#खेल कूद

bolkar speaker

पाकिस्तान का लाहौर शहर कितना पुराना है यह क्यों मशहूर है?

Pakistan Ka Lahore Sehr Kitna Purana Hai Yeh Kyun Mashur Hai
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
2:13
असवानी कि पाकिस्तान का लाहौर से इतना पुराना है वह भी एक इतना मैं सूरत में हूं तो लाहौर का ज्यादातर हिस्सा बनिए मुगलकालीन यूनिवर्सिटी ट्रेन कालका है जिसका अधिकांश राज आज भी सुरक्षित आज भी बादशाह है मजीद अली शालीमार बाग मैन ऊर्जा तथा जागीर के मकबरे बीकानेर स्थापना की उपलब्धियों इसकी मेहता का अभ्यास करें भावनाओं में लाहौर उच्च न्यायालय जनरल पोस्ट ऑफिस इत्यादि मुगल और ब्रिटेन स्थापना का मिश्रण नमूना बनकर लाहौर में उपस्थित है यह महत्वपूर्ण बैठक स्थल के रूप में लोकप्रिय हैं मुख्य तौर पर लो और पंजाब की मातृभाषा के तौर पर इस्तेमाल की जाती है हालांकि अंग्रेजी भाषा में प्रचलित ऐसे नौजवानों में लोकप्रिय है लोगों की पंजाबी शैली की लोरी पंजाबी के नाम से भी जाना जाता है इसे पंजाबी उर्दू में सुंदर और जनगणना के अनुसार शहर की जनगणना 900000 की गई है अगर वर्तमान की बात की जाए तो वह पंजाब प्रांत की राजधानी है और कराची के बाद पाकिस्तान का सबसे बड़ा आबादी वाला शहर है इसे पाकिस्तान का दिल नाम से भी संबोधित किया जाता है क्योंकि शहर में पाकिस्तान इतिहास संस्कृति एवं शिक्षा का अत्यंत विशिष्ट योगदान रहा है इसी अवसर पर पाकिस्तान बाघों के शहर के रूप में जाना जाता है प्लांट से ड्राइवर एवं बाघ नदी के तट पर भारत-पाक सीमा पर स्थित है और उसका छत्रपाल 1742 किलोमीटर है
Asavaanee ki paakistaan ka laahaur se itana puraana hai vah bhee ek itana main soorat mein hoon to laahaur ka jyaadaatar hissa banie mugalakaaleen yoonivarsitee tren kaalaka hai jisaka adhikaansh raaj aaj bhee surakshit aaj bhee baadashaah hai majeed alee shaaleemaar baag main oorja tatha jaageer ke makabare beekaaner sthaapana kee upalabdhiyon isakee mehata ka abhyaas karen bhaavanaon mein laahaur uchch nyaayaalay janaral post ophis ityaadi mugal aur briten sthaapana ka mishran namoona banakar laahaur mein upasthit hai yah mahatvapoorn baithak sthal ke roop mein lokapriy hain mukhy taur par lo aur panjaab kee maatrbhaasha ke taur par istemaal kee jaatee hai haalaanki angrejee bhaasha mein prachalit aise naujavaanon mein lokapriy hai logon kee panjaabee shailee kee loree panjaabee ke naam se bhee jaana jaata hai ise panjaabee urdoo mein sundar aur janaganana ke anusaar shahar kee janaganana 900000 kee gaee hai agar vartamaan kee baat kee jae to vah panjaab praant kee raajadhaanee hai aur karaachee ke baad paakistaan ka sabase bada aabaadee vaala shahar hai ise paakistaan ka dil naam se bhee sambodhit kiya jaata hai kyonki shahar mein paakistaan itihaas sanskrti evan shiksha ka atyant vishisht yogadaan raha hai isee avasar par paakistaan baaghon ke shahar ke roop mein jaana jaata hai plaant se draivar evan baagh nadee ke tat par bhaarat-paak seema par sthit hai aur usaka chhatrapaal 1742 kilomeetar hai

