#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
पृथ्वी को अनोखा ग्रह क्यों कहा जाता है?Prithvi Ko Anokha Grah Kyun Kaha Jata Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
1:58
पृथ्वी को अनोखा ग्रह क्यों कहा जाता है पृथ्वी को अनोखा ग्रह कैंट कहने की काफी सारे परिणाम है काफी सारे आए हम हैं मान लीजिए कि हम चांद की बात करें तो चांद पर वायुमंडल नहीं है अगर है भी तो वह जो वहां की वायु है उसमें और दूसरी कैसे हैं यह जो मात्रा है ऑक्सीजन कार्बन डाइऑक्साइड नाइट्रोजन वगैरह की तिथि पर हमारी पृथ्वी पर उतनी कहीं पर उस मात्रा में नहीं है और जो जीव है जीवन जो है वह केवल पृथ्वी पर या और कहीं पर हम लोगों को जीवन देखने को नहीं मिलता है पानी की बहुत बड़ी मात्र पृथ्वी पर है और किसी ग्रह पर हमको यह चीज नहीं देखने को मिलती है कहीं-कहीं पर थोड़ा बहुत पानी मिलता है जैसे अभी मार्च पर यानी मंगल पर हमको थोड़ा बहुत पानी देखने को मिला था थोड़ा बहुत तो भले आगे चलकर कभी वहां जीवन संभव संभावित हो लेकिन अभी फिलहाल नहीं है ऐसा पेड़ पौधे वनस्पति याद ही पृथ्वी पर है और कहीं पर नहीं और किसी भी ग्रह पर ऐसी सुविधाएं नहीं है मेंटेनेंस है यहां पर टेंपरेचर का ठीक है वह बहुत ज्यादा बैलेंस है टेंपरेचर यहां पर शाम को ठंडा रहता है दिन में घर में रहता है नॉर्मल कोई आर्मी सरवाइव कर सकता है तो ऐसी जगह है जहां पर होंगी और ऐसी चीज है उसे अनोखा ही कहेंगे क्योंकि दूसरी जगह पर वह चीजें नहीं है दूसरे ग्रहों पर वह चीज नहीं है तो इस नजरिए से हम पृथ्वी को अनोखा ग्रह कह सकते हैं आप बाकी और भी स्टडी चल रही हैं तो वह सारी चीजें तो है ही है

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
प्राकृतिक आपदाओं से आप क्या समझते हैं वर्णन कीजिए?Prakritik Apdao Se Aap Kya Samajhte Hain Varnan Kijiye
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
2:58
प्राकृतिक आपदाओं से आप क्या समझते हैं वर्णन कीजिए आप पहली चीज मैं आपको बता दूं कि यह एक सवाल जो है यह भूगोल से है और यूपीएससी में टॉपिक चलता है जिसका नाम है डिजास्टर मैनेजमेंट आपदा प्रबंधन तो यह सवाल आपदा प्रबंधन से भी है अगर जांच यूपीएससी की तैयारी कर रहे हैं हमें यह समझ जाओगी प्राकृतिक शब्द जो होता है इसका मतलब क्या होता है प्राकृतिक प्रकृति शब्द से बना है ऐसी चीजें जो प्रकृति द्वारा जनित होती हैं प्रकृति द्वारा बनाई गई होती हैं ऐसी चीजें प्राकृतिक कहलाती हैं इसी का विलोम शब्द जो होता है मानवीय कारण होता है मानवी खत्म मतलब मानव के द्वारा बनाई गई चीजें मानवीकरण विकृत होती हैं अब आपदाओं से क्या अर्थ होता है आपदाएं वह होती हैं जिससे कई सारे लोग मदद जिनके आगे जी जिनके होने से बहुत सारे एक अच्छी मात्रा में लोग बड़ी मात्रा में लोग परेशान होते हैं और उनके जितने भी संसाधन होते हैं वह नष्ट हो जाते हैं व्यक्तियों की मौत हो जाती है स्वास्थ्य सुविधाएं गड़बड़ा जाती है स्वास्थ्य गड़बड़ आ जाता है ऐसी चीजें जो प्राकृतिक एवं मानवीय कृत्य वस्तुओं संसाधनों का दोनों को क्षति पहुंचाता है आपने कहलाती हैं ठीक है तो आप डांटने समझ लिया ना मनुष्य और प्रकृति के जितने भी संसाधन उनको जो चीज क्षति पहुंचाती है वह अब द कहलाती हैं अपना हमेशा नहीं आती है आपका अवसरवादी होते मतलब अवसर पर आती है कई बार ऐसे मान लो कभी टाइड वगैरा गया समुद्र में अल नीनो अल अल नीनो की वजह जाता है जब समुद्र की का तापमान बढ़ता है तो उसकी वजह से उसका घनत्व बढ़ता है जब घनत्व बढ़ता है तो पानी समुद्र का बढ़ने लगता है और वह जितने 30 शहरों तो उनको नुकसान पहुंचाता है जैसे वही सुनामी हो गया जिसको बोल देते हैं बारिश हो गई बादल फटना हो गया सुनामी हो गई भूकंप हो गया यह सारी चीजें प्रकृतिक आपदाओं के अंतर्गत आते हैं वही मान विक्रेता बताएं जैसे होते हैं उधर से किसी फैक्ट्री में गैस लीक हो गई जैसे भोपाल गैस त्रासदी बहुत ज्यादा फेमस है मतलब प्रसिद्ध है और ऐसी और मालू कहीं पर आग लग गई जैसे अभी हाल ही में अमेजॉन के जंगल में आग लगी थी बहुत सारे मतलब कई साल लग गए थे उसको बुझाने में तो आती आप बताएं मानव कृत आपदा के लाते हो जो पहले मैंने बताया वह प्राकृति

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
प्रकृति हलवाहों के रूप में कौन जाने जाते हैं?Prakriti Halwaho Ke Roop Me Kaun Jane Jate Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
1:13
प्राकृतिक हलवा हूं के रूप में कौन जाने जाते हैं आपसे पहले समझना चाहते हैं और दूसरा प्राकृतिक क्या होता प्राकृतिक जो नेचुरल में प्राकृतिक मिला है उसके लिए हम को कोई अलग से फंड नहीं करना पड़ा पोहा बनाना भूल नहीं पढ़ाई के गम को प्रकृति से मिली हैं ईश्वर से मिली बहुत ज्यादा उपजाऊ कर देता हूं इस वजह से मैं पूरी धरती को मुलायम कमेटी खा खा के उसको मुलायम कोलकाता मुलायम कमजोर हो जाती है और उसका जो करता है मिट्टी खाने के बाद में निकालता है वह ले लेता है इसीलिए आपने देखा होगा बहुत सारी ऐसी मतलब जैसे मासूम मनाया जाता है मासूम को कि जब मिट्टी होती है उसमें केंचुए पहले छोड़े जाते हैं जिससे वह लोग मिट्टी को उपजाऊ बनाने

