#undefined

Jagriti  Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Jagriti जी का जवाब
One of the top speaker at bolkar.
3:21
  • सवाल पूछने के लिए ऐप डाउनलोड करें
  • सवाल पूछने के लिए ऎप डाउनलोड करें
  • Download App

और जवाब सुनें

Disha Bhayani Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Disha जी का जवाब
Unknown
2:05

डा. इन्दु प्रकाश सिंह  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए डा. जी का जवाब
शिक्षण-कार्य, कालेज शिक्षा में प्राचार्य हूँ
3:08

ChristinaKC Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए ChristinaKC जी का जवाब
Unknown
0:53

Mohit Sharma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Mohit जी का जवाब
Professional
2:07

Deepak Sharma Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Deepak जी का जवाब
संस्कृतप्रचारक, संस्कृतभारती जयपुरमहानगर प्रचारप्रमुख और सन्देशप्रमुख
1:41

Abhishek Shukla ji Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Abhishek जी का जवाब
Motivational speaker
2:00

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

#टेक्नोलॉजी

Dhruv Singh Ghosh Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dhruv जी का जवाब
Student 🖍️🖍️🖍️🖍️🖍️🙏🙏
2:24
दोस्तों मैं हूं रक्षक घोष आप मुझे सुन रहे हैं बोलकर पर सवाल पूछा कि एंड्रॉयड और आईओएस में क्या अंतर है तथा इनमें दोनों में कौन सा ऑपरेटिंग सिस्टम सबसे व्यस्त हैं तो देखिए दोनों ऑपरेटिंग सिस्टम सबसे क्योंकि फर्स्ट नंबर पर रोड आता है एंड्रॉयड के बाद दूसरा जो है आईएस ऑपरेटिंग सिस्टम सबसे बड़ा सिस्टम एंड्रॉयड इसलिए क्योंकि एंड्रॉयड डिवाइस में यूज होता है लेकिन आईएस पार्टिकुलरली डिवाइस में यूज होता है इसलिए वो लेकिन सबसे बेहतर हो बढ़िया तो मुझे आईयूएसी लगता है क्योंकि आईओएस में आपको सिक्योरिटी मिलती है सबसे बढ़िया फीचर तुम्हें यह लगता है इसका किस में एक प्रोडक्ट सेल होती है मींस एक एप्लीकेशन दूसरे एप्लीकेशन पेमेंट कट नहीं कर सकता है पीके डिवाइस - ऑपरेटिंग सिस्टम में एक एप्लीकेशन दूसरे पर कमेंट नहीं कर सकता मींस से आसान भाषा में हम समझे तो जैसे व्हाट्सएप पर मेरे पास कोई लिंक आती है उस लिंक को जाम क्लिक करते हैं तो क्रोम या कोई ब्राउज़र की मदद से मुझे खुल सकते हैं लेकिन हाईवे सिस्टम ऐसा नहीं होता है क्योंकि दूसरी कम्युनिकेट नहीं कर पाते इसलिए कमेंट नहीं कर पाते ताकि अगर एक ऐप में किसी भी कंडीशन में वायरस आ जाए तो दूसरे ऐप को वह नुकसान न पहुंचा सके उसका डाटा चोरी ना कर सके इस सिस्टम में एक ऐप में जो अलग-अलग होती सिक्योरिटी के साथ से है ना तो और इसमें अलग से अगर आपको एक कोई लिंक खोल ली है तो उसमें एक्सपेंडेबल परमिशन मांगता है इसको अपने बल करने पर सर आप इस लिंक को किसी ब्राउज़र में खोल सकते हैं तो फिर जानते हैं कि एंड्रॉयड आईओएस में क्या अंतर देखिए एंड्राइड तो सभी दवाई में लगभग यूज होता है एंड्रॉयड अलग ऑपरेटिंग आईएस क्या है आईएस एप्पल का बनाया हुआ है इसका सबसे पहले ताज 2006 पांचवे संस्करण आया था उसका नाम था वैसे उनका खुद का एक के ऑपरेटिंग सिस्टम था उसका नाम था और 2011 में इसका 10 जून 2010 में शायद जून 2010 में इसका नाम बदलकर आयुष कर दिया उसमें बहुत से फीचर जोड़े जाते हैं हर साल लगभग अभी इसका नया न्यू फ्यूचर फ्यूचर जो आया था 2018 में आया था i5s i12s एक नया फीचर आया था वही बहुत तेज सिक्योर है वह बहुत से क्यों रहते हैं आईएस ऑपरेटिंग सिस्टम है बहुत बढ़िया तरीके से काम करते सबसे बढ़िया सिक्योरिटी देते हैं हालांकि एंड्रॉयड में इतना नहीं होता तुम्हें तो आखरी कमेंट करता हूं सबसे बढ़िया बेस्ट है तो आशा करता हूं आपको जवाब पसंद आया दूंगा

