#धर्म और ज्योतिषी

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:11

और जवाब सुनें

Amit Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Amit जी का जवाब
Unknown
0:22
सवाल है बुढ़ापे में लोग भगवान का नाम ज्यादा क्यों नहीं लगते हैं तो अपनी मुक्ति के लिए भगवान का नाम ले लेते हैं जीवन भर जो गलत काम किए हैं उसको प्रशिक्षित करने के लिए और भगवान से अपनी मौत कामना करने के लिए बुढ़ापे में लोग भगवान का नाम ज्यादा लेने लगते हैं तो दोस्तों अगर हमारा सवाल आपको अच्छा लगे तो लाइक कीजिए कमेंट कीजिए धन्यवाद

Trainer Yogi Yogendra Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Trainer जी का जवाब
Motivational Speaker | Career Coach | Corporate Trainer | Marketing & Management Expert's. Follow Us YouTube channel : https://www.youtube.com/channel/UCKY3o0Bey-4L8mWF9hyTRdQ
0:44

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:36

pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:06

Dr.Nitin Pawar, D.M S.(Management) Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Dr.Nitin जी का जवाब
Kisan,Journalist,Marathi Writer, Social Worker,Political Leader.
6:58

Rajeev kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Rajeev जी का जवाब
Sciclogist student
0:46

T P Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए T जी का जवाब
Business
1:45

BK. SHYAAM. KARWA Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए BK. जी का जवाब
Unknown
2:00

Yogi Prashant Nath Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Yogi जी का जवाब
Business Owner
3:17

Chetan Chandrawanshi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Chetan जी का जवाब
Finding a part time job
1:20

Daulat Ram sharma Shastri Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Daulat जी का जवाब
Retrieved sr tea . social activist,
2:46

Navnit Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Navnit जी का जवाब
QUALITY ENGINEER
1:06

ᴊᴀt raj me Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए ᴊᴀt जी का जवाब
𝓝𝓾𝓻𝓼𝓲𝓷𝓰 𝓼𝓪𝓯𝓮 𝓶𝓮 𝔀𝓸𝓻𝓴𝓲𝓷𝓰
1:20

umashankar Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए umashankar जी का जवाब
Unknown
0:53

Sameera khaan Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Sameera जी का जवाब
Unknown
0:34

Saloni vishwkarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Saloni जी का जवाब
Unknown
0:39

nitu Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए nitu जी का जवाब
Online Store
0:31

murari lal meena Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए murari जी का जवाब
Unknown
0:21

