#भारत की राजनीति

bolkar speaker

गुलाम नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे?

Gulam Nabi Aazad Ke Lie Pradhanmantri Modi Kyun Ro Rahe The
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
0:52
गुलाम नबी आजाद के लिए मोदी इसलिए रो रहे थे कि जिस समय मोदी मुख्यमंत्री थे और गुलाम आजाद कश्मीर के मुख्यमंत्री थे तो कहां का गुजरात के अंदर जो है वह कश्मीर गया हुआ था तो वहां आतंकवादियों ने उन पर हमला कर दिया था बहुत बुरी पोजीशन में थे तो गुलाम नबी आजाद मोदी जी से पर्सनली फोन करके के साथ ही आपका परिवार नहीं मेरा परिवार में इसकी बिल्कुल पर्सनल रूप से सुरक्षा करूंगा और राजनीति से दूर हट करके उन्होंने जो बात कही थी जो उनके दिल को हिट कर गई और उनको बताया कि गुलाम नबी आजाद जो हैं 1 घरेलू व्यक्ति हैं उनके उनका व्यक्तित्व है वह आत्मीयता के व्यक्तित्व साथ में इतना के व्यक्तित्व पर भावुक हो करके उन्होंने गुलाम नबी आजाद के तारीफ की और उनके आंसू बाहर निकलने लगे
Gulaam nabee aajaad ke lie modee isalie ro rahe the ki jis samay modee mukhyamantree the aur gulaam aajaad kashmeer ke mukhyamantree the to kahaan ka gujaraat ke andar jo hai vah kashmeer gaya hua tha to vahaan aatankavaadiyon ne un par hamala kar diya tha bahut buree pojeeshan mein the to gulaam nabee aajaad modee jee se parsanalee phon karake ke saath hee aapaka parivaar nahin mera parivaar mein isakee bilkul parsanal roop se suraksha karoonga aur raajaneeti se door hat karake unhonne jo baat kahee thee jo unake dil ko hit kar gaee aur unako bataaya ki gulaam nabee aajaad jo hain 1 ghareloo vyakti hain unake unaka vyaktitv hai vah aatmeeyata ke vyaktitv saath mein itana ke vyaktitv par bhaavuk ho karake unhonne gulaam nabee aajaad ke taareeph kee aur unake aansoo baahar nikalane lage

और जवाब सुनें

bolkar speaker
गुलाम नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे?Gulam Nabi Aazad Ke Lie Pradhanmantri Modi Kyun Ro Rahe The
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:29
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न गुलाम नबी आजाद तूने प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे तो फ्रेंड्स गुलाम नबी आजाद जी बहुत ही अच्छे नेता हैं और उन्होंने बहुत ही अच्छा काम किया है देश के लिए और जब राज्यसभा से उनका कार्यकाल समाप्त हो रहा है तो इसीलिए हम को विदाई देते समय बनमनखी मोदी भी भावुक हो गए थे उनके कार्यों की वजह से ही उनकी बहुत सराहना होती है और अच्छे इंसान है इसलिए प्रधानमंत्री मोदी जी भी भावुक हो गए थे धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn gulaam nabee aajaad toone pradhaanamantree modee kyon ro rahe the to phrends gulaam nabee aajaad jee bahut hee achchhe neta hain aur unhonne bahut hee achchha kaam kiya hai desh ke lie aur jab raajyasabha se unaka kaaryakaal samaapt ho raha hai to iseelie ham ko vidaee dete samay banamanakhee modee bhee bhaavuk ho gae the unake kaaryon kee vajah se hee unakee bahut saraahana hotee hai aur achchhe insaan hai isalie pradhaanamantree modee jee bhee bhaavuk ho gae the dhanyavaad

