#रिश्ते और संबंध

bolkar speaker

क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं?

Kya Aap Kabhi Kisi Shikshak Ki Or Akarshit Huye Hai
Kajal jain😇 Bolkar App
Top Speaker,Level 77
सुनिए Kajal जी का जवाब
Student Life 😎
1:01
अंशुल जी के द्वारा प्रश्न अनुरोध है क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं कि जहां तक मुझे याद है मैंने प्लस टू कर लिया मैंने ग्रेजुएशन मेरी मां कंप्लीट हो चुकी है लेकिन मैं कभी किसी टीचर की तरफ आकर्षित नहीं हुई हूं इन द सेंस कि मुझे लगा कि मैं आ गया मेरे कार टवेरा वगैरह ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है अभी तक एक ऑल ऐसा कुछ गलत समय क्लासेस में जरूर थे स्कूल टाइम में जो एक हमारे कमेंट के अंदर थी उसके पति को काफी आकर्षित फील करती थी और चुके बस थोड़ी सी हंसी मजाक किया टाइप की थी हमेशा उनकी फेस पर स्माइल रहती थी इस तरीके से कैसे स्माइलिंग फेस थी तो बच्चे थोड़ा सा उसकी तरफ अट्रेक्ट होते और एवं कुछ लोग उनके बारे में कुछ अलग नजरिया भी रखते थे तो वह सबका अपना-अपना इंटेंट होता है अगर मेरी बात की जाए तो मैं अभी तक किसी टीचर की तरफ आकर्षित नहीं हुई हूं आज सभी टीचर्स की होती है वही होगी 25 दिन से स्टूडेंट रही हूं क्योंकि मैंने हमेशा सभी टीचर्स को रिस्पेक्ट दिए दिल से भी है सो धन्यवाद
Anshul jee ke dvaara prashn anurodh hai kya aap kabhee kisee shikshak kee or aakarshit hue hain ki jahaan tak mujhe yaad hai mainne plas too kar liya mainne grejueshan meree maan kampleet ho chukee hai lekin main kabhee kisee teechar kee taraph aakarshit nahin huee hoon in da sens ki mujhe laga ki main aa gaya mere kaar tavera vagairah aisa kuchh bhee nahin hua hai abhee tak ek ol aisa kuchh galat samay klaases mein jaroor the skool taim mein jo ek hamaare kament ke andar thee usake pati ko kaaphee aakarshit pheel karatee thee aur chuke bas thodee see hansee majaak kiya taip kee thee hamesha unakee phes par smail rahatee thee is tareeke se kaise smailing phes thee to bachche thoda sa usakee taraph atrekt hote aur evan kuchh log unake baare mein kuchh alag najariya bhee rakhate the to vah sabaka apana-apana intent hota hai agar meree baat kee jae to main abhee tak kisee teechar kee taraph aakarshit nahin huee hoon aaj sabhee teechars kee hotee hai vahee hogee 25 din se stoodent rahee hoon kyonki mainne hamesha sabhee teechars ko rispekt die dil se bhee hai so dhanyavaad

और जवाब सुनें

bolkar speaker
क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं?Kya Aap Kabhi Kisi Shikshak Ki Or Akarshit Huye Hai
Kishan Yadav Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Kishan जी का जवाब
Unknown
0:10

bolkar speaker
क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं?Kya Aap Kabhi Kisi Shikshak Ki Or Akarshit Huye Hai
Mohitrajput Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Mohitrajput जी का जवाब
Unknown
0:41
तो आप मुझे लगता है आप मैडम हो और तुम पूछना चाहती हो कि तुम किसी लड़की से कम नहीं हूं और मैं स्टूडेंट हूं क्या होता है कि स्कूलों में जवान टीचर को दे दिया जाता लड़कियों को दे दिया जाता है ऐसी बात नहीं है कि उसमें नहीं होना चाहिए पर भी ज्यादा जवान लड़कियों को रखना जिनकी उम्र बहुत ज्यादा कम होती है वो टीचर बन जाती है सब के साथ होता है
To aap mujhe lagata hai aap maidam ho aur tum poochhana chaahatee ho ki tum kisee ladakee se kam nahin hoon aur main stoodent hoon kya hota hai ki skoolon mein javaan teechar ko de diya jaata ladakiyon ko de diya jaata hai aisee baat nahin hai ki usamen nahin hona chaahie par bhee jyaada javaan ladakiyon ko rakhana jinakee umr bahut jyaada kam hotee hai vo teechar ban jaatee hai sab ke saath hota hai

