#भारत की राजनीति

bolkar speaker

लोग जीवन में गलत रास्तों का चुनाव कैसे कर लेते हैं?

Log Jeevan Mein Galat Raaston Ka Chunaav Kaise Kar Lete Hain
अमित सिंह बघेल Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए अमित जी का जवाब
सामाजिक कार्यकर्ता, मोटिवेशनल स्पीकर 
3:14

और जवाब सुनें

bolkar speaker
लोग जीवन में गलत रास्तों का चुनाव कैसे कर लेते हैं?Log Jeevan Mein Galat Raaston Ka Chunaav Kaise Kar Lete Hain
Shipra Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Shipra जी का जवाब
Self Employed
0:37

bolkar speaker
लोग जीवन में गलत रास्तों का चुनाव कैसे कर लेते हैं?Log Jeevan Mein Galat Raaston Ka Chunaav Kaise Kar Lete Hain
Porshia Chawla Ban Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Porshia जी का जवाब
मनोवैज्ञानिक, हैप्पीनेस कोच, ट्रेनर (सॉफ्ट स्किल्स/कॉर्पोरेट)
2:29

bolkar speaker
लोग जीवन में गलत रास्तों का चुनाव कैसे कर लेते हैं?Log Jeevan Mein Galat Raaston Ka Chunaav Kaise Kar Lete Hain
पुरुषोत्तम सोनी Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए पुरुषोत्तम जी का जवाब
साहित्यकार, समीक्षक, संपादक पूर्व अधिकारी विजिलेंस
0:58
क्योंकि सोच नकारात्मक होती है समाज को गलत तरीके से उसका लाभ लेना चाहते हैं लोगों पर छल कपट दंभ के द्वारा लोगों को परेशान करते हैं उसके द्वारा धन अर्जन करते हैं लोगों की तकलीफ में अपना आनंद अनुभव करते हैं ऐसे लोग जो है गलत रास्तों का चुनाव हमेशा करते हैं जो सदाचारी होंगे विनम्र होंगे सर समाज को आगे बढ़ाने वाले होंगे मानवता ईश्वर के दर्शन करने वाले होंगे लोगों के सुख-दुख में बराबर का साथ देने वाले होंगे वह लोग जो हैं हमेशा सच्चाई के मार्ग पर चलते हैं लेकिन जो गलत रास्तों का चुनाव करते हैं झूठे रास्तों का चुनाव करते हैं धोखे का चुनाव करते हैं ब्लॉक का चुनाव करते हैं ऐसे लोगों की विचारधारा नकारात्मक होती है और वह लोग हिंसात्मक वह हिंसा को पसंद करने वाले होते हैं और लोगों को कष्ट पहुंचाने वाले दूसरों के कष्टों से उनको आनंद आता है ऐसे लोग हमेशा समाज के कोण होते हैं उनसे सदा आपने दूरी बना करके रखना चाहिए
Kyonki soch nakaaraatmak hotee hai samaaj ko galat tareeke se usaka laabh lena chaahate hain logon par chhal kapat dambh ke dvaara logon ko pareshaan karate hain usake dvaara dhan arjan karate hain logon kee takaleeph mein apana aanand anubhav karate hain aise log jo hai galat raaston ka chunaav hamesha karate hain jo sadaachaaree honge vinamr honge sar samaaj ko aage badhaane vaale honge maanavata eeshvar ke darshan karane vaale honge logon ke sukh-dukh mein baraabar ka saath dene vaale honge vah log jo hain hamesha sachchaee ke maarg par chalate hain lekin jo galat raaston ka chunaav karate hain jhoothe raaston ka chunaav karate hain dhokhe ka chunaav karate hain blok ka chunaav karate hain aise logon kee vichaaradhaara nakaaraatmak hotee hai aur vah log hinsaatmak vah hinsa ko pasand karane vaale hote hain aur logon ko kasht pahunchaane vaale doosaron ke kashton se unako aanand aata hai aise log hamesha samaaj ke kon hote hain unase sada aapane dooree bana karake rakhana chaahie