bolkar speaker
गुलाम नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे?Gulam Nabi Aazad Ke Lie Pradhanmantri Modi Kyun Ro Rahe The
Rahul kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Rahul जी का जवाब
Unknown
1:35
दोस्तों सवाल है गुलाब नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे दोस्तों संसद के ऊपरी सदन से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद सहित चार सांसदों की विदाई हो रही है जिन सात सांसदों का कार्यकाल पूरा हो रहा है उनमें दो पीडीपी के एक कांग्रेसी और भाजपा का सांसद शामिल है इस मौके पर एक बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी राज्य सभा को संबोधित कर रहे थे और अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री जी ने गुलाब नबी आजाद की जमकर तारीफ की और कहा कि एक आतंकी घटना ज्योति हुई उस समय सबसे पहले यदि किसी व्यक्ति का या मोदी जी ने बताया कि किस तरह से एक समय जब आतंकवादी घटना हो गई थी उस समय गुलाम नबी आजाद फंसे हुए लोगों की चिंता अपने परिवार के सदस्यों की तरह कर रही थी इतना ही नहीं तत्कालीन रक्षा मंत्री प्रणब मुखर्जी ने भी उनकी मदद की थी और बताया कि गुलाब नबी की तारीफ करते गुलाम नबी जी जब मुख्यमंत्री थे तो मैं भी एक राज्य का मुख्यमंत्री था हमारी बहुत गहरी निकटता रही एक बार गुजराती कुछ यात्रियों पर आतंकियों ने हमला कर दिया 8 लोग उसमें मारे तो सबसे पहले गुलाम नबी जी का मुझे फोन आया और यह कहते हो नरेंद्र मोदी जी की आंखों में आंसू आना शुरू हो गई या नबी आजाद जो नरेंद्र मोदी जी बहुत ज्यादा करते हैं इसी वजह से विदा हो रहे थे तो एक महान
Doston savaal hai gulaab nabee aajaad ke lie pradhaanamantree modee kyon ro rahe the doston sansad ke ooparee sadan se kaangres ke varishth neta gulaam nabee aajaad sahit chaar saansadon kee vidaee ho rahee hai jin saat saansadon ka kaaryakaal poora ho raha hai unamen do peedeepee ke ek kaangresee aur bhaajapa ka saansad shaamil hai is mauke par ek baar pradhaanamantree narendr modee jee raajy sabha ko sambodhit kar rahe the aur apane sambodhan ke dauraan pradhaanamantree jee ne gulaab nabee aajaad kee jamakar taareeph kee aur kaha ki ek aatankee ghatana jyoti huee us samay sabase pahale yadi kisee vyakti ka ya modee jee ne bataaya ki kis tarah se ek samay jab aatankavaadee ghatana ho gaee thee us samay gulaam nabee aajaad phanse hue logon kee chinta apane parivaar ke sadasyon kee tarah kar rahee thee itana hee nahin tatkaaleen raksha mantree pranab mukharjee ne bhee unakee madad kee thee aur bataaya ki gulaab nabee kee taareeph karate gulaam nabee jee jab mukhyamantree the to main bhee ek raajy ka mukhyamantree tha hamaaree bahut gaharee nikatata rahee ek baar gujaraatee kuchh yaatriyon par aatankiyon ne hamala kar diya 8 log usamen maare to sabase pahale gulaam nabee jee ka mujhe phon aaya aur yah kahate ho narendr modee jee kee aankhon mein aansoo aana shuroo ho gaee ya nabee aajaad jo narendr modee jee bahut jyaada karate hain isee vajah se vida ho rahe the to ek mahaan

bolkar speaker
गुलाम नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे?Gulam Nabi Aazad Ke Lie Pradhanmantri Modi Kyun Ro Rahe The
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:40
बेसन के गुलाब नबी आजाद ने परंतु क्यों रो रहे थे तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण के पहले दिन मोदी ने आजाद दरबार जम्मू कश्मीर में हुए हालिया डीडी चुनाव पर अपनी टिप्पणी पर ध्यान दिया और मदीने का गुलाब नबी जी हमेशा शालीनता से बोलते थे और कभी किसी गलत बात आगे भाषा का इस्तेमाल करते थे हमेशा ही ऐसी देश का सम्मान करता हूं और जम्मू-कश्मीर में चुनाव की प्रशंसा भी की थी इसलिए मेरा में मोदी जी पागल हो गए थे जनरल
Besan ke gulaab nabee aajaad ne parantu kyon ro rahe the to pradhaanamantree narendr modee ne apane bhaashan ke pahale din modee ne aajaad darabaar jammoo kashmeer mein hue haaliya deedee chunaav par apanee tippanee par dhyaan diya aur madeene ka gulaab nabee jee hamesha shaaleenata se bolate the aur kabhee kisee galat baat aage bhaasha ka istemaal karate the hamesha hee aisee desh ka sammaan karata hoon aur jammoo-kashmeer mein chunaav kee prashansa bhee kee thee isalie mera mein modee jee paagal ho gae the janaral