bolkar speaker
क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं?Kya Aap Kabhi Kisi Shikshak Ki Or Akarshit Huye Hai
Manju Bolkar App
Top Speaker,Level 88
सुनिए Manju जी का जवाब
Unknown
2:01
श्रुति राजपूत जी आपका बहुत-बहुत धन्यवाद आपने मुझसे इस प्रश्न का अनुरोध किया है सच में तो काफी इंटरेस्टिंग लग रहा है आप यह जानना चाहते हैं कि क्या मैं अपनी जिंदगी में कभी यह किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुई है या नहीं बल्कि कुछ निजी बातें आप पूछ रहे हैं वैसे एक बात कैसे हाथ आता है हर किसी की जिंदगी में जब खुद किसी तरह का एक आकर्षण बिल्कुल महसूस होता है तो हां मुझे भी हुआ है पिक्चर के तरफ के जख्म शिक्षक की बात करते हैं तो हम जब स्टूडेंट लाइफ में जब हम पढ़ते हैं तो हमें वह लोग बहुत ज्यादा प्रभावित कर लेते हैं तो और ज्यादा जानकारी होती है और चीजों को बड़ी आसानी से वह कॉल कर लेते हैं तो बहुत एक तरह का टेंशन हो ही जाता है और अगर फिजिकली भी देखने की मेहंदी बहुत अच्छे दिखते हैं तो बिल्कुल होता है तो एक बार में एक दो बार हो चुका है स्कूल लाइफ में कंप्यूटर पर नेट पर आएंगे तो शायद में ही नहीं मेरे ख्याल से मेरे साथ में जो पढ़ते थे कुछ लड़कियां वह भी बहुत ज्यादा आकर्षित होकर मैं बात ही कुछ ऐसी थी उस दिखते भी एकदम फिल्म स्टार के जैसे थे चोरी का क्वेश्चन बिल्कुल महसूस होता है लेकिन यह बात आगे बढ़ाने की कोशिश नहीं की नहीं मैंने किसी से शेयर किया है आपने पूछा तो मैं कह रही हूं तो हा कुछ न कुछ बात की जो एक गेट इमेज कि जो एक होती है बिल्कुल आकर्षण महसूस होता है और खास करके उन व्यक्तियों से जो बहुत ज्यादा जानकारी रखते हैं और चीजों को बड़ी आसानी से सवाल पर देते तो एक तरह का आकर्षण का कोई महत्व होता है और यह कुछ समय के बाद गायब भी हो जाता है आशा करती हूं आप कोई मेरा जवाब पसंद आया होगा
Shruti raajapoot jee aapaka bahut-bahut dhanyavaad aapane mujhase is prashn ka anurodh kiya hai sach mein to kaaphee intaresting lag raha hai aap yah jaanana chaahate hain ki kya main apanee jindagee mein kabhee yah kisee shikshak kee or aakarshit huee hai ya nahin balki kuchh nijee baaten aap poochh rahe hain vaise ek baat kaise haath aata hai har kisee kee jindagee mein jab khud kisee tarah ka ek aakarshan bilkul mahasoos hota hai to haan mujhe bhee hua hai pikchar ke taraph ke jakhm shikshak kee baat karate hain to ham jab stoodent laiph mein jab ham padhate hain to hamen vah log bahut jyaada prabhaavit kar lete hain to aur jyaada jaanakaaree hotee hai aur cheejon ko badee aasaanee se vah kol kar lete hain to bahut ek tarah ka tenshan ho hee jaata hai aur agar phijikalee bhee dekhane kee mehandee bahut achchhe dikhate hain to bilkul hota hai to ek baar mein ek do baar ho chuka hai skool laiph mein kampyootar par net par aaenge to shaayad mein hee nahin mere khyaal se mere saath mein jo padhate the kuchh ladakiyaan vah bhee bahut jyaada aakarshit hokar main baat hee kuchh aisee thee us dikhate bhee ekadam philm staar ke jaise the choree ka kveshchan bilkul mahasoos hota hai lekin yah baat aage badhaane kee koshish nahin kee nahin mainne kisee se sheyar kiya hai aapane poochha to main kah rahee hoon to ha kuchh na kuchh baat kee jo ek get imej ki jo ek hotee hai bilkul aakarshan mahasoos hota hai aur khaas karake un vyaktiyon se jo bahut jyaada jaanakaaree rakhate hain aur cheejon ko badee aasaanee se savaal par dete to ek tarah ka aakarshan ka koee mahatv hota hai aur yah kuchh samay ke baad gaayab bhee ho jaata hai aasha karatee hoon aap koee mera javaab pasand aaya hoga