#भारत की राजनीति

shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
2:57
आपके अनुसार नरेंद्र मोदी जी एक सफल प्रधानमंत्री हैं या एक सफल प्रधानमंत्री हैं राजनैतिक प्रश्नों के उत्तर देने राजनीतिक सवालों का विश्लेषण करने और समझने के लिए हमें एक अच्छी समझ सभी क्षेत्रों की जानकारी होना हालात की समुचित एवं बैलेंस जानकारी होना बहुत जरूरी है एक तरफ से हम देखे हैं तो लोगों को दिखाई देता है कि नरेंद्र मोदी मोदी सही तो नहीं है वह कम्युनल है लेकिन दूसरी तरफ अगर यह देखा जाए कि उन्होंने कितने ही कानूनों को में बदलाव किया जो कि इतने सालों से अटके हुए थे जो कि शायद देश की बाधा मतलब आदेश कुमार डेनाइज करने में बाधा बने हुए थे 370 भी था उसी में असफलता लाख गीता उसी में जीएसटी बेटा जो इतने दिन से अटका हुआ था भले वो सफल हुआ या अपमान हुआ वह बात अलग है एक जांच का विषय है विश्लेषण का विषय है उस पर कई सारी रिपोर्ट भी आई है अगर आपको उसके बारे में जानना हो तो आप पढ़ सकते हैं रिपोर्ट भी और कुछ लोग कहते हैं रिपोर्ट में डिलीट हो जाती है रिपोर्ट को बदल दिया जाता है तो मुझे ऐसा संभव नहीं लगता है कि जो भी लोगों के समझ हो जो भी लोगों की आम राय बन नरेंद्र मोदी इन मामलों में मुझे काफी अच्छा लगा मुझे नीति बनाने के मामले में मुझे बहुत अच्छे लगे दूसरी तरफ उनका इंप्लीमेंट का नाश्ता करना सारी चीजों को ही करना पड़ेगा और मुझे एक रोल रहा है गार्जियन के तौर पर वह भी मुझे काफी प्यारा लगे और उन्होंने जो बढ़ावा दिया है इंडियन लैट्रिंग कंपनी को मुझे काफी अच्छा लगा तो जाहिर तौर पर हम लोग यह कह सकते हैं जिस तरीके की पृष्ठभूमि थी जिस तरीके का बैकग्राउंड उनको दिया गया नरेंद्र मोदी को जूते ग्राउंड पर वह खेले या जिस पर अकाउंट पर उन्होंने चुनाव लड़ा उस बैकग्राउंड उस मेनिफेस्टो के आधार पर अगर हम का मूल्यांकन करेंगे ठीक है हम उनका जीवन करेंगे तो एक बेहद सफल आदमी निकलेंगे क्योंकि उनका मेनिफेस्टो यही था 370 हटाना हटाना राम मंदिर यह सारी चीजें हो चुकी है हो सके तो कल का आंकड़ा लगता है 40 रन का लक्ष्य दिया था कि आप लोग मेरी भी अलग है

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
क्या फेसबुक को हैक किया जा सकता है क्या फेसबुक कभी हैक हो सकता है?Kya Facebbok Ko Hack Kiya Ja Sakta Hai Kya Facebook Kabhi Hack Ho Sakta Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
2:23
क्या फेसबुक को हैक किया जा सकता है क्या फेसबुक कभी हैक हो सकता है इस साल से बताएं मैं आपको बताऊं तो बिल्कुल हो सकता है फेसबुक हैक करना कोई बड़ी बात नहीं है यह सैंपल में खेल है जो 4 मिनटों का ऐसा होता क्या है मतलब कई तरीके होते हैं फेसबुक हैकिंग के एक तो होता है फिर सिंह ठीक है एक होता है आप कोड मैचिंग ठीक है इसमें क्या होता है फेसिंग मैं आपको लोग अपना एक लिंक भेजते हैं और आप उस लिंक को अगर कॉपी करके अपने ब्राउज़र में खोलते हैं और कई बार तो वह लॉगइन कोड मांगता है आपके लॉगइन डीटेल्स मांगता है अगर आप लॉगइन करते हैं तो आपका जो डाटा होगा वह पूरा उस है कर के पास में चले जाएगा जिसने आपको लिंक भेजी है वहीं दूसरी तरफ अगर हम बात करें उसकी पासवर्ड लॉक पासवर्ड पासवर्ड में यह होता है कि एक सॉफ्टवेयर आता है ठीक है बहुत सारे सॉफ्ट रहते हैं यह कल सुन को बनाते हैं अपनी तरीके से तैयार करते हैं उसको उसको प्रोग्राम करने के बाद में वह उसको आपकी मेल आईडी पर रन कर आते हैं और उसमें एक पासवर्ड से करोड़ों पासवर्ड चेक लिस्ट होती है वह बारी-बारी से स्पीड से आप कब आप फेसबुक अकाउंट से मैच करता रहता मैच करता जाता मैच करता जाता ठीक है अगर उसमें से कोई पासपोर्ट मैच है जाता है तो आपकी आईडी खो जाती है तो यह होता तीसरा होता है जो बहुत ही कठिन है लेकिन लोग हाकर हैं तो कर ही लेते हैं सिम क्लोनिंग पिंक लोन मतलब कि आपका जो नंबर है वह बोलो कि ऑन कर लेते हैं और जितनी आपकी लॉगइन डीटेल्स होती हैं वह किस वगैरा होती है वह सब उधर चली जाती हैं जिससे कि आपका डाटा है खो जाता है फेसबुक हो जाता है तो यह कोई चीज नहीं है यहां पर अकाउंट डिटेल्स है को जाती है सर जी यह तो एक का फेसबुक अकाउंट है यह 1 स्टीव जॉब्स कभी अकाउंट हैक हुआ है तो यह सारी चीजें हम तो बड़े नवमी लोग हैं उनको चाहिए
Kya phesabuk ko haik kiya ja sakata hai kya phesabuk kabhee haik ho sakata hai is saal se bataen main aapako bataoon to bilkul ho sakata hai phesabuk haik karana koee badee baat nahin hai yah saimpal mein khel hai jo 4 minaton ka aisa hota kya hai matalab kaee tareeke hote hain phesabuk haiking ke ek to hota hai phir sinh theek hai ek hota hai aap kod maiching theek hai isamen kya hota hai phesing main aapako log apana ek link bhejate hain aur aap us link ko agar kopee karake apane brauzar mein kholate hain aur kaee baar to vah login kod maangata hai aapake login deetels maangata hai agar aap login karate hain to aapaka jo daata hoga vah poora us hai kar ke paas mein chale jaega jisane aapako link bhejee hai vaheen doosaree taraph agar ham baat karen usakee paasavard lok paasavard paasavard mein yah hota hai ki ek sophtaveyar aata hai theek hai bahut saare sopht rahate hain yah kal sun ko banaate hain apanee tareeke se taiyaar karate hain usako usako prograam karane ke baad mein vah usako aapakee mel aaeedee par ran kar aate hain aur usamen ek paasavard se karodon paasavard chek list hotee hai vah baaree-baaree se speed se aap kab aap phesabuk akaunt se maich karata rahata maich karata jaata maich karata jaata theek hai agar usamen se koee paasaport maich hai jaata hai to aapakee aaeedee kho jaatee hai to yah hota teesara hota hai jo bahut hee kathin hai lekin log haakar hain to kar hee lete hain sim kloning pink lon matalab ki aapaka jo nambar hai vah bolo ki on kar lete hain aur jitanee aapakee login deetels hotee hain vah kis vagaira hotee hai vah sab udhar chalee jaatee hain jisase ki aapaka daata hai kho jaata hai phesabuk ho jaata hai to yah koee cheej nahin hai yahaan par akaunt ditels hai ko jaatee hai sar jee yah to ek ka phesabuk akaunt hai yah 1 steev jobs kabhee akaunt haik hua hai to yah saaree cheejen ham to bade navamee log hain unako chaahie