bolkar speaker
गुलाम नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे?Gulam Nabi Aazad Ke Lie Pradhanmantri Modi Kyun Ro Rahe The
srikant pal Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए srikant जी का जवाब
Student
0:39

bolkar speaker
गुलाम नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे?Gulam Nabi Aazad Ke Lie Pradhanmantri Modi Kyun Ro Rahe The
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
1:04
वाले की गुलाब नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे राज्य सभा में विपक्ष के नेता और कांग्रेस के वरिष्ठ सांसद गुलाम नबी आजाद का कार्यकाल खत्म हो रहा है संसद में करीब तीन दशक बता चुके गुलाब नबी आजाद की विदाई पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बहुत भावुक हो गए पीएम मोदी ने ढूंढी गले से आजाद संग बिताए पलों को याद किया पर एक वक्त तो रो पड़े मोदी ने कहा कि गुलाब नबी आजाद के बाद इस पद यानी नेता प्रतिपक्ष को जो संभालेंगे उनको गुलाब नबी जी से मैच करने में बहुत दिक्कत पड़ेगी उसके बाद मोदी ने उस वक्त का एक हफ्ता सुना है जब मैं गुजरात के मुख्यमंत्री थे और जम्मू कश्मीर में गुजरात की यांत्रिक ओ पर आतंकी हमला हुआ था उस समय गुलाम नबी आजाद ने जैसी चिंता गुजरात के लोगों के लिए दिखाएं मोदी उसका जिक्र करते हुए रो पड़े मोदी ने गुलाम नबी आजाद को संसदीय लोकतंत्र में योगदान के लिए भी सलूट किया
Vaale kee gulaab nabee aajaad ke lie pradhaanamantree modee kyon ro rahe the raajy sabha mein vipaksh ke neta aur kaangres ke varishth saansad gulaam nabee aajaad ka kaaryakaal khatm ho raha hai sansad mein kareeb teen dashak bata chuke gulaab nabee aajaad kee vidaee par pradhaanamantree narendr modee bahut bhaavuk ho gae peeem modee ne dhoondhee gale se aajaad sang bitae palon ko yaad kiya par ek vakt to ro pade modee ne kaha ki gulaab nabee aajaad ke baad is pad yaanee neta pratipaksh ko jo sambhaalenge unako gulaab nabee jee se maich karane mein bahut dikkat padegee usake baad modee ne us vakt ka ek haphta suna hai jab main gujaraat ke mukhyamantree the aur jammoo kashmeer mein gujaraat kee yaantrik o par aatankee hamala hua tha us samay gulaam nabee aajaad ne jaisee chinta gujaraat ke logon ke lie dikhaen modee usaka jikr karate hue ro pade modee ne gulaam nabee aajaad ko sansadeey lokatantr mein yogadaan ke lie bhee saloot kiya