bolkar speaker
क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं?Kya Aap Kabhi Kisi Shikshak Ki Or Akarshit Huye Hai
neelam mishra Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए neelam जी का जवाब
Job
2:44
दोस्तों कैसे हो आप सब लोग दोस्तों एक सवाल है कि क्या आप अपने शिक्षक के योग उसका भी आकर्षित हुए हैं तो मेरे फ्रेंड मैं आपसे कुछ शेयर करना चाहती जो आज तक मैंने किसी से नहीं बताया मैं इस सवाल देखकर मेरा मन हो रहा है मुझसे शेयर करने का तो मैं कर रही हूं मेरे बारे में कंप्लीट होने के बाद जब मैं नर्सिंग कोर्स करने आई सी नर्सिंग करने आई तो उसमें फर्स्ट इयर कंप्लीट हो गया मेरा इस अच्छे से अवश्य के नियंत्रण में हम गए ना तो एक ब्यूटी सराय हमारे मतलब प्रोफ़ेसर आए हमारे लॉटरी के टीचर थे वो सेकंड ईयर में हूं आए तो उन्होंने जबकि वह हमारे में उनका कोई लक्षण नहीं था गर्ल फर्स्ट ईयर में हो जाते थे इतने हैंडसम थे कि उनको फोन पर क्रश या मेरा और मुझे बहुत पसंद होते थे बहुत मतलब मैं आकर्षित होती थी तो जैसे मैं मेरी क्लास का जो जमशेदपुर में बैठती थी सामने की क्लास से फूल से पधारे होता है तो वह मुझे दिखा करते थे तो मैं वहां से बैठकर उनको देखा करती थी तो कई बार जो हमारी क्लास के में जो लेक्चर हो रहा होता था तो जो हमारे ग्रुप में सब अतिथि टीचर वह में टूटते थे कि नीलम आप किधर देख रहे हो उधर क्या है उधर देख रहे हो आप सुन नहीं रहे कई बार मुझसे सवाल किया जाता था क्या बताया मैंने बताओ तो मैं कंफ्यूज हो जाती थी पर तुमने पता नहीं क्यों रोक नहीं पाती नहीं कि वह सामने से अगर आ रहे होते थे तो मैं बिल्कुल उनको देखा ही करती थी बट मुझे बहुत अजीब सा लगता था बाद में आप सोचती हूं तो अजीब सा फील होती है कि यह क्या था पता नहीं बट होती एक दो महीने ही हमारे कॉलेज में रहे फिर उनका कैसी जगह उनको मिल गई तो वह चले गए लेकिन तीन महीनों में उन्होंने इस कदर मतलब मैं परेशान हो गई थी मैं खुद सोती थी तो मुझे अजीब लगता था कि मैं ऐसा क्यों अपने आप होता था कि वह जब सामने आते थे तो मैं उनको देखते ही रहती थी और मुझे कभी-कभी मैंने उनसे बोला कि मेरी हिम्मत नहीं हुई कि मैं कभी उनसे कुछ पूछूं या बात करूं कुछ भी नहीं बस मैं उनको तरफ आकर्षित हो जाते हो गई थी और मुझे वह बहुत ही अच्छे लगते थे उनका बोलना मतलब बोलने का जो तरीका था इतने प्यार से अच्छे से बात करते थे वह बात करने का जो उनका ढंग था वह मुझे बहुत अच्छा लगता था इसलिए मैं उनको देखा करती थी तो जी हां आपका जवाब के सवाल के जवाब में मेरा जवाब चाहिए किसी हां मैं भी 2 महीने के लिए अपने एक टीचर की तरफ आकर्षित हुई हूं धन्यवाद दोस्त ऐसे ही हंसते रहिए मंगला तेरे
Doston kaise ho aap sab log doston ek savaal hai ki kya aap apane shikshak ke yog usaka bhee aakarshit hue hain to mere phrend main aapase kuchh sheyar karana chaahatee jo aaj tak mainne kisee se nahin bataaya main is savaal dekhakar mera man ho raha hai mujhase sheyar karane ka to main kar rahee hoon mere baare mein kampleet hone ke baad jab main narsing kors karane aaee see narsing karane aaee to usamen pharst iyar kampleet ho gaya mera is achchhe se avashy ke niyantran mein ham gae na to ek byootee saraay hamaare matalab profesar aae hamaare lotaree ke teechar the vo sekand eeyar mein hoon aae to unhonne jabaki vah hamaare mein unaka koee lakshan nahin tha garl pharst eeyar mein ho jaate the itane haindasam the ki unako phon par krash ya mera aur mujhe bahut pasand hote the bahut matalab main aakarshit hotee thee to jaise main meree klaas ka jo jamashedapur mein baithatee thee saamane kee klaas se phool se padhaare hota hai to vah mujhe dikha karate the to main vahaan se baithakar unako dekha karatee thee to kaee baar jo hamaaree klaas ke mein jo lekchar ho raha hota tha to jo hamaare grup mein sab atithi teechar vah mein tootate the ki neelam aap kidhar dekh rahe ho udhar kya hai udhar dekh rahe ho aap sun nahin rahe kaee baar mujhase savaal kiya jaata tha kya bataaya mainne batao to main kamphyooj ho jaatee thee par tumane pata nahin kyon rok nahin paatee nahin ki vah saamane se agar aa rahe hote the to main bilkul unako dekha hee karatee thee bat mujhe bahut ajeeb sa lagata tha baad mein aap sochatee hoon to ajeeb sa pheel hotee hai ki yah kya tha pata nahin bat hotee ek do maheene hee hamaare kolej mein rahe phir unaka kaisee jagah unako mil gaee to vah chale gae lekin teen maheenon mein unhonne is kadar matalab main pareshaan ho gaee thee main khud sotee thee to mujhe ajeeb lagata tha ki main aisa kyon apane aap hota tha ki vah jab saamane aate the to main unako dekhate hee rahatee thee aur mujhe kabhee-kabhee mainne unase bola ki meree himmat nahin huee ki main kabhee unase kuchh poochhoon ya baat karoon kuchh bhee nahin bas main unako taraph aakarshit ho jaate ho gaee thee aur mujhe vah bahut hee achchhe lagate the unaka bolana matalab bolane ka jo tareeka tha itane pyaar se achchhe se baat karate the vah baat karane ka jo unaka dhang tha vah mujhe bahut achchha lagata tha isalie main unako dekha karatee thee to jee haan aapaka javaab ke savaal ke javaab mein mera javaab chaahie kisee haan main bhee 2 maheene ke lie apane ek teechar kee taraph aakarshit huee hoon dhanyavaad dost aise hee hansate rahie mangala tere

