#खेल कूद

bolkar speaker

बिजली टेस्टर से टेस्ट करते समय हमें झटका क्यों नहीं लगता?

Bijli Tester Se Test Karte Samay Hume Jhatka Kyun Nahin Lagta
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:29
जवारे के बेटे कैसे टेस्ट करते समय हमें झटका क्यों नहीं लगता है तो आपने हमेशा नोटिस किया होगा कि ट्रैक्टर में आगे की तरफ से हमेशा प्लास्टिक रबड़ का हैंडल लगा होता है चोरी आदि मौजूद है और निश्चित तौर पर आप को झटका नहीं लगा झटका सिर्फ तभी लगता है जब कोई भी करके पूरा हो रहा हो अर्थिंग हो रही हो यदि आपने चप्पल पहनी हुई है या फिर रबड़ के ड्रेस पहने हुए हैं या इस तरीके के टूल्स का प्रयोग कर रहे हैं जिसमें हैंडल प्लास्टिक का या फिर और रबड़ का है तूने से तभी आप को झटका नहीं लगेगा आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद
Javaare ke bete kaise test karate samay hamen jhataka kyon nahin lagata hai to aapane hamesha notis kiya hoga ki traiktar mein aage kee taraph se hamesha plaastik rabad ka haindal laga hota hai choree aadi maujood hai aur nishchit taur par aap ko jhataka nahin laga jhataka sirph tabhee lagata hai jab koee bhee karake poora ho raha ho arthing ho rahee ho yadi aapane chappal pahanee huee hai ya phir rabad ke dres pahane hue hain ya is tareeke ke tools ka prayog kar rahe hain jisamen haindal plaastik ka ya phir aur rabad ka hai toone se tabhee aap ko jhataka nahin lagega aapaka din shubh rahe dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
बिजली टेस्टर से टेस्ट करते समय हमें झटका क्यों नहीं लगता?Bijli Tester Se Test Karte Samay Hume Jhatka Kyun Nahin Lagta
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:28
बिजली का टेस्टर जो होता है लोहे का बना होता है और लोहा विद्युत किताब का सुचालक होता है सुचालक होने के कारण जब आप किसी करंट के माध्यम से उस ट्रैक्टर को अब टच करते हैं तो उसमें बिजली का प्रभाव उसी गति से आता है जिस गति से उस में प्रवाहित हो रही है अब उसको टेस्ट करने के लिए उसमें कैसा बटन लगाया जाता है एक ऐसा तार लगाए ज्यादा टंगस्टन का होता है जो जलने लगता है जो उसके प्रक्रिया होते हैं इसलिए ट्रैक्टर बनाए टेस्ट अमन एक टेस्ट करने का यंत्र अब उसमें आपने उसको जो उसमें लगाया तो जो करंट में प्रवाहित हुआ प्रवाहित होने के बाद घोषणा कर दो बल्ब जल गया तो आपने अब देख लिया किस में करंट है और जब आपने उसको दौड़ाया तो आपका शरीर बगैर करंट का है और जब आपने उसको टच किया तो उसकी तेज करने आप को झटका मार दिया इसीलिए उस में प्लास्टिक वाला जो लगी होती है वह आपके पहचान के लिए होती किस पर करंट है अगर बर्गर जाने किसी चीज को छू लेंगे तो झटका भी मारेगी और एसी और डीसी दो तरीके करंट होते हैं करंट कैसे हो तो झटका मारते हो कुछ करंट ऐसे होते जो अपने से चिपका लेते हैं तो आपने देखा वह बहुत से लोग चिपक जाते हैं उसमें एक डायरेक्ट करंट होता है कि ऐसी होता है डीसी होता है तो डीसी करंट और ज्यादा खतरनाक होता है इसलिए उसको झटका मारता है टेस्ट करने की गवाही करंट का प्रवाह जब ट्रैक्टर में जो लोहा लगा हो तो उसको प्रभावित होता है तो अत्यंत भय के कारण उसमें झटका महसूस किया जाता है
Bijalee ka testar jo hota hai lohe ka bana hota hai aur loha vidyut kitaab ka suchaalak hota hai suchaalak hone ke kaaran jab aap kisee karant ke maadhyam se us traiktar ko ab tach karate hain to usamen bijalee ka prabhaav usee gati se aata hai jis gati se us mein pravaahit ho rahee hai ab usako test karane ke lie usamen kaisa batan lagaaya jaata hai ek aisa taar lagae jyaada tangastan ka hota hai jo jalane lagata hai jo usake prakriya hote hain isalie traiktar banae test aman ek test karane ka yantr ab usamen aapane usako jo usamen lagaaya to jo karant mein pravaahit hua pravaahit hone ke baad ghoshana kar do balb jal gaya to aapane ab dekh liya kis mein karant hai aur jab aapane usako daudaaya to aapaka shareer bagair karant ka hai aur jab aapane usako tach kiya to usakee tej karane aap ko jhataka maar diya iseelie us mein plaastik vaala jo lagee hotee hai vah aapake pahachaan ke lie hotee kis par karant hai agar bargar jaane kisee cheej ko chhoo lenge to jhataka bhee maaregee aur esee aur deesee do tareeke karant hote hain karant kaise ho to jhataka maarate ho kuchh karant aise hote jo apane se chipaka lete hain to aapane dekha vah bahut se log chipak jaate hain usamen ek daayarekt karant hota hai ki aisee hota hai deesee hota hai to deesee karant aur jyaada khataranaak hota hai isalie usako jhataka maarata hai test karane kee gavaahee karant ka pravaah jab traiktar mein jo loha laga ho to usako prabhaavit hota hai to atyant bhay ke kaaran usamen jhataka mahasoos kiya jaata hai