bolkar speaker
गुलाम नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे?Gulam Nabi Aazad Ke Lie Pradhanmantri Modi Kyun Ro Rahe The
Ram Kumawat  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ram जी का जवाब
Unknown
1:39
सुहास वाले गुलाब नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुलाम नबी आजाद के एक फोन कॉल का जिक्र किया उसके दौरान बहुत ही भावुक हो गए थे और राज्यसभा में कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद रिटायर हो रहे उनके रिटायरमेंट के मौके पर बोलते बोलते प्रधानमंत्री मोदी रो पड़े मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे तो उस वक्त जम्मू कश्मीर के कुछ यात्रियों पर अंकित हमला हुआ और मोदी ने उस वक्त का जिक्र करते हुए कहा कि उनके पास सबसे पहला फोन गुलाब नबी आजाद का आया था मोदी ने रुक गले से वेकेशन सुनाया कि कैसे आज गुजरात के लोग वैसे ही चिंता थी जैसी आज कोई अपने परिवार के लिए करते हैं भले ही गले से पीएम मोदी ने सुनाई वह किसी एक बार गुजार दिया तो आप गधे हो लावा आठ नौ आठ लोग मारे गए थे सबसे पहले गुलाब मुझे गुलाब नबी जी का फोन आया और वह फोन सिर्फ सूचना देने का नहीं था गला को भूल गया और उनकी आंखों में आंसू रुके नहीं देते फोन पर से सुबह अरुण मुखर्जी साफ डिफेंस मिनिस्टर थे मैंने फोन किया साहब अगर फोर्स की हवाई जहाज मिल जाए तो डेड बॉडी को लाने के लिए रात में देर हो गई तो बड़ी मशीन का आप चिंता नहीं करें लेकिन रात को गुलाब नबी जी का फोन आया वह एयरपोर्ट पर थे उन्होंने मुझे फोन किया जैसे ही अपने परिवार के सदस्यों की चिंता करें वैसे ही चिंता थी धन्यवाद दोस्तों
Suhaas vaale gulaab nabee aajaad ke lie pradhaanamantree modee kyon ro rahe the to pradhaanamantree narendr modee ne gulaam nabee aajaad ke ek phon kol ka jikr kiya usake dauraan bahut hee bhaavuk ho gae the aur raajyasabha mein kaangresee neta gulaam nabee aajaad ritaayar ho rahe unake ritaayarament ke mauke par bolate bolate pradhaanamantree modee ro pade modee jab gujaraat ke mukhyamantree the to us vakt jammoo kashmeer ke kuchh yaatriyon par ankit hamala hua aur modee ne us vakt ka jikr karate hue kaha ki unake paas sabase pahala phon gulaab nabee aajaad ka aaya tha modee ne ruk gale se vekeshan sunaaya ki kaise aaj gujaraat ke log vaise hee chinta thee jaisee aaj koee apane parivaar ke lie karate hain bhale hee gale se peeem modee ne sunaee vah kisee ek baar gujaar diya to aap gadhe ho laava aath nau aath log maare gae the sabase pahale gulaab mujhe gulaab nabee jee ka phon aaya aur vah phon sirph soochana dene ka nahin tha gala ko bhool gaya aur unakee aankhon mein aansoo ruke nahin dete phon par se subah arun mukharjee saaph diphens ministar the mainne phon kiya saahab agar phors kee havaee jahaaj mil jae to ded bodee ko laane ke lie raat mein der ho gaee to badee masheen ka aap chinta nahin karen lekin raat ko gulaab nabee jee ka phon aaya vah eyaraport par the unhonne mujhe phon kiya jaise hee apane parivaar ke sadasyon kee chinta karen vaise hee chinta thee dhanyavaad doston

bolkar speaker
गुलाम नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे?Gulam Nabi Aazad Ke Lie Pradhanmantri Modi Kyun Ro Rahe The
TechVR ( Vikas RanA) Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए TechVR जी का जवाब
IT Professional
1:43
नमस्कार दोस्तों का गुलाम नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री क्यों रो रो के भाषण के दौरान जब वह गुलाम नबी आजाद के बारे में बातें कर रहे थे तो उनकी शख्सियत है जो है आजा निगम का व्यक्तिगत रूप से जैसे वह जानते थे और उनका प्रेम देश के लिए जा जो भी उनके बीच में दोस्ती थी उससे और वह शायद से जा रहे थे तो उन्होंने उस वक्त के लिए उनके चीजें याद तेरी जब मैं देखा कि के जैसे बाढ़ में लोग मरे आज आपने भाषण सुना दो बार में लोग मरे थे या जो नक्सलाइट से उन्होंने हमला किया था गुजरात के वहां पर घूमने आए थे जो गाड़ियों में उनकी बात पर कॉल आई थी तो इतना रोए थे कि उनको भी जो है बहुत दिल के करीब कि उनकी बातें हो चुकी थी उन्हीं चीजों को याद करते हुए नहीं पलों को याद करते हो वह उनकी आंखों में आंसू आए थे तो वही बता कर उनकी निजी जिंदगी में मैं वह व्यक्ति कैसा था उसका व्यवहार कैसा था उसी चीजों को था कि उनका यही किस तरह का है और किस तरह की सोच रखता है तुझे सोच को 9:30 वह इस हिसाब से साजन के बहुत करीब से जान से बात करें उनसे प्रेम तो हिसाब से निरीक्षण किया था आशा करता हूं आप बात को अंडरस्टैंड करेंगे होंगे लाइक और सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Namaskaar doston ka gulaam nabee aajaad ke lie pradhaanamantree kyon ro ro ke bhaashan ke dauraan jab vah gulaam nabee aajaad ke baare mein baaten kar rahe the to unakee shakhsiyat hai jo hai aaja nigam ka vyaktigat roop se jaise vah jaanate the aur unaka prem desh ke lie ja jo bhee unake beech mein dostee thee usase aur vah shaayad se ja rahe the to unhonne us vakt ke lie unake cheejen yaad teree jab main dekha ki ke jaise baadh mein log mare aaj aapane bhaashan suna do baar mein log mare the ya jo naksalait se unhonne hamala kiya tha gujaraat ke vahaan par ghoomane aae the jo gaadiyon mein unakee baat par kol aaee thee to itana roe the ki unako bhee jo hai bahut dil ke kareeb ki unakee baaten ho chukee thee unheen cheejon ko yaad karate hue nahin palon ko yaad karate ho vah unakee aankhon mein aansoo aae the to vahee bata kar unakee nijee jindagee mein main vah vyakti kaisa tha usaka vyavahaar kaisa tha usee cheejon ko tha ki unaka yahee kis tarah ka hai aur kis tarah kee soch rakhata hai tujhe soch ko 9:30 vah is hisaab se saajan ke bahut kareeb se jaan se baat karen unase prem to hisaab se nireekshan kiya tha aasha karata hoon aap baat ko andarastaind karenge honge laik aur sabsakraib karen dhanyavaad