bolkar speaker
क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं?Kya Aap Kabhi Kisi Shikshak Ki Or Akarshit Huye Hai
Pooja Joshi Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Pooja जी का जवाब
Fashion merchandiser
0:38
सॉरी फॉर लेट चल रहा है आपकी लाइफ में आता है स्पेसिफिक गर्ल्स कॉलेज बॉयज टीचर्स कॉलेज गर्ल्स कॉलेज में हुआ है
Soree phor let chal raha hai aapakee laiph mein aata hai spesiphik garls kolej boyaj teechars kolej garls kolej mein hua hai

bolkar speaker
क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं?Kya Aap Kabhi Kisi Shikshak Ki Or Akarshit Huye Hai
Pradumn kumar Vajpayee Bolkar App
Top Speaker,Level 44
सुनिए Pradumn जी का जवाब
Bijneas9369174848
1:20
उसने क्या आप कभी अपने किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं हां दोस्तों 1988 में हमने पढ़ाई छोड़ दी यानी इंटर पास करने के बाद कुछ घरेलू स्थिति ठीक न होने की वजह से हमारा पढ़ाई का काम रुक गया और हमने पढ़ाई की ओर से ध्यान हटाकर घरेलू स्थिति को सुदृढ़ बनाने के लिए भाई के साथ में हाथ बताने लगे उनका अपना छोटा बिजनेस था उसी में हम भी लग गए लेकिन जब हम सरस्वती विद्या मंदिर में पढ़ते थे तो वहां पर एक पांडेय चार वेद विज्ञान पढ़ाते थे इतने सीधे थे कि वो आज भी हमारे जहन में बसे हुए जब तक हम पड़े वहां तब तक उन्होंने किसी बच्चे को मारा नहीं उठाते जरूरत है मारने के लिए लेकिन वार्निंग देकर छोड़ देते थे और हमेशा मुस्कुराते थे इसलिए हम ही नहीं सभी बच्चों को उनसे काफी लगाव था इसी कारण देवा जो भी पढ़ाते थे वह हमारी समझ में भी बहुत अच्छी तरीके से आता था प्रयोगशाला में नित नए प्रयोग हमको सिखाते थे और वह हमको भली प्रकार से अच्छे लगते थे और समझ में आते थे आज प्रश्न आया तो मन में रहा नहीं पांडे जी का धन्यवाद
Usane kya aap kabhee apane kisee shikshak kee or aakarshit hue hain haan doston 1988 mein hamane padhaee chhod dee yaanee intar paas karane ke baad kuchh ghareloo sthiti theek na hone kee vajah se hamaara padhaee ka kaam ruk gaya aur hamane padhaee kee or se dhyaan hataakar ghareloo sthiti ko sudrdh banaane ke lie bhaee ke saath mein haath bataane lage unaka apana chhota bijanes tha usee mein ham bhee lag gae lekin jab ham sarasvatee vidya mandir mein padhate the to vahaan par ek paandey chaar ved vigyaan padhaate the itane seedhe the ki vo aaj bhee hamaare jahan mein base hue jab tak ham pade vahaan tab tak unhonne kisee bachche ko maara nahin uthaate jaroorat hai maarane ke lie lekin vaarning dekar chhod dete the aur hamesha muskuraate the isalie ham hee nahin sabhee bachchon ko unase kaaphee lagaav tha isee kaaran deva jo bhee padhaate the vah hamaaree samajh mein bhee bahut achchhee tareeke se aata tha prayogashaala mein nit nae prayog hamako sikhaate the aur vah hamako bhalee prakaar se achchhe lagate the aur samajh mein aate the aaj prashn aaya to man mein raha nahin paande jee ka dhanyavaad

