#खेल कूद

 Neeraj Kumar  Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए जी का जवाब
Unknown
1:07
अरे दोस्तों मैंने सवाल है आजकल की भागदौड़ में भरी जिंदगी में क्या आप अपनी हॉबी जैसे पेंटिंग लेखन या फिर कोई खेल खेलने के लिए समय कैसे निकालते हैं तो जैसी मेरी हॉबी है कि मैं चैटिंग करना मुझे बहुत पसंद है यानी कि मैं स्टॉक मार्केट में जो ट्रेडर होते हैं जो ट्रेडिंग करते हैं वह मेरी हॉबी है तो मैं अपनी हॉबी को ही अपना क्वेश्चन मना लिया हूं जिससे मैं पैसे कमा रहा हूं और जो मेरा समझ लीजिए एक तरह का एक बिजनेस है तो हम करते हैं आप ऑफलाइन करते हैं जैसे आप सीमेंट की कोई दुकान खोली है आपको सीमेंट को हवाई करिए डीलर से और कस्टमर को सेंड करिए इसी तरह के स्टॉक मार्केट में में ट्रेनिंग करता हूं और शेयर को ऐसे अटैक सीमेंट के शेर को बाई करता हूं और सेल करता हूं इसी तरीके से मैं ऑनलाइन बिजनेस करता हूं वह मुझे यह पोस्ट पसंद है इसलिए मैं पढ़ाई के साथ-साथ इसमें समय बिल्कुल निकाल लेता हूं
Are doston mainne savaal hai aajakal kee bhaagadaud mein bharee jindagee mein kya aap apanee hobee jaise penting lekhan ya phir koee khel khelane ke lie samay kaise nikaalate hain to jaisee meree hobee hai ki main chaiting karana mujhe bahut pasand hai yaanee ki main stok maarket mein jo tredar hote hain jo treding karate hain vah meree hobee hai to main apanee hobee ko hee apana kveshchan mana liya hoon jisase main paise kama raha hoon aur jo mera samajh leejie ek tarah ka ek bijanes hai to ham karate hain aap ophalain karate hain jaise aap seement kee koee dukaan kholee hai aapako seement ko havaee karie deelar se aur kastamar ko send karie isee tarah ke stok maarket mein mein trening karata hoon aur sheyar ko aise ataik seement ke sher ko baee karata hoon aur sel karata hoon isee tareeke se main onalain bijanes karata hoon vah mujhe yah post pasand hai isalie main padhaee ke saath-saath isamen samay bilkul nikaal leta hoon