bolkar speaker
गुलाम नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे?Gulam Nabi Aazad Ke Lie Pradhanmantri Modi Kyun Ro Rahe The
Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
7:00
गुलाम नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री क्यों रो रहे थे इसका मतलब हम तो पहले से ही बहुत सारे लोग बताते हैं कि यह दोनों पार्टियां मिली हुई होती है आपस में उनके अच्छे संबंध होते हैं रूम के सामने ही रहते हैं और आपस में बांधकर खाते हैं इसमें इसमें धर्म जाति जाति बिहार नहीं आती है अभी नहीं आती है जयसमंद आर्थिक आर्थिक होते और आर्थिक संबंधों के वर्कआउट दलित नेताओं आदिवासी नेता और मुस्लिम नेता भी शामिल है ऐसी बात नहीं है कि सिर्फ कांग्रेस वाले और बीजेपी वाले ही ऐसे ही नाटक करते हैं तो भोजन समाज के कहलाने वाले नेताओं और उनके कार्य करता है बहुत शब्द भारी संख्या में लोगों को बताती है क्या और आपस में संबंध रखते हैं ब्राह्मणों के विरुद्ध प्रचार और आंदोलन करने वाले जो कई महापुरुषों का नाम लेकर और गरीबों का भी हिना नाम लेकर करते हैं उनके ब्राह्मणों के साथ पर्सनल संबंध अच्छे रहते हैं मैंने हर जगह देखा है ब्राह्मण भी उनके साथ पोषण संबंध अच्छे रखते हैं रितु राजनीतिक होता है और आर्थिक होता है नाटक सा प्रधानमंत्री मोदी का भी अच्छा अभिनेता बन गए अब पहले से ही शायद उनका चरित्र राजनीतिक होने की वजह फिल्मी और ना फिर तो हुआ होगा ऐसा कहने को जगा है और बनिया जो होता है उसका में बहुत माहिर होता है दिन भर उसका यही उसका मुंह चलता है यही धंधा होता है और महत्वपूर्ण बात यह है कि यह मोदी की तरफ से डैमेज कंट्रोल का एक भाग होता है कि समाज के हैं और किसान मुस्लिम दलित और ओबीसी भी इनके विरुद्ध हो गए हैं तो यह बहुत बड़ा डैमेज हुआ है लेकिन अभी भी इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन पर के भरोसे पर है यह है और अभी अगर इनके चुनाव किए जाए तो इनको बहुत बुरी हालत से हारना पड़ेगा सच्चे चुनाव किया जाएगा लेकिन इसकी शान बहुत कम दिखाई देती है यह सब कुछ कहो कि बिल किसान बिल भी सोते हैं सारी चीजें जबरदस्ती की है इसमें चर्चा नहीं की है कि भी है तो उनके ही लोगों से की है उनकी विचारधारा रखने वाले लोगों के साथ करके यह चर्चा नहीं बल्कि प्यार हम कह सकता सेंड किया जब चालू होता है चर्चा सकारात्मक और क्रिएटिव होती है जो होता है हो सकता है और विध्वंसक भी हो सकता है वैसे ही वह दौर में पूरी दुनिया के सामने उसके पीछे कोई न कोई मकसद होगा तो लोगों की सहमति अपनी तरफ खींचने के लिए उन्होंने यह थोड़ा सा प्रयत्न किया है ऐसे छोटे-मोटे खरीदने वह अगले कुछ सालों में करेंगे क्योंकि बहुत खतरनाक स्थिति में वह खुद भी आ चुके हैं और देश को भी लाकर खड़ा कर दिया है कुछ भी हो सकता है किसी भी वक्त हिंसा भड़क सकती है बड़े-बड़े लोगों क्या होती है पढ़ सकती है उसमें तो इतना एक साइकिल एकदम इतना प्यार हो रहे हो राजनीति में नहीं है वह मरता और अगर ऐसा होता तो जो हिंसा हुई है गुजरात से लेकर सभी आज आज तक दिल्ली तक के और बाद में उसके प्रति संवेदनशीलता होती है और ऐसी घुसा को रोक सकते थे धन्यवाद
