#टेक्नोलॉजी

Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
Programme Coordinator at National Institute of Electronics & Information Technology (NIELIT)
0:45
आरा कटर मशीन और स्मार्टफोन का उत्पादन भारत क्यों नहीं कर सकता है कि हमारे पास मोबाइल फोन लिया पूंजीवाद की कमी है तो आपको बता देंगे कि भारत में कमी नहीं है लेकिन अगर बात की जगह रंडी की तो उसमें बहुत ज्यादा काम नहीं हुआ है अगर हम यहां पर कल पुर्जों की बात करें तो वह भी आ याद करे जाते हैं ऐसी स्थिति में जो लागत है वह काफी बढ़ जाती है जिस कारण भारत में स्मार्टफोन बनते हैं उनकी कौन क्वेश्चन बहुत ज्यादा ही ना होने के बावजूद भी वह महंगे होते हैं और जो चाइनीस मोबाइल को नहीं रिंकी आई कॉन्फ्लेशन होती है वह सस्ते होते हैं आपकी क्या राय बारे में कमीशन अपनी राय जरुर व्यक्त करें इन्हीं शुभकामनाओं के साथ धन्यवाद
<HTML><HEAD><meta http-equiv='c

और जवाब सुनें

Sanjay Kumar Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Sanjay जी का जवाब
𝔖𝔱𝔲𝔡𝔢𝔫𝔱 | 𝔈𝔡𝔲𝔠𝔞𝔱𝔦𝔬𝔫𝔦𝔰𝔱
1:16
विकी जो आपस वाले ही मुझे समझ में आ गया इसमें क्या है कि जो चाइना है चाइना में इस तरह का जो कल्चर है वह काफी गड़बड़ हो गया है वहां पर मैन्युफैक्चरिंग के लिए जो भी चीजें जरूरत होती है वो काफी आसानी से बिल्कुल भी है और बहुत समय से अवेलेबल है तो इस वजह से आप जो उनको इंडस्ट्री लगाने की तरह समझ नहीं हमारे यहां क्या है कि इस तरह की गई है ही नहीं है और उसकी होती है जो हमारे यहां भी देखिए जो मैं को चिपका सकते हैं या सेमीकंडक्टर सकते हैं जिनका निर्माण होता है बेल साइकोलॉजी के अंतर्गत इंस्टीट्यूट के अंदर अभी भी बड़ा है और चाइना में जिस तरह का साइज का बनता है उतना बनाने के लिए अभी हमारे यहां उसने टेक्नोलॉजी की भी कमी है पहली बात तो यह हो गया और दूसरी बात यह है कि जितनी भी चीजें होती हैं इस में होता क्या है कि जो चाइना होते हैं वहां पर एंड्राइड होता है जो गूगल के द्वारा अनिल के द्वारा जो हमें वाइट हो जाता है जो कि अमेरिकन कंपनी बनाती है और चना क्या करती है उसका डुप्लीकेट डुप्लीकेशन को कर देती है जैसे कि उनका मोबाइल जो बनने का प्रोसेस है काफी तेज जाता है तो यह सब करना पड़ेगा इंडिया को थोड़ी बेसिक से करना पड़ेगा क्योंकि इतना ज्यादा हो गया इतना भी है नहीं धन्यवाद
Vikee jo aapas vaale hee mujhe samajh mein aa gaya isamen kya hai ki jo chaina hai chaina mein is tarah ka jo kalchar hai vah kaaphee gadabad ho gaya hai vahaan par mainyuphaikcharing ke lie jo bhee cheejen jaroorat hotee hai vo kaaphee aasaanee se bilkul bhee hai aur bahut samay se avelebal hai to is vajah se aap jo unako indastree lagaane kee tarah samajh nahin hamaare yahaan kya hai ki is tarah kee gaee hai hee nahin hai aur usakee hotee hai jo hamaare yahaan bhee dekhie jo main ko chipaka sakate hain ya semeekandaktar sakate hain jinaka nirmaan hota hai bel saikolojee ke antargat insteetyoot ke andar abhee bhee bada hai aur chaina mein jis tarah ka saij ka banata hai utana banaane ke lie abhee