#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker

राम मंदिर के लिए चंदा क्यों लिया जा रहा है?

Ram Mandir Ke Lie Chanda Kyun Liya Ja Raha Hai
er. ramphal bind Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए er. जी का जवाब
Private job
1:20
दोस्तों आपको परेशान है राम मंदिर के लिए चंदा क्यों लिया जा रहा है दोस्तों मैं आपको बता देना चाहता हूं हमारे हिंदू परंपराओं में आज से नहीं सदियों से परंपरा चली आ रही है जो नया कोई कुछ करते हैं आस्था के नाम से हम मंदिर या मंदिर में कीर्तन भंडारे का आयोजन करते हैं तो हम जगह-जगह से संदेश हटाने का प्रयास करते हैं और हमारे आस्था के विषय राम मंदिर के नाम पर आपसे यह नहीं कहा जा रहा है आप इतना समझा दो या दो ही चलना है कोई आपको दबाव नहीं डाला जा सकती है अब चंदा दे सकते हैं ऐसा कुछ नहीं है आप दो-चार चंदा नहीं देंगे तो क्या नंबर नहीं बनेगा बनेगी हमारी आस्था के विषय हमारी परंपराओं से जुड़ी हमारे हृदय से जुड़ा हुआ बात सदियों से चला रहा है राम मंदिर ही नहीं गांव शहरों किसी भी जगह रहते मंदिर या मंदिर आस्था से कुछ संबंधित की ज्योति हैं तो उसमें चंद्र जुटाए जाते हैं आस्था के विषय आप भी दे सकते हैं इच्छा है तो नहीं चाय तो मत दीजिए इसमें कोई आपको दबाव नहीं मिलने आ रहा है क्या प्रेम मंदिर पर चल रही दीजिए
Doston aapako pareshaan hai raam mandir ke lie chanda kyon liya ja raha hai doston main aapako bata dena chaahata hoon hamaare hindoo paramparaon mein aaj se nahin sadiyon se parampara chalee aa rahee hai jo naya koee kuchh karate hain aastha ke naam se ham mandir ya mandir mein keertan bhandaare ka aayojan karate hain to ham jagah-jagah se sandesh hataane ka prayaas karate hain aur hamaare aastha ke vishay raam mandir ke naam par aapase yah nahin kaha ja raha hai aap itana samajha do ya do hee chalana hai koee aapako dabaav nahin daala ja sakatee hai ab chanda de sakate hain aisa kuchh nahin hai aap do-chaar chanda nahin denge to kya nambar nahin banega banegee hamaaree aastha ke vishay hamaaree paramparaon se judee hamaare hrday se juda hua baat sadiyon se chala raha hai raam mandir hee nahin gaanv shaharon kisee bhee jagah rahate mandir ya mandir aastha se kuchh sambandhit kee jyoti hain to usamen chandr jutae jaate hain aastha ke vishay aap bhee de sakate hain ichchha hai to nahin chaay to mat deejie isamen koee aapako dabaav nahin milane aa raha hai kya prem mandir par chal rahee deejie