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
प्रौद्योगिकी (टेक्नोलॉजी) क्या है?Praudyogiki Technology Kya Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
0:50
योगी की क्या है सिंपल शब्दों में अगर हम समझे तो प्रौद्योगिकी वह है जो हमारे काम को आसान बनाती हैं मान लीजिए कि हम कोई काम करते हैं ठीक है मालिक केलकुलेटर केलकुलेटर का आविष्कार जो हुआ उपयोग इसी वजह से वह तो योगी की एक ऐसा विषय है ऐसा टॉपिक है जिससे जिसके द्वारा हम लोग ऐसी चीजें सीखते हैं जिससे मनुष्य का काम आसान होता है मनुष्य अच्छे से सारे काम कर पाता है और कई बार वह मनुष्य का सबसे क्यूट भी तैयार कर देते हैं
Yogee kee kya hai simpal shabdon mein agar ham samajhe to praudyogikee vah hai jo hamaare kaam ko aasaan banaatee hain maan leejie ki ham koee kaam karate hain theek hai maalik kelakuletar kelakuletar ka aavishkaar jo hua upayog isee vajah se vah to yogee kee ek aisa vishay hai aisa topik hai jisase jisake dvaara ham log aisee cheejen seekhate hain jisase manushy ka kaam aasaan hota hai manushy achchhe se saare kaam kar paata hai aur kaee baar vah manushy ka sabase kyoot bhee taiyaar kar dete hain

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
सरकार के तेजी से निजीकरण की ओर बढ़ते कदम से हमारे देश को क्या फायदा होने वाला है?Sarkar Ke Teji Se Nijeekaran Kee Or Badhate Kadam Se Hamaare Desh Ko Kya Phaayada Hone Vaala Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
2:42
अदिति जी से निजी करण की ओर बढ़ते कदम से हमारे देश को क्या फायदा होने वाला है लेकिन हर सिक्के के दो पहलू होते हैं उल्टा सीधा अच्छा बुरा नुकसान फायदे उसी तरीके से भारत सरकार निजीकरण कर रही हमारे देश के संसाधनों का उसके भी दो साइड है या तो नुकसान है तो फायदे हैं सबसे पहले हम लोग नुकसान देख लेते हैं नुकसान क्या है ठीक है नुकसान यह है कि निजी करने से नौकरियों की नौकरियों का जो एक बार मार थी ठीक है वह खत्म हो रही नौकरी है धीरे-धीरे खत्म होती चली जा रही है उसमें जो आरक्षण मिलता था दलितों को रिंकू या दबे कुचले वर्गों को या विकलांगों को वह आरक्षण खत्म होता है धीरे-धीरे होगा अभी तक जिसका पैसा डायरेक्ट कॉमेंट इंडियन गवर्मेंट के पास जा रहा था लेवनयू के तौर पर पहले जो प्रॉफिट जाता था डायरेक्ट भारत सरकार के पास में अब वही ऑफिसर का प्राइवेट नौकरी कंपनियों को मिलेगा प्राइवेट कंपनियां मिले थे और प्रॉफिट का कुछ ऐसा देंगे ठीक है लेकिन अगर इसका फायदा हम लोग देखें फायदे को देखने के लिए हम लोगों को समझना होगा वंदे भारत ट्रेन जो है प्राइवेट उस ट्रेन का जो सिंह है उस दिन में सुविधाएं बहुत अच्छी सॉरी वंदे भारत नहीं है कोई और ट्रेन है तेजेश्वरी तेजस हैं माफ कीजिए तेजस जो ट्रेन है उसकी सुविधा बहुत अच्छी साफ-सफाई है खाने की व्यवस्था अच्छी है और जो प्राइवेट स्टेशंस होते हैं जो कि प्राइवेटाइजेशन होगी तो वहां भी साफ सफाई रहती खूब सारी खुशी सर्विस चलता है तीन कंपनियों के बीच में आगे बढ़ने की होड़ लगी रहती है ठीक है तो जो अच्छी सर्विस प्रोवाइड करेगा उसके साथ ग्राहक जाएगा होंगे उसके साथ भी होती जाएंगे सर्विस जो कि शायद हिंदी भारत के लोग भारत के नागरिक ऑन सर्विस टैक्स का पैसा ना ना कर पाए तो उन सर्विस से वंचित हैं

#भारत की राजनीति

shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
2:41
सरकारी अर्जेंट के कागजों में चल अचल संपत्ति जैसे वासियों से क्या तात्पर्य है देखिए दोस्तों जो सरकारी है क्रीमैंट होते हैं पहली चीज उनमें जो शब्द नहीं होते हैं उनका कोई मौलिक अर्थ नहीं होता है उन सभी हलकों का एक्सप्लेनेशन होता है जो व्याख्या होती है वह तो तुम कोर्ट करता है तो हम केवल अंदाजा लगा सकते हैं कि उस चल और अचल संपत्ति का क्या अर्थ है तो अंदाज है तन हम लोग कहते हैं कि चल संपत्ति वह होती है जिसका यूज़ हम कभी भी कर सकते हैं मतलब ज्यादा टाइम नहीं लगना उसमें तुरंत ही यूज कर लेंगे उसको भेज सकते हैं उसको किसी को दे सकते हैं उसका भुना सकते हैं यह सारी चीजें होती हैं ऐसी संपत्ति में कौन-कौन सी चीजें आती हैं मान लीजिए हम कोई मोबाइल खरीदते हैं मोबाइल को तो हम तुरंत भेज सकते हैं ना वापस मोबाइल से पैसा नहीं है मैं आ सकता है मोबाइल को किसी को गिफ्ट कर सकते हैं तुरंत ही कर सकते बिना किसी परिवर्तन संपत्ति है मान लीजिए हमारे पास लैपटॉप है ठीक है हमारे पास कोई जानवर है हमारे पास जेवर हैं जेल समझते हैं आप लोग को भी भेजा जा सकता है बिना किसी पेपर बरतें ठीक है किसी को गिफ्ट कर सकते हम लोग कहीं पर भी बहन के साथ साथ चलती है वह सारी नाते अचल संपत्तियां में होती हैं जिनका यूज हम तो कर सकते हैं लेकिन उन को इतनी आसानी से इतनी जल्दी तुरंत ही बेच नहीं सकते हैं ठीक है किसी को बस तुरंत ही नहीं लगा उसको यहां से वहां कहीं भी ले जाया नहीं जा सकता है अगर इस को परिभाषित करें तो वह संपत्ति जो चलन योग्य नहीं होते तो चल नहीं सकती हैं पैदल सुन सकती कहते हैं इसके अंतर्गत जाते हैं हमारा कोई शार्ट हो गया हमारा कोई भूखंड हो गया हमारे एक हो गए यह सारी संपत्ति है अचल संपत्ति में आती हैं इनको बेचने के लिए आपको पेपर बंद करना होगा पेपर वर्क में आपको सफेदी जाना होगा कचहरी में आपको हलफनामा बनवाना होगा वहां पर टैक्स कटेगा तो यह सारी चीजें