Umesh Upaadyay Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Umesh जी का जवाब
Life Coach | Motivational Speaker
6:57
देखिए जब हम सनातन धर्म की बात करते हैं हम भारतवर्ष की बात करते हैं तो हमारी आस्थान स्थिति हमारी जो आस्था पैदा हमारी जो संस्कार थे वह कुछ ऐसे थे जो बताते हैं और वैसे भी हम जानते हैं कि भैया एक इंसान के जीवन काल को प्राइमरी ब्रॉडली 4 हिस्सों में बांटा गया है बाल्यावस्था युवावस्था और गृहस्थ आश्रम और फिर वृद्धावस्था पढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है उसको अपने स्वास्थ्य शरीर पर खेलकूद पर अस्त्र-शस्त्र पर खेलो विद्याज्ञान पर फोकस करना होता है युवावस्था में बारिश करता है अपने करियर को देखता है प्रोफेशन को देखता है व्यवस्थाएं को देखता है अपने आप को यह का बिल बनाने की कहा कि आपका प्रयास करता है कि उसका जीवन और उसके परिवार का जीवन ठीक-ठाक से चले उसके बाद आपका एवं नागरिक आश्रम आता है जिसमें उसका परिवार बड़ा होता है शादी हो गई होती है बच्चे होते हैं और यही गृहस्थाश्रम होता है जिसमें वह बच्चों की शादी की रिस्पांसिबिलिटी है समझता है एवं उनके पढ़ाई लिखाई के बारे में सोचता है उनको पढ़ाई लिखाई करवाता है लाल पोषण तो चल ही रहा होता है और फिर इसके बाद आता है और वृद्धावस्था है जहां बच्चों की शादी वगैरह करके अपने पूरे काम से निवृत हो जाता है तो अब उनका जो समय होता है वह भगवान की खाद्यान में आराधना में तीर्थ स्थान जाने में ऐसे करके बीता है को जाता है और अगर तरीके से देखा जाए शायद उसको आप प्रैक्टिकली देखिए इस परीक्षा ली देखे किसी भी तरीके से देखिए इस तरीके से बहुत सही साइकिल है और इस तरीके से होना चाहिए पहले के जमाने में भी ऐसे ही होता था कि भाई की शादी वगैरा हो गई घर में माली से परिवार बड़ा हो गया अब तो आ माता-पिता अपनी जिम्मेदारी अपने बच्चों को देखें और फिर सेवानिवृत्त होकर की ओर प्रस्थान कर लेते थे हवन में रहते थे साधना करते थे अगेन ओं एकादशी वाला जीवन बिताते थे और ध्यान करना भगवान के बारे में सोचना यह सब करते हुए और खेती हो जाती थी तो क्या अब उसमें और आज के इस में फर्क है जी नहीं आ रही है हां यह जरूर है कि हमको पवन वगैरह में जाने की जरूरत नहीं है अभी हम जहां पर हैं वहीं पर रहते हुए जब हमारा सारा काम कंप्लीट हो गया है आपको चीज है जो हम नहीं कर पाए तो वह हम आज आपने उस पर फोकस कर सकते हैं चाहे हमारी हार्दिक शुभेच्छा एहो सोशल सर्विस तो यह तीर्थ स्थान घूमने वाली बात हो भगवान के कोई आज का की बात हो और कुछ पढ़ने की बात हो जो भी कुछ करना है तो वह इंसान करने का अगर सोचता है अपने जीवन के इस पड़ाव में जब उसे वाले वृत्त हो जाता है काम से रिस्पांसिबिलिटी से तो उसमें कोई दिक्कत परेशानी वाली बात नहीं है तो अब आप ही पूछे कि बुढ़ापे में लोग भगवान का नाम राधा क्यों लेने रखते हैं तो यह सारी किए जीवन का एक-एक को एक बड़ा होता है ज्यादा कुछ करने को होता नहीं है और वह वाली बातें वह वाली सोच नहीं रहती है जो एक 18 साल 20 साल या 30 साल के युवक या युवती में होती है अब उससे बात कर सके जो भी कुछ होता है वह सब धीरे-धीरे ढलान पर होता है और इंसान का मान्य अनुच्छेद वगैरह सा भगवान में लगता है अपने शरीर में रहता है अपने शरीर के रखा था हमें लगता है क्योंकि कोई ना कोई बीमारी या कोई ना कोई प्रॉब्लम थी करें इससे बढ़िया और क्या होगा अगर वह ईश्वर को याद करें और यह ध्यान करें तो इस हिसाब से यह बहुत अच्छी बात है इसमें कोई दिक्कत परेशानी नहीं कोई बात बताता हूं आपको इंसान अपने जीवन के आखिरी दिनों में यह समय में जिस तरीके का जीवन गुजारता है जो सोच उसके अंदर होती हैं पराया इंसान को वैसा ही जीवन अगले जीवन काल में मिलता है अगर इंसान बहुत परेशान रहता है समस्या में उलझा रहता है बहुत टेंशन में रहता है इस प्रेस आउट रहता है और फिर अगर उसकी मृत्यु वगैरा होती है तो उसका क्या होता है तो वह भी समय चाहिए ऑलमोस्ट उसी अवस्था से उसी तरीके से होगा अब आप सोचेंगे वह तो बच्चा पैदा होगा फिर ऐसे कैसे भी देखिए एक्जेक्टली उसी से मैं बहुत सारी चीजें नहीं आ जाए लेकिन हां धीरे-धीरे भैरव चीज इंप्रेशन के रूप में रहती है इंसान के अंदर जो कि आगे चलकर टेंडेंसीज बन जाती हैं और बहुत स्ट्रांग पेनिस चीज बनती है जीवन उसका उसी तरीके का रहता है इसीलिए आप देखेंगे कि भाई की अवस्था में या फिर जब इंसान बनने के बाद करीब होता है तो वह अपने आप को ईश्वर की और करीब है चाहता है आपको यह भी पता होगा कि कई जगह है ऐसे बहुत अच्छी जगह जिनको मानी जाती है वहां पर लोग जाते हैं जैसे काशी हो गया कि वह मेरे अगर प्राण निकलते हैं तो मेरे फ्रेंड वहां पर निकले और तो बहुत बढ़िया रहेगा तो यह सब इंसान सोचता है और इन सब में आई लॉजिक होता है साइंस होता है वास्तविकता होती है तो इसीलिए भगवान का नाम लेने में कोई दिक्कत नहीं है और बुढ़ापे में ही क्यों मैं तो यह कहता हूं कोई रहता है चाहे तो हमसे सुप्रीम हैं तो भाई अगर हम भाव डाउन करते हैं अगर हम क्यों शीश नवाते हैं और यह जीवन बिताते हैं और मतलब उनके संरक्षण में या एवं अपने आप को सरेंडर करते हुए कि प्रभु जो आप चाहते हो जैसा आप चाहते हो वैसा मेरा मार्गदर्शन करते रहना मुझसे गलत काम मत करवाना जीवन अधिक से गुजारने का अवसर देना मौका देना मुझे गलत रास्ते पर मत भटकने देना अगर हम ऐसा करके चलते हैं तो निश्चित रूप से हमारे जो स्वभाव होगा हमारा जो धर्म होगा वह देखने की बहुत है डिसेंट होगा बहुत उच्च कोटि का होगा और यह हमारे कर्म ही तो है जो कर्म कर्म फल बनाते हैं तो इसलिए कर्म पर संस्कार पर व्यवहार पर इन सब पर बहुत ध्यान देना चाहिए धर्म के रास्ते पर चलते रहना चाहिए