और जवाब सुनें

bolkar speaker
राम मंदिर के लिए चंदा क्यों लिया जा रहा है?Ram Mandir Ke Lie Chanda Kyun Liya Ja Raha Hai
Ramvriksh Bolkar App
Top Speaker,Level 33
सुनिए Ramvriksh जी का जवाब
CivilEngineer
4:41
मित्रों नमस्कार बोलकर परिवार के सदस्य देशों को भाई बहनों को नमस्कार प्यार भरा नमस्कार प्रिय मित्रों की राम मंदिर के लिए चंदा क्यों लिया जाए हमारी परंपरा रही है और चंदा मांगने की जो भी कार्य हो यह मतलब यह होता है कि जन सहयोग से हो रहा है कोई भी जितने मंदिर बने हैं हिंदुस्तान में जय भगवान राम का और जय हनुमान जी का हो शनि महाराज का देवी का दुर्गा का हो जो भी मंदिर बने हैं सब सहयोग मांगा जाता है एक सहयोग राशि श्रद्धा की के बल पर मंदिर बनता है एक आदमी चाहे तो बना सकता है बड़े आदमी से टाटा बिरला हो गया हर जगह हर शहर में मंदिर बनवाए हुए हैं यह आस्था के केंद्र होते हैं धर्म के केंद्र होते हैं तो यह मंदिर इसलिए बनाए जाते हैं वहां आस्था जब्ती भगवान के प्रति हमारी क्या स्टार विश्वास है श्रद्धा है वह जाता है या दो से अधिक लोग तो मूर्ति जो है जीवंत हो जाती है मंदिर जीवंत हो जाता है श्रद्धा कपूर चंदा मित्रों बहुत बड़ी चीज है दृष्टांत देना चाहूंगा किशोर दा क्या चीज है जब मीरा को बहुत ज्यादा उसके ससुराल वाले प्रताड़ित करने लगे तो उस समय मायके चले आएंगे अपने मां के पास तो उसने कहा कि मां ने किया रे भाई जैसे राणा सांगा क्या रहा है मतलब पति तुम्हारा जैसे वह लो चाहे वैसा ही करो क्या दिक्कत है उनके हिसाब से चलो तो यह धार्मिक और आध्यात्मिक प्रवृत्ति महिला दोनों ने कहा कि माई रे मैंने गोविंद लीनो मॉल तो मीरा ने कहा कि मां तुम नहीं समझती हो मेरे दोस्तों को मैंने गोविंद को ही खरीद लिया है मोर ले लिया है तो भगवान को कोई खरीद सकता है 10 20 बीघा जमीन अगर आपके पास है या 10 20 करोड़ रुपए हैं तो आप भगवान को खरीद लेंगे नहीं तो कैसे कहां है उन्होंने माई रे मैंने गोविंद लेकिन हो मोर मैंने गोविंद को श्रद्धा के बल पर खरीद लिया है मां से बताया मीरा में इतनी बड़ी रास्ता इतनी बड़ी अटूट श्रद्धा जब भगवान के प्रति रही है और पहले से मित्रों में ही है तो मंदिर के लिए चंदा लेना ना लेना कोई बड़ी बात नहीं है यह आस्था है आपकी मंदिर तो बने नहीं बनेगा मित्रों अगर आप चंदा दोगे तो ठीक है नहीं दोगे तो ठीक तो भी ठीक है कि कोई वसूलने का कोई मतलब नहीं है कि वह सुना जा रही है आपकी इच्छा पर और आपके आशा पर और आपकी श्रद्धा पर और इच्छाशक्ति पर निर्भर करता है तब कैसे चंदा दे रहा है किस भाव से दे रहे हैं यह वही बात है जैसे कि अक्षय कुमार ने अभी यूट्यूब पर कहा था कि भगवान राम ने गिलहरी से पूछा जब समुद्र मंथन चल रहा था समुद्र बांधने का क्रम लंका पर जाने के लिए चल रहा था तो वह हनुमान जी पता लगाया है कि सीता जी लंका में है तो वह बात चल रही थी कि बाद आ जाएगा समुद्र तब नहीं उस पार सेना जाएगी सब तोड़ सकते नहीं है तो गिलहरी भी तो पत्थर रखे जा रहे थे तो गेला हरी भी एक अजीब तमाशा भगवान राम ने देखा कि गिलहरी भी अपनी पीठ पर और अपने बालों में बालू लात के लिए जा रही है तो जा कर के जो गायब था तो पत्थरों के बीच में उसको भर रही थी तो गिलहरी से भगवान ने पूछा कि क्या कर रही हो कुछ समझ में नहीं आ रहा तब उसने बताया कि भगवान मैं भी वही कर रही हो यह लोग कब आए जब इच्छा शक्ति यथाशक्ति मैं योगदान दे रही हूं तो मित्रों कोई जरूरी नहीं है यथाशक्ति आप चंदा दे सकते हैं नहीं मिले सकते आपके ऊपर निर्भर करता है लेकिन यह पूछना बहुत उचित नहीं है एक चंदा क्यों लिया जा रहा है ऐसा कुछ नहीं है जबरदस्ती नहीं दिया जा रहा है धन्यवाद आपको भी उत्तर पसंद आया तो लाइक सब्सक्राइब करिए