#टेक्नोलॉजी

anuj ji Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए anuj जी का जवाब
Unknown
1:55

#टेक्नोलॉजी

pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
0:57

#रिश्ते और संबंध

pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:12
काराकाट वाले चीन से आगे निकलने के लिए भारत को और कितना समय लगेगा अगर बात करें तो बहुत ज्यादा समय लग जाएगा जितना भी नहीं कर सकती भारत इसे कड़ी मेहनत करता है और पूरी नगर से काम करता है फिर भी बहुत समय लग जाएगा क्योंकि चाइना एक विकसित देश है और जबकि भारत एक विकासशील देश है और मुझे लगता है कि आप ही से तो आकर पढ़ रही है बट ऐसा नहीं है कि वहां की टेक्नोलॉजी जो है या फिर तो सारी चीजें उनकी वहां की टेक्नोलॉजी भी अच्छी तरीके से बढ़ रही है तू अभी निकलने के लिए और बहुत सारा समय मेरी बहुत सारी समय का मतलब दर्द बृजलाल जो भी है बहुत ज्यादा समय लग जाएगा और भारत को आगे बढ़ने में अपनी टेक्नोलॉजी को भारत बड़ा आए हर चीज में आगे बढ़े प्रतीक्षा में रोजगार में अपने आगे बढ़ने से मतलब होना चाहिए हमें कंपटीशन नहीं करना है कितनी देर से की थी हमें अपने देश में सुधार करना है अपने देश को आगे बढ़ाना है तुम मेरे सवाल का जवाब पसंद आएगा आपको चाहिए धन्यवाद

#पढ़ाई लिखाई

Aakancha Shaw Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Aakancha जी का जवाब
Unknown
0:59
यह क्वेश्चन दो तरीके से देखा जा सकता है ऑनलाइन क्लास में जैसा कि हमें पता है बच्चे चीटिंग जरूर करेंगे तो वह कुछ सीखेंगे नहीं है क्योंकि जब ऑनलाइन होगी तो भी कुछ नहीं कुछ पड़ेंगे और ना ही कुछ सीखेंगे अल्टीमेटली चीटिंग करके एग्जाम देंगे दूसरी तरफ देखा जाए तो यह घर ऑनलाइन ऑफलाइन एग्जाम होते हैं तो वह चीज को सोच कर इसी से डरकर अट लीस्ट कुछ तो पड़ेंगे कुछ तो सीखेंगे कि ऑफलाइन वहां पर चैटिंग नहीं कर पाएंगे क्योंकि अगर चीटिंग करके एक्जाम देना है तब तो भी कुछ भी नहीं सीखेंगे एंड शिक्षा का मेन मोटे तो होता है ना तो उनको नॉलेज की नहीं होगा तब फिर दूसरी क्लास में अगर वह प्रमोट वह भी जाएंगे तब वे उस क्लास के सिलेबस को समझ नहीं पाएंगे क्योंकि वह चीटिंग करके एग्जाम देंगे इस चीज को दो नजरिए से देखा जा सकता है