और जवाब सुनें

रंगन Bolkar App
Top Speaker,Level 55
सुनिए रंगन जी का जवाब
Business,Student🤓
1:50
बुजुर्गों ने सवाल क्या उनको बहुत-बहुत शुक्रिया बहुत ही अच्छा सवाल लगा आपका सिर में जवाब देना चाहता लिखिए इतवार की जिंदगी जिंदगी भागदौड़ भरी जिंदगी हमेशा कठिन होता है यह हम लोगों को मानना चाहिए इस कठिन जिंदगी में अगर हम लोग खुद से खुश ना रह पाए ना तो जिंदगी पूरी तरीके से बेकार बन जाएगा उस जिंदगी में कोई भी टेस्ट नहीं रहेगा ठीक है मतलब मान लीजिए आपको पराठा खाना बहुत पसंद है उसको पराठा खाना पसंद है लेकिन आपको यह 7 साल हो चुका आपको पराठा एक बार भी खाने को नहीं मिला तो फिर आपको बहुत ज्यादा याद आएगा और आपको बिल्कुल अच्छा नहीं लगेगा आपको मूर्ख मित्र के ऑफ हो जाएगा कोई भी काम करने में मन नहीं होगा और आपका जो दिल्ली की फिक्र फिक्र करेगा उसी तरीके से आपका जो फेवरेट हॉबी है से पेंडिंग हो गया खेलकूद हो गया कोई गाना सुनना होंगे यह तो कोई भी हो पर वह काम आपको ना करने के लिए कहा जाए लाइफ टाइम के लिए तू आपको हम कुछ नहीं लगता रहेगा और कोई भी काम में आपको मिल नहीं बैठे हैं इसलिए उचित है कि जो भी आपका है उसको भी खूब कभी कबार जिंदगी में आप अप्लाई करते रहो हो सके तो हफ्ते में एक बार दो बार या फिर हर रोज अगर दर्द हो तो और भी बेहतर का टाइम निकाल कर कर पाओ तो मुझे क्रिकेट खेलना बहुत पसंद है बहुत ज्यादा काम रहता है लेकिन मैं कोशिश करता हूं हफ्ते में कम से कम 3 दिन या 4 दिन क्रिकेट खेलने की विधि क्रिकेट खेलने से मेरा मन बहुत ज्यादा मतलब एक मूर्ति चौक जाता है कि नहीं आता है मुझे उसको होगा इसमें आप लोगों बस एक ही सलाह दूंगा अगर आप बहुत ज्यादा काम करते हो अगर नहीं मुझे पता है तभी बहुत ज्यादा काम करते हैं तो उस काम में से भी थोड़ा सा वक्त आप निकाल लो और जो आपका हॉबी है ना तो थोड़ा इंजॉय कर लो
Bujurgon ne savaal kya unako bahut-bahut shukriya bahut hee achchha savaal laga aapaka sir mein javaab dena chaahata likhie itavaar kee jindagee jindagee bhaagadaud bharee jindagee hamesha kathin hota hai yah ham logon ko maanana chaahie is kathin jindagee mein agar ham log khud se khush na rah pae na to jindagee pooree tareeke se bekaar ban jaega us jindagee mein koee bhee test nahin rahega theek hai matalab maan leejie aapako paraatha khaana bahut pasand hai usako paraatha khaana pasand hai lekin aapako yah 7 saal ho chuka aapako paraatha ek baar bhee khaane ko nahin mila to phir aapako bahut jyaada yaad aaega aur aapako bilkul achchha nahin lagega aapako moorkh mitr ke oph ho jaega koee bhee kaam karane mein man nahin hoga aur aapaka jo dillee kee phikr phikr karega usee tareeke se aapaka jo phevaret hobee hai se pending ho gaya khelakood ho gaya koee gaana sunana honge yah to koee bhee ho par vah kaam aapako na karane ke lie kaha jae laiph taim ke lie too aapako ham kuchh nahin lagata rahega aur koee bhee kaam mein aapako mil nahin baithe hain isalie uchit hai ki jo bhee aapaka hai usako bhee khoob kabhee kabaar jindagee mein aap aplaee karate raho ho sake to haphte mein ek baar do baar ya phir har roj agar dard ho to aur bhee behatar ka taim nikaal kar kar pao to mujhe kriket khelana bahut pasand hai bahut jyaada kaam rahata hai lekin main koshish karata hoon haphte mein kam se kam 3 din ya 4 din kriket khelane kee vidhi kriket khelane se mera man bahut jyaada matalab ek moorti chauk jaata hai ki nahin aata hai mujhe usako hoga isamen aap logon bas ek hee salaah doonga agar aap bahut jyaada kaam karate ho agar nahin mujhe pata hai tabhee bahut jyaada kaam karate hain to us kaam mein se bhee thoda sa vakt aap nikaal lo aur jo aapaka hobee hai na to thoda injoy kar lo