और जवाब सुनें

bolkar speaker
पाकिस्तान का लाहौर शहर कितना पुराना है यह क्यों मशहूर है?Pakistan Ka Lahore Sehr Kitna Purana Hai Yeh Kyun Mashur Hai
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:47
स्वागत है आपका आपका प्रश्न है पाकिस्तान का लाहौर शहर कितना पुराना और क्यों मशहूर है तो फ्रेंड से लाहौर का जो पाकिस्तान का लाहौर शहर है वह बहुत ही पुराना है पाकिस्तान में लाहौर शायरी पहले बसा हुआ था आजादी के समय जब जब हम लोग पाकिस्तान और भारत का जब बंटवारा हुआ था और तो उस समय से ही ऐसे तो यह काफी पुराना है और यह इसलिए मैं सूर्य क्योंकि यहां पर बहुत सारी ऐसी बातें हैं जो इसको अलग बनाती है यह पाकिस्तान का क्रांति के बाद दूसरा लोहार सबसे बड़ा शहर है यह बहुत ही अच्छा है यहां तक कि ज्यादातर कव्वाली जो होती है वह वाली की जो प्रतियोगिताएं वगैरह होती है और कव्वाली के जो एक्टर है यह सबसे ज्यादा यहां पर होते हैं सब जगह जाते हैं कव्वाली करने के लिए और यहां पर खेल राजनीति सब हर चीज में डेवलपमेंट हुआ है और जो लोग बारे में बहुत तेजी से डेवलप कर रहा है और यह गिने चुने चुने नगरों में आता है यह बहुत ही बड़ा प्रदेश और बहुत ही बड़ा शहर है गिने-चुने शहरों में आता है उसका नाम बहुत ही गिने चुने शहरों में लिया जाता है और यहां पर बहुत सारी अच्छी-अच्छी बातें हैं जो उसको अलग बनाती हैं यहां बहुत तेजी से प्रचार-प्रसार व यहां की सड़कें इतनी अच्छी है और यहां पर पंजाबी लोग ज्यादा है लाहौर में तो यहां की जो शादियां वगैरह है वह पंजाबी तरीकों से धूमधाम से मनाई जाती है और यह पंजाब प्रांत का सबसे बड़ा शहर है वहां पर पंजाबियों का सबसे बड़ा शहर है यहां पर पंजाबी रहते हैं और वही की रीति रिवाज में मनाते हैं तो यह इस बात का बहुत ही अच्छा शहर है और बहुत सुंदर शहर है धन्यवाद
Svaagat hai aapaka aapaka prashn hai paakistaan ka laahaur shahar kitana puraana aur kyon mashahoor hai to phrend se laahaur ka jo paakistaan ka laahaur shahar hai vah bahut hee puraana hai paakistaan mein laahaur shaayaree pahale basa hua tha aajaadee ke samay jab jab ham log paakistaan aur bhaarat ka jab bantavaara hua tha aur to us samay se hee aise to yah kaaphee puraana hai aur yah isalie main soory kyonki yahaan par bahut saaree aisee baaten hain jo isako alag banaatee hai yah paakistaan ka kraanti ke baad doosara lohaar sabase bada shahar hai yah bahut hee achchha hai yahaan tak ki jyaadaatar kavvaalee jo hotee hai vah vaalee kee jo pratiyogitaen vagairah hotee hai aur kavvaalee ke jo ektar hai yah sabase jyaada yahaan par hote hain sab jagah jaate hain kavvaalee karane ke lie aur yahaan par khel raajaneeti sab har cheej mein devalapament hua hai aur jo log baare mein bahut tejee se devalap kar raha hai aur yah gine chune chune nagaron mein aata hai yah bahut hee bada pradesh aur bahut hee bada shahar hai gine-chune shaharon mein aata hai usaka naam bahut hee gine chune shaharon mein liya jaata hai aur yahaan par bahut saaree achchhee-achchhee baaten hain jo usako alag banaatee hain yahaan bahut tejee se prachaar-prasaar va yahaan kee sadaken itanee achchhee hai aur yahaan par panjaabee log jyaada hai laahaur mein to yahaan kee jo shaadiyaan vagairah hai vah panjaabee tareekon se dhoomadhaam se manaee jaatee hai aur yah panjaab praant ka sabase bada shahar hai vahaan par panjaabiyon ka sabase bada shahar hai yahaan par panjaabee rahate hain aur vahee kee reeti rivaaj mein manaate hain to yah is baat ka bahut hee achchha shahar hai aur bahut sundar shahar hai dhanyavaad