Gulaam nabee aajaad ke lie pradhaanamantree kyon ro rahe the isaka matalab ham to pahale se hee bahut saare log bataate hain ki yah donon paartiyaan milee huee hotee hai aapas mein unake achchhe sambandh hote hain room ke saamane hee rahate hain aur aapas mein baandhakar khaate hain isamen isamen dharm jaati jaati bihaar nahin aatee hai abhee nahin aatee hai jayasamand aarthik aarthik hote aur aarthik sambandhon ke varkaut dalit netaon aadivaasee neta aur muslim neta bhee shaamil hai aisee baat nahin hai ki sirph kaangres vaale aur beejepee vaale hee aise hee naatak karate hain to bhojan samaaj ke kahalaane vaale netaon aur unake kaary karata hai bahut shabd bhaaree sankhya mein logon ko bataatee hai kya aur aapas mein sambandh rakhate hain braahmanon ke viruddh prachaar aur aandolan karane vaale jo kaee mahaapurushon ka naam lekar aur gareebon ka bhee hina naam lekar karate hain unake braahmanon ke saath parsanal sambandh achchhe rahate hain mainne har jagah dekha hai braahman bhee unake saath poshan sambandh achchhe rakhate hain ritu raajaneetik hota hai aur aarthik hota hai naatak sa pradhaanamantree modee ka bhee achchha abhineta ban gae ab pahale se hee shaayad unaka charitr raajaneetik hone kee vajah philmee aur na phir to hua hoga aisa kahane ko jaga hai aur baniya jo hota hai usaka mein bahut maahir hota hai din bhar usaka yahee usaka munh chalata hai yahee dhandha hota hai aur mahatvapoorn baat yah hai ki yah modee kee taraph se daimej kantrol ka ek bhaag hota hai ki samaaj ke hain aur kisaan muslim dalit aur obeesee bhee inake viruddh ho gae hain to yah bahut bada daimej hua hai lekin abhee bhee ilektronik voting masheen par ke bharose par hai yah hai aur abhee agar inake chunaav kie jae to inako bahut buree haalat se haarana padega sachche chunaav kiya jaega lekin isakee shaan bahut kam dikhaee detee hai yah sab kuchh kaho ki bil kisaan bil bhee sote hain saaree cheejen jabaradastee kee hai isamen charcha nahin kee hai ki bhee hai to unake hee logon se kee hai unakee vichaaradhaara rakhane vaale logon ke saath karake yah charcha nahin balki pyaar ham kah sakata send kiya jab chaaloo hota hai charcha sakaaraatmak aur krietiv hotee hai jo hota hai ho sakata hai aur vidhvansak bhee ho sakata hai vaise hee vah daur mein pooree duniya ke saamane usake peechhe koee na koee makasad hoga to logon kee sahamati apanee taraph kheenchane ke lie unhonne yah thoda sa prayatn kiya hai aise chhote-mote khareedane vah agale kuchh saalon mein karenge kyonki bahut khataranaak sthiti mein vah khud bhee aa chuke hain aur desh ko bhee laakar khada kar diya hai kuchh bhee ho sakata hai kisee bhee vakt hinsa bhadak sakatee hai bade-bade logon kya hotee hai padh sakatee hai usamen to itana ek saikil ekadam itana pyaar ho rahe ho raajaneeti mein nahin hai vah marata aur agar aisa hota to jo hinsa huee hai gujaraat se lekar sabhee aaj aaj tak dillee tak ke aur baad mein usake prati sanvedanasheelata hotee hai aur aisee ghusa ko rok sakate the dhanyavaad

