव नहीं है लेकिन यह बिना राजनीतिक इच्छाशक्ति के भी संभव नहीं है इसके लिए मैं भारत की सेनाओं को भारत के वीर जवानों को भारत के जो सैनिक शहीद हो गए हैं उनको उनके उनके श्री चरणों में कोटि कोटि नमन करता हूं भारत के वीर जवानों को बहादुरों को प्रणाम करता हूं और भारत की इच्छा शक्ति राजनीतिक इच्छाशक्ति 22 कूटनीतिक जीत के लिए भारत सरकार को भी धन्यवाद देता हूं सभी बधाई के पात्र हैं धन्यवाद
Apane prashn kiya ki vartamaan samay mein cheen ka peechhe hatana kya bhaarat kee kootaneetik jeet hai nissandeh lekin jinaka peechhe hatana bhaarat kee sainy shakti aur bhaarat kee raajaneeti kshetr donon keejie jo taakatavar hota hai vahee svaabhimaan ke saath samajhauta kar sakata hai agar aaj bhaarat taakatavar nahin hota to svaabhimaan ke saath samajhauta sambhav tha hee nahin aur taakatavar sainy shakti ke maamalon mein bhee aur taakatavar raajaneetik ichchhaashakti ke maamalon mein bhee donon jagah taakat bahut jarooree hai nisandeh bhaarat ke daarshanik shakti bhee abhootapoorv vrddhi huee hai jab se bhaarat ne 400 aur raaphel vimaan haasil kiya hai tab se bhaarat kee sainy shakti mein abhootapoorv vrddhi huee hai aur is sarakaar ne sena ke maamalon mein bahut achchhee tareeke se sansaadhanon ko haasil kiya hai med in indiya ko badhaava diya hai aur jahaan jaroorat thee vahaan par videshee sainy saamaanon kee bhee khareedaaree kee hai lekin is vakt ke saath bahut jarooree tha raajaneetik ichchhaashakti ka parichay agar raajaneetik ichchhaashakti ka parichay na hota jin hajaaron 4 kilomeetar jameen bhaarat ke pahale se hee hadap rakhe hain jisamen aksaee cheen jisamen tibbat vaala hissa yah sab shaamil hai jo ki neharoo hindee cheenee bhaee kar de bhaee bhaee karate-karate desh ke svaabhimaan ko giravee rakh diya tha lekin khushee kee baat hai ki yah sarakaar karata sari rahee aur desh kee seemaon ke saath mein desh ke svaabhimaan ke saath mein koee samajhauta nahin kiya saath hee saath bhaarat kee raajaneetik ichchhaashakti bhaarat kee poore vishv ke andar jo ek alag parichay bhaarat ka bana ki bhaarat drdhata se khada rahata hai yahee vajah thee ki bhaarat kee itanee badee jeet isamen ho paee nisandeh bina sainy shakti ke sambhav nahin hai lekin yah bina raajaneetik ichchhaashakti ke bhee sambhav nahin hai isake lie main bhaarat kee senaon ko bhaarat ke veer javaanon ko bhaarat ke jo sainik shaheed ho gae hain unako unake unake shree charanon mein koti koti naman karata hoon bhaarat ke veer javaanon ko bahaaduron ko pranaam karata hoon aur bhaarat kee ichchha shakti raajaneetik ichchhaashakti 22 kootaneetik jeet ke lie bhaarat sarakaar ko bhee dhanyavaad deta hoon sabhee badhaee ke paatr hain dhanyavaad

bolkar speaker
वर्तमान समय में चीन का पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत है?Vartmaan Samay Mein China Ka Piche Hatna Kya Bharat Ki Kutneetik Jeet Hai
Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:30
खरा कपास ने वर्तमान समय में चीन का पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत है तो आप पता चाहिए बिल्कुल भारत की कूटनीतिक जीत ही है जो पिछले 10 महीने से भारतीय सेना डटी रही बॉर्डर पर उन्होंने चीनी सैनिकों को एक कदम आगे नहीं बढ़ने दिया यहां पर आकर आप इतना ज्यादा दबाव बना दिया गया चाइना के ऊपर किया उसको खुद पीछे हटने का फैसला लेना पड़ा है और ऐसे ही वाहनों में कूटनीतिक जीत ही है मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद
Khara kapaas ne vartamaan samay mein cheen ka peechhe hatana kya bhaarat kee kootaneetik jeet hai to aap pata chaahie bilkul bhaarat kee kootaneetik jeet hee hai jo pichhale 10 maheene se bhaarateey sena datee rahee bordar par unhonne cheenee sainikon ko ek kadam aage nahin badhane diya yahaan par aakar aap itana jyaada dabaav bana diya gaya chaina ke oopar kiya usako khud peechhe hatane ka phaisala lena pada hai aur aise hee vaahanon mein kootaneetik jeet hee hai main shubhakaamanaen aapake saath hain dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • वर्तमान समय में चीन का पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत है चीन का पीछे हटना क्या भारत की कूटनीतिक जीत है
URL copied to clipboard