Daulat Ram sharma Shastri Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Daulat जी का जवाब
Retrieved sr tea . social activist,
2:19
मेरे मित्र आप सभी के बारे में इसलिए लिख पा रही क्योंकि आपके पास पैसा है आप अपने घर पर तो चला सकते हैं बाकी उन बेरोजगारों से पूछिए उन गरीब तबकों के पाठ नंबर के लिवर भर के व्यक्तियों से पूछिए तो उनको कमाने से के जुगाड़ लगाने पड़ते हैं कमाने के लिए तरीके खोजने पढ़ते हैं तो उनका सारा समय तो उसमें लग जाता है हां यह आप पेंटिंग लेकर या कोई खेल खेलना तब साबित होता है इंसान का जब उसके पास एंडिंग किशोर सोते हो जिस देश का 80 परसेंट खत्म बिल भर का हो या वार्ड नंबर का व्यक्ति हो जिसके पास जिस देश में बेरोजगारी इस कदर हो जिस देश में गरीबी इस कदर हो उस देश में आप सभी के बारे में पीछे सोच पाते हैं पहले पेट भरने के बारे में बच्चों के पेट पालन के बारे में अधिक सोच पाते हैं हां मैं आपका गांव का समर्थन करूंगा कि जो लोग अच्छे लोग हैं उन लोगों के लिए पेंटिंग लेखन या कोई खेल खेलने के लिए समय निकालना आवश्यक है यह से एक्सरसाइज भी होती हैं फिर बुद्धि का विकास भी होता है तो मैं इसमें सबसे अधिक लेखन को अधिक पसंद करता हूं इसमें आप अपने विचार दे सकते हैं विचार जान सकते हैं और एक दूसरे के विचारों को जानना ही आवश्यक है और खेल खेलने के लिए भी टाइम निकाल लेना चाहिए बहुत से लोग बेचारे एक्सरसाइज करते हैं जिम जाते हैं या गेम्स खेलते हैं बाकी मैं सोता हूं आम व्यक्ति इनके लिए टाइम नहीं निकाल पाता है क्योंकि उसको पेट पढ़ने के लिए अपने परिवार का पालन पोषण करने के लिए 100 जुगाड़ दुकानों में ढूंढना पड़ता है जो सरकारी कर्मचारियों को तो पी 1 तारीख मिल जाती है लेकिन जो बेचारे निजी बिजनेस करते हैं जॉब करते हैं या कोई मजदूरी करते हैं उन लोगों का सारा समय अपने पेट पढ़ने में अपने परिवार के भरण-पोषण करने में ही लग जाता है उनके पास अभी क्यों पूरी करने के लिए टाइम नहीं निकल पाता है
Mere mitr aap sabhee ke baare mein isalie likh pa rahee kyonki aapake paas paisa hai aap apane ghar par to chala sakate hain baakee un berojagaaron se poochhie un gareeb tabakon ke paath nambar ke livar bhar ke vyaktiyon se poochhie to unako kamaane se ke jugaad lagaane padate hain kamaane ke lie tareeke khojane padhate hain to unaka saara samay to usamen lag jaata hai haan yah aap penting lekar ya koee khel khelana tab saabit hota hai insaan ka jab usake paas ending kishor sote ho jis desh ka 80 parasent khatm bil bhar ka ho ya vaard nambar ka vyakti ho jisake paas jis desh mein berojagaaree is kadar ho jis desh mein gareebee is kadar ho us desh mein aap sabhee ke baare mein peechhe soch paate hain pahale pet bharane ke baare mein bachchon ke pet paalan ke baare mein adhik soch paate hain haan main aapaka gaanv ka samarthan karoonga ki jo log achchhe log hain un logon ke lie penting lekhan ya koee khel khelane ke lie samay nikaalana aavashyak hai yah se eksarasaij bhee hotee hain phir buddhi ka vikaas bhee hota hai to main isamen sabase adhik lekhan ko adhik pasand karata hoon isamen aap apane vichaar de sakate hain vichaar jaan sakate hain aur ek doosare ke vichaaron ko jaanana hee aavashyak hai aur khel khelane ke lie bhee taim nikaal lena chaahie bahut se log bechaare eksarasaij karate hain jim jaate hain ya gems khelate hain baakee main sota hoon aam vyakti inake lie taim nahin nikaal paata hai kyonki usako pet padhane ke lie apane parivaar ka paalan poshan karane ke lie 100 jugaad dukaanon mein dhoondhana padata hai jo sarakaaree karmachaariyon ko to pee 1 taareekh mil jaatee hai lekin jo bechaare nijee bijanes karate hain job karate hain ya koee majadooree karate hain un logon ka saara samay apane pet padhane mein apane parivaar ke bharan-poshan karane mein hee lag jaata hai unake paas abhee kyon pooree karane ke lie taim nahin nikal paata hai

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

    URL copied to clipboard