#undefined

bolkar speaker

किसान नेशनल मीडिया को गोदी मीडिया क्यों बोल रहे हैं?

Kisaan National Media Ko Godi Media Kyun Bol Rahe Hain
SAKSHI RAI Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए SAKSHI जी का जवाब
Unknown
1:50

और जवाब सुनें

bolkar speaker
किसान नेशनल मीडिया को गोदी मीडिया क्यों बोल रहे हैं?Kisaan National Media Ko Godi Media Kyun Bol Rahe Hain
Abdul_Ahad  Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Abdul_Ahad जी का जवाब
Unknown
1:33

bolkar speaker
किसान नेशनल मीडिया को गोदी मीडिया क्यों बोल रहे हैं?Kisaan National Media Ko Godi Media Kyun Bol Rahe Hain
Daulat Ram sharma Shastri Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Daulat जी का जवाब
Retrieved sr tea . social activist,
2:22
स्थिति यही तो बेहतर है क्योंकि यदि मोदी जी सराहनीय कार्य कर रहे हैं मोदी जी की जो अच्छे कार्य हैं उनका कोई जो मीडिया दे देते हैं उनके एंटी वाले बोलते हैं यह मोदी मीडिया है और जो मोदी जी के एंटी वाले मीडिया वाले जो अन्य नेताओं का देते हैं तो मोदी भक्त जो है वो कहते हैं कि यह चमचों का चमचा है इधर वाले जो विपक्ष वाले हैं वह तो मोदी को के सपूतों को अंधभक्त कहते हैं और उधर जो मोदी जी के प्रशंसक लोग हैं वो कांग्रेस वाले या विपक्ष के लोगों के जो प्रशंसक हैं उन लोगों को चमचे कहते हैं स्टील ब्रांड चमचे कहते हैं तो यह एक देश की हालत इतनी बस से पत्थर है क्योंकि आज सच्चाई को कोई सुनना पसंद नहीं करता कहना पसंद नहीं करता यह पार्टी पॉलिटिक्स इतनी गंदी फैली हुई है कि मीडिया में भी इसने तो भाग कर दिए हैं कुछ तो मोदी जी के समर्थक हैं कुछ मोदी जी कैंडी हैं अब जो एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाते रहते हैं पहले यह देश में जब होता था तो उन नेताओं में ही होता था नित आपस में ही है आरोप प्रत्यारोप लगाते रहते थे सच्चाई कभी नहीं खुल पाती थी फायदेमंद हो करके बंद हो जाती थी क्योंकि नेताओं का कोई मरता नहीं है एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाते रहते हैं भैया रात अब मीडिया में हो गई है भाई हालातों जनसाधारण में भी फैल गई है क्योंकि इन पॉलीटिकल पार्टीज कारण आज जनता में भी छा रहा है और जनता के लोग आपस में लड़ रहे हैं इन नेताओं का कुछ नहीं जाता रही है जनता जाए भी कूपन की तरह आपस में एक दूसरे से मारधाड़ लड़ाई झगड़ा करते रहते हैं ताजा धारणा बंगाल का देखने बंगाल में ममता दीदी के समर्थक टीएमसी के और बीजेपी वाले रोज के झगड़े आप टीवी पर देखने तो आपको मिल रहे हैं वही हालत मीडिया में हो गए हैं मीडिया भी आपस में एक दूसरे के जो जिस पार्टी से कनेक्टेड होता है उसके नेताओं की गीत गाते हैं और पार्टी के एंटी होता है उसके बारे में वीडियो में कुछ भी कहते रहते हैं हालात हैं
Sthiti yahee to behatar hai kyonki yadi modee jee saraahaneey kaary kar rahe hain modee jee kee jo achchhe kaary hain unaka koee jo meediya de dete hain unake entee vaale bolate hain yah modee meediya hai aur jo modee jee ke entee vaale meediya vaale jo any netaon ka dete hain to modee bhakt jo hai vo kahate hain ki yah chamachon ka chamacha hai idhar vaale jo vipaksh vaale hain vah to modee ko ke sapooton ko andhabhakt kahate hain aur udhar jo modee jee ke prashansak log hain vo kaangres vaale ya vipaksh ke logon ke jo prashansak hain un logon ko chamache kahate hain steel braand chamache kahate hain to yah ek desh kee haalat itanee bas se patthar hai kyonki aaj sachchaee ko koee sunana pasand nahin karata kahana pasand nahin karata yah paartee politiks itanee gandee phailee huee hai ki meediya mein bhee isane to bhaag kar die hain kuchh to modee jee ke samarthak hain kuchh modee jee kaindee hain ab jo ek doosare par aarop pratyaarop lagaate rahate hain pahale yah desh mein jab hota tha to un netaon mein hee hota tha nit aapas mein hee hai aarop pratyaarop lagaate rahate the sachchaee kabhee nahin khul paatee thee phaayademand ho karake band ho jaatee thee kyonki netaon ka koee marata nahin hai ek doosare par aarop pratyaarop lagaate rahate hain bhaiya raat ab meediya mein ho gaee hai bhaee haalaaton janasaadhaaran mein bhee phail gaee hai kyonki in poleetikal paarteej kaaran aaj janata mein bhee chha raha hai aur janata ke log aapas mein lad rahe hain in netaon ka kuchh nahin jaata rahee hai janata jae bhee koopan kee tarah aapas mein ek doosare se maaradhaad ladaee jhagada karate rahate hain taaja dhaarana bangaal ka dekhane bangaal mein mamata deedee ke samarthak teeemasee ke aur beejepee vaale roj ke jhagade aap teevee par dekhane to aapako mil rahe hain vahee haalat meediya mein ho gae hain meediya bhee aapas mein ek doosare ke jo jis paartee se kanekted hota hai usake netaon kee geet gaate hain aur paartee ke entee hota hai usake baare mein veediyo mein kuchh bhee kahate rahate hain haalaat hain

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • किसान नेशनल मीडिया किसान आंदोलन
URL copied to clipboard