#भारत की राजनीति

shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
2:56
हमें उतना कैरियर ही नहीं है जितना कि लोग बढ़-चढ़कर बताते हैं यह सवाल में सिरे से खारिज करता हूं कॉलिंग और प्रोग्रामिंग बहुत करियर है बहुत करिए इस वजह से भी है क्योंकि कोडिंग और प्रोग्रामिंग जो यह है यह आत्माएं की आत्माएं इंटरनेट जगत का आत्मा है कंप्यूटर जगत का बिना किसी कोडिंग बिना किसी प्रोग्रामिंग के इंटरनेट का कोई प्रोग्राम बनी नहीं सकता जैसे कि एचटीएमएल लैंग्वेज आपने सुनी होगी एचटीएमएल लैंग्वेज वेब पेज बनाने के लिए माल होती है वह होता है जैसे कि मान लीजिए हम इंटरनेट पर कुछ भी सर्च करते हैं तो सर्च करने के बाद जो आइटम खोलते हैं साइट पर जो भी चीजें दिखती हैं वह सब व्यक्ति थे ठीक है उसको बनाने के लिए उस व्यक्ति को उस तरीके से व्यवस्थित करने के लिए एक लैंग्वेज यूज होती है जिसे एचटीएमएल कहते हैं यह जो बोलकर आप हम लोग यूज़ करते हैं यह भी लैंग्वेज पर डेवलप्ड है वह सब जावा से डेवलप हो सकता है सी क्लास से डेवलप दो हो सकता है सी प्लस प्लस से डेवलप्ड हो और भी लैंग्वेज रात को बुलाती है ठीक है यह सारे लैंग्वेज डेवलप्ड होती है ठीक है बिना किसी कोडिंग के बिना किसी प्रोग्रामिंग थे जब यह सारी चीज बनेंगे ही नहीं ना रूपेश बनेगा ना कोई ऐप बनेगा ना कोई डेस्कटॉप होगा ठीक है चलेंगे ही नहीं सारी चीजें ठीक है एक शर्त पर यह सारी जॉब लॉस्ट हो सकती हैं कि हम लोग इंटरनेट खत्म कर दें इंटरनेट के चले जाने से यह सब चले जाएंगे लेकिन जब इंटरनेट हमारी मूलभूत जरूरत बन गई है तो उसमें यह जॉब फ्री होंगी और इन जॉब्स को खोने का कोई औचित्य नजर नहीं आ रहा है यह जॉब हमेशा रहेंगे और दिन प्रतिदिन बढ़ती जाएंगे क्योंकि हर एक आदमी अब वेब पेज बना कर बैठा हुआ है जाने अनजाने में हम लोगों का भी एक वेब पेज होता जो हम अपना इंस्टाग्राम स्क्रोल करते हैं जो टाइमलाइन देखते देखते ही वह भी वह हमारा भी तेज है वह फेसबुक पर जो है वह टाइमलाइन हमारी दिखती है वह भी हमारा भी पैसे पैसे जरूरतें हैं तो फिर सवाल ही नहीं पैदा होता कि और लिए जॉब खत्म हो जाए

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
तम्बाकू से कैंसर होता है तो सरकार इसपर प्रतिबन्ध क्यों नहीं लगाती?Tobacco Se Cancer Hota Hai To Sarkar Isapar Pratibandh Kyo Nahi Lagaatee
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
2:18
तंबाकू से कैंसर होता है तो सरकार इस पर प्रतिबंध क्यों नहीं लगाती है देखिए हर एक चीज का अपना एक पहलू होता है और उस पहलू को समझना हम लोगों का काम है वह हम लोगों को समझना ही चाहिए फर्ज भी तंबाकू जिन जिन क्षेत्रों में होता है वहां पर रोजगार का कोई और अवसर है नहीं वहां के जो लोग कल के लोग हैं वह केवल तंबाकू पर ही आश्रित है तंबाकू के धंधे पर आश्रित बता रहे हैं आप उसके बाद में अगर वह तंबाकू पर वहां प्रतिबंध लगा देते हैं तो उनका जो पूरा एक एरिया है वह एरिया उनका कार्य चला जाएगा वह धंधे से बेदखल हो जाएंगे उनके पास जीविका का कोई साधन नहीं बचेगा दूसरी दूसरी चीज है कि तंबाकू के जितने भी नशे के पदार्थ हैं सिगरेट ले लीजिए वीडियो ले लीजिए शराब ले लीजिए ट्रस्ट ले लीजिए सारी चीजों पर अधिक मात्रा में सरकार को कल मिलते हैं कल समझ रहे हैं इनकम टैक्स वगैरह इनकम टैक्स हो गया ड्यूटी टैक्स हो क्या इतने तरीके के टाइप होता हाउस चेक करते सारे टैक्स के 1 प्रकार हैं तंबाकू से सरकार को कर बहुत अधिक मिलता है एक्स बहुत अधिक मिलता है जिससे सरकार का पेमेंट नहीं हुए पड़ा था जैन तीर्थ सरकार त्रिवेणी इतना ज्यादा आर हैं तो क्यों सरकार उसको बंद करेगी जबकि एक और कारण है उनके पास में उनका दूसरा कारण तो वही है ना कि उस क्षेत्र के लोगों को उनका रोजगार छिन जाएगा उनका पति उनको जीविका के लिए उनके पास कुछ बचेगा ही नहीं तो यहीं कहीं ना कहीं दिखाई देता है सरकार तंबाकू वगैरह तंबाकू बीड़ी सिगरेट शराब बंद नहीं कर पा रही है
Tambaakoo se kainsar hota hai to sarakaar is par pratibandh kyon nahin lagaatee hai dekhie har ek cheej ka apana ek pahaloo hota hai aur us pahaloo ko samajhana ham logon ka kaam hai vah ham logon ko samajhana hee chaahie pharj bhee tambaakoo jin jin kshetron mein hota hai vahaan par rojagaar ka koee aur avasar hai nahin vahaan ke jo log kal ke log hain vah keval tambaakoo par hee aashrit hai tambaakoo ke dhandhe par aashrit bata rahe hain aap usake baad mein agar vah tambaakoo par vahaan pratibandh laga dete hain to unaka jo poora ek eriya hai vah eriya unaka kaary chala jaega vah dhandhe se bedakhal ho jaenge unake paas jeevika ka koee saadhan nahin bachega doosaree doosaree cheej hai ki tambaakoo ke jitane bhee nashe ke padaarth hain sigaret le leejie veediyo le leejie sharaab le leejie trast le leejie saaree cheejon par adhik maatra mein sarakaar ko kal milate hain kal samajh rahe hain inakam taiks vagairah inakam taiks ho gaya dyootee taiks ho kya itane tareeke ke taip hota haus chek karate saare taiks ke 1 prakaar hain tambaakoo se sarakaar ko kar bahut adhik milata hai eks bahut adhik milata hai jisase sarakaar ka pement nahin hue pada tha jain teerth sarakaar trivenee itana jyaada aar hain to kyon sarakaar usako band karegee jabaki ek aur kaaran hai unake paas mein unaka doosara kaaran to vahee hai na ki us kshetr ke logon ko unaka rojagaar chhin jaega unaka pati unako jeevika ke lie unake paas kuchh bachega hee nahin to yaheen kaheen na kaheen dikhaee deta hai sarakaar tambaakoo vagairah tambaakoo beedee sigaret sharaab band nahin kar pa rahee hai

