#undefined

Sonali Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Sonali जी का जवाब
जिंदगी को खुलकर जीना...😊
0:22
इस पर लिख सकती हूं तुम ना होते लिखना क्या है मैं तो अभी भी बोल देती हूं काश तुम ना काश तुम ना होते तो दुख है समंदर ना होता काश तुम ना होते तो आंखों में आंसू ना होते काश तुम ना होते तो दिल दिल में दर्द ना होता काश तुम ना होते तो हमारी कोई मुस्कुराहट ना होती काश काश तुम ना होते
Is par likh sakatee hoon tum na hote likhana kya hai main to abhee bhee bol detee hoon kaash tum na kaash tum na hote to dukh hai samandar na hota kaash tum na hote to aankhon mein aansoo na hote kaash tum na hote to dil dil mein dard na hota kaash tum na hote to hamaaree koee muskuraahat na hotee kaash kaash tum na hote

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

    URL copied to clipboard