#भारत की राजनीति

पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
1:10
आपने देखा होगा स्वामी ओम जो है कैसा दिखती है आपको पढ़ने के स्वामी ओम जीवन की किन गलतियों के कारण आध्यात्मिक गुरु या सफल राजनेता बनने की जगह एक हास्य का केंद्र बनकर बिल्कुल सही है स्वामी ओम की जो बातें हो उन्हें गंभीरता नहीं है उनकी किसी भी बातों पर भरोसा लोगों को नहीं जानता है क्योंकि उन्होंने कितनी गंदी गंदी हरकत पर हैं वहां पर बिग बॉस में की है कि लोगों में उनका जो आध्यात्मिक व्यक्तित्व है उस पर काफी प्रभाव पड़ गया है लोगों को उनको आध्यात्मिक नासमझ करके उनको एक जोकर समझने लगे थे उन्होंने ऐसी ऐसी घटनाएं लड़कियों के साथ कर दी हैं इसको मतलब भारतीय जनमानस में उसको अच्छा नहीं माना गया है उन्होंने किसी बर्तन पर पेशाब करके और मतलब इस वर्ष गंदगी फैलाई है वहां पर जो समाज के लिए भी बहुत दुष्कर है उनकी किसी भी बात को लोग जो है गंभीरता से ना ले करके मजाक में लेते हैं और इसी कारण से क्योंकि उनके अध्यात्म में कोई बल नहीं है इसलिए लोगों ने मजाक कर केंद्र समझते हैं
Aapane dekha hoga svaamee om jo hai kaisa dikhatee hai aapako padhane ke svaamee om jeevan kee kin galatiyon ke kaaran aadhyaatmik guru ya saphal raajaneta banane kee jagah ek haasy ka kendr banakar bilkul sahee hai svaamee om kee jo baaten ho unhen gambheerata nahin hai unakee kisee bhee baaton par bharosa logon ko nahin jaanata hai kyonki unhonne kitanee gandee gandee harakat par hain vahaan par big bos mein kee hai ki logon mein unaka jo aadhyaatmik vyaktitv hai us par kaaphee prabhaav pad gaya hai logon ko unako aadhyaatmik naasamajh karake unako ek jokar samajhane lage the unhonne aisee aisee ghatanaen ladakiyon ke saath kar dee hain isako matalab bhaarateey janamaanas mein usako achchha nahin maana gaya hai unhonne kisee bartan par peshaab karake aur matalab is varsh gandagee phailaee hai vahaan par jo samaaj ke lie bhee bahut dushkar hai unakee kisee bhee baat ko log jo hai gambheerata se na le karake majaak mein lete hain aur isee kaaran se kyonki unake adhyaatm mein koee bal nahin hai isalie logon ne majaak kar kendr samajhate hain

और जवाब सुनें

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:43
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका कृष्णस्वामी होम जीवन की नीतियों के कारण आध्यात्मिक गुरु के सफल राजनेता बनने की जगह सिर्फ मनोरंजन का केंद्र बनकर रह गए हैं तो फ्रेंड संसद को पता है कि सोनी उनकी गलत हरकतों की वजह से ही रे मंदिर कब तक बन गए उन्होंने बिग बॉस में जिस तरह से अश्लीलता दिखाई और लड़कियों के साथ जिस तरह से गंदे व्यवहार किए गंदी बातें की इसी कारण से मजाक का केंद्र बन गए हैं तो लोगों के मन में उनके प्रति ऐसे ही छवि बैठ गई है कि आध्यात्मिक ना हो कर दूंगी है और उनकी छवि एक जोकर या मनोरंजन के लिए ही बन गई है बस उन्हें अनुमति कोई भी उन्हें ज्ञानवानी नहीं मानता है धन्यवाद
Helo phrend svaagat hai aapaka aapaka krshnasvaamee hom jeevan kee neetiyon ke kaaran aadhyaatmik guru ke saphal raajaneta banane kee jagah sirph manoranjan ka kendr banakar rah gae hain to phrend sansad ko pata hai ki sonee unakee galat harakaton kee vajah se hee re mandir kab tak ban gae unhonne big bos mein jis tarah se ashleelata dikhaee aur ladakiyon ke saath jis tarah se gande vyavahaar kie gandee baaten kee isee kaaran se majaak ka kendr ban gae hain to logon ke man mein unake prati aise hee chhavi baith gaee hai ki aadhyaatmik na ho kar doongee hai aur unakee chhavi ek jokar ya manoranjan ke lie hee ban gaee hai bas unhen anumati koee bhee unhen gyaanavaanee nahin maanata hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • स्वामी ओम जीवन की किन गलतियों के कारण अधात्विक गुरु या सफल राजनेता नहीं बन पाए, किन गलतियों के कारण अधात्विक गुरु या सफल राजनेता बनने की जगह सिर्फ मनोरंजन का केंद्र बनकर रह गया
URL copied to clipboard