bolkar speaker
बिजली टेस्टर से टेस्ट करते समय हमें झटका क्यों नहीं लगता?Bijli Tester Se Test Karte Samay Hume Jhatka Kyun Nahin Lagta
Shruti Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Shruti जी का जवाब
Student
0:28
सवाल है कि बैटरी टेस्ट से टेस्ट करते समय हमें झटका क्यों नहीं लगता तो इस प्रतिरोधक का मान इस तरह निर्धारित किया जाता है कि प्रवाहित होने वाली धारा का परिमाण 8 मिली एंपियर या उससे कम रहे क्योंकि मनुष्य का शरीर 9 मिली एंपियर तक की धारा का प्रवाह को आसानी से झेल सकता है और टेस्ट में प्रवाहित होने वाली धारा का परिणाम होता है इसके आदमी को झटका नहीं लगता है
Savaal hai ki baitaree test se test karate samay hamen jhataka kyon nahin lagata to is pratirodhak ka maan is tarah nirdhaarit kiya jaata hai ki pravaahit hone vaalee dhaara ka parimaan 8 milee empiyar ya usase kam rahe kyonki manushy ka shareer 9 milee empiyar tak kee dhaara ka pravaah ko aasaanee se jhel sakata hai aur test mein pravaahit hone vaalee dhaara ka parinaam hota hai isake aadamee ko jhataka nahin lagata hai

bolkar speaker
बिजली टेस्टर से टेस्ट करते समय हमें झटका क्यों नहीं लगता?Bijli Tester Se Test Karte Samay Hume Jhatka Kyun Nahin Lagta
Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:47
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न बिजली टेस्टर सेकंड करते समय हमें झटका क्यों नहीं लगता तो फ्रेंड से आपने देखा होगा कि बिजली टेस्टर में प्लास्टिक का हैंडल लगा रहता है रबड़ का हैंडल लगा रहता है तो हम उसको पकड़ कर जब टेस्ट करते हैं तो हमें झटका नहीं लगता है ना कि को प्रबंध अगर लगे होने की वजह से वह बिल्कुल भी झटका नहीं लगता है लोहे का टेस्टर होगा उसमें प्लास्टिक रबड़ का हैंडल नहीं होगा तो बेशक से झटका लग सकता है या तो कोई तार जब कहीं जॉइंट होते हैं तब बिजली का झटका लगता है ऐसे झटका नहीं लगता है और मेरा बरतिया प्लास्टिक से कवर कर दिया जाता है टेस्ट है इसलिए हम लोग जब से बिजली चेक करते हैं तो हमें टेस्टर से डर नहीं लगता है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka prashn bijalee testar sekand karate samay hamen jhataka kyon nahin lagata to phrend se aapane dekha hoga ki bijalee testar mein plaastik ka haindal laga rahata hai rabad ka haindal laga rahata hai to ham usako pakad kar jab test karate hain to hamen jhataka nahin lagata hai na ki ko prabandh agar lage hone kee vajah se vah bilkul bhee jhataka nahin lagata hai lohe ka testar hoga usamen plaastik rabad ka haindal nahin hoga to beshak se jhataka lag sakata hai ya to koee taar jab kaheen joint hote hain tab bijalee ka jhataka lagata hai aise jhataka nahin lagata hai aur mera baratiya plaastik se kavar kar diya jaata hai test hai isalie ham log jab se bijalee chek karate hain to hamen testar se dar nahin lagata hai dhanyavaad