bolkar speaker
पाकिस्तान का लाहौर शहर कितना पुराना है यह क्यों मशहूर है?Pakistan Ka Lahore Sehr Kitna Purana Hai Yeh Kyun Mashur Hai
Er.Awadhesh kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 66
सुनिए Er.Awadhesh जी का जवाब
Unknown
1:07
सवाल है पाकिस्तान का लाहौर शहर कितना पुराना है और क्यों मशहूर है तू ही लाहौर का किला जो है उस 1628 में जहांगीर के द्वारा बनाया गया था और इसके बाद एक मशहूर इसलिए है कि एशियाई राष्ट्र पाकिस्तान का दूसरा सबसे बड़ा महानगर है नगर का दर्ज इतिहास में हजारों वर्ष पुराना है यह हजारों वर्ष पुराना है इसके अलावा देखा जाए तो मूल रूप से पंजाब क्षेत्र की राजधानी जो है उस सबसे बड़े नगर के रूप में जानी जाती है और इस पर बसावट के बाद अगर देखा जाए तो चैन हिंदू बाउदी नानी मुसलमान मुगल अफगान सिख मराठा अंग्रेज समेत कई शक्तियों के अधीन रहा और यह सबसे ज्यादा चर्चित होने की के लिए आधुनिक नगर के रूप में पाकिस्तान की संस्कृति राजधानी बनाने के लिए बनने से बहुत ज्यादा मशहूर है
Savaal hai paakistaan ka laahaur shahar kitana puraana hai aur kyon mashahoor hai too hee laahaur ka kila jo hai us 1628 mein jahaangeer ke dvaara banaaya gaya tha aur isake baad ek mashahoor isalie hai ki eshiyaee raashtr paakistaan ka doosara sabase bada mahaanagar hai nagar ka darj itihaas mein hajaaron varsh puraana hai yah hajaaron varsh puraana hai isake alaava dekha jae to mool roop se panjaab kshetr kee raajadhaanee jo hai us sabase bade nagar ke roop mein jaanee jaatee hai aur is par basaavat ke baad agar dekha jae to chain hindoo baudee naanee musalamaan mugal aphagaan sikh maraatha angrej samet kaee shaktiyon ke adheen raha aur yah sabase jyaada charchit hone kee ke lie aadhunik nagar ke roop mein paakistaan kee sanskrti raajadhaanee banaane ke lie banane se bahut jyaada mashahoor hai

bolkar speaker
पाकिस्तान का लाहौर शहर कितना पुराना है यह क्यों मशहूर है?Pakistan Ka Lahore Sehr Kitna Purana Hai Yeh Kyun Mashur Hai
RAM NIWASH AWASTHI Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए RAM जी का जवाब
विद्यार्थी
1:21
जैसे कि आपका समय पाकिस्तान का लाहौर शहर कितना पुराना है यह क्यों मशहूर है देखिए लाहौर पाकिस्तान के प्रांत पंजाब की राजधानी है एवं कराची के बाद पाकिस्तान में दूसरा सबसे बड़ा आबादी वाला शहर है इसे पाकिस्तान का दिल नाम से भी संबोधित किया जाता है क्योंकि इस शहर का पाकिस्तानी इतिहास संस्कृति एवं शिक्षा में अत्यंत विशिष्ट योगदान रहा है अक्सर पाकिस्तानी बाघों के शहर के रूप में भी जाना जाता है यह कितना पुराना है आप इससे भी अनुमान लगा सकते हैं क्योंकि लाहौर का ज्यादातर स्थापत्य मुगलकालीन एवं औपनिवेशिक ब्रिटिश काल कहां है जिसका अधिकांश आज भी सुरक्षित है आज भी बादशाही मस्जिद अली उज्जवल शालीमार बाग एवं नूरजहां तथा जहांगीर के मकबरे मुगलकालीन स्थापत्य की उपस्थिति एवं उसकी महत्त्व आभास करवाता है महत्वपूर्ण ब्रिटिश कालीन दोनों में लाहौर उच्च न्यायालय जनरल पोस्ट ऑफिस पदमुगल एवं ब्रिटिश स्थापत्य का मिश्रित नमूना बनकर लाहौर में उपस्थित है एवं सभी महत्वपूर्ण पर्यटक स्थल में लोकप्रिय है धन्यवाद
Jaise ki aapaka samay paakistaan ka laahaur shahar kitana puraana hai yah kyon mashahoor hai dekhie laahaur paakistaan ke praant panjaab kee raajadhaanee hai evan karaachee ke baad paakistaan mein doosara sabase bada aabaadee vaala shahar hai ise paakistaan ka dil naam se bhee sambodhit kiya jaata hai kyonki is shahar ka paakistaanee itihaas sanskrti evan shiksha mein atyant vishisht yogadaan raha hai aksar paakistaanee baaghon ke shahar ke roop mein bhee jaana jaata hai yah kitana puraana hai aap isase bhee anumaan laga sakate hain kyonki laahaur ka jyaadaatar sthaapaty mugalakaaleen evan aupaniveshik british kaal kahaan hai jisaka adhikaansh aaj bhee surakshit hai aaj bhee baadashaahee masjid alee ujjaval shaaleemaar baag evan noorajahaan tatha jahaangeer ke makabare mugalakaaleen sthaapaty kee upasthiti evan usakee mahattv aabhaas karavaata hai mahatvapoorn british kaaleen donon mein laahaur uchch nyaayaalay janaral post ophis padamugal evan british sthaapaty ka mishrit namoona banakar laahaur mein upasthit hai evan sabhee mahatvapoorn paryatak sthal mein lokapriy hai dhanyavaad