Amit Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Amit जी का जवाब
Student
0:30

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

#undefined

Daulat Ram sharma Shastri Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Daulat जी का जवाब
Retrieved sr tea . social activist,
0:42

#खेल कूद

vineet Upadhyay  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए vineet जी का जवाब
Unknown
1:05

#टेक्नोलॉजी

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
0:56

#टेक्नोलॉजी

Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:42

#टेक्नोलॉजी

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
0:46

#धर्म और ज्योतिषी

Aakancha Shaw Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Aakancha जी का जवाब
Unknown
0:45

#जीवन शैली

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:48

#टेक्नोलॉजी

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:46

#धर्म और ज्योतिषी

anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
0:41

#धर्म और ज्योतिषी

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
0:52

#भारत की राजनीति

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
1:06

#पढ़ाई लिखाई

Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma जी का जवाब
Asst. Teacher
1:44

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
Let का उपयोग कब करते है?
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:31

#टेक्नोलॉजी

Brahma Prakash Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Brahma जी का जवाब
Asst. Teacher
1:19

#जीवन शैली

Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
1:55

#टेक्नोलॉजी

Pt. Rakesh  Chaturvedi ( Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant | Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Pt. जी का जवाब
Tally Trainer | Tax - Investment -Consultant |
1:17

#रिश्ते और संबंध

अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
1:19

#जीवन शैली

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
2:09

#खेल कूद

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:35
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न है भारत अपने राष्ट्रीय खेल हॉकी में इतना कमजोर कैसे हो गया है कि पहले हमारा लोहा दुनिया मानती थी इस खेल में तो फ्रेंडशिप हो कि मैं लोग ज्यादा इंटरेस्ट नहीं दिखा रहे हैं और क्रिकेट ज्यादा खेलते हैं उसमें ज्यादा इंटरेस्ट दिखाते हैं और वाकिंग में प्लेयर ज्यादा प्रैक्टिस नहीं करते ना ज्यादा ध्यान देते हैं और ना ही सरकार इस बात पर ज्यादा ध्यान दे रही है क्रिकेट कुछ लोग ज्यादा पसंद करते हैं उसे ही ज्यादा देखते हैं ज्यादा खेलते हैं और उसी की प्रैक्टिस भी कम हो गई है इसलिए यह कमजोर होता जा रहा है धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