hamaare yahaan usane teknolojee kee bhee kamee hai pahalee baat to yah ho gaya aur doosaree baat yah hai ki jitanee bhee cheejen hotee hain is mein hota kya hai ki jo chaina hote hain vahaan par endraid hota hai jo googal ke dvaara anil ke dvaara jo hamen vait ho jaata hai jo ki amerikan kampanee banaatee hai aur chana kya karatee hai usaka dupleeket dupleekeshan ko kar detee hai jaise ki unaka mobail jo banane ka proses hai kaaphee tej jaata hai to yah sab karana padega indiya ko thodee besik se karana padega kyonki itana jyaada ho gaya itana bhee hai nahin dhanyavaad

G Dewasi Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए G जी का जवाब
Unknown
2:03
आपका सवाल है कि भारत के अंदर इतनी ज्यादा स्मार्ट फोन क्यों नहीं बनते हैं और इसका रिजन क्या है तो देखिए सबसे पहले रीजन यह है कि चाइना का जो मैन्युफैक्चरिंग इकोसिस्टम है वह पूरे वर्ल्ड में सबसे अच्छा है जी हां इंडिया से भी काफी अच्छा है बल्कि इंडिया का तो इकोसिस्टम अभी बनना स्टार्ट हुआ है आपने देखा भी होगा इंडिया में धीरे-धीरे मैन्युफैक्चरिंग होनी स्टार्ट हो चुकी है स्मार्टफोन की जो कि काफी अच्छी बात है इसका मतलब यह कि फ्यूचर में हमारा देश का जो इकोसिस्टम है मैन्युफैक्चरिंग में वो काफी अच्छा हो जाएगा और वही देखिए चाइना में क्या होता है कि इस स्मार्टफोन में जितने भी कंप्लेंट यूज़ होता है जो भी पार्ट्स यूज़ होते हैं वह सारे जो कंपनीज बनाती है उन सभी पार्ट्स को उस सभी कंपनी चाइना के अंदर मौजूद है यार क्यों सभी कंपनी से वहां पर मैन्युफैक्चरर करती है उन सभी पार्ट्स को तो बाकी जितने भी स्मार्ट फोन की कंपनी से होती है उनके लिए काफी बिजी हो जाता है उन सभी प्रोडक्ट को एक जगह से लेना उनसे भी कंपोनेंट को एक भेजते ही ले लेना और इससे वह जो भी स्मार्ट फोन की कंपनी रोती हो ने काफी अच्छा प्रॉफिट भी हो जाता है बीच में जो आप देख सकते हो ट्रांसपोर्टेशन सिस्टम होता है ट्रांसपोर्टेशन कॉस्ट होती है वह बस जाती है जिससे फोन की जो प्राइस होती है वह कम हो जाती है और कंपनी स्कोर अच्छा प्रॉफिट हो जाता है और वही इंडिया में अभी फिलहाल किया है कि आपको पता ही होगा कि हमारे देश के अंदर आज भी स्मार्टफोन के लगभग सभी कंपोनेंट नहीं बनते हैं जैसे प्रोसेसर हमारे देश में नहीं बनता है राम नहीं बनती है मदरबोर्ड अब बनने स्टार्ट हो चुके हैं जो कि काफी अच्छी बात है और इस क्रीम भी जो स्मार्टफोन की होती है वह सैमसंग कंपनी ने बनानी स्टार्ट कर दी है तो यह भी अच्छी बात है इसका मतलब यह क्या फ्यूचर में धीरे-धीरे जो इंडिया है वह चाइना को रिप्लेस कर सकता है और भाई देखी आपने यह भी देखा होगा कि इंडियन गवर्नमेंट ने इस बार बजट में जो इंफ्रास्ट्रक्चर होता है उसके ऊपर काफी ज्यादा इन्वेस्ट किया है इसका मतलब क्या है कि इंडिया का इंफ्रास्ट्रक्चर इंडियन गवर्नमेंट मजबूत करना चाहती है ताकि क्या हो कि जितना भी ट्रांसपोर्टेशन कॉस्ट कॉस्ट आता है किसी भी कंपनी का किसी भी प्रोडक्ट में वह कम हो जाए जिससे ज्यादातर जो कंपनीज होती है वह इंडिया में अट्रैक्ट हो जाए उस देखिए नो डाउट फ्यूचर में इंडिया जो है वह मैन्युफैक्चरिंग हब बन सकता है पूरे वर्ल्ड का धन्यवाद