#जीवन शैली

bolkar speaker
क्या कोई इंसान बिना झूठ बोले 1 दिन भी रह सकता है?Kya Koi Insan Bina Jhooth Bole 1 Din Bhi Reh Sakta Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
1:06
क्या कोई इंसान बिना झूठ बोले 1 दिन भी रह सकता है अम्मा कैसी बात कह दी 1 दिन भी क्या तुम अब समझे कि 1 घंटे नहीं रह सकता ढूंढ उसको बोल नहीं है वह दिन गए की जब लोग झूठ बोला करते थे युधिष्ठिर झूठ बोलते नहीं बोलते थे आप सब कुछ तो झूठ पर चल रहा है ना पूरी सृष्टि पूरी दुनिया सब कुछ झूठ पर चल रहा है पूरी दुनिया की सरकार है सारे सब झूठ सही चल रही है जहां हम लोग बाहर रहते हॉस्टल में रहते हैं तो सुबह लेट उठते हैं तो घर से ही बताते नहीं सुबह पढ़ रहा था 9:00 बजे उठ गए थे 11:00 बजे 9:00 बजे उठके हम लोग पढ़ाई कर रहे थे हमें ऐसा कुछ नहीं जब के घरवालों को चीजें पता हो जाता तो शुरुआत ही झूठ से होती है भाई कोई नहीं मुझे नहीं लगता कोई
Kya koee insaan bina jhooth bole 1 din bhee rah sakata hai amma kaisee baat kah dee 1 din bhee kya tum ab samajhe ki 1 ghante nahin rah sakata dhoondh usako bol nahin hai vah din gae kee jab log jhooth bola karate the yudhishthir jhooth bolate nahin bolate the aap sab kuchh to jhooth par chal raha hai na pooree srshti pooree duniya sab kuchh jhooth par chal raha hai pooree duniya kee sarakaar hai saare sab jhooth sahee chal rahee hai jahaan ham log baahar rahate hostal mein rahate hain to subah let uthate hain to ghar se hee bataate nahin subah padh raha tha 9:00 baje uth gae the 11:00 baje 9:00 baje uthake ham log padhaee kar rahe the hamen aisa kuchh nahin jab ke gharavaalon ko cheejen pata ho jaata to shuruaat hee jhooth se hotee hai bhaee koee nahin mujhe nahin lagata koee

#भारत की राजनीति

shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
1:15
नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में कई बार जिक्र किया कि हमारी सरकार मिनिमम गवर्मेंट और मैक्सिमम गवर्नेंस नीति अपनाए स्तर रहे तो आप को मैं बताता हूं मिनिमम गवर्मेंट रोमांस का मतलब होता है जितने लोग सरकार में बैठे हैं मतलब जितने लोग घमंड कर रहे हैं और उनके द्वारा लिए जा रहे हैं फैसले उनके द्वारा रहे निर्णय उसको गवर्नमेंट कहते हैं तो नरेंद्र मोदी का कहना यह था कि उनका मंत्रिमंडल छोटा हो मिनिमम गवर्मेंट बहुत कम लोग हो गांव में है जिससे कि वह देख विचारधारा का क्लास आता है 1 दिन निर्णय हो में क्लास होता है ना सके उसे बचा जा सके और उतनी ही कम लोग बहुत बड़े बड़े फैसले ले हर एक मतलब पूरे भारत देश के लिए फैसले लें इसका यह अर्थ फॉर्म दिन मोदी जी का मिनिमम एंड मैक्सिमम गवर्नेंस
Narendr modee ne apane bhaashan mein kaee baar jikr kiya ki hamaaree sarakaar minimam gavarment aur maiksimam gavarnens neeti apanae star rahe to aap ko main bataata hoon minimam gavarment romaans ka matalab hota hai jitane log sarakaar mein baithe hain matalab jitane log ghamand kar rahe hain aur unake dvaara lie ja rahe hain phaisale unake dvaara rahe nirnay usako gavarnament kahate hain to narendr modee ka kahana yah tha ki unaka mantrimandal chhota ho minimam gavarment bahut kam log ho gaanv mein hai jisase ki vah dekh vichaaradhaara ka klaas aata hai 1 din nirnay ho mein klaas hota hai na sake use bacha ja sake aur utanee hee kam log bahut bade bade phaisale le har ek matalab poore bhaarat desh ke lie phaisale len isaka yah arth phorm din modee jee ka minimam end maiksimam gavarnens

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
मोबाइल में एप्स को कैसे छुपाए?Mobile Mein Apps Ko Kaise Chupaye
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
1:01
मोबाइल में एप्स को कैसे छुपाए मोबाइल में ऐप्स को चुकाने छुपाने के लिए कैसा रहता है अभी आते हैं ठीक है लेकिन उसे पता चल जाता है ठीक है इसके लिए और कई फोन जो रियल मी रेडमी वगैरह जो प्रोवाइड करते हैं वह हो गया था उसमें वह खुद का 1 वोल्ट प्रोवाइड कर देते आपको ठीक है और सुबह उठ के जरिए आप अपनी फोटो तो छुपा सकते हैं आप अपने वीडियोस को छुपा सकते आप अपना जितना भी डाटा है छुपा सकते हैं आप अपने एप्स को भी छुपा सकते हैं लेकिन एप्स को छुपाने के लिए जरूरी नहीं आपके फोन में वह चीज है ठीक है आप एप्स कुछ बन छुपाने के साथ ही बॉक्स में अपना लॉक लगा सकते हैं यह सारी चीजें आप कर सकते हैं आप अपने आपका डाटा जो है वह बंद कर सकते हैं इसके अलावा भी ऐसे कई सारे ऐप्स आते हैं थर्ड पार्टी है जो कि आपके ऐप को छुपा सकते हैं तो अगर आपको छुपाना है तो आप ही कर सकते हैं

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
मेरी हाइट 5 फुट 3 इंच की है मेरी उम्र 23 साल है, मैं अपनी हाइट कैसे बढ़ा सकता हूं?Meri Height 5 Foot 3 Inch Ki Hai Meri Umr 23 Saal Hai Main Apni Height Kaise Badha Sakta Hoon
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
1:09
आपकी हाइट 5 फुट 3 इंच 6 साल के हैं आप और आपको अपनी हाइट में इंक्रीजमेंट लाना है करो करें इसके लिए मैं आपको बताना चाहूंगा कि आप अपनी डाइट पर ध्यान दीजिए ठीक है डाइट में जो भी ऐसी चीजें हूं आप डॉक्टर से कंसल्ट कर सकते हैं वह बताएगा 2G से प्रोटीन हाई प्रोटीन कीजिए सोयाबीन वगैरह दूध पीजिए दही पीछे उसको लिए डाइट में आप अपनी सम्मिलित कीजिए ठीक है उसके बाद में आप रेगुलर एक्सरसाइज लाइट्स टचिंग वगैरा चैटिंग करने से हाइट बहुत ज्यादा यूज होती है स्टिचिंग करने से फायदा ही होता है कि जो आप की नसें होती है ना नशे बिल्कुल खुल जाती हैं ठीक है लडका जो सरकुलेशन होता है वह बहुत तेज से होने लगता जब लडका सरकुलेशन बहुत तेज से होने लगता है तो फिर ग्रोथ जो होती है मसल्स की ग्रोथ होती है वह तेज हो जाती है तो आप यह कर सकते हैं कि आप डाइट सुधारी और आप एक्सरसाइज करना शुरू कीजिए और अच्छी नींद लीजिए