#जीवन शैली

Archana Mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Archana जी का जवाब
Housewife
0:58
हेलो फ्रेंड स्वागत है आपका आपका प्रश्न ऐसा क्या है जो इंसान की समझ से परे है तो फ्रेंड से ऐसा बहुत सारी चीजें हैं जो इंसान की समझ से परे होती है इस तो किसी का गंदा व्यवहार अगर कोई गंदा व्यवहार करता है तो कभी इंसान समझ नहीं पाता कि ऐसा क्यों कर रहा है और वे उसकी समझ से परे हो जाता है और कभी-कभी समाज में भी तो बीच में भ्रष्टाचार देखने को मिलता है तू समझ में नहीं आता कि यह क्यों ऐसा हो रहा है यह सब बातें इंसान की समझ से परे है और यह जो अभी किसानों का आंदोलन चल रहा है तो सरकार बहुत प्रकार से उन को समझाने की भी कोशिश कर रही है पर बात भी कर रही है तू भी वह अपनी जिद पर अड़े हुए हैं तो यह भी समझ से परे है ऐसी बहुत सारी बातें हमारे समाज में देश में और हमारे आसपास होती रहनी है जो हमारी समझ से परे हो जाती हैं क्योंकि वह बहुत ज्यादा ही अपनी जिद पर अड़े रहते हैं और अपनी ही बात मनवाने की कोशिश करते रहते हैं धन्यवाद

#टेक्नोलॉजी

Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:38
अपने सवाल किया है कि मौसम और जलवायु में से किस में तेजी से परिवर्तन होता है तो मौसम में परिवर्तन अल्प समय में ही हो जाता है और जोधपुर में परिवर्तन एक लंबे समय के दौरान होता है मौसम इसी स्थानीय क्षेत्र विशेष की लघु अवधि की पर्यावरणीय दशाओं को दर्शाता है यह परिवर्तन किसी स्थान विशेष मौसम की प्रकृति बनाता है जबकि जलवायु लंबे समय से किसी बड़े क्षेत्र क्षेत्र हुई मौसमी परिवर्तन वह बताता है धन्यवाद

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
आपकी नजर में धर्म क्या?
Meghsinghchouhan Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Meghsinghchouhan जी का जवाब
student
0:34
आपका सवाल है कि आपकी नजर में धर्म क्या है तो मेरी नजर में केवल मैं इसी को धर्म मानता जिसमें माता-पिता की सेवा करना या कोई घर पर आए इस पर सेवा करना है या जलेबी चलाने के लिए किसी को रोजगार के लिए कार्य करने होते हैं वह एक प्रकार का धर्म है पैसा कमाने के लिए जो व्यक्ति काम करने काम करता है वह अपना धर्म कर रहा है धन्यवाद

#धर्म और ज्योतिषी

Rajendra Malkhat Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Rajendra जी का जवाब
Self student
0:53
सर दोस्तों आपका प्रश्न है धैर्य व कायरता में क्या अंतर है दोस्तों धैर्य का अर्थ होता है धीरज और संतोष रखना किसी वक्त भी कार्य को जल्दबाजी में नहीं करते हुए और धैर्य रखना जबकि कायरता वीरता शब्द का विलोम शब्द होती है जबकि वीरता का विलोम शब्द कायरता होता है और कायदा का अर्थ होता है कमजोर डरा हुआ तो इसलिए इन दोनों में फर्क सीधा-सीधा दिख रहा है यानी कि धीरज संतोष और कायरता यानी कि कमजोर तो इन दोनों का जो अर्थ है वह बिल्कुल ही एक दूसरे से भिन्न है दोनों अलग-अलग सार्थक शब्द है और दोनों ही अलग है धन्यवाद

#पढ़ाई लिखाई

Shiraj khan Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Shiraj जी का जवाब
Asst.professor
0:31
क्या आपका प्रश्न है या मनोविज्ञान में क्रोध क्या है देखें मनोविज्ञान में क्रोध एक प्राकृतिक भावना है ईसा पूर्व 2020 से 2000 ईस्वी तक या कल के बीच लिखे गए अन्य शास्त्रों में खुद को एक कर रख दिया है सर जी भाऊ कहां गया है अमेरिका फिजियोलॉजिकल एसोसिएशन ने गुस्से को विपरीत परिस्थितियों के प्रति एक क्या सहज अभिव्यक्ति कहां के हैं