bolkar speaker
बिजली टेस्टर से टेस्ट करते समय हमें झटका क्यों नहीं लगता?Bijli Tester Se Test Karte Samay Hume Jhatka Kyun Nahin Lagta
Ram Kumawat  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Ram जी का जवाब
Unknown
1:11
तो सबका सोने की बिक्री टेस्ट कैसे टेस्ट करते समय हम आज का क्यों नहीं लगता तो जैसा कि हम सब जानते हैं कि बिजली का झटका लगने का मुख्य कारण होता है हमारे शरीर में बिजली के झटके का सीन में कब आना सीधे शब्दों में कहा जाए तो माशरी सेवर मोड तक की दूसरी क्लॉक को सेंड कर सकता है ऐसे में जब हम ट्रैक्टर की बनावट को अंदर से खुल के देखते हैं तो पाते हैं कि इसमें 1% लगा होता है तो प्रेस की प्लेट के साथ चुरा लेता है वहीं इसके दूसरी और एक निबंध लिखा होता है इसमें एक सेलिब्रिटी भी होते हैं तब भी का फेस पैक कैसे लगाते हैं तो करंट मारे हाथ तक पहुंचने से पहले ही प्रतिरोध से होकर गुजरता है टेस्ट में हो तो प्रतिरोध कितना फायदा होता है यह घरों के मौजूद 220 वोल्ट को नीचे चार से पांच सौ आठ में प्रवेश कर देता है जैसा कि हमने आपको बताया कि मनुष्य शरीर में वर्ल्ड तक बिजली का झटका सहन कर सकता है का झटका नहीं लगता इसी साथ में फिर तुम्हारे हाथ द्वारा दी गई मेटल का परिपथ पूर्ण होने से चलते टेस्टर लाइट जलने लगती है धन्यवाद दोस्तों
To sabaka sone kee bikree test kaise test karate samay ham aaj ka kyon nahin lagata to jaisa ki ham sab jaanate hain ki bijalee ka jhataka lagane ka mukhy kaaran hota hai hamaare shareer mein bijalee ke jhatake ka seen mein kab aana seedhe shabdon mein kaha jae to maasharee sevar mod tak kee doosaree klok ko send kar sakata hai aise mein jab ham traiktar kee banaavat ko andar se khul ke dekhate hain to paate hain ki isamen 1% laga hota hai to pres kee plet ke saath chura leta hai vaheen isake doosaree aur ek nibandh likha hota hai isamen ek selibritee bhee hote hain tab bhee ka phes paik kaise lagaate hain to karant maare haath tak pahunchane se pahale hee pratirodh se hokar gujarata hai test mein ho to pratirodh kitana phaayada hota hai yah gharon ke maujood 220 volt ko neeche chaar se paanch sau aath mein pravesh kar deta hai jaisa ki hamane aapako bataaya ki manushy shareer mein varld tak bijalee ka jhataka sahan kar sakata hai ka jhataka nahin lagata isee saath mein phir tumhaare haath dvaara dee gaee metal ka paripath poorn hone se chalate testar lait jalane lagatee hai dhanyavaad doston

bolkar speaker
बिजली टेस्टर से टेस्ट करते समय हमें झटका क्यों नहीं लगता?Bijli Tester Se Test Karte Samay Hume Jhatka Kyun Nahin Lagta
shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
0:59
हेलो एवरीवन तो आज आप का सवाल है कि बिजली टेस्टर से टेस्ट करते समय हमें झटका क्यों नहीं लगता है तो देखिए हमें मतलब करंट कब लगता है जब एक पूरी तरह से सर्किट कंप्लीट होता जैसे कि हम करंट को मतलब सर्च कर रहे हैं अपने हाथ से उसके बाद हम हमारा जो प्यार होता है वह जमीन में टच होता तो इस तरह से सर्किट कंप्लीट हो जाता है जिसके वजह से हमें बिजली का झटका और फिर में करंट लगता है लेकिन टेस्ट को और मतलब बटेश्वर से चेक करते हैं तो टेस्ट में अपने देखोगे इंसुलेटर लगा होता मतलब बाहर जो कोटिंग होता वह प्लास्टिक का होता है तो इस तरह से आपका जो हाथ है आपका जो फिंगर आपकी जो उंगली है वह करंट को नहीं टच करती आप फ्री हो इंसुलेटर को टच किया मुझे कोटिंग है उसको आपने टच किया उसमें जो मतलब लोहे का जो टेस्ट करने के लिए जम्मू करण को टच किया तो इस तरह से आपका जो सर्किट है वही इंसुलेटर की जगह ब्रेक हो जाता है जिस वजह से सर्किट कंप्लीट नहीं होता जिस वजह से आप को झटका या फिर किसी भी तरह का करंट ऐसा नहीं लगता
Helo evareevan to aaj aap ka savaal hai ki bijalee testar se test karate samay hamen jhataka kyon nahin lagata hai to dekhie hamen matalab karant kab lagata hai jab ek pooree tarah se sarkit kampleet hota jaise ki ham karant ko matalab sarch kar rahe hain apane haath se usake baad ham hamaara jo pyaar hota hai vah jameen mein tach hota to is tarah se sarkit kampleet ho jaata hai jisake vajah se hamen bijalee ka jhataka aur phir mein karant lagata hai lekin test ko aur matalab bateshvar se chek karate hain to test mein apane dekhoge insuletar laga hota matalab baahar jo koting hota vah plaastik ka hota hai to is tarah se aapaka jo haath hai aapaka jo phingar aapakee jo ungalee hai vah karant ko nahin tach karatee aap phree ho insuletar ko tach kiya mujhe koting hai usako aapane tach kiya usamen jo matalab lohe ka jo test karane ke lie jammoo karan ko tach kiya to is tarah se aapaka jo sarkit hai vahee insuletar kee jagah brek ho jaata hai jis vajah se sarkit kampleet nahin hota jis vajah se aap ko jhataka ya phir kisee bhee tarah ka karant aisa nahin lagata

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • बिजली टेस्टर से टेस्ट करते समय हमें झटका क्यों नहीं लगता बिजली टेस्टर से हमें झटका क्यों नहीं लगता
URL copied to clipboard