#भारत की राजनीति

shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
0:28
आप में से किसी ने सवाल पूछा है कि पीडब्ल्यूडी का फुल फॉर्म क्या होता है तो सबसे पहले मैं यह बताना चाहूंगा कि पीडब्ल्यूडी क्या होता है पीडब्ल्यूडी एक ऐसी सरकारी संस्था है जो कि छोटे-मोटे जो कार्य होते हैं पब्लिक के वह करवाती है कंस्ट्रक्शन का काम करवाती डेवलपमेंट का काम करवाते हैं इसीलिए तो बोलते हैं पब्लिक वर्क डिपार्टमेंट

#भारत की राजनीति

bolkar speaker
दिल्ली से बिहार कितना दूर है?Dilli Se Bihar Kitna Dur Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
1:10
दिल्ली से बिहार कितना दूर है राजनीतिक व्यंग करें दिल्ली से बिहार बहुत दूर है पहले पास में हुआ करता था बाद में हुआ ऐसा करता था हमारे लालू यादव जी केंद्र में मंत्री रहे हैं लेकिन दिलों की दूरी नहीं लगातार नितीश बाबू को सपोर्ट मिलना है हमारे मोदी जी का ठीक है मोदी जी की भी कॉमेंट है केंद्र में तो मतलब दिल्ली में ज्यादा होता कुछ खास दूर नहीं है लेकिन अगर भौतिक की बात करें फिजिकल जियोग्राफी की बात करें 1029 किलोमीटर लगभग पड़ता है दिल्ली से पटना की राजधानी है बिहार की पटना तो दिल्ली से पटना 1029 किलोमीटर पड़ता है

#धर्म और ज्योतिषी

bolkar speaker
भारतीय राजनेता हमेशा धर्म के आधार पर क्यों लड़ते हैं?Bhartiya Rajneta Hamesha Dharm Ke Adhar Par Kyu Ladte Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
1:04
भारतीय राजनेता हमेशा धर्म के आधार पर क्यों लड़ते हैं एक सीधा सा जवाब यह हो सकता है कि कि हमारे यहां 2 धर्म बिल्कुल अपने मेजोरिटी पर हैं हिंदू और मुस्लिम कुछ राजनेता हिंदुओं का वोट पाना चाहता है कुछ राजनेता मुस्लिमों का वोट पाकर सरकार बनाना चाहते हैं सिंपल सी चीज है ठीक है तो धर्म के आधार पर अगर वह लड़ेंगे नहीं तो लोगों को एंटरटेन कैसे कर पाएंगे तो लोग क्या लोगों को वोट कैसे ले पाएंगे अगर कमेटी का बोर्ड कैसे ले पाएंगे हिंदुओं को वोट को कैसे ले पाएंगे तुमको लड़ना पड़ता है आपस में मतलब वह कोई सीरियस लड़ाई नहीं होती हैं मुस्लिमों को दिक्कत हो गई ठीक है ऐसे ही मुस्लिमों को दिक्कत नहीं है मुस्लिम नेताओं को दिक्कत होगी जो वोट लेना चाहता है

#मनोरंजन

bolkar speaker
फिल्मों में बारिश का दृश्य कैसे शूट करते हैं?Filmon Mein Baarish Ka Drishy Kaise Shoot Karte Hain
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
0:52
देखिए जैसे फिल्मी दुनिया के अगर हम बात करते हैं तो पूरी तरीके से करते मिलता है कृति मतलब रूममेट होता है उसमें जितनी भी चीजें होती है उसे इंसान बनाता है मान लीजिए कि अगर उसमें कोई बारिश दिखानी है तो वह भी इंसान ही बार ऐसा कर आएगा उसमें कोई रेल गाड़ी दिखानी है या कोई पेड़ पौधे भी नकली होती है उसका जो होता है वह लोग एक का टैंकर लाता है टैंकर के ऊपर से वह जो होता है उनका स्प्रिंकलर स्प्रिंकलर से उसको स्प्रिंग कल गए थे और वहां से बारिश कितना रहता है

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
अवलोकन को अंग्रेजी में क्या कहेंगे?Avalokan Ko Angreji Me Kya Kahenge
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
1:09
शिव जी आप ने सवाल पूछा है कि अवलोकन को अंग्रेजी में क्या कहते हैं जैसा कि हम लोग जानते हैं कि वह लोग कनेक्ट साइंटिफिक रिसर्च पेपर में काम आता है जब हम लोग विश्वास करते तो उसमें जो डाटा हम लोग देते हैं उसमें जो इस विधि का काम होता है वह अवलोकन होती है तो उसके लिए हम दो तीन वर्ड हैं जिनका यूज हो सकता है जैसे कि एक तो होता और दूसरा होता ऑब्जरवेशन कंटेंपलेशन कंटेंपलेशन खुद के लिए यूज होता जैसा कि हम लोग कोई अपने अंदर चिंतन करने खुद का अवलोकन करें तो वहां पर कंटेंपलेशन यूज होता है और जब किसी के परीक्षा ले रहे होते मनवा लीजिए किसी को बॉलीवुड कर रहे होते हैं उसके गुणों को अलग कर रहे होते हैं ठीक है उसके आदेशों का अलग कर रहा है तो उसे एग्जामिनेशन कहते हैं यह तीन चार बार जो है यह सारे यूज होते हैं और लोकल के लिए हालांकि इनका मतलब जहां पर यूज होते हैं वह

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
कृषि विभाग से 12 वीं करने के बाद जल्द से जल्द पुलिस आफिसर बनने के लिए क्या करना चाहिए?Krishi Vibhag Se 12 Ve Karne Ke Baad Jald Se Jald Police Officer Banne Ke Liye Kya Karna Chahiye
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
1:25
जब आप कैसी विभाग से 12वीं करते हैं तो आपके पास ऑप्शन सोते हैं कि आप कृषि विभाग से ही बीएसपी कर ले फिर आगे रिसर्च कर ले ठीक है हालांकि पुलिस ऑफिसर बनने के लिए भी आपको आई पी एस सी आर यू पी पी सी एस का एग्जाम क्वालीफाई करना होगा उसके लिए आपको ग्रेजुएशन चाहिए तो मैं आपसे यही कहूंगा कि कृषि से बारहवीं करी है आपने तो आप तो फिर वैसे ही एक ग्रेजुएशन भी कर ली थी क्योंकि आपका एक रास्ता खुल जाएगा आपके थे उसके बाद में आप फॉर्म डालते रहे जैसे ऐसा ही का फॉर्म आ रहा है ऐसा ही कर डाल दीजिए उसके बाद में यूपीपीसीएस के फॉर्म आने यूपीपीसीएस के डाल दीजिए यूपीएससी का फॉर्म आरएसी डाल दीजिए बीपीएससी का अगर फॉर मध्य बीपीएससी भी डाल देते आ रहे साल दीजिए एमपीएससी डाल दीजिए उत्तराखंड पीसीएस डाल दीजिए हरियाणा पीसीएस अधिकारी पीसीएस या यूपीएससी बारे में सेकंड रैंक वाले को 2 दिन के जो सबसे पहले दिन का नंबर हो तो है तो उनको मिलता है एसडीएम ने डीएम को फिर उसके बाद में जितने होता है डीएसपी एसपी का पद मिलता है उसमें जा सकते हैं आसानी से