bolkar speaker
क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं?Kya Aap Kabhi Kisi Shikshak Ki Or Akarshit Huye Hai
Aditya Dangayach  Bolkar App
Top Speaker,Level 22
सुनिए Aditya जी का जवाब
Student
1:56
जाना चाहते हैं कि क्या कभी आपने किसी से सकती है कि ऐसा होता है कि इससे हमारा क्या होता है हमारे स्कूल में कोई टीचर होते हैं कई बार बार हमारे कोई पड़ोसी भी हो सकता है हो सकता है आदर्श हुआ था बचपन में जब मैं क्लास में था तो हमारी सामाजिक विज्ञान की खूबसूरत हुआ करते थे इसलिए ज्यादा आकर्षित हुआ करता था अब ऐसी बात कीजिए कि मैं थोड़ा कमजोर छात्रों से होशियार बच्चे मां शारदे मेरी मैडम से काफी बना भी करती थी और इसलिए मेरा आकर्षण से काफी काफी अच्छी मेहंदी मुझसे काफी अच्छे से बात किया करती थी जैसे की हम इस तरीके से कौन सा क्लास में से बात नहीं कर सकती थी लेकिन आज के बाद कभी अगर हिसाब बराबर टीचर के पास जाता था उसके हमारे से काफी अच्छी बात है उसके बाद फिर वो टीचर हमारी को छोड़कर चली गई थी वह किसी दूसरे स्कूल में पढ़ाने लगा कि हमारे बीच अब आप चली गई है उसमें दुखी तो था लेकिन उस टाइम किसी और से आ कर सकता है उसके बाद थोड़ा समझ में आया था तब तो आपको नहीं देखे होगा इसी नंबर से व्हाट्सएप चलाने के लिए सब्सक्राइब करें धन्यवाद
Jaana chaahate hain ki kya kabhee aapane kisee se sakatee hai ki aisa hota hai ki isase hamaara kya hota hai hamaare skool mein koee teechar hote hain kaee baar baar hamaare koee padosee bhee ho sakata hai ho sakata hai aadarsh hua tha bachapan mein jab main klaas mein tha to hamaaree saamaajik vigyaan kee khoobasoorat hua karate the isalie jyaada aakarshit hua karata tha ab aisee baat keejie ki main thoda kamajor chhaatron se hoshiyaar bachche maan shaarade meree maidam se kaaphee bana bhee karatee thee aur isalie mera aakarshan se kaaphee kaaphee achchhee mehandee mujhase kaaphee achchhe se baat kiya karatee thee jaise kee ham is tareeke se kaun sa klaas mein se baat nahin kar sakatee thee lekin aaj ke baad kabhee agar hisaab baraabar teechar ke paas jaata tha usake hamaare se kaaphee achchhee baat hai usake baad phir vo teechar hamaaree ko chhodakar chalee gaee thee vah kisee doosare skool mein padhaane laga ki hamaare beech ab aap chalee gaee hai usamen dukhee to tha lekin us taim kisee aur se aa kar sakata hai usake baad thoda samajh mein aaya tha tab to aapako nahin dekhe hoga isee nambar se vhaatsep chalaane ke lie sabsakraib karen dhanyavaad

