#undefined

bolkar speaker

मई का पहला मंगलवार किस रूप में मनाया जाता है?

Mai Ka Pahala Mangalvaar Kis Roop Mein Manaaya Jaata Hai
Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
1:40
नमस्कार दोस्तों आपका प्रश्न है मई का पहला मंगलवार किस रूप में मनाया जाता है दोस्तों को बड़े मंगल वैसे तो कई दिनों में रहते हैं कई दिन होते हैं बड़े मंगल की और बड़े मंगल की मान्यता है कि जस्ट में जो पवन पुत्र हनुमान का पूजन अर्चन हर मंगल को करता है उसके सारे संकट दूर हो जाते हैं कहा जाता है कि नवाब सआदत अली खान के बीमार होने पर मां छतरपुर नहीं नाम मुसलमान से मन्नत मांगी थी मन्नत पूरी होने पर उन्होंने अलीगंज का पुराना हनुमान मंदिर बनवाया था आज भी मंदिर के ऊपर चांद का निशान देखा जा सकता है लखनऊ में नवाब सआदत अली खान से शुरू हुआ था मंगलवार आज यहां हिंदू मुस्लिम दोनों के लिए महत्व रखता है इस अवसर पर मुसलमान भी धार्मिक कार्यक्रम में भाग लेते हैं एक और यह विवाद नहीं हनुमान मंदिर की स्थापना के संदर्भ में कहा जाता है कि जाट फल व्यापारी ने स्वयं प्रकट हनुमान प्रतिमा संबंधित मांगी थी कि अगर उसका इत्र और केसर बिक जाएगा तो हनुमान जी का भव्य मंदिर बनवाए नवाब वाजिद अली शाह ने आग बुझाने के लिए जाट मन से ही धर्म के संग प्रीत है इस तरह मन्नत पूरी होने पर दर्द में चेस्ट के पहले मंगलवार को अलीगंज के नए हनुमान मंदिर में हनुमान जी की प्रतिमा स्थापना करवाई थी तब से जस्ट का हर मंगलवार बड़े मंगल के रूप में मनाया जाता है धन्यवाद
Namaskaar doston aapaka prashn hai maee ka pahala mangalavaar kis roop mein manaaya jaata hai doston ko bade mangal vaise to kaee dinon mein rahate hain kaee din hote hain bade mangal kee aur bade mangal kee maanyata hai ki jast mein jo pavan putr hanumaan ka poojan archan har mangal ko karata hai usake saare sankat door ho jaate hain kaha jaata hai ki navaab saaadat alee khaan ke beemaar hone par maan chhatarapur nahin naam musalamaan se mannat maangee thee mannat pooree hone par unhonne aleeganj ka puraana hanumaan mandir banavaaya tha aaj bhee mandir ke oopar chaand ka nishaan dekha ja sakata hai lakhanoo mein navaab saaadat alee khaan se shuroo hua tha mangalavaar aaj yahaan hindoo muslim donon ke lie mahatv rakhata hai is avasar par musalamaan bhee dhaarmik kaaryakram mein bhaag lete hain ek aur yah vivaad nahin hanumaan mandir kee sthaapana ke sandarbh mein kaha jaata hai ki jaat phal vyaapaaree ne svayan prakat hanumaan pratima sambandhit maangee thee ki agar usaka itr aur kesar bik jaega to hanumaan jee ka bhavy mandir banavae navaab vaajid alee shaah ne aag bujhaane ke lie jaat man se hee dharm ke sang preet hai is tarah mannat pooree hone par dard mein chest ke pahale mangalavaar ko aleeganj ke nae hanumaan mandir mein hanumaan jee kee pratima sthaapana karavaee thee tab se jast ka har mangalavaar bade mangal ke roop mein manaaya jaata hai dhanyavaad

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • मई दिवस किस महीने में मनाया जाता है, बुढ़वा मंगल किस तारीख को है 2020, मई का मंगलवार
URL copied to clipboard