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
गुड़हल का वैज्ञानिक नाम क्या है?Gudhal Ka Vaigyaanik Naam Kya Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
0:55
रिया जी आपने बहुत अच्छा सवाल पूछा है और ऐसे सवाल काफी कम देखने को मिलते हैं क्योंकि लोग साइंटिफिक नेमस वगैरह में कुछ इतना ज्यादा इंटरेस्ट रखते भी नहीं है पर 22:00 तक साइंस और सभी ने पड़ी है उसके बाद में चेंज होता है लोगों का एरिया ऑफ स्टडीज मैंने तो थप्पड़ क्यों उसके बाद में मैं नहीं मैंने की थी आपने पूछा तक गुड़हल का साइंटिफिक नेम क्या होता है थोड़ा हल्का सा मिस कॉल आई थी और उसके बाद में जो और भी पढ़ा था उसे एक वाइट गुड़हल आता है ब्लैक गुड़हल आता है इनमें आगे पीछे कुछ चीजें लग जाती है कुछ आम वडिंग लग जाती है जिससे उनके भी नाम भी तरीके से मतलब है कुछ आगे पीछे 12 वर्ल्ड जोड़कर से बन जा

#जीवन शैली

shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
1:31
बुरा जो देखन मैं चला बुरा न मिलिया कोय जो जग दिल खोजा आपना मुझसे बुरा न कोई यह दोहा मध्य काल से ही बहुत फेमस है बहुत प्रसिद्ध है बाकी काम में बहुत सारे राइडर्स हुए जिन्होंने दोहे लिखे कबीर दास जी यह तो होते हैं कबीर दास जी आप माहौल लोकन की बात करते हैं सेल्फ इवोल्यूशन के बाद करते हैं इवैल्यूएशन की बात करते हैं अभी दास जी कहते हैं कि बुरा जो देखन मैं चला बुरा न मिलिया कोई मतलब जब मैं लोगों में बुराइयां ढूंढने के लिए बाहर चलता हूं जाता हूं तो मुझे कोई भी वक्त नहीं मिलता है मैं मैं सबसे अच्छे से बात करता हूं तो सारे लोग मुझसे अच्छे से बात करते हैं ठीक है लेकिन जो जग दिल खोजा आपना मुझसे बुरा न कोई तो जब कबीर दास जी खुद को खुद के अंदर देखते हैं झांके देखते हैं तो वह कहते हैं कि मैं ही बुरा हूं सबके लिए मेरा बिहेवियर सकते मांगी जब मैं किसी से अच्छा बर्ताव करूंगा तो वह भी मुझसे अच्छा बर्ताव करेगा अगर मैं किसी के साथ बुरा बर्ताव कर मत हो कि मुझसे बुरा बर्ताव पड़ेगा
Bura jo dekhan main chala bura na miliya koy jo jag dil khoja aapana mujhase bura na koee yah doha madhy kaal se hee bahut phemas hai bahut prasiddh hai baakee kaam mein bahut saare raidars hue jinhonne dohe likhe kabeer daas jee yah to hote hain kabeer daas jee aap maahaul lokan kee baat karate hain selph ivolyooshan ke baad karate hain ivailyooeshan kee baat karate hain abhee daas jee kahate hain ki bura jo dekhan main chala bura na miliya koee matalab jab main logon mein buraiyaan dhoondhane ke lie baahar chalata hoon jaata hoon to mujhe koee bhee vakt nahin milata hai main main sabase achchhe se baat karata hoon to saare log mujhase achchhe se baat karate hain theek hai lekin jo jag dil khoja aapana mujhase bura na koee to jab kabeer daas jee khud ko khud ke andar dekhate hain jhaanke dekhate hain to vah kahate hain ki main hee bura hoon sabake lie mera biheviyar sakate maangee jab main kisee se achchha bartaav karoonga to vah bhee mujhase achchha bartaav karega agar main kisee ke saath bura bartaav kar mat ho ki mujhase bura bartaav padega

#जीवन शैली

bolkar speaker
मस्तिष्क पर चंदन क्यू लगाते है?Mastishk Par Chandan Kyo Lagate Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
1:17
मस्तक पर धंधा चलाते हैं दोस्तों वैसे तो यह हिंदू नेचुरल है एक हिंदू मान्यता है कि मस्तिष्क पर चंदन लगाया जाता है यही छोरिया एक अपील है कि चंदन लगाने से कम आती है लेकिन ठंडे प्रदेशों में पाया जाता माले हिमालय कैसे पहाड़ियों पर पाए जाते हैं उसकी वजह से बहुत ज्यादा ठंडा होता है जितने पल जो उससे वह निकलता है जैसा हुआ उसको लगाने से हमारा मस्त के ऊपर का भाग भी ठंडा रहता है और कहते हैं जब हम ठंडे दिमाग से कोई फैसला लेते हैं कोई काम करते हैं तो हमारे जीवन में सुख समृद्धि लाता है चंदन लगाने से हमारा वक्त ठंडा रहता हम सही फैसला करने में सक्षम होते हैं तो इसकी वजह से हमारा जीवन सुखमय व्यतीत होता है वह कौन सा कार्य की नहीं है इसलिए कृपा है महाराज आ सकता हुआ ठंडी होती है
Mastak par dhandha chalaate hain doston vaise to yah hindoo nechural hai ek hindoo maanyata hai ki mastishk par chandan lagaaya jaata hai yahee chhoriya ek apeel hai ki chandan lagaane se kam aatee hai lekin thande pradeshon mein paaya jaata maale himaalay kaise pahaadiyon par pae jaate hain usakee vajah se bahut jyaada thanda hota hai jitane pal jo usase vah nikalata hai jaisa hua usako lagaane se hamaara mast ke oopar ka bhaag bhee thanda rahata hai aur kahate hain jab ham thande dimaag se koee phaisala lete hain koee kaam karate hain to hamaare jeevan mein sukh samrddhi laata hai chandan lagaane se hamaara vakt thanda rahata ham sahee phaisala karane mein saksham hote hain to isakee vajah se hamaara jeevan sukhamay vyateet hota hai vah kaun sa kaary kee nahin hai isalie krpa hai mahaaraaj aa sakata hua thandee hotee hai

#टेक्नोलॉजी

bolkar speaker
मुझे सबसे ज्यादा आलस आता है, मैं क्या करूं? कोई उपाय बताइएMujhe Sabse Jyada Aalas Aata Hai Main Kya Karu Koi Upaay Bataye
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
0:40
अगर आपको आलस आता है और आप उस हालत को भगाना चाहते हैं तो एक काम कर सकते हैं आप आप पढ़ने के बाद में जाके एक्सरसाइज कर सकते हैं जाकर दौड़ सकते हैं ठीक है आप लेटे मत रहिए अपना बिस्तर सुबह बनाई है उसको बिस्तर को सही को सही करने के बाद में अब एक्सरसाइज करिए आप अच्छे से चाय बगैरा पी लीजिए और अपने काम में लगे रहते तुम्हारा कम हो जाएगा और आप अच्छे से काम करने में सक्षम होंगे
Agar aapako aalas aata hai aur aap us haalat ko bhagaana chaahate hain to ek kaam kar sakate hain aap aap padhane ke baad mein jaake eksarasaij kar sakate hain jaakar daud sakate hain theek hai aap lete mat rahie apana bistar subah banaee hai usako bistar ko sahee ko sahee karane ke baad mein ab eksarasaij karie aap achchhe se chaay bagaira pee leejie aur apane kaam mein lage rahate tumhaara kam ho jaega aur aap achchhe se kaam karane mein saksham honge