Aapaka savaal hai ki bhaarat ke andar itanee jyaada smaart phon kyon nahin banate hain aur isaka rijan kya hai to dekhie sabase pahale reejan yah hai ki chaina ka jo mainyuphaikcharing ikosistam hai vah poore varld mein sabase achchha hai jee haan indiya se bhee kaaphee achchha hai balki indiya ka to ikosistam abhee banana staart hua hai aapane dekha bhee hoga indiya mein dheere-dheere mainyuphaikcharing honee staart ho chukee hai smaartaphon kee jo ki kaaphee achchhee baat hai isaka matalab yah ki phyoochar mein hamaara desh ka jo ikosistam hai mainyuphaikcharing mein vo kaaphee achchha ho jaega aur vahee dekhie chaina mein kya hota hai ki is smaartaphon mein jitane bhee kamplent yooz hota hai jo bhee paarts yooz hote hain vah saare jo kampaneej banaatee hai un sabhee paarts ko us sabhee kampanee chaina ke andar maujood hai yaar kyon sabhee kampanee se vahaan par mainyuphaikcharar karatee hai un sabhee paarts ko to baakee jitane bhee smaart phon kee kampanee se hotee hai unake lie kaaphee bijee ho jaata hai un sabhee prodakt ko ek jagah se lena unase bhee kamponent ko ek bhejate hee le lena aur isase vah jo bhee smaart phon kee kampanee rotee ho ne kaaphee achchha prophit bhee ho jaata hai beech mein jo aap dekh sakate ho traansaporteshan sistam hota hai traansaporteshan kost hotee hai vah bas jaatee hai jisase phon kee jo prais hotee hai vah kam ho jaatee hai aur kampanee skor achchha prophit ho jaata hai aur vahee indiya mein abhee philahaal kiya hai ki aapako pata hee hoga ki hamaare desh ke andar aaj bhee smaartaphon ke lagabhag sabhee kamponent nahin banate hain jaise prosesar hamaare desh mein nahin banata hai raam nahin banatee hai madarabord ab banane staart ho chuke hain jo ki kaaphee achchhee baat hai aur is kreem bhee jo smaartaphon kee hotee hai vah saimasang kampanee ne banaanee staart kar dee hai to yah bhee achchhee baat hai isaka matalab yah kya phyoochar mein dheere-dheere jo indiya hai vah chaina ko riples kar sakata hai aur bhaee dekhee aapane yah bhee dekha hoga ki indiyan gavarnament ne is baar bajat mein jo imphraastrakchar hota hai usake oopar kaaphee jyaada invest kiya hai isaka matalab kya hai ki indiya ka imphraastrakchar indiyan gavarnament majaboot karana chaahatee hai taaki kya ho ki jitana bhee traansaporteshan kost kost aata hai kisee bhee kampanee ka kisee bhee prodakt mein vah kam ho jae jisase jyaadaatar jo kampaneej hotee hai vah indiya mein atraikt ho jae us dekhie no daut phyoochar mein indiya jo hai vah mainyuphaikcharing hab ban sakata hai poore varld ka dhanyavaad

Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:59