bolkar speaker
क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं?Kya Aap Kabhi Kisi Shikshak Ki Or Akarshit Huye Hai
Dt. Mayuari official Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Dt. जी का जवाब
Medical field
2:58
यह का क्वेश्चन पूछा गया है कि क्या आप कभी अपनी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं तो देखिए आकर्षित होना पहली चीज तो एक स्वभाव है इसमें कोई गलत बात नहीं है अगर आप किसी व्यक्ति की ओर आकर्षित हो रहे हैं तो उसमें कोई दिक्कत नहीं है अगर आप ओ पॉजिटिव विचारों के साथ उस व्यक्ति की तरफ आकर्षित हो रहे हैं कि की आकर्षक कई चीजों से हो सकता है किसी का व्यवहार आपको पसंद आ रहा है यह किसी की बातें आपको पसंद आ रही है किसी के साथ आपको टाइम बताना अच्छा लग रहा है किसी के साथ जो है किसी की बातें सुनना अच्छा लग रहा है तो बहुत सी चीजें हो सकती है जिस वजह से आप किसी दूसरे व्यक्ति के प्रति आकर्षित हो रहे हो तो इसमें कोई गलत गलत बात नहीं है बट जहां तक बात आती है कि शिक्षक के लिए तो एक शिक्षक के प्रति हमें सम्मान रहता है हमारे दिल में क्योंकि शिक्षक का जो ऑर्डर होता है टीचर का जो आधा होता है वह बहुत ही बड़ा होता होता है अगर मां-बाप के बाद हमारी जिंदगी में कोई आता है तो वह शिक्षक होते हैं तो शिक्षा के लिए मेरे ख्याल से जो सम्मान होता है वह होना चाहिए बात पर्सनली पूछी गई है कि क्या आप कभी अपने शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं तो देखिए लाइफ में हर किसी के साथ ऐसा होता है जब किसी ना किसी को शिक्षक अब कुछ ना कुछ अच्छा लगता है क्योंकि हम जैसा कि मैंने बोला कि माता-पिता के बाद हम उनसे मिलते हैं तो हम उनमें कहीं ना कहीं दुनिया के हर लोगों को देख देखते हैं सीखते हैं तो कुछ ना कुछ हमें कुछ बातें अच्छी भी लगती है कुछ बातें हमें आकर्षित भी करती हैं उनकी और सब के साथ होता है यह बहुत ही नेचुरल चीज है तो इसमें कोई गलत बात नहीं है अगर आप तो अक्टूबर में अपने शिक्षक के प्रति किसी बात को लेकर आकर्षित हो रहे हो चाय बोलकर नेचर हो व्यवहार हूं आपसे अच्छे से बोल रहे हो तो यह सब के साथ होता है और इसमें कोई गलत बात नहीं है यह एक नेचुरल चीज है क्योंकि इंसान है तो जाहिर सी बात है आपको किसी की कोई बात अच्छी नहीं लगेगी किसी को कोई मजबूरी भी लगेगी किसी की बात पर आप उसको जवाब भी दोगे किसी की बात पर आप उसको धन्यवाद भी दोगे तो यह बहुत ही ह्यूमन ह्यूमन नेचर होता है आप वह समझ सकते हैं कि उसी का 11 पाठ है तो यह कोई इसमें कोई ऐसी बात नहीं है गलत बात नहीं है और मेरे साथ आकर मैं अपनी पर्सनल बात करूं चॉइस कि तुम मेरे साथ ऐसा एक बार तब हुआ था जब मैं हम लोग के इंटर्नशिप चल रही थी को हॉस्पिटल्स में और वहां पर एक अंग्रेज आए थे जिनका लुक मुझे काफी अट्रैक्टिव लग रहा था काफी अच्छा लग रहा था तो वहां कुछ टाइम के लिए मैं उनकी बातें और मेरी फ्रेंड जो है वह उनकी बातें सुन रही थी क्योंकि हमें काफी उनका लुक अच्छा लग रहा था उनकी बातें अच्छी लग रही थी क्योंकि अंग्रेज की जो फैंसी होती वह भी काफी डिफरेंट होती है इंडिया
Yah ka kveshchan poochha gaya hai ki kya aap kabhee apanee kisee shikshak kee or aakarshit hue hain to dekhie aakarshit hona pahalee cheej to ek svabhaav hai isamen koee galat baat nahin hai agar aap kisee vyakti kee or aakarshit ho rahe hain to usamen koee dikkat nahin hai agar aap o pojitiv vichaaron ke saath us vyakti kee taraph aakarshit ho rahe hain ki kee aakarshak kaee cheejon se ho sakata hai kisee ka vyavahaar aapako pasand aa raha hai yah kisee kee baaten aapako pasand aa rahee hai kisee ke saath aapako taim bataana achchha lag raha hai kisee ke saath jo hai kisee kee baaten sunana achchha lag raha hai to bahut see cheejen ho sakatee hai jis vajah se aap kisee doosare vyakti ke prati aakarshit ho rahe ho to isamen koee galat galat baat nahin hai bat jahaan tak baat aatee hai ki shikshak ke lie to ek shikshak ke prati hamen sammaan rahata hai hamaare dil mein kyonki shikshak ka jo ordar hota hai teechar ka jo aadha hota hai vah bahut hee bada hota hota hai agar maan-baap ke baad hamaaree jindagee mein koee aata hai to vah shikshak hote hain to shiksha ke lie mere khyaal se jo sammaan hota hai vah hona chaahie baat parsanalee poochhee gaee hai ki kya aap kabhee apane shikshak kee or aakarshit hue hain to dekhie laiph mein har kisee ke saath aisa hota hai jab kisee na kisee ko shikshak ab kuchh na kuchh achchha lagata hai kyonki ham jaisa ki mainne bola ki maata-pita ke baad ham unase milate hain to ham unamen kaheen na kaheen duniya ke har logon ko dekh dekhate hain seekhate hain to kuchh na kuchh hamen kuchh baaten achchhee bhee lagatee hai kuchh baaten hamen aakarshit bhee karatee hain unakee aur sab ke saath hota hai yah bahut hee nechural cheej hai to isamen koee galat baat nahin hai agar aap to aktoobar mein apane shikshak ke prati kisee baat ko lekar aakarshit ho rahe ho chaay bolakar nechar ho vyavahaar hoon aapase achchhe se bol rahe ho to yah sab ke saath hota hai aur isamen koee galat baat nahin hai yah ek nechural cheej hai kyonki insaan hai to jaahir see baat hai aapako kisee kee koee baat achchhee nahin lagegee kisee ko koee majabooree bhee lagegee kisee kee baat par aap usako javaab bhee doge kisee kee baat par aap usako dhanyavaad bhee doge to yah bahut hee hyooman hyooman nechar hota hai aap vah samajh sakate hain ki usee ka 11 paath hai to yah koee isamen koee aisee baat nahin hai galat baat nahin hai aur mere saath aakar main apanee parsanal baat karoon chois ki tum mere saath aisa ek baar tab hua tha jab main ham log ke intarnaship chal rahee thee ko hospitals mein aur vahaan par ek angrej aae the jinaka luk mujhe kaaphee atraiktiv lag raha tha kaaphee achchha lag raha tha to vahaan kuchh taim ke lie main unakee baaten aur meree phrend jo hai vah unakee baaten sun rahee thee kyonki hamen kaaphee unaka luk achchha lag raha tha unakee baaten achchhee lag rahee thee kyonki angrej kee jo phainsee hotee vah bhee kaaphee dipharent hotee hai indiya