bolkar speaker
पाकिस्तान का लाहौर शहर कितना पुराना है यह क्यों मशहूर है?Pakistan Ka Lahore Sehr Kitna Purana Hai Yeh Kyun Mashur Hai
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:57
सवाल है कि पाकिस्तान का लाहौर शहर कितना पुराना है यह क्या मशहूर है ऐसा माना जाता है कि लाहौर की स्थापना भगवान श्री राम के पुत्र लगने की थी आज भी कुछ ऐसे अंश मिलते हैं जिनसे राम के दिनों की याद ताजा हो जाती है इंग्लिश में लव का मंदिर भी है लव का उच्चारण लहरी किया जाता है जिससे कि लाहौर शब्द की उत्पत्ति मानी जाती है पाकिस्तान का दूसरा सबसे बड़ा शहर लाहौर यहां की सांस्कृतिक राजधानी के रूप में विख्यात है यह शहर पिछली कई शताब्दियों से बुद्धिजीवी और सांस्कृतिक गतिविधियों को गढ़ रहा है रावी नदी के किनारे स्थित यह शहर पंजाब प्रांत की वाणिज्यिक गतिविधि का केंद्र है पर्यटकों के देखने के लिए यहां लोकप्रिय और चर्चित पर्यटन स्थलों की भरमार है लाहौर बादशाही मस्जिद अकबरी गेट कश्मीरी गेट चिड़ियाघर शालीमार गार्डन वजीर खान मस्जिद आदि चर्चित स्थल है
Savaal hai ki paakistaan ka laahaur shahar kitana puraana hai yah kya mashahoor hai aisa maana jaata hai ki laahaur kee sthaapana bhagavaan shree raam ke putr lagane kee thee aaj bhee kuchh aise ansh milate hain jinase raam ke dinon kee yaad taaja ho jaatee hai inglish mein lav ka mandir bhee hai lav ka uchchaaran laharee kiya jaata hai jisase ki laahaur shabd kee utpatti maanee jaatee hai paakistaan ka doosara sabase bada shahar laahaur yahaan kee saanskrtik raajadhaanee ke roop mein vikhyaat hai yah shahar pichhalee kaee shataabdiyon se buddhijeevee aur saanskrtik gatividhiyon ko gadh raha hai raavee nadee ke kinaare sthit yah shahar panjaab praant kee vaanijyik gatividhi ka kendr hai paryatakon ke dekhane ke lie yahaan lokapriy aur charchit paryatan sthalon kee bharamaar hai laahaur baadashaahee masjid akabaree get kashmeeree get chidiyaaghar shaaleemaar gaardan vajeer khaan masjid aadi charchit sthal hai