आकाशवाणी की चीन और स्मार्टफोन का उत्पादन क्यों भारत नहीं कर सकता क्या हमारे देश मोबाइल फोन कंपनियों के निर्माण में कोई कमी है तो अगर चीन की बात की जाए तो चीन प्रत्येक चीज को कॉपी करने में सबसे आगे रहते हैं अगर दूसरी बात की जाए तो चीन में लेबर मिलती है वह भी सस्ती मिलती है इसलिए और चीन में काम बहुत ज्यादा किया जाता है अगर भारत की बात की जाए तो अगर बाहर नए स्मार्टफोन सताने लगे तो इसके लिए भारत में जो भी कंपनियां बनी हुए इसमें लिए लेबर को ज्यादा समय देना पड़ेगा और चीजों को जल्दी बनाने के लिए कंपनी में ज्यादा से ज्यादा काम ही करना पड़ेगा
Aakaashavaanee kee cheen aur smaartaphon ka utpaadan kyon bhaarat nahin kar sakata kya hamaare desh mobail phon kampaniyon ke nirmaan mein koee kamee hai to agar cheen kee baat kee jae to cheen pratyek cheej ko kopee karane mein sabase aage rahate hain agar doosaree baat kee jae to cheen mein lebar milatee hai vah bhee sastee milatee hai isalie aur cheen mein kaam bahut jyaada kiya jaata hai agar bhaarat kee baat kee jae to agar baahar nae smaartaphon sataane lage to isake lie bhaarat mein jo bhee kampaniyaan banee hue isamen lie lebar ko jyaada samay dena padega aur cheejon ko jaldee banaane ke lie kampanee mein jyaada se jyaada kaam hee karana padega

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:37
लॉटरी बंद स्वागत है आपका आपका प्रश्न है चीन और स्मार्टफोन का उत्पादन भारत क्यों नहीं कर सकता चीन कर सकता है भारत क्यों नहीं कर सकते हमारे पास मोबाइल फोन या पूंजीवाद की कमी या निर्माण सदन की कमी है तो सेंड चीन ज्यादा स्मार्ट फोन बनाता है यह बात सच है और हमारे यहां कम बनते हैं स्मार्ट होती लेकिन अब धीरे-धीरे हमारे यहां भी स्मार्टफोन बनना चालू हो गए हैं और हमारे यहां थोड़ी तकनीकी कमी तो जरूरी होगी तभी तो यह ज्यादा नहीं बन पा रहे हैं लेकिन अब धीरे-धीरे यहां पर भी मेक इन इंडिया का जैसे काम चालू हुआ है तो अभी यहां पर भी स्मार्टफोन भी बनना चालू हो गए हैं धन्यवाद
Lotaree band svaagat hai aapaka aapaka prashn hai cheen aur smaartaphon ka utpaadan bhaarat kyon nahin kar sakata cheen kar sakata hai bhaarat kyon nahin kar sakate hamaare paas mobail phon ya poonjeevaad kee kamee ya nirmaan sadan kee kamee hai to send cheen jyaada smaart phon banaata hai yah baat sach hai aur hamaare yahaan kam banate hain smaart hotee lekin ab dheere-dheere hamaare yahaan bhee smaartaphon banana chaaloo ho gae hain aur hamaare yahaan thodee takaneekee kamee to jarooree hogee tabhee to yah jyaada nahin ban pa rahe hain lekin ab dheere-dheere yahaan par bhee mek in indiya ka jaise kaam chaaloo hua hai to abhee yahaan par bhee smaartaphon bhee banana chaaloo ho gae hain dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • स्मार्ट फोन व्यवसाय, चीन जैसे स्मार्टफ़ोन का उत्पादन भारत क्यों नहीं कर सकता है, मोबाइल फोन निर्माण
URL copied to clipboard