bolkar speaker
क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं?Kya Aap Kabhi Kisi Shikshak Ki Or Akarshit Huye Hai
Hitesh jain Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए Hitesh जी का जवाब
Blogger- Content Writer
2:58
एक जैसा नहीं होता है कि किसी शिक्षक की बोतल की कुछ लड़कियां जो होती है वह अपने स्तर से चार्ज होती लड़के होते हैं उनकी तरफ आकर्षित हो जाती है कुछ लड़की जो होते हैं वह अपनी बहन की तरफ आकर्षित हो जाती है अच्छी लगती है उनका एटीट्यूड अच्छा लगने लगता है से प्यार हो जाता है या फिर उनको यह कह सकता है कि जो समझाने की उनकी तकलीफ होती है दिखाइए 8 तारीख को जो शिक्षा के इंफेक्शन होता है ऐसा नहीं है कि आप कैसे सीख सकते हैं आजकल लोग तो किसी से भी आकर्षित हो जाते पता नहीं क्या-क्या चल रहा है दुनिया में अंडरस्टैंड क्या आपको भी जल्दी क्या आपको भी हिंदी दिवस की ओर आकर्षित हो तो हां यह बात सही है मैं भी हुआ लेकिन एक दूसरे के मानचित्र में लोन एप्लीकेशन में जो हो रे जो जिंदगी लोगों ने यूट्यूब पर चलाइए वीडियो बनाते हैं कुछ भी रिलेशनशिप कार्य सिद्ध होता है कि एक तो अवश्य वाला वीडियो गेम की बातें अच्छी लगती है ऐसी कौन सी चीज है विकसित हो जाए पुरानी हो जाए कोई मुख्यमंत्री के जन्म के साथ उनके संबंध बनाने के लिए उत्तम कुमार यह नेचुरल है हमारे अंदर के हम किसी भी चीज या किसी भी प्रोडक्ट को भी प्राणी मिल जाती है दुनिया में जो भी सारी चीजें हैं जो भी नाम से हमें छोड़कर पसंद होते हैं जब कोई दो चीज लेने जाओ बहुत अच्छा दिखाई देगा चाहे कितना ही क्यों ना हो या कल शाम कि एक सिद्धांत आकर्षण का सिद्धांत जिससे हम वह चीज पा सकते हैं उनकी जगह पर बैठक करते हुए चीजें करते हैं थैंक यू वेरी मच
Ek jaisa nahin hota hai ki kisee shikshak kee botal kee kuchh ladakiyaan jo hotee hai vah apane star se chaarj hotee ladake hote hain unakee taraph aakarshit ho jaatee hai kuchh ladakee jo hote hain vah apanee bahan kee taraph aakarshit ho jaatee hai achchhee lagatee hai unaka eteetyood achchha lagane lagata hai se pyaar ho jaata hai ya phir unako yah kah sakata hai ki jo samajhaane kee unakee takaleeph hotee hai dikhaie 8 taareekh ko jo shiksha ke imphekshan hota hai aisa nahin hai ki aap kaise seekh sakate hain aajakal log to kisee se bhee aakarshit ho jaate pata nahin kya-kya chal raha hai duniya mein andarastaind kya aapako bhee jaldee kya aapako bhee hindee divas kee or aakarshit ho to haan yah baat sahee hai main bhee hua lekin ek doosare ke maanachitr mein lon epleekeshan mein jo ho re jo jindagee logon ne yootyoob par chalaie veediyo banaate hain kuchh bhee rileshanaship kaary siddh hota hai ki ek to avashy vaala veediyo gem kee baaten achchhee lagatee hai aisee kaun see cheej hai vikasit ho jae puraanee ho jae koee mukhyamantree ke janm ke saath unake sambandh banaane ke lie uttam kumaar yah nechural hai hamaare andar ke ham kisee bhee cheej ya kisee bhee prodakt ko bhee praanee mil jaatee hai duniya mein jo bhee saaree cheejen hain jo bhee naam se hamen chhodakar pasand hote hain jab koee do cheej lene jao bahut achchha dikhaee dega chaahe kitana hee kyon na ho ya kal shaam ki ek siddhaant aakarshan ka siddhaant jisase ham vah cheej pa sakate hain unakee jagah par baithak karate hue cheejen karate hain thaink yoo veree mach