bolkar speaker
पाकिस्तान का लाहौर शहर कितना पुराना है यह क्यों मशहूर है?Pakistan Ka Lahore Sehr Kitna Purana Hai Yeh Kyun Mashur Hai
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
2:32
पाकिस्तान का लाहौर शहर कितना पुराना है यह क्यों मशहूर है 22 लाख और काफी प्रसिद्ध शहर लाहौर पुरानी पंजाब की राजधानी विराट चुका है और रावी नदी के संगम तो मिल लाहो ट्रेन का नाम जो है वह ओरिया लव कुश इत्यादि भी मिलता है कहते हैं कि श्री राम के पुत्र लाने को बताया था इस वजह से और दोस्तों कुछ इतिहासकार दो इसके बारे में ताकि उसका उल्लेख जाती है काम में भी किया था तंत्र ब्लैकमेल लाहौर का नाम पूर्वी कहां गया श्री रामचंद्र के पास स्थित गुरुनानक नगर है उसने बताया था प्रसिद्धि को लेकर के यही है कि लाहौर के पंजाब विश्वविद्यालय में 8671 संस्कृत हिंदी की पांडुलिपि जहां पर अरबी फारसी तुर्की और उर्दू और क्षेत्रीय भाषाओं की कुल 22000 पांडुलिपि या रखे भैया काशी हिंदू विश्वविद्यालय वाराणसी संस्कृत विभाग के शोध के अनुसार इस संबंध में जानकारी प्राप्त लाहौर सांस्कृतिक दृष्टि से भी काफी समृद्ध माना जाता है लाहौर में दोस्तों हिंदू सिख और जैन संस्कृति के अवशेष दृष्टिगोचर हैं इनमें गुरुद्वारा और पाठशाला एबी है आर्य समाज मंदिर महादेव मंदिर शीतला मंदिर भैरव मंदिर अकबरी मंदिर श्री कृष्ण मंदिर दूध वाली माता का मंदिर दर्शन समाधि डेरा इत्यादि या पर मौजूद थे यहां पर बौद्ध भिक्षुओं के अवशेष भी बताए जाते हैं यहां पर बहुत मोटे इत्यादि भी बताए जाते हैं प्राचीन समय में यह जो था दोस्तों के कुछ की राजधानी कुशावती के आसपास का क्षेत्र में माना जाता है रघुवंश के अनुसार उसको अयोध्या जाने के लिए विंध्याचल को पार करना पड़ा था इससे भी सिद्ध होता है कि उसका राज्य दक्षिण कौशल में हमारे किसी समय भारत का ही एक हिस्सा हुआ करता था और आज कल जो है पाकिस्तान के अंदर जो है यह काफी पॉपुलर है जिस तरीके से दोस्तों भारत के अंदर दिल्ली और मुंबई जैसे प्रसिद्ध बड़े-बड़े चाही पाकिस्तान के अंदर
Paakistaan ka laahaur shahar kitana puraana hai yah kyon mashahoor hai 22 laakh aur kaaphee prasiddh shahar laahaur puraanee panjaab kee raajadhaanee viraat chuka hai aur raavee nadee ke sangam to mil laaho tren ka naam jo hai vah oriya lav kush ityaadi bhee milata hai kahate hain ki shree raam ke putr laane ko bataaya tha is vajah se aur doston kuchh itihaasakaar do isake baare mein taaki usaka ullekh jaatee hai kaam mein bhee kiya tha tantr blaikamel laahaur ka naam poorvee kahaan gaya shree raamachandr ke paas sthit gurunaanak nagar hai usane bataaya tha prasiddhi ko lekar ke yahee hai ki laahaur ke panjaab vishvavidyaalay mein 8671 sanskrt hindee kee paandulipi jahaan par arabee phaarasee turkee aur urdoo aur kshetreey bhaashaon kee kul 22000 paandulipi ya rakhe bhaiya kaashee hindoo vishvavidyaalay vaaraanasee sanskrt vibhaag ke shodh ke anusaar is sambandh mein jaanakaaree praapt laahaur saanskrtik drshti se bhee kaaphee samrddh maana jaata hai laahaur mein doston hindoo sikh aur jain sanskrti ke avashesh drshtigochar hain inamen gurudvaara aur paathashaala ebee hai aary samaaj mandir mahaadev mandir sheetala mandir bhairav mandir akabaree mandir shree krshn mandir doodh vaalee maata ka mandir darshan samaadhi dera ityaadi ya par maujood the yahaan par bauddh bhikshuon ke avashesh bhee batae jaate hain yahaan par bahut mote ityaadi bhee batae jaate hain praacheen samay mein yah jo tha doston ke kuchh kee raajadhaanee kushaavatee ke aasapaas ka kshetr mein maana jaata hai raghuvansh ke anusaar usako ayodhya jaane ke lie vindhyaachal ko paar karana pada tha isase bhee siddh hota hai ki usaka raajy dakshin kaushal mein hamaare kisee samay bhaarat ka hee ek hissa hua karata tha aur aaj kal jo hai paakistaan ke andar jo hai yah kaaphee popular hai jis tareeke se doston bhaarat ke andar dillee aur mumbee jaise prasiddh bade-bade chaahee paakistaan ke andar

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

    URL copied to clipboard