Mitron namaskaar bolakar parivaar ke sadasy deshon ko bhaee bahanon ko namaskaar pyaar bhara namaskaar priy mitron kee raam mandir ke lie chanda kyon liya jae hamaaree parampara rahee hai aur chanda maangane kee jo bhee kaary ho yah matalab yah hota hai ki jan sahayog se ho raha hai koee bhee jitane mandir bane hain hindustaan mein jay bhagavaan raam ka aur jay hanumaan jee ka ho shani mahaaraaj ka devee ka durga ka ho jo bhee mandir bane hain sab sahayog maanga jaata hai ek sahayog raashi shraddha kee ke bal par mandir banata hai ek aadamee chaahe to bana sakata hai bade aadamee se taata birala ho gaya har jagah har shahar mein mandir banavae hue hain yah aastha ke kendr hote hain dharm ke kendr hote hain to yah mandir isalie banae jaate hain vahaan aastha jabtee bhagavaan ke prati hamaaree kya staar vishvaas hai shraddha hai vah jaata hai ya do se adhik log to moorti jo hai jeevant ho jaatee hai mandir jeevant ho jaata hai shraddha kapoor chanda mitron bahut badee cheej hai drshtaant dena chaahoonga kishor da kya cheej hai jab meera ko bahut jyaada usake sasuraal vaale prataadit karane lage to us samay maayake chale aaenge apane maan ke paas to usane kaha ki maan ne kiya re bhaee jaise raana saanga kya raha hai matalab pati tumhaara jaise vah lo chaahe vaisa hee karo kya dikkat hai unake hisaab se chalo to yah dhaarmik aur aadhyaatmik pravrtti mahila donon ne kaha ki maee re mainne govind leeno mol to meera ne kaha ki maan tum nahin samajhatee ho mere doston ko mainne govind ko hee khareed liya hai mor le liya hai to bhagavaan ko koee khareed sakata hai 10 20 beegha jameen agar aapake paas hai ya 10 20 karod rupe hain to aap bhagavaan ko khareed lenge nahin to kaise kahaan hai unhonne maee re mainne govind lekin ho mor mainne govind ko shraddha ke bal par khareed liya hai maan se bataaya meera mein itanee badee raasta itanee badee atoot shraddha jab bhagavaan ke prati rahee hai aur pahale se mitron mein hee hai to mandir ke lie chanda lena na lena koee badee baat nahin hai yah aastha hai aapakee mandir to bane nahin banega mitron agar aap chanda doge to theek hai nahin doge to theek to bhee theek hai ki koee vasoolane ka koee matalab nahin hai ki vah suna ja rahee hai aapakee ichchha par aur aapake aasha par aur aapakee shraddha par aur ichchhaashakti par nirbhar karata hai tab kaise chanda de raha hai kis bhaav se de rahe hain yah vahee baat hai jaise ki akshay kumaar ne abhee yootyoob par kaha tha ki bhagavaan raam ne gilaharee se poochha jab samudr manthan chal raha tha samudr baandhane ka kram lanka par jaane ke lie chal raha tha to vah hanumaan jee pata lagaaya hai ki seeta jee lanka mein hai to vah baat chal rahee thee ki baad aa jaega samudr tab nahin us paar sena jaegee sab tod sakate nahin hai to gilaharee bhee to patthar rakhe ja rahe the to gela haree bhee ek ajeeb tamaasha bhagavaan raam ne dekha ki gilaharee bhee apanee peeth par aur apane baalon mein baaloo laat ke lie ja rahee hai to ja kar ke jo gaayab tha to pattharon ke beech mein usako bhar rahee thee to gilaharee se bhagavaan ne poochha ki kya kar rahee ho kuchh samajh mein nahin aa raha tab usane bataaya ki bhagavaan main bhee vahee kar rahee ho yah log kab aae jab ichchha shakti yathaashakti main yogadaan de rahee hoon to mitron koee jarooree nahin hai yathaashakti aap chanda de sakate hain nahin mile sakate aapake oopar nirbhar karata hai lekin yah poochhana bahut uchit nahin hai ek chanda kyon liya ja raha hai aisa kuchh nahin hai jabaradastee nahin diya ja raha hai dhanyavaad aapako bhee uttar pasand aaya to laik sabsakraib karie

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • राम मंदिर के लिए चंदा क्यों लिया जा रहा है राम मंदिर के लिए चंदा
URL copied to clipboard