bolkar speaker
क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं?Kya Aap Kabhi Kisi Shikshak Ki Or Akarshit Huye Hai
mahendra meena Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए mahendra जी का जवाब
Unknown
1:37
समस्त का रिमाइंडर और आज आपने सवाल किया है क्या आप कभी किसी शिक्षक की ओर आकर्षित हुए हैं तो गुरु होता है यदि हमें अच्छा पढ़ाता है अभी हमारे हित के लिए पेड़ था वे कोई दिक्कत नहीं है हनी हनी को पढ़ा रहा है मैं स्कूल समझ में आ रही है हम गुस्सा तो ऐसे जो शिक्षक उनसे में लगा हो जाता है और हम उनकी ओर आकर्षित होते हैं यदि हमें शिक्षा प्राप्त करनी है तो समर्पण बहुत जरूरी है तब तक हमारा समर्पण गुरु के प्रति नहीं होगा तब तक हम ज्ञान प्राप्त नहीं कर सकते यदि हमारा समर्पण गुरु के प्रति है तो हमें जितना ज्ञान दो देंगे वह हम सौ पर्सेंट घर करें और हम अनुशासन में भी रहेंगे तो हम भी हमारी कई जो गुरुजी हैं वह मुझसे पढ़ाते हैं और खान मम्मी कहीं से अच्छी सीख देते हैं और हमें वह खुशी का अनुभव दिखाते हैं हमारे तुम्हारे बारे में गलत सोच हमारे भविष्य के लिए ऐसे व्यक्ति ऐसे शिक्षक के प्रति हम भी कई बार आकर्षित हुए

अन्य लोकप्रिय सवाल जवाब

  • क्या आप अभी बच्ची थी.. क्या आप कभी टीचर बने है
URL copied to clipboard