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
बर्तन को अंग्रेजी में क्या कहा जाता है?Bartan Ko Angreji Mein Kya Kaha Jata Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
0:37
बर्तन को अंग्रेजी में क्या कहते हैं बड़े बर्तनों के लिए तो बहुत बड़े बर्तन होते हैं उसके लिए लोग वैशाली यूज करते हैं ठीक है और कुछ लोग बर्तनों के लिए व्हाट यूज करते हैं मेरे हिसाब से जो सबसे अच्छा वर्ड है उस दिन सबसे सर्टिफाइड है वह यूटेंसिल्स इसकी स्पेलिंग होगी यू एन एस आई एल यू टेंशन
Bartan ko angrejee mein kya kahate hain bade bartanon ke lie to bahut bade bartan hote hain usake lie log vaishaalee yooj karate hain theek hai aur kuchh log bartanon ke lie vhaat yooj karate hain mere hisaab se jo sabase achchha vard hai us din sabase sartiphaid hai vah yootensils isakee speling hogee yoo en es aaee el yoo tenshan

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
लांछन लगाने का अंग्रेजी क्या होगा?Laanchan Lagane Ka Angreji Kya Hoga
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
0:45
लांछन लगाने का अंग्रेजी क्या होगा आप लोग बहुत अच्छे सवाल पूछते हैं पहले तो मैं आप सब का शुक्रिया अदा करना चाहूंगा कि उसके बाद मैं आपको लांछन लगाना बता बताऊंगा कि लंच लगाने को इंग्लिश में क्या कहते लांछन लगाने को इंग्लिश में कई बार लोग ब्लेम यूज करते हैं ठीक है जैसे मान लीजिए कि मैं उस पर या वह मुझ पर छेड़ने का लांछन लगा रही है ठीक है या सैंडल ले लीजिए कि वह मुझ पर चोरी का लांछन लगा रही है ठीक है तो मैं उसको कैसे इंग्लिश में बोलूंगा उसको ऐसा बोलूंगा इंग्लिश में की प्लानिंग नहीं फॉर स्टीलिंग
Laanchhan lagaane ka angrejee kya hoga aap log bahut achchhe savaal poochhate hain pahale to main aap sab ka shukriya ada karana chaahoonga ki usake baad main aapako laanchhan lagaana bata bataoonga ki lanch lagaane ko inglish mein kya kahate laanchhan lagaane ko inglish mein kaee baar log blem yooj karate hain theek hai jaise maan leejie ki main us par ya vah mujh par chhedane ka laanchhan laga rahee hai theek hai ya saindal le leejie ki vah mujh par choree ka laanchhan laga rahee hai theek hai to main usako kaise inglish mein boloonga usako aisa boloonga inglish mein kee plaaning nahin phor steeling

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
मछली को अंग्रेजी में क्या कहते हैं?Machali Ko Angreji Mein Kya Kehte Hain
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
0:26
मछली जलीय प्राणी है कि जंतु है उसके साथ में काफी और भी जंतु रहते हैं तो कुछ लोगों से एनिमल बोल देते हैं उसकी कैटेगरी मछली को अंग्रेजी में बोलते हैं
Machhalee jaleey praanee hai ki jantu hai usake saath mein kaaphee aur bhee jantu rahate hain to kuchh logon se enimal bol dete hain usakee kaitegaree machhalee ko angrejee mein bolate hain

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
English में Hello कहने का स्मार्ट तरीका क्या है?English Mein Hello Kehne Ka Smart Tareka Kya Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
0:44
सब मुझे जो लगता है इंग्लिश में हेलो बोलने का सबसे अच्छा तरीका कैसा महसूस करता हूं ठीक है मान लीजिए मैं किसी किसी भी आदमी का नाम लेता हूं किसी से भी मुझे बात करनी होती माली बोलकर नाम का कोई अगर मेरी जिंदगी में कोई शख्स होता है ठीक है उसे मैं कैसे बोलता मैं ऐसे ही लिखता है बोलकर हे बोलकर एचबीवाई बीएनकेआर मान लीजिए मेरी जिंदगी में टीवी है तो उसको मेरी जिंदगी में कोई आया है तो उसे मैं बोलूंगा हेतु या इसे तरीके
Sab mujhe jo lagata hai inglish mein helo bolane ka sabase achchha tareeka kaisa mahasoos karata hoon theek hai maan leejie main kisee kisee bhee aadamee ka naam leta hoon kisee se bhee mujhe baat karanee hotee maalee bolakar naam ka koee agar meree jindagee mein koee shakhs hota hai theek hai use main kaise bolata main aise hee likhata hai bolakar he bolakar echabeevaee beeenakeaar maan leejie meree jindagee mein teevee hai to usako meree jindagee mein koee aaya hai to use main boloonga hetu ya ise tareeke

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
हेलो को इंग्लिश में क्या कहते हैं?Hello Ko English Me Kya Kahte Hai
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
0:29
हेलो को इंग्लिश में हेलो ही बोलते हैं लेकिन कुछ लोग उसको शॉर्ट फॉर्म में यूज करने लगे हैं कुछ लोगों से हाय लिखते हैं मतलब एच आई को जब उसे हाय ही लिखते हैं कुछ लोगों से ही लिखते हैं ऐसी भाई नमस्ते सूचक मतलब जब हम लोग किसी को अभिवादन करने वहां पर यूज होता है हाय हेलो हे
Helo ko inglish mein helo hee bolate hain lekin kuchh log usako short phorm mein yooj karane lage hain kuchh logon se haay likhate hain matalab ech aaee ko jab use haay hee likhate hain kuchh logon se hee likhate hain aisee bhaee namaste soochak matalab jab ham log kisee ko abhivaadan karane vahaan par yooj hota hai haay helo he

#पढ़ाई लिखाई

bolkar speaker
मैं नीचे जाऊं इंग्लिश में क्या बोलेंगे?Main Neeche Jaoon English Me Kya Bolenge
shekhar vishwakarma Bolkar App
Top Speaker,Level 11
सुनिए shekhar जी का जवाब
Academic Content developer at ConnectEd
0:31
मैं नीचे जाऊं को इंग्लिश में क्या बोलेंगे तो बेसिकली यह जो अवॉइडिंग है यह काजल आज्ञा वाचक है ठीक है यार जब तक सैंडल के लिए हम यूज करेंगे हम लोग मेकर क्योंकि जब हमारी बहुत जरूरत होती है और हमें किसी से आज्ञा लेनी होती तो वहां पर मेरी उस काम में यूज होता है तो उसके लिए सेक्सी होगा नया गोडाउन वर्ल्ड
Main neeche jaoon ko inglish mein kya bolenge to besikalee yah jo avoiding hai yah kaajal aagya vaachak hai theek hai yaar jab tak saindal ke lie ham yooj karenge ham log mekar kyonki jab hamaaree bahut jaroorat hotee hai aur hamen kisee se aagya lenee hotee to vahaan par meree us kaam mein yooj hota hai to usake lie seksee hoga naya godaun varld
URL copied to clipboard