bolkar speaker
लोग जीवन में गलत रास्तों का चुनाव कैसे कर लेते हैं?Log Jeevan Mein Galat Raaston Ka Chunaav Kaise Kar Lete Hain
Ramvriksh Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Ramvriksh जी का जवाब
CivilEngineer
1:53
लोक जीवन में गलत रास्तों का चुनाव कैसे कर लेते हैं दरअसल आदमी समाज के अंदर रास्ता है समाज में दो तरह के लोग हैं सज्जन दूर जाने वाले हैं बुरे हैं तमाम तरह के लोग अच्छे हैं बुरे हैं दुर्जन है दुष्ट हैं संगीत संगीत तो खुश रंग का ज्यादा असर पड़ता है अच्छी चीज सीखने में टाइम लगती है बच्चा पहले आ जाएगी तुम भगवान का नाम लो तो भगवान का नाम पहले नहीं लेगा पहले को गाली दे गाली गाली देना सीखे का बुराइयां सीखेगा अच्छी बात सीखने के लिए उसको मेहनत करना पड़ेगा बताना पड़ेगा तो समझाना पड़ेगा तो यही प्रकृति और बहुत गलत रास्ता मार्ग होते हैं एक्सप्रेस और एक प्रेम जो चीज अच्छी लगती है जैसे मिठाई अच्छी लगती है किसी को पत्नी अच्छी लगती है किसी को धन कमाने का गलत रास्ता अच्छा लगता है मिठाई ज्यादा खाना पत्नी को सर पर चढ़ा के रखना यह सब रास्ता है जो है गलत है और यह पतन का रास्ता बनता है बाद में कला का रास्ता बनता है परिवार में और जो श्रेयस मार्ग पर चलने का मार्ग भगवान की प्राप्ति का मार्ग भजन का मार्ग है अच्छे कर्म और सत्य अहिंसा का मार्ग जो इस जल्दी कोई अपना नहीं है इमानदारी का मार्ग है यह थोड़ी कठिनाई 3 को चलने में ऊपर जाने में ऐसे मकान के ऊपर ही आपको चलना है तो वैसे नहीं चल पाएंगे शिर्डी मनाना पड़ेगा चलना पड़ेगा मेहनत लगती है जाने में ऊपर
Lok jeevan mein galat raaston ka chunaav kaise kar lete hain darasal aadamee samaaj ke andar raasta hai samaaj mein do tarah ke log hain sajjan door jaane vaale hain bure hain tamaam tarah ke log achchhe hain bure hain durjan hai dusht hain sangeet sangeet to khush rang ka jyaada asar padata hai achchhee cheej seekhane mein taim lagatee hai bachcha pahale aa jaegee tum bhagavaan ka naam lo to bhagavaan ka naam pahale nahin lega pahale ko gaalee de gaalee gaalee dena seekhe ka buraiyaan seekhega achchhee baat seekhane ke lie usako mehanat karana padega bataana padega to samajhaana padega to yahee prakrti aur bahut galat raasta maarg hote hain eksapres aur ek prem jo cheej achchhee lagatee hai jaise mithaee achchhee lagatee hai kisee ko patnee achchhee lagatee hai kisee ko dhan kamaane ka galat raasta achchha lagata hai mithaee jyaada khaana patnee ko sar par chadha ke rakhana yah sab raasta hai jo hai galat hai aur yah patan ka raasta banata hai baad mein kala ka raasta banata hai parivaar mein aur jo shreyas maarg par chalane ka maarg bhagavaan kee praapti ka maarg bhajan ka maarg hai achchhe karm aur saty ahinsa ka maarg jo is jaldee koee apana nahin hai imaanadaaree ka maarg hai yah thodee kathinaee 3 ko chalane mein oopar jaane mein aise makaan ke oopar hee aapako chalana hai to vaise nahin chal paenge shirdee manaana padega chalana padega mehanat lagatee hai jaane mein oopar

bolkar speaker
लोग जीवन में गलत रास्तों का चुनाव कैसे कर लेते हैं?Log Jeevan Mein Galat Raaston Ka Chunaav Kaise Kar Lete Hain
Khushboo Chaudhary Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Khushboo जी का जवाब
Unknown
2:02

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

    URL copied to clipboard