Raghvendra  Tiwari Pandit Ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Raghvendra जी का जवाब
Unknown
2:59
हेलो फ्रेंड्स नमस्कार जैसा कि आपका प्रश्न है एरोप्लेन मोड क्या है और क्या काम आता है दिगि्प्रिंट एरोप्लेन मोड जो होता है जब हम उसे ऑन करते हैं या मोबाइल डिवाइस में एक उपकरण होता है फ्रेंड और इसका उपयोग जो है वह जैसे कि आप अगर मोबाइल स्विच ऑफ कर देते हैं तो किसी ने आपको कॉल किया तो बताएगा कि आपकी मोबाइल जो है वह स्विच ऑफ है लेकिन जब आप एरोप्लेन मोड में डाल देते हैं तो आपके मोबाइल की सारी नेटवर्क सेवाएं जो है वह अवश्य गीत हो जाती है बंद हो जाती है लेकिन आपका मोबाइल ऑन रहता है फ्रेंड आपके मोबाइल में सारी सेवाएं जो है नेटवर्क रूप से ना तो आपको इंटरनेट चला सकते हैं ना तो आपने जो है किसी को कॉल कर सकते हैं हालांकि वाईफाई इसमें काम कर सकती है फ्रेंड काम करती भी है एरोप्लेन मोड में अगर आपने डाला हुआ है तो आदत सेट से वाईफाई कनेक्ट करके वाईफाई से आप जो है चला सकते हैं फ्रेंड नेट का उपयोग कर सकते हैं लेकिन अपने मोबाइल से अगर खुद चाहे तो नहीं कर सकते प्लीज नहीं होता है कि आपकी मोबाइल की जो नेटवर्क सेंटर होता है वह जो है एरोप्लेन मोड में आने के बाद क्यों नेटवर्क जुआ खत्म हो जाता है फुल नेटवर्क सेवा स्थगित हो जाती है इसे जब कोई आपको कॉल करेगा तो उसे वही पोजीशन आती है जब मोबाइल स्विच ऑफ हो जाता है मोबाइल स्विच ऑफ हो जाता है तो हम किसी को कॉल करते हैं तो हमें सुनाई देता है कि सामने वाले का मोबाइल जो है वह स्विच ऑफ है एरोप्लेन मोड में डाल देंगे तो सामने वाला जो आपको कॉल करेगा उसे भी यही सुनाई देगा कि आपकी मोबाइल जो है वह स्विच ऑफ है लेकिन आपकी मोबाइल ऑन रहती हो फिर सिर्फ नेटवर्क कनेक्टिविटी ना होने के कारण जो है सिवाना मिलने के कारण जो है आपकी मोबाइल में ऐसी जो है समस्या जो है बताने लगता है कि आपकी मोबाइल जो है वह स्विच ऑफ है यह कंडीशन तब आता है कहीं आप सेमिनार में हो तो कर सकते हैं इसका उपयोग या फिर कोई बार बार कॉल करके आपको परेशान कर रहा है तो आप कुछ पल के लिए जो है आप एरोप्लेन मोड में डाल दे एरोप्लेन मोड में डालने से फ्रेंड आप की सीधी सी भाषा में आप समझिए कि जो आपका नेटवर्क कनेक्टिविटी सेंटर होता है वहां से आप का पावर जो है वह आप हो जाता है फिर से जब उसे आप जो है आप करते हैं एरोप्लेन मोड जवान करेंगे तो यह आएगा अगर आप आप करते हो तो फिर से पुनः आपकी जो सेटिंग होती है वह शुरू हो जाती है फिर से आपकी पूरी सेवा जो है वह आ जाती है फिर जैसे ही आप एरोप्लेन मोड में करेंगे तो आपकी सिम में चाहे एक सिम लगा हो या दूसरी लगाओ दोनों सिंह के सिवाय जो है वह बाधित हो जाती हैं रुक जाती है जब तक आप एरोप्लेन मोड में रखते हैं तब तक जब आप उसे बंद कर देते हैं तब फिर से आपकी सेवा चालू हो जाती है आशा एक जवाब पसंद आया होगा नमस्कार
  • भगवान की भक्ति बूढ़े व्यक्ति की सेवा करना
URL copied to clipboard