#जीवन शैली

Nikhil Ranjan Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Nikhil जी का जवाब
HoD NIELIT
0:35
आरा का बस नहीं जब मन में बहुत कुछ करने की इच्छा हो किंतु समय और साधन समिति हो तो क्या करना चाहिए तो आपको बता देंगे देखिए अगर आप बहुत कुछ अपने जीवन में करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको प्रयास ही करने होंगे और अगर आप सच्चे हृदय से प्रयास करेंगे तो यकीन मानिए परिस्थितियां भी आपके अनुकूल हो जाएंगी आपको समय भी आप निकाल पाएंगे साधन भी आपके एकत्रित हो जाएंगे तो आपसे दृढ़ संकल्पित होकर कार्य करें निश्चित रूप से आपको अपने जीवन में सफलता प्राप्त होगी मैं शुभकामनाएं आपके साथ हैं धन्यवाद

#जीवन शैली

pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
2:06
मकर राशि वाले के किसी की निंदा करने से मन को सुकून मिलता है तो जी नहीं ऐसा बिल्कुल भी नहीं है क्योंकि अगर हम किसी की निंदा करते करते हैं उनके मन में कुछ बातें झूठी नहीं पाते और किसी बात जानते तो दिल कहे नहीं निभाते भी किसी को नहीं कहेंगे वह अपनी मुझे जानते हो उसे बाहर निकालना भी जानते हैं और किसी की बुराई का नजर से कुछ लोगों की आदत ही होती है बिना बुराई किए हुए भी नहीं आता है तुझे सुकून नहीं कहेंगे क्योंकि उनके पेट में भारत में आ चुकी है और राज्य से निकालना बहुत ही मुश्किल है जबकि उनके खुद के प्रयास से ही उनकी यह बुराई दूर हो सकेगी तथा न ही किसी की निंदा करने से किसी की बुराई करने से हमें सुकून मिलता है तो बिल्कुल भी नहीं आती हमारी अंजुमन की बातें होती हैं फिर जो भी आप जानते हैं वह बिना कहे वह नहीं रहता शाहरुख खान की बुराई का नगर उनकी आदत में है तो है बहुत बड़ी अच्छी कह सकते हैं जिनमें बहुत बड़ी बुराई है जिसे दूर करना केवल उन्हीं के हाथ में होता है दूसरी बात करके भी नहीं कर पाएंगे कि सब लोग जानते हैं कि मालिश अगर मेरे बारे में कोई बुराई करें मुझे पता है कि वह मेरी बुराई करते हैं तो उसके लिए क्या कर सकते हैं करते हैं तो वह अपनी या नहीं वह अपनी छवि खराब कर रहे हैं दूसरों की नजर में ठीक है क्या वो इंसान मेरी बुराई जाकर 2:00 चुके बात कर रहा है क्या सब जरूरी नहीं कि वो इंसान आगे बढ़ाई मेरे सामने अधिकारी ऐसा करते हैं सर और सर हमने पहचान नहीं पाते हमें लगता है कि अमेरिकी बुराई सुन रहे हैं और हमें ऐसा लगता है कि वह दूसरे की बुराई नहीं करते लेकिन जो इंसान आज तक करते हैं उन सब की बुनाई दूसरे के पास जाकर करते हैं और खून बिल्कुल भी नहीं मिलता क्योंकि मन की शादी तुम्हारी तुम्हें चाहते हैं सवाल का जवाब पसंद आएगा आप लोग खुश रहिए दूसरों को भी खुश रखे देने वाला

