#undefined

bolkar speaker

'सोचा न था' इस पंक्ति को आप अपने अंदाज में कैसे पूरा करेंगे?

Socha Na Tha Is Pankti Ko Aap Apane Andaaj Mein Kaise Poora Karenge
Rajnish Singh Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Rajnish जी का जवाब
Unknown
0:48

और जवाब सुनें

bolkar speaker
'सोचा न था' इस पंक्ति को आप अपने अंदाज में कैसे पूरा करेंगे?Socha Na Tha Is Pankti Ko Aap Apane Andaaj Mein Kaise Poora Karenge
डा. इन्दु प्रकाश सिंह  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए डा. जी का जवाब
शिक्षण-कार्य, कालेज शिक्षा में प्राचार्य हूँ
2:10
सोचा ना था इस पंक्ति को आप अपने अंदाज में कैसे पूरा करेंगे जिंदगी में व्यक्ति जब आगे बढ़ता है एक लक्ष्य निर्धारित करता है साध्य और साधन के रूप में कर्म का उपयोग करता है वह शुरू में ही अनुमान लगा लेता है मेरा एक कर्म सार्थक होगा अथवा लेकिन भाग्य कभी-कभी ऐसी अठखेलियां करता है कि जो हम सोचते नहीं है वह भी हो जाता है और जो सोच कर के चलते हैं कि नहीं ऐसा होगा वह बिल्कुल ही नहीं है इसलिए सोचा ना था इस पंक्ति को अगर आप भी पूरा करते हैं इसके दो ही होंगे आशीष के कि सोचा ना था कभी ऐसा भी होगा पूर्णता के अर्थ में अप्रतिम अप्रत्याशित उपलब्धियों के अर्थ और सोचा ना था ऐसा भी होगा संकट की स्थिति में दुर्भाग्य की स्थितियों में पराजय की स्थितियों में असफलता की सफलता का भी पूरक बन सकती है असफलता का भी पूर्ण सकती है इसलिए इसे दोनों जगह प्रयुक्त कर सकते हैं सब जिंदगी हार और जीत का नाम आशावादी जिंदगी जीने की कोशिश करना चाहिए तो सोचा ना था कि मुझे ऐसा लगता है सफलता और असफलता का द्योतक पूर्व वाक्य नहीं है बल्कि कहीं न कहीं आशावादी ता कभी सोचा ना था ऐसा उसमें दुर्भाग्य आएगा लेकिन इसके पीछे यही है यह सोचा ना था आएगा अर्थात अब आ गया तो मैं इसे स्वीकार कर रहा हूं लेकिन इससे हतोत्साहित नहीं होगा अर्थ वाक्य में मानक पदमी की बातचीत हुई है थैंक यू

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

    URL copied to clipboard