bolkar speaker
गुलाम नबी आजाद के लिए प्रधानमंत्री मोदी क्यों रो रहे थे?Gulam Nabi Aazad Ke Lie Pradhanmantri Modi Kyun Ro Rahe The
Maayank Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Maayank जी का जवाब
College
1:41
गुलाम नबी आजाद रिटायर हो रहे हैं राज्यसभा में उनका जो कार्यकाल कब समाप्त होने वाला है फरवरी में ही तो उनको विदाई देते समय फेयरवेल के समय सभी लोग अपने-अपने मैसेज कीजिए तो सभी बात कर रहे थे और प्रधानमंत्री मोदी ने भीम को अलग से एक एयरवेज दिया को विदाई दी उसने कहा कि आप बहुत अच्छे हैं और जो अपनी शंका आप कोई नया आएगा उसको काफी मुश्किल पड़ेगी उनकी तरह बनने की उनकी तरफ उनकी उनकी तरह बात रखने की उनकी बराबरी करने के लिए कि वह काफी अच्छे हैं अपनी संदिग्ध रोगी पड़े क्योंकि उन्होंने एक किस्सा सुनाएं कि जब वह गुजरात के सीएम थे और गुलाम नबी आजाद जम्मू कश्मीर के समय गुजरात की 2 रिश्ते जो कश्मीर गए थे वहां पर हटा करके तो उनकी डेथ हो गई थी और उसी के बारे में गुलाम नबी आजाद ने पहले उन्हें फोन किया कि उनको बताया खुद की क्या फिर उस समय के जो रक्षा मंत्री थे प्रणब मुखर्जी को ऑन किया कि 13 मंगाई जाए ताकि जो डेड बॉडी दे उन्हें वापस पूछ रहा है और मोदी जी ने बताया कि सुबह की बात थी और सुबह सुबह भी गुलाम नबी आजाद का फोन आया कि वह एयरपोर्ट पर खड़े और ट्रेन आने वाला और हम वापस भेज रहे हैं उन लोगों को तो इस बात को देखकर इस बात को बताते वक्त मोदी जी की आंखें भर आयीं उन्होंने कहा कि काफी संवेदनशील है और सभी की काफी चिंता करते हैं वह गुजरात के होंगे जम्मू कश्मीर के हूं सभी की काफी चिंता करते हैं तो इस बात को बताते हुए वह रोको
Gulaam nabee aajaad ritaayar ho rahe hain raajyasabha mein unaka jo kaaryakaal kab samaapt hone vaala hai pharavaree mein hee to unako vidaee dete samay pheyaravel ke samay sabhee log apane-apane maisej keejie to sabhee baat kar rahe the aur pradhaanamantree modee ne bheem ko alag se ek eyaravej diya ko vidaee dee usane kaha ki aap bahut achchhe hain aur jo apanee shanka aap koee naya aaega usako kaaphee mushkil padegee unakee tarah banane kee unakee taraph unakee unakee tarah baat rakhane kee unakee baraabaree karane ke lie ki vah kaaphee achchhe hain apanee sandigdh rogee pade kyonki unhonne ek kissa sunaen ki jab vah gujaraat ke seeem the aur gulaam nabee aajaad jammoo kashmeer ke samay gujaraat kee 2 rishte jo kashmeer gae the vahaan par hata karake to unakee deth ho gaee thee aur usee ke baare mein gulaam nabee aajaad ne pahale unhen phon kiya ki unako bataaya khud kee kya phir us samay ke jo raksha mantree the pranab mukharjee ko on kiya ki 13 mangaee jae taaki jo ded bodee de unhen vaapas poochh raha hai aur modee jee ne bataaya ki subah kee baat thee aur subah subah bhee gulaam nabee aajaad ka phon aaya ki vah eyaraport par khade aur tren aane vaala aur ham vaapas bhej rahe hain un logon ko to is baat ko dekhakar is baat ko bataate vakt modee jee kee aankhen bhar aayeen unhonne kaha ki kaaphee sanvedanasheel hai aur sabhee kee kaaphee chinta karate hain vah gujaraat ke honge jammoo kashmeer ke hoon sabhee kee kaaphee chinta karate hain to is baat ko bataate hue vah roko

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • गुलाम नबी आजाद, प्रधानमंत्री मोदी
URL copied to clipboard