#जीवन शैली

pushpanjali patel Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए pushpanjali जी का जवाब
Student with micro finance bank employee
1:41
मैं तेरे पीछे वाले अब जरूरत से ज्यादा चलाक लोगों से कैसे बनाते हैं आपके नॉलेज को या फिर आपको याद करते हैं जिसकी वजह से कहना पसंद है कि नहीं मुझे नहीं आता है और मुझे मैं नहीं दिखाऊंगी पैसा ही पैसा तो बेटा मुझसे बेटा आप ही दे सकते हैं और आप ही दे सकते हैं मैं ऐसा कुछ जवाब देती हूं जिसकी वजह से लगा कर के अगर आप कुछ तो जवाब भी देते हैं ना तो वह अपने आप क्योंकि वह वापस जचता नहीं होते और वह उस पर तब अपनी राय देते हैं और अपनी जवाब देते हैं और अपनी बातों को भी गुस्सा दिखाना जानते हैं तो मैं रात बात करूं तो मैं कुछ ऐसे ही जवाब देती हूं और जहां तक सवाल है कि जरूरत से ज्यादा चालाक लोगों से कैसे पैसा दे तू मेरे सामने भी एक है ऐसी जो कि ऐसे ही वह अपने आप को इतना ना चला कि मैं तेनु इतना ही स्मार्ट समझती है उन्हें लगता है कि मेरे जैसे किसी को आता ही नहीं है सबको जज करती रहती है जो कि मुझे बिल्कुल भी पसंद नहीं है इसलिए मैं उनके सामने कभी नहीं किसी सवाल का जवाब देना नहीं किसी बात पर उसे बात करना चित्र जरूरत रहता है उतनी ही बात करती हूं तो मैं ऐसे पेश आती हूं तो सब का अंदाज अलग अलग होता सब लोग अलग तरीके से पेश आते होंगे तुम ही कहते हैं सवाल का जवाब बताओ मैं आप लोग को चाहिए दोस्तों को भी खुश रखे

#जीवन शैली

Trilok Sain Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Trilok जी का जवाब
Motivational Speaker Public Speaker Life Coach Youtuber
1:14
नमस्कार पहली बात तो इस पर जवाब मैं देना पसंद करूंगा दूसरी बात कि आप कामयाब नहीं होते या नहीं हो पाती यह बिल्कुल गलत है आप अगर मन लगाकर मेहनत करेंगे तो आप जरूर कामयाब होंगे आपके अंदर एक सफलता का डर बैठ गया जिसकी वजह से आप किसी की भी काम को करते हैं तो आपका आत्मविश्वास गिरा वह होने के कारण आप उस काम को नहीं कर पाते हैं आप बुरा नहीं जितनी भी बातें हम सबको भूल कर अपनी असफलताओं को भूल गई और मन लगाकर पूरे जोश के साथ किसी भी काम को शुरू कीजिए और सिर्फ सफलता क्यों सोचें कि मैं सफल ही होंगा तो यह मेरा दावा है कि आप जरुर सफल होगी और कितनी बार आप ऐसा करोगे सफलता की सीढ़ियां बनाते जाएगी कभी ना कभी तो सफलता मिलेगी ऐसा बोलता हूं कि मेरे मत सोचिए जितनी ज्यादा हो या नहीं मान लो आपके जीवन में 100 बार पुराने 50 बारो है उसके बच्चे में 50 को जल्द से जल्द पूरा कर देंगे ताकि आप सफलता पा सके पिछले असफलताओं से मत घबराइए और आगे बढ़ते रहिए

#टेक्नोलॉजी

shabnam khatun Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए shabnam जी का जवाब
Student
0:56
हेलो एवरीवन तो आज आप का सवाल है कि क्या बिजली कड़कने पर मोबाइल के इस्तेमाल नहीं करना चाहिए ऋषि जी हां बिल्कुल अगर बिजली या फिर लाइटिंग या फिर बारिश हो रही है बारिश हो रही है बिजली नहीं कर सकती है तो हमें जैसी मौसम खराब हो तो हमें फोन नहीं करना चाहिए भारी सागर बोरीवली हो रहा हूं देखिए क्या होता है जब हम फोन का इस्तेमाल करते हैं तो हमारे फोन से अल्ट्रावॉयलेट रेडिएशन हमेशा निकलता ही रहता है तो वह बिजली को अपनी ओर आकर्षित करने में मदद करता है तो अगर आप वैसे वैसे समय पर अगर आप फोन चला रहे हैं तो बिजली का झटका आपको लग सकता है और जान तक भी बात आती है तो अच्छा यही होता है कि जैसी मौसम खराब हो बारिश या फिर लाइटिंग हो रहा है तो फोन का इस्तेमाल बिल्कुल भी ना करें
    URL copied to clipboard